बिहार : पूर्व केंद्रीय मंत्री फातमी जदयू में शामिल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 29 जुलाई 2019

बिहार : पूर्व केंद्रीय मंत्री फातमी जदयू में शामिल

fatmi-join-jdu
पटना, 28 जुलाई, पूर्व केन्द्रीय मंत्री मोहम्मद अली अशरफ फातमी ने रविवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अगुवाई वाले जनता दल यूनाइटेड (जदयू) की सदस्यता ग्रहण कर ली। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के वरिष्ठ नेता रहे फातमी ने हालिया लोकसभा चुनावों में टिकट नहीं मिलने से नाराज होकर राजद से नाता तोड़ लिया था। जदयू के स्थानीय मुख्यालय में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष बशिष्ठ नारायण सिंह ने फातमी को पार्टी की सदस्यता दिलाई। सिंह ने फातमी का जदयू परिवार में स्वागत करते हुए कहा कि फातमी साहब के जुड़ने से पार्टी संगठन को दरभंगा के साथ ही पूरे बिहार में मजबूती मिलेगी। उन्होंने कहा कि फातमी साहब जिस दल से आए हैं उस दल के चंद नेताओं में शुमार थे, ऐसे में इनका उस दल को छोड़ जदयू की सदस्यता लेना बड़ा फैसला है। तीन तलाक बिल पर राज्यसभा में जदयू के रुख के बारे में पूछे जाने पर सिंह ने कहा कि सदन में बहस के समय हम लोगों का जो रुख होगा उससे आप अवगत हो ही जाएंगे, पर इसको लेकर हमारा पहले जो रुख था, उस पर हम अभी भी कायम हैं और आगे भी कायम रहेंगे। लोकसभा में तीन तलाक बिल का विरोध करते हुए राजग में शामिल जदयू सदन से वॉकआउट कर गयी थी। फातमी ने कहा कि जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में हो रहे न्याय के साथ विकास, खासकर बिहार के अल्पसंख्यकों के लिए सरकार द्वारा जितनी भी जनोपयोगी योजनाओं का क्रियान्वयन हुआ एवं हो रहा है, इससे पहले किसी भी पार्टी की सरकार द्वारा नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार ने समाज के पिछड़े वर्गों और अकलियतों, चाहे वो किसी भी तरह के अकलियत हों, के मुद्दे पर कभी कोई समझौता नहीं किया।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...