‘भेदभाव’ से दुखी समलैंगिक युवक ने खुदकुशी की - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 9 जुलाई 2019

‘भेदभाव’ से दुखी समलैंगिक युवक ने खुदकुशी की

transgender-commit-suicide
चेन्नई, नौ जुलाई, समलैंगिक होने के कारण कथित भेदभाव से दुखी मुंबई के 19 साल के एक युवक ने यहां समुद्र में कूदकर खुदकुशी कर ली। पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी। अविंशु पटेल ने फेसबुक पर हिन्दी और अंग्रेजी में किये दो पोस्ट में हालांकि कहा कि खुदकुशी के फैसले के लिए कोई जिम्मेदार नहीं है। उसने दो जुलाई को हिन्दी में किये पोस्ट में कहा, ‘‘मैं एक लड़का हूं, सभी यह जानते हैं। लेकिन मैं जिस तरह से चलता हूं, सोचता हूं, भाव व्यक्त करता हूं, बात करता हूं, वह लड़की की तरह है। भारत के लोगों को यह पसंद नहीं आता है।’’  अंग्रेजी पोस्ट में, उसने कहा, ‘‘मुझे उन अन्य देशों पर गर्व है जो समलैंगिक लोगों और ट्रांसजेंडरों को सम्मान देते हैं। मुझे अपने सहयोगी भारतीयों पर भी गर्व है।’’  एक स्पा में काम करने वाले पटेल ने कहा, ‘‘...यह मेरी गलती नहीं है कि मैं समलैंगिक हूं... यह भगवान की गलती है...मुझे अपनी जिंदगी से नफरत है।’’  पुलिस ने कहा कि स्थानीय लोगों ने तीन जुलाई को पुलिस को जानकारी दी थी कि यहां इनजामबक्कम में समुद्रतट पर उसका शव पड़ा है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...