बेगूसराय : मोब्लिलचिंग के खिलाफ आरजेडी और वामपंथियों का प्रतिरोध मार्च - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 8 जुलाई 2019

बेगूसराय : मोब्लिलचिंग के खिलाफ आरजेडी और वामपंथियों का प्रतिरोध मार्च

protest-against-mob-lynching
अरुण कुमार (आर्यावर्त) झारखंड के सरायकेला-खरसावां में पिछले दिनों तबरेज अंसारी को चोरी के आरोप में भीड़ द्वारा पीट-पीटकर बेरहमी से हत्या करने के खिलाफ रविवार की शाम फुलबड़िया बाजार में प्रतिरोध मार्च निकाला गया।जिसका नेतृत्व तेघड़ा भाकपा अंचल मंत्री परमानंद सिंह,बाबू साहेब मिश्र,भाकपा माले नेता बैजू सिंह,आइसा नेता अजय कुमार,वतन कुमार, शम्भू देवा,आरजेडी नेता मो०मकबूल आलम, मो०सिकन्दर अली,मो०तबरेज आलम नेे किया प्रतिरोध मार्च में शामिल लोग अपने-अपने हाथों में विभिन्न प्रकार के स्लोगन लिखे तख्ती के साथ नारेबाजी कर रहे थे.प्रतिरोध मार्च आलूचट्टी,मिर्चिया चौक,राजेंद्र रोड,रेलवे मार्केट,बरौनी चौक,दरगाह रोड,जामे मस्जिद रोड होते हुए वापस फुलवरिया बाजार पहुंची।मौके पर लोगों को संबोधित करते एआईएसएफ नेता शंभू देवा और जिला परिषद सदस्य सिकंदर अली ने कहा कि तबरेज अंसारी जमशेदपुर से अपने गांव वापस लौट रहे थे।लौटने के क्रम में तबरेज को धातकीडीह गांव में लोगों ने चोरी का आरोप लगाते हुए पोल से बांधकर बुरी तरह पीटा।तबरेज अंसारी की कई घंटों तक पिटाई की गई।जबरन धार्मिक नारे लगवाए गए।इसके बाद उसे पुलिस के हवाले किया गया।पुलिस ने भी तबरेज को समुचित इलाज करवाए बगैर जेल में बंद कर दिया,जहां उसकी मौत हो गई।राजद जिला उपाध्यक्ष मो०मकबूल आलम ने कहा कि एक बार फिर से झारखंड सहित पूरे देश में मॉबलिंचिंग के मामले बढ़ने लगे हैं। उन्होंने कहा कि मृतक के परिवार के समक्ष जीवनयापन का संकट उत्पन्न हो गया है।सरकार मृतक तबरेज के परिजनों को 25 लाख रुपया मुआवजा दे और पीड़ित परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी भी दी जाए।साथ ही हत्या में शामिल सभी आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए।आरवाईए जिला संयोजक मो०बस्सीर अहमद ने कहा कि देश की सत्ता पर जब से भाजपा काबिज हुई है,तब से सत्ता के नशे में चूर भाजपा संरक्षित गुंडों ने देश में कानून को अपने हाथ में ले कर देश के अल्पसंख्यक समुदाय के मासूम लोगों को कभी गो-रक्षा के नाम पर तो कभी चोरी करने के आरोप में पीट-पीटकर हत्या करने का जघन्य अपराध किया जा रहा है।बावजूद इसके सरकार उन गुंडों के विरुद्ध कोई ठोस कदम नहीं उठा रही है,जिससे हर रोज उन गुंडों का मनोबल बढ़ता ही जा रहा है जो आने वाले दिनों के लिए खतरा बनता जा रहा है।इस मौके पर सामाजिक कार्यकर्ता व एडवोकेट मोहम्मद तबरेज आलम ने आरएसएस और बजरंग दल पर प्रतिबंध लगाने की मांग सरकार से किया है।उन्होंने कहा कि जबसे केंद्र में भाजपा की  सरकार सत्ता में आयी है तब से मोब्लिंचिंग की घटना शुरू हुई है जो लगातार बढ़ता ही जा रही है।खासतौर से अल्पसंख्यकों को निशाना बनाते हुए मौत के घाट उतारा जा रहा है।केंद्र और राज्य सरकार को जल्द से जल्द ठोस कानून बनाकर ऐसे तथाकथित देश भक्तों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए।प्रतिरोध मार्च में मो०आलम,मो०हैदर अली, मो० मोनाजिर, मो०असफाक, मो०सद्दाम, मो०इमरान,राजद नेता कृष्ण पटेल,मो०फैजान, रणवीर कुमार, मो०मकबूल आलम, मो०मेराज, राजू, मो०मजहर आलम सहित सैकड़ोंं लोग इस प्रतिरोध मार्च में शामिल थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...