जमशेदपुर : उपायुक्त की अध्यक्षता में विकास से संबंधित जिला स्तरीय समन्वय समिति की बैठक - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 28 जुलाई 2019

जमशेदपुर : उपायुक्त की अध्यक्षता में विकास से संबंधित जिला स्तरीय समन्वय समिति की बैठक

सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी प्रत्येक गांव में 5 ट्रेंच कम बंन्डिंग योजना लें- उपायुक्तवित्तीय वर्ष 2019-20  में प्रधानमंत्री आवास योजना में शत-प्रतिशत निबंधन कराने का निर्देशप्रखंड विकास पदाधिकारियों को सखी संवाद आयोजित करने का निर्देशसभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को कमल क्लब का शत-प्रतिशत निबंधन और खाता खुलवाने का निर्देश दिया गयाजल संचयन हेतु कार्यक्रम आयोजित करने का निर्देश उपायुक्त ने दिएउज्जवला दीदी बनाने और सूचना पदाधिकारी नियुक्त करने का निर्देश
tata-dc-meeting-for-development
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता) उपायुक्त श्री रविशंकर शुक्ला की अध्यक्षता में आज विकास से संबधित जिला स्तरीय समन्वय समिति की बैठक समाहरणालय सभागार में आहूत की गई। बैठक में जिले में चल रहे विभिन्न विकास योजनाओं की गहन समीक्षा की गई तथा संबंधित पदाधिकारियों को कार्य में तेजी लाने हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश उपायुक्त द्वारा दिया गया। समीक्षा बैठक के दौरान उपायुक्त ने लंबित प्रधानमंत्री आवास को यथाशीघ्र पूरा करने के साथ ही वित्तीय वर्ष 2019-20 में प्रधानमंत्री आवास योजना में शत-प्रतिशत निबंधन कराने का निर्देश प्रखंड विकास पदाधिकारी को दिए। इस क्रम में जमशेदपुर प्रखंड विकास पदाधिकारी ने उपायुक्त को जानकारी दी कि वित्तीय वर्ष 2019-20 में जमशेदपुर प्रखंड के लिए निर्धारित लक्ष्य 1275 में मात्र 155 लाभुक योग्य पाए गए है जिनका निबंधन किया जा सकता है तथा योग्य लाभुक के अभाव में 1120 आवास के लिए निबंधन नहीं किया जा सकता है। वहीं बिजली विभाग की समीक्षा के दौरान उपायुक्त ने बिजली विभाग के कार्यपालक अभियंता को गुड़ाबांदा प्रखंड के गुड़ाबांदा पंचायत अंतर्गत महेशपुर गांव के अंबाडीह टोला में बिजली आपूर्ति करने का निर्देश दिया। उन्होने कार्यपालक अभियंता को विशेष रूप से सबर बस्ती में बिजली आपूर्ति करने का निर्देश दिया। उपायुक्त द्वारा बिजली विभाग के कार्यपालक अभियंता को 15 अगस्त तक सभी आंगनबाड़ी स्वास्थ्य केंद्र, स्कूल, सबर टोला, सभी सरकारी भवन में बिजली कनेक्शन उपलब्ध कराने हेतु निदेशित किया गया।

उपायुक्त ने पीडब्ल्यूडी विभाग की समीक्षा के दौरान कार्यपालक अभियंता को बहरागोड़ा से जीतेश्वर धाम तक जाने वाली सड़क का निर्माण सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया। उपायुक्त ने कार्यपालक अभियंता को घाटशिला के आसमा पंचायत में मुख्यमंत्री ग्राम सेतु के तहत निर्माणाधीन पुल की गुणवत्ता की जांच करने का भी निर्देश दिया। उपायुक्त ने स्पेशल डिवीजन के कार्यपालक अभियंता  को निर्देश दिए की घाटशिला प्रखंड में स्पेशल डिवीजन द्वारा बनाए गए सरकारी भवनों की मरम्मत कराना सुनिश्चित करें। उपायुक्त ने डुमरिया के कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में चाहरदीवारी का निर्माण कराने का निर्देश भी स्पेशल डिवीजन के कार्यपालक अभियंता को दिए। स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण की समीक्षा के दौरान उपायुक्त में सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को उनके क्षेत्र में बने शौचालय का भौतिक सत्यापन कर प्रतिवेदन जिला मुख्यालय को उपलब्ध कराने हेतु निदेशित किया। उन्होंने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को शौचालय के उपयोग के प्रति लोगों को जागरूक करने हेतु नियमित रूप से जागरूकता कार्यक्रम आयोजित करने का निर्देश दिया। उपायुक्त ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को शौचालय के उपयोग के प्रति लोगों को जागरूक करने में जल सहिया सेविका, स्वच्छताग्राही स्वास्थ्य सहिया, एएनएम, पीडीएस डीलर का सहयोग लेने का भी निर्देश दिया। पेयजल विभाग की समीक्षा के दौरान उपायुक्त ने प्रखंड विकास पदाधिकारियों को वैसे टोला और गांव की सूची उपलब्ध कराने का निर्देश दिया जहां लोग वर्तमान में भी कुआं से पानी पी रहे हैं। वहीं उपायुक्त ने पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के कार्यपालक अभियंता को खराब चापाकल  को शीघ्र मरम्मत कराने का निर्देश दिया। 14वें वित की राशि से जिले में सभी पंचायतों में बन रहे पेवर्स ब्लॉक सड़क, सौर ऊर्जा आधारित जलमीनार एवं एलईडी लाईट अधिष्ठापन कार्य की गुणवत्ता की जांच के साथ ही ससमय निर्माण पूरा कराने का निर्देश उपायुक्त द्वारा जेई को दिया गया। आज की बैठक में मुख्य रूप से उप-विकास आयुक्त, जिला योजना पदाधिकारी, निदेशक एन.ई.पी, जिला पंचायती राज पदाधिकारी, सिविल सर्जन सहित सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी के साथ ही अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...