सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 27 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 27 अगस्त 2019

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 27 अगस्त

बिजली उपभोक्ताओं के लिए बरसते  पानी में कलेक्टर से मिले महाजन 
भारी भरकम बिजली बिलों को लेकर काटे जा रहे है कनेक् शन  राज्यपाल के नाम कलेक्टर को दिया ज्ञापन 
sehore news
सीहेार। परेशान बिजली उपभोक्ताओं और कंपनी के द्वारा काटे जा रहे बिजली कनेक्शनों को लेकर भाजपा नेता गौरव सन्नी महाजन ने सोमवार की रात भाजपा कार्यकर्ताओं और शहरी और ग्रामीण बिजली उपभोक्ताओं के साथ बरसते पानी में कलेक्ट्रेट पहुंचकर कलेक्टर अजय गुप्ता को राज्यपाल के नाम ज्ञापन दिया।  भाजपा नेता गौरव सन्नी महाजन ने कलेक्टर को बताया की विद्युत वितरण कंपनी के द्वारा शहरी और ग्रामीण बिजली उपभोक्ताओं के साथ लगातार दुव्र्यवहार किया जा रहा है कंपनी के द्वारा भारी भरकम बिजली बिल देकर जबरन वसूली की जा रहीं है। बिजली उपभोक्ताओं के बिजली कनेक् शन काटे जा रहे है। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा शुरू की गई जनहितैशी बिजली उपभोक्ताओं से संबांधित योजनाओं को बंद कर दिया गया है। प्रदेश की नाथ सरकार ने बिजली की प्रति यूनिट दरों में बेतहासा वृद्धी कर दी है। जिस कारण गरीब बिजली उपभोक्ता नागरिक बिजली के भारी भरकम बिल जमा हीं नहीं कर पा रहे है प्रदेश सरकार के द्वारा बिजली कंपनी के माध्यम से सात प्रतिशत की वृद्धी कर नागरिकों की जेब पर डाका डाला जा रहा है। जनहित में बिजली उपभोक्ताओं को राहत देने की मांग भाजपा नेता महाजन के द्वारा सरकार से की गई। भाजपा नेता महाजन ने प्रशासन के माध्यम से प्रदेश की कमलनाथ सरकार को ग्रामीणोंं और शहरी नागरिकों के साथ उग्र आंदोलन करने की चैतावनी भी दी है। 

पूर्व सीएम के आश्ववासन के बाद भी नहीं मिली  इंग्लिशपुरा बाढ़ पीडि़तों को आर्थिक मदद 

sehore news
सीहोर। बाढ़ प्रभावित इंग्लिशपुरा नाले के किनारे स्थित कम्पाउंडर कॉलोनी में निवासरत नागरिको को अबतक किसी भी तरह की शासकीय मदद नहीं मिली है। जबकी पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कच्चे मकानों की कॉलोनी में पहुंचकर निरीक्षण किया था।  कॉलोनी में रहने वाले मजदूरों के कच्चे मकानों में बाढ़ ने बड़ी तबाहीं मचाई थी। नाले में मजदूरों का ग्रहथी का सामना भी बहा गया था कुछ मजदूरों के मकानों की दीवारें भी गिर गई थी पूर्व सीएम ने आर्थिक मदद दिलाने का आश्वासन दिया था।  मंगलवार को कलेक्ट्रेट पहुंचकर संयुक्त मजदूर एकता यूनियन सीटू जिला महामंत्री दिनेश कुमार मालवीय के नेतृत्व में कॉलोनी के  केसरीमल, चंदर सिंह मेवाड़ा, राकेश पुरविया, अमर सिंह, भूरी बाई, संगीता बाई, मनीषा, सुंदर बाई, भवंरी बाई, ममता बाई, रती बाई, कमल सिंह, नाथूलाल, सीताराम ने जनसुनवाई में पहुंचकर संयुक्त कलेक्टर रवि वर्मा से मदद की गुहार लगाई है। 

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने राजा साहब से की अपील  सब से सीनियर है आरती बनाया जाए नपाध्यक्ष 

sehore news
सीहेार। राज्यसभा सासंद पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के समक्ष सीहेार के सक्रिय कांग्रेस कार्यकर्ता एवं पार्षद सार्थियों सहित कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं और नागरिकों ने सब से सीनियर पार्षद आरती नरेंद्र खंगराले को नगर पालिका परिषद सीहेार की अध्यक्ष बनाए जाने का प्रस्ताव रखा है। कांग्रेेस कार्यकर्ताओं ने श्री सिंह को बताया की कांग्रेस पार्षद आरती खंगराले के ससुर नेकराम खंगराले एक बार तथा उनके पति नरेंद्र खंगराले दो बार निरंतर कांग्रेस के पार्षद रहे है। श्रीमति खंगराले का परिवार आजादी के पहले से कांग्रेस के लिए समर्पित रहा है। पार्षद आरती खंगराले  पूर्व महिला कांग्रेस अध्यक्ष जिला सीहेार रह चुकी है। श्रीमति खंगराले समाज के विभिन्न पदों पर भी कार्यरत है। श्रीमति खंगराले के पति श्री खंगराले वर्तमान में कांग्रेस सेवादल के जिलाध्यक्ष है। पूर्व में विभिन्न कांग्रेस के महत्वपूर्ण पदों पर रह कर कांग्रेस पार्टी के माध्यम से जनता की सेवा कर रहे है। एैसे कांग्रेस के लिए समर्पित और सभी वर्गो में जमीनी कार्यकर्ता की पहचान रखने वाले खंगराले परिवार की बहु श्रीमति खंगराले नगर पालिका अध्यक्ष पद के लिए उपयुक्त है। राजा साहब से वार्ता के दौरान प्रमुख रूप से प्रदेश कांग्रेस कमेटी सचिव जाफरलाला, जिला कांग्रेस के कार्यवाहक अध्यक्ष राहुल यादव, प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता आशीष गेहलोत, नपा उपाध्यक्ष राखी सुशील ताम्रकार, पार्षदगण वरिष्ठ पत्रकार केजी बैरागी, हरिपालीवाल, पंडित सोनू शर्मा,मांगीलाल टिमराई, प्रवक्ता सुनील दुबे मृदुल तोमर आदि कांग्रेस के कार्यकर्ता मोजूद थे। 

शौचालय विहीन कच्चे घरों में रहने को मजबूर बाढ़ पीडि़त  डिमावर,पलासीकलॉ,छिदगांव की महिलाएं पहुंची कलेक्ट्रेट 

sehore news
सीहोर। नसरूल्लागंज क्षेत्र के डिमावर,पलासीकलॉ,छिदगांव को ओडीएफ घोषित कर दिया गया है जबकी सैकड़ों ग्रामीण शौचालय विहीन कच्चे घरों में रहने को विवश है बाढ़ ने भी इन गांवों में दिक्कते खड़ी की है। सरकारी योजनाओं से महरूम हैरान परेशान कई मजदूर महिलाएं मंगलवार को कलेक्ट्रेट पहुंची। महिलाओं ने प्रशासन के द्वारा ग्राम पंचायतों के माध्यम से गांवों में संचालित शौचालय निर्माण योजना, मनरेगा योजना, प्रशानमंत्री आवास योजना, इंदिरा ज्योति योजना, वृद्धा पेंशन योजना बाढ पीडि़त सहायता वितरण की पोल खोलकर रख दी।  झुग्गी झोपड़ी महिला कांग्रेस प्रकोष्ठ की ब्लाक अध्यक्ष मना वर्मा के साथ महिलाओं ने संयुक्त कलेक्टर रवि वर्मा को बताया की वर्षो से कच्चे कबेलू वाले घरों में रह रहे है शौचालय के अभाव में खुले में शौच जाने को भी विवश है। सरकारी योजनाओं का लाभ भी नहीं मिल रहा है। बीते दिनों हुई बारिश का पानी घरों में भी घुस गया था जिस ग्रहस्थी का पूरा सामान खराब हो गया। अफसरों ने निरीक्षण किया मदद देने का आश्वासन दिया लेकिन अबतक कोई भी आर्थिक मदद नहीं दी। जिला सचिव झुग्गी झोपड़ी सचिव सुरेश सूर्यवंशी ने गांव के सरपंच और सचिव भी ग्रामीणों की मदद के लिए तैयार नहीं है। जिस कारण परेशानियों का सामना ग्रामवासियों को करना पड़ रहा है। गांवों में जल भराव की स्थिति भी बनी हुई है। ग्रामीण राम पर्ते, रूपा सिंह, राजेश जाट, संतरा बाई, सेवंती बाई, सरोज बाई, रमकों बाई, दुरपती बाई, लक्ष्मी बाई, सुलोचना बाई, रामवती बाई, रमता बाई, विक्रम सिंह आदि ग्रामीणों ने प्रशासन से समस्याओं के निराकरण और योजनाओं का लाभ दिलाने की मांग की है। 

सपेरों ने प्रशासन से की गेंहु चावल तेल कपड़ा देने की मांग  कलेक्ट्रेट पहुंची जनभागीदारी महिला समिति 

sehore news
सीहेार। मेहनत मजदूरी करने वाले सपेरा परिवार की महिलाओं ने मंगलवार को जनभागीदारी महिला समिति की समाजसेविका संतोषी प्रजापति के साथ जनसुनवाई में पहुंचकर प्रशासनिक अधिकारियों को पीड़ा बताई और प्रशासन से तत्काल गेंहु चावल तेल कपड़ा आदि जीवन उपयोगी सामग्री देने की मांग की।  ग्राम दिवाडिय़ा की सपेरा बस्ती में बाढ़ ने जमकर तबाहीं मचाई, सपेरों के झोपड़ों में पानी घुस गया। घर ग्रहस्थी का सामान पानी में बह गया। घरों में ओडऩे बिछाने के कपड़े तक नहीं बचे, बरसात के लिए बचाकर रखा गया अनाज भी भींगकर खराब हो गया। बाढ़ के कारण कच्चे घरों को भी काफी नुकसान हुआ। हालात एैसे है की बच्चों को खिलाने तक भी अन्य सपेरों के पास नहीं है बारिश के कारण काम धंघे भी बंद है। श्रीमति प्रजापति ने बताया की प्रशासनिक अधिकारियों ने बस्ती का निरीक्षण भी किया, लेकिन अबतक सपेरा परिवारों को कोई भी मदद नहीं मिली। सपेरा परिवार की महिलाओं को भी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। सपेरा घीसी बाई, कांता बाई, केसर बाई, ममता बाई, सौदरा बाई, कला बाई, शांता बाई, केशर बाई, सौरम बाई, कमला बाई, सरजू बाई, फूलवति बाई, लता बाई, गंगा बाई, कृष्णा बाई, राधा बाई, सकुंतला बाई, सौरम बाई, भूरी बाई, बरखा बाई, हरीनाथ, माहेन, धमेंद्र, प्रेमनाथ , लखन सिंह, भेरूनाथ, गुलाब सिंह, जितेंद्र, रूप सिंह, कमलनाथ मुन्ना लाल, विनोद नाथ आदि ने मदद की गुहार लगाई है। 

किसानों के लिए मुसीबत बनी बरसात  सैकड़ों एकड़  सोयाबीन फसल बर्बाद 
कलेक्ट्रेट खराब हुई फसल लेकर पहुंचे शिकारपुर,खुटियाखेड़ी और बमुलिया के किसान 
sehore news
सीहेार। किसानों की परेशानियां कम होने का नाम नहीं ले रहीं है। बरसात किसानों के लिए मुसीबत बन गई है। सैकउ़ों एकड़ खेतों में खड़ी सोयाबीन की फसल बर्बाद हो गई है। शिकारपुर,खुटियाखेड़ी और बमुलिया के अनेक हैरान परेशान किसान मंगलवार को खराब हुई सोयाबीन फसल के पौधे लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचे। किसानों ने जय जवान जय किसान के नारे लगाए। किसानों ने समाजसेवी अंतर सिंह परमार,बाला प्रसाद परमार के नेतृत्व में संयुक्त कलेक्टर रवि वर्मा को कलेक्टर के नाम ज्ञापन दिया। किसानों ने प्रशासन से समय रहते खराब हुई सोयाबीन फसल का सर्वे कराने और नुकसान के आंकलन के बाद पीडि़त किसानों को पर्याप्त मुआवजा राशि देने की मांग की। किसान राम सिंह, सुहागमल, राजेश, राधेश्याम, उमराव सिंह, देव सिंह, सुरेश, रामकिशन, परम सिंह, राजमल, संतोष सिंह, अजय सिंह, मुकेश आदि किसानों ने बताया की हजारों रूपए बैंक और सोसायटियों से कर्ज लेकर खाद बीच उधार लेकर सोयाबीन फसल की बोवनी की थी जिस में हजारों रूपए के चारामार कीटनाशक का भी उपयोग किया था फसल खराब होने के बाद अब कर्ज चुकाना मुश्किल हो जाएगा। 

कलेक्टर के निर्देश पर जांच दल ने किया जल भराव क्षेत्रों का निरीक्षण    

sehore news
कलेक्टर श्री अजय गुप्ता के निर्देशानुसार शहर स्थित नाले के आसपास जल भराव क्षेत्र में किये गए अतिक्रमण हटाने एवं अनेक स्थानों पर बाधित हो रही जल निकासी के संबंध में जांच करने के लिए जांच दल का गठन अनुविभागीय अधिकारी सीहोर श्री वरुण अवस्थी द्वारा किया गया है। गठित दलों ने नायब तहसीलदार सुनीता सिंह के नेतृत्व में सभी स्थलों का निरीक्षण किया एवं सुधार हेतु क्या-क्या किया जा सकता है इसकी सूची तैयार की। जांच दल ने स्थानीय लोगों से चर्चा कर उनके सुझाव भी एकत्रित किए हैं। निरीक्षण दल द्वारा कोतवाली चौराहा और मेन रोड़ की नालियों का भी सूक्ष्म अवलोकन कर समस्या के निराकरण हेतु किए जाने वाले कार्यों को भी सूची में शामिल किया है।  शिवाजी नगर में रानी मोहल्ला से लगे हुए नाले के लिए दल प्रभारी राजस्व निरीक्षक श्री अंकित तिवारी के साथ दल सदस्य पटवारी श्री दिलीप सिंह, श्री रामबरन, नगरपालिका के श्री राजेश दुबे, नहरुद्धीन, श्री सीताराम, श्री राकेश भैरवे, शिवाजी नगर से भाले राव गली के पुल के आसपास का क्षेत्र के नाले के लिये दल प्रभारी राजस्व निरीक्षक नजूल श्री प्रजापति एवं दल सदस्य पटवारी श्री सुरेन्द्र जामलिया, श्री भरत मेवाड़ा, नगरपालिका के श्री अनवर अली, श्री पूनम चावरिया, श्री विष्णु प्रसाद, श्री चतर सिंह, श्री राधेश्याम वर्मा, देव नगर कॉलोनी के जल भराव से प्रभावित क्षेत्र के लिए दल प्रभारी राजस्व निरीक्षक नजूल कु.नेहा राजपूत एवं दल सदस्य पटवारी श्री कमल कटियार, श्री निलेश यादव, श्री विक्रम सिंह, नगरपालिका के श्री मोहन कटारिया, श्री कैलाश परमार एवं भोपाल नाका मुरली से बहने वाले नाले के समीप के क्षेत्र के लिए दल प्रभारी राजस्व निरीक्षक नजूल लीना एवं दल सदस्य पटवारी नवनीत चौरसिया, श्री मोहन डेहरिया, श्री पन यादव, नगरपालिका के श्री राजेश कोशल, श्री नेतराम राठौर तथा श्री बाबू खां को नियुक्त किया गया है। 

शांति समिति की बैठक 31 अगस्त को    

आगामी त्यौहारों को लेकर शांति समिति की बैठक 31 अगस्त को सायं 4 बजे पुलिस अधीक्षक कार्यालय के नवनिर्मित कंट्रोल रूम में स्थित सभाकक्ष में आयोजित की जाएगी। बैठक 2 सितंबर को गणेश चर्तुथी, 9 सितंबर को डोल ग्यारस, 10 सितंबर को  मुहर्रम, 11 सितंबर को ओणम, 12 सितंबर को अनन्त चर्तुदशी, 29 सितंबर को नवरात्रारंभ, 6 अक्टूबर को दुर्गा अष्टमी, 8 अक्टूबर को विजया दश्समी आदि धार्मिक त्यौहारों को शांति पूर्वक मनाए जाने की चर्चा की जाएगी। समस्त शांति समिति सदस्य बैठक में उपस्थित होना सुनिश्चत करें।

जनसुनवाई में लोगों ने सुनाई अपनी समस्याएं    

sehore news
जिला मुख्यालय पर मंगलवार को कलेक्टर कार्यालय में कलेक्टर श्री अजय गुप्ता के निर्देशानुसार अपर कलेक्टर श्री विनोद कुमार चतुर्वेदी एवं डिप्टी कलेक्टर श्री रवि वर्मा ने जनसुनवाई की। इस दौरान समस्त विभाग प्रमुख उपस्थित थे। जनसुनवाई में सर्वाधिक बिजली बिल की शिकायतों के आवेदन प्राप्त हुए जिसमें अधिक राशि के बिजली बिल कम कराने की गुहार लगाई गई। इसी प्रकार ग्राम दीवड़िया में बारिश का पानी घरों में घुसने एवं बारिश से मकान गिरने की शिकायत लेकर लगभग 30-40 महिलाएं कलेक्ट्रेट पहुंची। नगर में अनेक स्थानों में बारिश के पानी की निकासी व्यवस्थित कराने, अतिक्रमण हटवाने, राशनकार्ड, बीपीएल सूची में नाम जोड़ने सहित अन्य शिकायतें भी प्राप्त हुई हैं। अपर कलेक्टर ने शिकायतकर्ताओं को आश्वत करते हुए संबंधित विभागों को तुरंत कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं।  

जिले में अब तक 1060.6 मि.मी. औसत वर्षा     

जिले में आज 27 अगस्त, 2019 की प्रात:8 बजे समाप्त पिछले चौबीस घन्टों में 40.5 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई है। इसे मिलाकर 1 जून से अभी तक जिले में 1060.6 मि.मी औसत बारिश रिकार्ड की जा चुकी है जबकि गत वर्ष इस अवधि में 814  मिलीमीटर औसत वर्षा आंकी गई थी। अधीक्षक, भू-अभिलेख से मिली जानकारी के अनुसार पिछले चौबीस घन्टों में सीहोर में 50.6 श्यामपुर में 30 आष्टा में 43, जावर में 38, इछावर में 17, नसरुल्लागंज में 14, बुधनी में 78, एवं रेहटी में 53.2 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। आंकड़ों के मुताबिक जिले में अभी तक सीहोर में 1369, श्यामपुर में 1001, आष्टा में 1135, जावर में 713, इछावर में 1065, नसरूल्लागंज में 1172, बुधनी में 970 तथा रेहटी में 1059 मिलीमीटर वर्षा रिकार्ड की गई है। इस अवधि में गत वर्ष सीहोर में 1169.3, श्यामपुर में 846, आष्टा में 766, जावर में 662.3, इछावर में 819, नसरूल्लागंज में 545.2, बुधनी में 790 तथा रेहटी में 914 मिमी वर्षा रिकार्ड की गई थी।

पेंशनरों और परिवार पेंशनरों को महंगाई राहत मंजूर

राज्य सरकार ने पेंशनरों और परिवार पेंशनरों की महँगाई राहत में जनवरी 2019 से वृद्धि की हैं। वित्त विभाग द्वारा जारी आदेशानुसार जनवरी 2019 की फरवरी 2019 में देय पेंशन से यह दर प्रभावशील होगी। छठवें वेतनमान में महँगाई राहत में वृद्धि दर 6 प्रतिशत तथा सातवें वेतनमान में 3 प्रतिशत होगी। वृद्धि के परिणामस्वरूप छठवें वेतनमान में महंगाई राहत की दर 154 प्रतिशत और सातवें वेतनमान में 12 प्रतिशत होगी। अस्सी वर्ष अथवा उससे अधिक आयु के पेंशनरों को देय अतिरिक्त पेंशन पर भी महँगाई राहत देय होगी।

गणेशोत्सव में अस्थाई विद्युत कनेक्शन लेकर ही करें झांकी-पंडाल की साज-सज्जा

गणेशोत्सव में पंडालों को अस्थायी विद्युत कनेक्शन देने के लिए विद्युत वितरण कंपनी ने माकूल प्रबंध किये हैं। कंपनी ने धार्मिक उत्सव समितियों और बिजली उपभोक्ताओं से अपील की है कि वे गणेशोत्सव के दौरान धार्मिक पण्डालों एवं झाँकियों में बिजली की साज-सज्जा नियमानुसार अस्थाई कनेक्शन लेकर ही करें। विद्युत वितरण कंपनी ने धार्मिक उत्सव समितियों से कहा है कि रसीद की लेमीनेटेड प्रति अनिवार्य रूप से पंडाल, झाँकी के सामने लगायें। विद्युत कनेक्शन मीटरीकृत होगा। विद्युत देयक की बिलिंग नियमानुसार अस्थायी कनेक्शन के लिये लागू घरेलू दर पर की जाएगी। इसके लिए आवेदन में दर्शाए अनुसार विद्युत भार के अनुरूप सुरक्षा निधि एवं अनुमानित विद्युत उपभोग की राशि अग्रिम जमा करा कर पक्की रसीद प्राप्त करना होगा। गणेशोत्सव समितियों से कहा गया है कि अनाधिकृत विद्युत उपयोग करने पर इलेक्ट्रिसिटी एक्ट 2003 के तहत उपयोगकर्ता एवं जिस विद्युत ठेकेदार से कार्य कराया गया है, उसके विरूद्ध वैधानिक कार्यवाही की जाएगी। अनधिकृत विद्युत उपयोग की दशा में संबंधित विद्युत ठेकेदार का लायसेंस भी निरस्त हो सकता है।

प्लास्टर ऑफ पेरिस से निर्मित मूर्तियों के निर्माण व विक्रय पर प्रतिबंध 

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के निर्देशों को ध्यान में रखते हुए प्लास्टर ऑफ पेरिस या अन्य प्रकार के केमिकल्स से मूर्ति निर्माण किए जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। आगामी दिनों में त्यौहारों के अवसर पर मूर्ति निर्माण प्राकृतिक रंगों व प्राकृतिक पदार्थो से ही किया जायें। अब केवल मिट्टी से बनी प्रतिमाओं का ही निर्माण व विक्रय किया जा सकेगा। नगरीय निकायों को यह सुनिश्चित करना होगा कि उनके क्षेत्र में रासायनिक पदार्थो से कोई मूर्ति का निर्माण न किया जाये। यदि कोई निर्माण करता है तो उसके विरूद्ध स्थानीय निकाय द्वारा नगरीय ठोस अपशिष्ट नियम के प्रावधानों के तहत भी कार्यवाही की जाये। इसके साथ ही जारी आदेश में उल्लेख किया गया है कि मूर्ति विसर्जन से पूर्व मूर्ति पर चढ़ाई गई, प्लास्टिक से निर्मित पूजन सामग्री को निकालकर अलग कर लिया जाना चाहिए। प्लास्टर ऑफ पेरिस या अन्य प्रकार के केमिकल्स से मूर्ती निर्माण नहीं की जाये। अगर निर्माण करना पाया जाता है तो संबंधित के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही की जायेगी।

30 अगस्त तक सघन गिरदावरी अभियान 

प्रदेश में 30 अगस्त तक सघन गिरदावरी अभियान के अंतर्गत खरीफ की फसल गिरदावरी कार्य 30 अगस्त तक पूर्ण करने के निर्देश आयुक्त भू-अभिलेख एवं बंदोबस्त द्वारा दिए गए हैं। खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग द्वारा खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर फसल खरीदी की जाएगी। इसलिए 30 अगस्त किसानों की फसल का शत-प्रतिशत गिरदावरी कार्य पूर्ण करने के लिए आवश्यक कार्यवाही किया जाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं।  सघन गिरदावरी अभियान के दौरान पटवारियों को अपने हल्के में अनिवार्य रूप से उपस्थित रहने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही फसल गिरदावरी कार्य का निरीक्षण अधिकारी द्वारा सतत् रूप से किया जाएगा। सभी क्षेत्रीय उप आयुक्त भू-अभिलेख इस कार्य की निगरानी करेंगे तथा सभी अधीक्षक भू-अभिलेख, संभागीय आयुक्त, कलेक्टर तथा क्षेत्रीय उप आयुक्त भू-अभिलेख को प्रतिदिन फसल गिरदावरी की प्रगति से अवगत कराएंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...