बिहार : पानी पानी राजधानी होने से रेमंड शो रूम में पानी प्रवेश कर जाने से भारी नुकसान - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 28 सितंबर 2019

बिहार : पानी पानी राजधानी होने से रेमंड शो रूम में पानी प्रवेश कर जाने से भारी नुकसान

heavy-rain-patna-cause-heavy-lose
पटना,28 सितम्बर। राजधानी पटना समेत बिहार के कई जिलों मे हो रही बारिश अब लोगों के लिये आफत बन गई है। पटना की लगभग हर प्रमुख सड़कों पर जलजमाव होने से आम जनजीवन पूरी तरह अस्त व्यस्त हो गया। पटना के कई इलाकों में रात भर हुई बारिश के बाद भारी जल जमाव देखा जा रहा है। खासकर पटना के निचले इलाकों में बारिश का पानी लोगों के घरों में घुस गया है। बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव, सांसद राजीव प्रताप रूडी आदि भी जलभराव की चपेट में आ गये हैं।  बताते चले कि बिहार के तमाम हिस्सों में बारिश के कारण आम लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। राज्य के तमाम जिलों में जहां भारी बारिश की संभावना जाहिर करते हुए प्रशासन को पूरी तरह से अलर्ट रहने के लिए कहा गया है। वहीं राजधानी पटना में तमाम इलाकों में जलजमाव और बारिश के बीच लोगों को खासी दिक्कतें उठानी पड़ रही हैं।पटना के नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल (एनएमसीएच) में पानी घुस गया है, जिससे मरीजों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। भारी बारिश की संभावना को देखते हुए पटना सहित राज्य के अधिकांश जिलों में स्कूलों और कोचिंग संस्थानों को बंद कर दिया गया है। पटना की कई सड़कों पर दो से चार फीट तक पानी बह रहा है। सांसद राजीव प्रताप रूडी और उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के पटना स्थित आवास में भी पानी घुस गया है। पटना के जिलाधिकारी कुमार रवि ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि अत्याधिक बारिश होने के कारण ऐसी स्थिति उत्पन्न हुई है। उन्होंने कहा कि प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्य चलाए जा रहे हैं तथा जलभराव वाले क्षेत्रों से पानी निकालने की कोशिश की जा रही है।  

heavy-rain-patna-cause-heavy-lose
जिलाधिकारी ने कहा कि दो दिनों तक राज्य के सभी स्कूलों और कोचिंग संस्थानों को बंद कर दिया गया है। इधर, नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भी पानी घुस गया है, जिससे मरीजों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। अस्पताल प्रशासन ने हालांकि इस संबंध में बस इतना ही कहा कि पानी घुस गया है। स्थानीय लोगों का कहना है कि इस बारिश ने नगर निगम और राज्य सरकार की तैयारियों की पोल-खोल दी है। लोग कहते हैं कि क्या यही सुशासन है। मौसम विभाग के मुताबिक पिछले 24 घंटे के दौरान पटना में 98 मिलीमीटर, भागलपुर में 134 मिलीमीटर और गया में 73 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है।  बता दें कि पटना के राजेंद्र नगर, कंकड़बाग समेत निचले इलाकों में बारिश का पानी जमा हो गया है। कई घरों में भी पानी घुस गया है।बिहार में पिछले तीन दिनों से लगातार हो रही बारिश का असर दिख रहा है। नदियों का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर चला गया है। पटना में गंगा नदी में फिलहाल पानी नहीं बढ़ा है।वहीं गोविंद मित्र रोड के पास बिजली का तार सड़क पर गिर गया, जिसकी चपेट में एक बच्चा आ गया और उसकी मौत करंट लगने से हो गई। इसके अलावा पटना के कई अन्य इलाकों से भी दर्जनभर मवेशियों के मरने की सूचना मिल रही है। गांधी मैदान, बोरिंग रोड, राजेन्द्र नगर, कंकड़बाग समेत कई इलाकों में बारिश का पानी जमा होने से आवागमन पूरी तरह से बाधित हो गया।  सबसे ज्यादा प्रभावित इलाकों में अब राहत बचाव कार्य शुरू हो गया है। पटना के राजेंद्रनगर इलाके में सड़कों पर पानी भरने के बाद एनडीआरएफ की टीम नाव लेकर उतरी है।आपदा प्रबंधन विभाग के प्रमुख सचिव प्रत्यय अमृत ने बताया कि आने वाले समय में लगातार बारिश का अनुमान है।जिनके घरों में पानी आ गया है और जो लोग घर से बाहर जाना या किसी रिश्तेदार के पास जाना चाहते हैं उनके लिए ट्रैक्टर का इंतज़ाम किया जा रहा है। गांधी मैदान के पास बस की सुविधा दी जा रही है। इस बीच आपदा प्रबंधन विभाग ने 'जल जमाव के चलते लोगों को घरों में ही रहने की सलाह दी है. अगर जरूरत हुइ तो ही वो घर से बाहर निकलें. लोगों की सुविधाओं के लिए आपदा प्रबंधन विभाग का कंट्रोल रूम 24 घंटे खुला रहेगा. कंट्रोल रूम नंबर- 0612-2294204, 0612-2294205, 0612-2219810

रेलवे ट्रैक पर जमा हुआ पानी, कई ट्रेनें प्रभावित
दानापुर रेल मंडल के पटना जंक्शन के पास शनिवार सुबह चार बजे से ही रेल ट्रैक पर बारिश का पानी चढ़ गया। ट्रैक पर पानी चढ़ जाने के कारण पिछले पांच घंटों से आरा बक्सर रेल खंड का अप व डाउन परिचालन पूरी तरह से ठप हो गया है। इससे रेल यात्री बारिश के मौसम में भारी परेशानी का सामना कर रहे हैं। 

बारिश के बाद जलमग्न हुईं पटना की सड़कें, करंट से बच्चे की मौत
बिहिया स्टेशन के सहायक स्टेशन मास्टर एसबी राय ने बताया कि चार बजे से अप में परिचालन बाधित है। पंजाब मेल, विभूति एक्सप्रेस सहित कोई गाड़ी अभी तक नहीं गुजरी है। वहीं डाउन में लगभग तीन घंटे बाद एक-एक कर ट्रेन चलाई जा रही है। मिली जानकारी के अनुसार बक्सर-पटना साहेब शटल व तूफान एक्सप्रेस कारीसाथ और आरा में बनारस एक्सप्रेस खड़ी है। आरा से पटना तक डाउन ट्रैक पर विभिन्न स्टेशनों पर ट्रेनें खड़ी हैं। परिचालन बुरी तरह प्रभावित है। यात्री हलकान हैं। लगभग साढ़े चार घंटे बाद डाउन रेल रालइन पर गाड़ियां तो रेंगती नजर आयीं पर अप में अब भी ठप है।

गया-पटना के बीच ट्रेन परिचालन बाधित
वहीं रेलवे ट्रैक पर बारिश का पानी आ जाने के कारण गया पटना के बीच ट्रेन परिचालन बाधित हो गया है, जिसके कारण पटना की ओर से गया की ओर कोई भी ट्रेन नहीं आ रही है। गया से सुबह 5:45 बजे वाली मेमू को प्लेटफार्म से लौटा दिया गया। वहीं पलामू एक्सप्रेस सुबह 8.15 बजे चली, रांची-पटना एक्सप्रेस, भभुआ-पटना इंटरसिटी एक्सप्रेस गया जंक्शन पर खड़ी रहीं।  वहीं दूसरी ओर गया से वज़ीरगंज होते हुए नवादा, राजगीर, बिहार शरीफ जाने के लिए NH82 पर बने तिलैया पुल का डायवर्सन टूट जाने के कारण बसों का सीधा परिचालन फिलहाल बंद है। पुल के पास तक यात्री बस से जा रहे हैं। उसके बाद पुल पर पैदल पार करके दूसरी तरफ से फिर से दूसरी बस पकड़ रहे हैं। वज़ीरगंज बाजार में एनएच पर बने गड्ढे पानी से लबालब हो गए हैं, जिसके कारण भी बसों को चलने में काफी परेशानी हो रही है। वहीं जहानाबाद से भी खबर आ रही है कि पटना और गया रेलवे ट्रैक पर पानी जमा होने कारण ट्रेनों का परिचालन सुबह से ही बाधित है। पटना-गया रेलखंड पर गंगा दामोदर एक्सप्रेस और 2 पीजी सवारी गाड़ी के अलावा गया की ओर से ट्रेन पटना के लिए नहीं गुजरी है। वही पटना से सिर्फ जनशताब्दी एक्सप्रेस खुली है। एक भी पैसेंजर ट्रेन पटना से गया नहीं गई है, जिसके कारण यात्रियों को पटना और गया जाने के लिए काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जहानाबाद रेलवे स्टेशन स्थित पूछताछ काउंटर पर यात्रियों की भीड़ लगी है। स्टेशन प्रबंधक ने बताया की गया की ओर से एक पैसेंजर और गंगा दामोदर पटना की ओर से सिर्फ जनशताब्दी की आने की सूचना है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...