पाकिस्तान जाधव को दूसरी बार राजनयिक पहुंच नहीं देगा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 13 सितंबर 2019

पाकिस्तान जाधव को दूसरी बार राजनयिक पहुंच नहीं देगा

jadhav-will-not-get-second-diplomatic-support
इस्लामाबाद, 12 सितंबर , पाकिस्तान ने बृहस्पतिवार को भारत को कुलभूषण जाधव तक दूसरी बार राजनयिक पहुंच मुहैया कराने से इनकार कर दिया।  जाधव को ‘‘जासूसी और आतंकवाद’’ के आरोप में एक सैन्य अदालत ने मौत की सजा सुनाई है। एक पाकिस्तानी सैन्य अदालत ने   49 वर्षीय जाधव को अप्रैल 2017 में ‘‘जासूसी और आतंकवाद’’ के आरोप में मौत की सजा सुनाई थी। इसके बाद भारत ने उनकी मौत की सजा पर रोक तथा आगे के उपायों के लिए अंतरराष्ट्रीय न्यायालय से संपर्क किया था। पाकिस्तान ने जुलाई में अंतरराष्ट्रीय न्यायालय के निर्देश के बाद सेवानिवृत्त भारतीय नौसेना अधिकारी जाधव को राजनयिक पहुंच प्रदान की थी और इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग के प्रभारी गौरव अहलूवालिया ने जाधव से दो सितंबर को दो घंटे तक मुलाकात की थी। पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने जाधव को फिर से राजनयिक पहुंच देने के बारे में पूछे गए एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘कोई और बैठक नहीं होनी है।’’  पाकिस्तान का दावा है कि ईरान से कथित तौर पर घुसने के बाद उसके सुरक्षा बलों ने जाधव को तीन मार्च 2016 को बलूचिस्तान प्रांत से गिरफ्तार किया था।  हालांकि भारत का कहना है कि जाधव को ईरान से अगवा किया गया था जहां नौसेना से सेवानिवृत्त होने के बाद उनके व्यापारिक हित थे। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने यह भी घोषणा की कि करतारपुर गलियारे के लिए पाकिस्तान प्रति व्यक्ति 20 डॉलर सेवा शुल्क के रूप में लेगा।  फैसल ने कहा, ‘‘पाकिस्तान प्रति व्यक्ति 20 डॉलर सेवा शुल्क के रूप में लेगा, करतारपुर गलियारे के लिए प्रवेश शुल्क के तौर पर नहीं।’’ 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...