झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 07 सितंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 7 सितंबर 2019

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 07 सितंबर

नगरीय प्रशासन मंत्री से कि पारा को नगर परिषद बनाने कि मांग

jhabua news
पारा । गत दिवस झाबुआ जिला मुख्यालय पर पधारे नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिह से पारा नगर के युवा सामाजिक कार्यकर्ता राकेश कटारा ने नगर वासियो कि ओर ज्ञापन देकर ग्राम पंचायत पारा को नगर परिषद बनाने कि मांग की । सामाजिक कार्यकर्ता राकेश कटारा ने पंचायत पारा को नगर परिषद बनाने कि मांग का ज्ञापन नगरीय प्रशासन मंत्री जयवध्र्रन सिह को देते हुवे बताया कि पारा ग्राम पंचायत पारा नगर रामा ब्लाक का सबसे बडा गांव हे । भौगोलिक दृष्टी से भी यह पंचायत इस सिमा मे आति हे कि पारा को नगर परिषद बनाए जावे। जिससे कि क्षेत्र मे विकास के अवसर बडे। नगर परिषद के बनने पर जहा क्षेत्र का विकास होगा वही क्षेत्र के लोगो को रोजगार के अवसर भी मिलेगे। पुर्व मे भी जिला कलेक्टर शौभीत जैन ने भी जब पारा क्षेत्र का दोरा किया था तब नगर के गणमान्य नागरीको से उन्होने पारा को नगर परिषद बनवाने के लिए बोला था पर किसी भी जन प्रतिनिधि ने कलेक्टर महोदय के द्वारा दिए गए इस सुझाव पर अमल नही किया न ही इस दिशा मे आज तक कोई कारवाही कि । इसी उद्देश्य को पुरा करने व क्षेत्र के विकास को बडावा देने के लिए उक्त आशय का ज्ञापन माननीय मंत्री महोदय को झाबुआ भ्रमण के दोरान राकेश कटारा ने दिया । मंत्री जी ने भी अति शिघ्र कारवही कर ग्राम पंचायत को नगर परिषद मे परिवर्तित करने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर श्री कटारा के साथ प्रकाश राॅका सलेल पठान,निलेश कटारा, सुरेश पचाया सहीत कई कांगे्रस के कार्यकर्ता व गणमान्य नगारिक उपस्थित थै।

नवापाडा स्कुल को मिला राज्य स्तरीय वाल आफॅ फेम अवार्ड

पारा। गत दिवस 5 सितम्बर को जिले के दोरे पर आए नगरीय प्रशासन मंत्री राजवर्ध सिह ने जिले भर मे शिक्षा के मे अच्छा प्रर्दशन करने वाले स्कुलो को शिक्षक दिवस के मोके पर विधालय प्रमुख को अवार्ड देकर सम्मानित किया। प्राप्त जानकारी के अनुसार 5 सितम्बर शिक्षक दिवस के अवसर पर जिले के भ्रमण पर आए नगरीय प्रशासन मंत्री जयर्वघन सिह ने जिले भर के करिब 42 स्कुलो को शिक्षा के क्षेत्र मे अच्छा कार्य करने पर राज्य स्तरीय वाल आॅफ फेम अवार्ड 2018-19 मे दक्षता उन्नयन मे 75 प्रतिशत बच्चो को हिन्दी व गणित विषय मे मुलभुत दक्षता प्राप्त करने पर कलेक्टर प्रबल सिपाहा, आयुक्त श्री प्रशंात आर्य ,डीपीसी श्री लक्ष्मीनारायण प्रजापति महोदय कि गरिमामय उपस्थिति मे दिया गया। यह अवार्ड विधालय के शाला प्रमुख ने प्राप्त किया। इसी कडी मे रामा ब्लाक के पारा क्षेत्र के ग्राम नवापडा के प्राथमीक व माध्यमिक विधालय को भी यह अवार्ड प्राप्त हुआ जिसको विधालय प्रमुख विनोद कलम व केसरसिह चोहान ने ग्रहण किया। यह अवार्ड ब्लाक मे करिब 11 स्कुल को मिला हे। वही पारा क्षेत्र केे नवापाडा का यह इकलोता स्कुल हे जिसको यह अवार्ड मिला हे। इस अर्वाड के मिलने पर क्षेत्र के शिक्षा जगत मे हर्ष हे। इस अवसर पर संकुल प्राचार्य मनोज खाबीया, गुलाब सिह डावर, बापुसिह चैहान,कमल नरगावे सहीत सभी इष्ट मित्रो व शिक्षक बंधुओ दोनो विधालय प्रमुख को बधाईयां प्रेषित कि हे।

झाबुआ को उड़ता पंजाब बनाने से रोकने के लिए सड़कों पर उतरा पूरा झाबुआ शहर, सर्व धर्म- सर्व-समाज, सर्व सामाजिक-धार्मिक संस्थाओं, राजनैतिक पार्टियों ने निकाला भव्य मौन जुलूस
कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर नषेड़ियों पर सख्त कार्रवाई की मांग की
jhabua news
झाबुआ। शहर में 6 सितंबर, शुक्रवार को दोपहर 2.30 वह वक्त था, जब शहर के ह्रदय स्थल राजवाड़ा से सैकड़ों लोग, जिसमें सर्व धर्म, सर्व समाज, सर्व सामाजिक-धार्मिक संस्थाओं, व्यापारियों, खिलाड़ियों, कर्मचारीगणों और राजनैतिक पार्टियों ने झाबुआ को उड़ता पंजाब बनाने से रोकने के लिए सड़कों पर उतरना ही मुनासिब समझा। एक आव्हान पर राजवाड़ा पर सैकड़ों लोग एकत्रित हुए और संयुक्त रूप से झाबुआ में नषाखोरी की लत को पूर्णतः समाप्त करने एवं दोषियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई करने को लेकर भव्य मौन जूलूस निकला। जिसमें बच्चे, युवा बड़े, बुजुर्ग सभी की सहभागिता रहीं। अभिभाषक संघ के साथ शहर की महिलाओं एवं बालिकाओं ने भी इसमें उत्साहपूर्वक सहभागिता की। मौन जुलूस शहर के विभिन्न मार्गों से होते हुए कलेक्टोरेट पहुुंचने पर यहां जिले के मुखिया कलेक्टर प्रबल सिपाहा को ज्ञापन सौंपकर झाबुआ को उड़ता पंजाब से बचाने के लिए नषेडियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की मांग की गई। ज्ञातव्य रहे कि शहर सहित संपूर्ण जिले में पिछले कुछ महीनों में नषे की जद में विषेषकर युवाओं के आने से कई हत्या एवं आत्महत्याआंे की घटना हो चुकी है, लेकिन पुलिस प्रषासन नषेडियों और उनके गिरोह को गिरफतार करने में नाकाम साबित हो रहा है, अपितु ऐसा प्रतीत हो रहा है कि नषे के काराबोर करने वालों को पुलिस प्रषासन का भी मौन संरक्षण प्राप्त हो रहा है। झाबुआ के युवाआंे को नषा नाष की तरह लील रहा है और लगातार हो रहीं घटनाओं से झाबुआ उड़ता पंजाब बनने की ओर अग्रसर हो रहा है। जिससे झाबुआ शहर को बचाने के लिए 6 सितंबर, गुरूवार को दोपहर 2.30 बजे राजवाड़ा पर सैकड़ों लोग जमा हुए और यहां से भव्य मौन जुलूस निकाला गया। जिसमें सर्वप्रथम सकल व्यापारी संघ अध्यक्ष एवं वरिष्ठ समाजसेवी नीरजसिंह राठौर ने उपस्थितजनों को संबोधित करते हुए कहा कि आज हम सभी शहर के ह्रदय स्थल पर इसलिए एकत्रित हुए है, क्योकि हमे झाबुआ को उड़ता पंजाब होने से बचाना है, यदि आज प्रयास नहीं किए गए, तो देष की भावी युवा पीढ़ी नषे की लत में पूरी तरह से लिप्त होकर अपने जीवन एवं भविष्य को अंधकारमय और बर्बाद कर देगीं समय पर इसके लिए हमे पहल करना जरूरी है। बाद वरिष्ठ रोटेरियन जयेन्द्र बैरागी ने भी संबोधित करते हुए नषे से शहर को मुक्त करने के लिए सभी से एकुजट होने का आव्हान किया।

भव्य मौन जुलूस निकाला, पूरा शहर एकत्रित हुआ
बाद राजवाड़ा से मौन जुलूस आरंभ हुआ। जिसमें सबसे आगे बेनर लेकर दो युवक चले। इसके पीछे सैकड़ों की संख्या में सर्व धर्म, सर्व समाज, सर्व सामाजिक-धार्मिक-राजैनतिक संस्थाओं के पदाधिकारी-सदस्यों ने शामिल होकर शांतिपूूर्वक दो-दो की कतार में मौन जुलूस निकाला। जिसमें विषेष रूप से कांग्रेस पार्टी से डाॅ. विक्रांत भूरिया, पूर्व विधायक जेवियर मेड़ा, वरिष्ठ कांग्रेस नेता आषीष भूरिया, गौरव सक्सेना, गोपाल शर्मा के साथ भाजपा की ओर से ईरषाद कुरैषी, मांगीलाल भूरिया, अभाविप से यष पंवार, दर्षन कहार, सामाजिक संस्थाओं में राजेष नागर, अजय रामावत, हिमांषु त्रिवेदी, रविराजसिंह राठौर, धार्मिक संस्थाओं के प्रतिनिधि, हिन्दू संप्रदाय से डाॅ. केके त्रिवेदी, मुस्लिम समाज से हाजी सलीम बाबा, समीउद्दीन सैयद, एजाज नाजी धारवी, इस्माईल खान, इसाई समुदाय से फा. पीटर खराड़ी के साथ बाल अधिकार मंच एवं बचपन बचाओ आंदोलन से रामप्रसाद वर्मा, अयूब अली सैयद, दौलत गोलानी के अतिरिक्त सैकड़ों लोग मौन तरीके से राजवाड़ा से नेहरू मार्ग, डीआरपी लाईन पहुुंचने पर यहां अभिभाषक संघ में उमंग सक्सेना, मुकेष बैरागी सहित अन्य अभिभाषक शामिल हुए। मौन जुलूस आगे चलकर डीआरपी लाईन से कलेक्टोरेट पहुंचा। जहां संकल्प ग्रुप से श्रीमती भारती सोनी, संस्कार भारती से प्रिया सारोलकर, गायत्री परिवार से मोना स्मृति भट्ट, हिन्दू महिलाओं के साथ मुस्लिम संप्रदाय की महिलाओं एवं बालिकाओं ने भी रैली में सहभागिता की। मौन जुलूस में सभी के हाथों में झाबुआ को नषा मुक्त करने संबंधी लिखी अनेक तख्तीयां और बेनर रहे।

कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन
यहां सभी ने मिलकर कलेक्टर को 16 बिंदुओं का एक ज्ञापन प्रस्तुत किया। ज्ञापन का वाचन वरिष्ठ इतिहासकार डाॅ. केके त्रिवेदी ने किया। ज्ञापन में 16 बिंदुओं में जिक्र में नषीली दवाईयों के शहर में काराबारो के स्थानों स्कूल, काॅलेज परिसर, काॅलेज मैदान, कृषि मंडी प्रांगण, बुनियादी हाईस्कूल प्रांगण सहित अनेक मौहल्लों और बस्तीयों में नषे के काराबोर जोरो से होने की जानकरी दी गइ्र्र। ज्ञापन में अंत में झाबुआ जिले को नषा मुक्त किए जाने की कार्रवाई पुलिस प्रषासन द्वारा पूरी इ्र्रमानदारी एवं निष्ठा के साथ सख्ती से कर इस अवैध धंधे में लिप्त व्यक्तियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की मांग की ताकि झाबुआ जिले के युवा नषा मुक्त हो और झाबुआ जिला उड़ता पंजाब होने से बच सके।

सकल बा्रह्मण समाज ने मंत्री जयवर्धनसिंह से भेंट कर नगर विकास के लिय सौपा ज्ञापन

jhabua news
झाबुआ । सकल बा्रहमण समाज झाबुआ ने गुरूवार को  स्थानीय सर्कीट हाउस पर  नगरीय प्रशासन विकास मंत्री जयवर्धनसिंह को पर्यावरण, पर्यटन एवं नगर के आकर्षण हेतु बढोत्री के लिये ज्ञापन सौपा ।मंत्री ने  समाज द्वारा प्रस्तुत सर्वजन हितैषी मांगों को  पूर्ण करने के निर्देश भी दिये । पर्यावरण प्रकल्प क अन्तर्गत  मोगली गार्डन एवं नक्षत्र वाटिका की बाउंडरी वाल व पर्यटन विकास के लिये दिलीप गेट की मरम्मत एवं रंग रोगन कराने  तथा ऐतिहािसक आजाद चैक पर शहीद चन्द्रशेखर आजाद की प्रतिमा के प्लेर्टफार्म को सुविधाजनक एवं बडा बनाने तथा प्रतिमा पर संुदर छत्र बनाने के लिये निर्णायक घोषणा की । इस अवसर पर  बा्रह्मण समाज के प्रतिनिधि मंडल के सरंक्षक डा. केके त्रिवेदी, जिलाध्यक्ष राकेश त्रिवेदी, नगराध्यक्ष हर्ष भट्ट, कार्यकारिणी सदस्य  राजेन्द्र जोशी, सचिन जोशी, विजय पाण्डे, मनीष व्यास, जितेन्द्र अग्निहौत्री, अशीष चतुवे्रदी, गौतम त्रिवेदी सहित बा्रह्मण युवा मंडल के  सदस्य उपस्थित थे । मंत्री महोदय ने सकल बा्रह्मण समाज की  संस्कार-संस्कृति एवं सेवा भाव की सराहना कर सभी विकल्पों को स्वीकृति प्रदान की ।

भाजपा की संगठनात्मक निर्वाचन को लेकर महत्वपूर्ण कार्यषाला आज
सभी अपेक्षितों से अनिवार्यरूप  से  उपस्थित रहने का किया अनुरोधमंडल निर्वाचन अधिकारियों एवं सहायक निर्वाचन अधिकारियों की घोषणा की गई
झाबुआ । भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि आज 7 सितम्बर शनिवार को अपरान्ह 11-30 बजे से पैलेस गार्डन पर जिले के मंडलों के संगठनात्मक निर्वाचन को लेकर विशेष कार्यशाला का आयोजन किया गया है । इस अवसर पर जिला निर्वाचन अधिकारी इंदरसिंह  परमार एवं जिला भाजपा अध्यक्ष ओम प्रकाश शर्मा ने मंडलों के निर्वाचन हेतु निर्वाचन अधिकारी एवं सहायक निर्वाचन अधिकारियों की घोषणा की है । तदनुसार  झाबुआ नगर मंडल के लिये निर्वाचन अधिकारी विश्वास सोनी, सहायक निर्वाचन अधिकारी जुवानसिंह गुण्डिया, कुंदनपुर मंडल के लिये निर्वाचन अधिकारी लक्ष्मण नायक सहायक निर्वाचन अधिकारी राजमल पडियार, कल्याणपुरा मंडल के लिये निर्वाचन अधिकारी कमलसिंह भाबर एवं सहायक निर्वाचन अधिकारी हेमचंद भाबर, झाबुआ गा्रमीण के लिये निर्वाचन अधिकारी श्यामा ताहेड एवं सहायक निर्वाचन अधिकारी बहादुरसिहं हटिला, रानापुर गा्रमीण मंडल के लिये निर्वाचन अधिकारी कमलेश दांतला एवं सहायक निर्वाचन अधिकारी राजेन्द्र उपाध्याय, रानापुर नगर मंडल के लिये निर्वाचन अधिकारी राजू डामोर एवं सहायक निर्वाचन अधिकारी राधाकिशन राठौर, बोरी मंडल के लिये निर्वाचन अधिकारी सरदार सिंह डावर एवं सहायक निर्वाचन अधिकारी कुलदीप चैहान, मेघनगर मंडल के लिये  निर्वाचन अधिकारी अजय पोरवाल एवं सहायक निर्वाचन अधिकारी मुकेश मेहता, मदरानी मंडल के लिये निर्वाचन अधिकारी ओपी राय एवं सहायक निर्वाचन अधिकारी महेन्द्रसिंह ठाकुर, नौगांवा मंडल के लिये निर्वाचन अधिकारी सोमसिंह सोलंकी एवं सहायक निर्वाचन अधिकारी गेमला वाघेला, थांदला नगर मंडल के लिये निर्वाचन अधिकारी प्रवीण सुराणा एवं सहायक निर्वाचन अधिकारी सुनिता भूरिया, खवासा मंडल के लिये निर्वाचन अधिकारी दौलत भावसार एवं सहायक निर्वाचन अधिकारी जितू सेन,पेटलावद गा्रमीण मंडल के लिये निर्वाचन अधिकारी गौरसिंह वस्रुनिया एवं सहायक निर्वाचन अधिकारी सुभाष राठौर, पेटलावद नगर मंडल के लिये निर्वाचन अधिकारी संगीता सोनी एवं सहायक निर्वाचन अधिकारी सुनिता अजनार,  रायपुरिया मंडल के लिये निर्वाचन अधिकारी कल्याणसिंह डामोर एवं सहायक निर्वाचन अधिकारी हेमेन्द्र भट्ट, रामा मंडल के लिये निर्वाचन अधिकारी धनसिंह बारिया एवं सहायक निर्वाचन अधिकारी मदन भूरा, पारा मंडल के लिये निर्वाचन अधिकारी शांतिलाल बिलवाल एवं सहायक निर्वाचन अधिकारी राजेश पारगी, थांदला गा्रमीण के लिये निर्वाचन अधिकारी शैलेष दुबे एवं सहायक निर्वाचन अधिकारी मन्न डामोर को  नियुक्त किया गया है । श्री शर्मा ने बताया कि बैठक मे भाग लेने वाले सभी अपेक्षितों को सूचना भेज दी गई तथा उन्हे अनिवार्य रूप  से इस कार्यशाला में उपस्थित रहना है ।

दव्यांग बच्चों के बीच उनके षिक्षकों का हुआ सम्मान, जिला विकलांग पुर्नवास कंेंद्र मंे षिक्षक दिवस के उपलक्ष में सम्मान समारोह का हुआ आयोजन 

jhabua news
झाबुआ। पेरेंट्स सोसायटी फाॅर द वेलफेयर आॅफ पर्सन विथ डिसएबिलिटी द्वारा स्थानीय जिला विकलांग पुनर्वास केंद्र रंगपुरा में षिक्षक दिवस के उपलक्ष में सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। जिसमंे मुख्य अतिथि के रूप में जिले के वरिष्ठ कांग्रेस नेता डाॅ. विक्रांत भूरिया एवं पेरेंट्स सोसायटी के अध्यक्ष यषवंत भंडारी उपस्थित थे। कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों द्वारा डाॅ. राधाकृष्णन सर्वपल्ली के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलन कर किया गया। अतिथियों का स्वागत समिति के सदस्यों, अभिभावकों और दिव्यांग बच्चों ने किया। प्रारंभ में पेरेंट्स सोसायटी के अध्यक्ष यषवंत भंडारी ने स्वागत उद्बोधन दिया एवं विकलांग केंद्र में संचालन में आ रहीं परेषानियों से अवगत करवाया तथा प्रगति बताई कि यहां पर कंेद्र एवं छात्रावास के संचालन हेतु अनुदान राषि नहीं उपलब्ध नहीं करवाने से काफी परेषानी आ रहीं है। जिस पर  डाॅ. विक्रांत भूरिया ने कार्यक्रम स्थल से ही जिला षिक्षा केंद्र के अधिकारियों को दूरभाष पर बात कर छात्रावास की अनुदान राषि संबंधी आवष्यक कार्रवाई तत्काल पूर्ण कर उपलब्ध करवाने एवं आगामी समय में छात्रावासों को निर्धारित समय से राषि देने हेतु निर्देष प्रदान दिए।

विकलांग केंद्र के बच्चों की मुस्कान और अनुषासन काफी अच्छा है
बाद अपने उद्बोधन में डाॅ. विक्रांत भूरिया ने कहा कि आज मुझे ऐसा लग रहा है कि जैसे मैं अपने परिवार के बीच आया हूॅ। मैने व्यक्तिगत तौर पर देखा एवं महसूस किया है कि साधारण व्यक्तियों की देखभाल उतनी अच्छी तरीके से नहीं हो रहीं है, जितने अच्छे तरीके से तरीकों से आप दिव्यांग बच्चों की सेवा कर रहे है। यहां के बच्चों की मुस्कान और अनुषासन काफी अच्छा है। इस अवसर पर रोटरेक्ट क्लब अध्यक्ष रिंकू रूनवाल भी उपस्थित थे। कार्यक्रम के अंत में केंद्र के प्रबंधक शैलेन्द्रसिंह राठौर ने आभार माना।

कभी प्यासे को पानी पिलाया नही बाद अमृत पिलाने से क्या फायदा.. जैेसे भजनों के साथ ने माहौल को भक्तिमय किया
श्री सरस्वती नंदन गुरूद्वारा मंडली की भजन संध्या का आयोजन हुआ

झाबुआ । मैली चादर ओढ के कैसे द्वार तुम्हारे आउं मै....... कभी प्यासे को पानी पिलाया नही बाद अमृत पिलाने से क्या फायदा..... जय सत्यगुरू देव स्वामी गुरू देव......जय जय भवानी मां अम्बेभवानी मां.... चदरिया मैली रे मैली,,, जैसे भजनों के साथ गुरूवार की रात्री को  राजवाडा चैक स्थित श्री सत्यनारायण मंदिर पर सार्वजनिक गणेशोत्सव के चैथे दिवस पर श्री सरस्वती नंदन स्वामी गुरूद्वारा मंडली द्वारा आयोजित भजन संध्या में देर रात्री तक भजनों की बयार ने पूरा वातावरण भक्तिमय कर दिया । 85 वें गणेशोत्सव के दौरान एक से बढ कर एक भजनों की प्रस्तुतियों को सुन कर श्रोताजन भक्तिरस में डूब गये । गुरूद्वारा थांदला की भजन मंडली में रमेन्द्र सोनी, हिम्मत डाबी, जेपी आचार्य, दीपक आचार्य, ओम बैरागी, मोहन प्रजापत, तुषार भट्ट, शिवराज नागर, अतुल सोनी, मनीष बैरागी, अरविन्द चैहान एवं मोहन गढवाल ने संगीत के साथ भजनों की प्रस्तुति दी । गुरूवार को ही पण्डित हरिप्रसाद अग्निहौत्री की नवम पूण्य तिथि होने पर सभी श्रद्धालुओं ने पण्डित हरिप्रसाद अग्निहौत्री को स्मरण कर पुष्पाजंलि अर्पित की । इस अवसर पर डा. विक्रांत भूरिया, आशीष भूरिया, गौरव सक्सैना, हर्ष जैन, निखील सेठिया, नितेश बंटी डामोर ने पण्डित हरिप्रसाद अग्निहौत्री को श्रद्धासुमन अर्पित किये। तथा भजनों की प्रस्तुति को सुना । इस अवसर पर गणेश मंडल के अध्यक्ष राजेन्द्र अग्निहौत्री, पण्डित भागवत शुक्ला, जनार्दन शुक्ला, नानालाल कोठारी, निरजंनसिंह , बालमुकुदसिंह चैहान, शरद शुक्ला, श्री अरोडा, कीर्ति देवल, लालसिंह चैहान सहित बडी संख्या में मंडल के सदस्यों ने भजनों का आनंद लिया । इसके पूर्व भगवान गजाननजी एवं श्री सत्यनारायण भगवान की आरती पण्डित जैमिनी शुक्ला द्वारा उतारी गई तथा प्रसादी का वितरण किया गया ।

गणेष जी के स्वरूप  में विषिष्ठ एवं गहरा अर्थ निहीत है- प्रथम पूज्य कहाते है श्री गणेष जी- सांसद गुमानसिंह डामोर
उमापति गणेष मंडल में सांसद गुमानसिंह डामोर ने महा आरती की

झाबुआ । भगवान गणेश शिवजी और पार्वती के पुत्र हैं। उनका वाहन डिंक नामक मूषक है। गणों के स्वामी होने के कारण उनका एक नाम गणपति भी है। ज्योतिष में इनको केतु का देवता माना जाता है और जो भी संसार के साधन हैं, उनके स्वामी श्री गणेशजी हैं। हाथी जैसा सिर होने के कारण उन्हें गजानन भी कहते हैं। गणेश जी का नाम हिन्दू शास्त्रो के अनुसार किसी भी कार्य के लिये पहले पूज्य है। इसलिए इन्हें प्रथमपूज्य भी कहते है। गणपति आदिदेव हैं जिन्होंने हर युग में अलग अवतार लिया। उनकी शारीरिक संरचना में भी विशिष्ट व गहरा अर्थ निहित है। शिवमानस पूजा में श्री गणेश को प्रणव अथात ओम स्वरूप् भी कहा गया है। इस एकाक्षर ब्रह्म में ऊपर वाला भाग गणेश का मस्तक, नीचे का भाग उदर, चंद्रबिंदु लड्डू और मात्रा सूँड है।चारों दिशाओं में सर्वव्यापकता की प्रतीक उनकी चार भुजाएँ हैं। वे लंबोदर हैं क्योंकि समस्त चराचर सृष्टि उनके उदर में विचरती है। बड़े कान अधिक ग्राह्यशक्ति व छोटी-पैनी आँखें सूक्ष्म-तीक्ष्ण दृष्टि की सूचक हैं। उनकी लंबी नाक (सूंड) महाबुद्धित्व का प्रतीक है। इस तरह गणेश जी को प्रथम पूज्य होने से उनकी आराधना पुजा निश्चित ही फलदायी होती है। उक्त बात गुरूवार रात्री को विवेकानंद कालोनी  स्थित उमापति महादेव मंदिर में उमापति गणेश मंडल में भगवान श्री गणेशजी की आरती उतारने के बाद उपस्थित श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि क्षेत्रीय सांसद गुमानसिंह डामोर ने कहीं । श्री डामोर ने सभी को गणेशोत्सव पर्व की शुभकमनायें देते हुए सब की सुख समृ0ि की कामना की । उमापति गणेश मंडल में बिराजित किये गये श्री गणेश जी की प्रतिदिन पूजा पाठ के साथ ही दोनों समय आरती एवं प्रसादी का आयोजन किया जारहा है तथा रात्री में भजन कीर्तन के साथ ही बच्चों के सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये जारहे है। उमापति गणेश मंडल में सांसद गुमानसिंह डामोर के साथ भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष ओम प्रकाश शर्मा, महामंत्री प्रवीण सुराणा,  कल्याणसिंह डामोर, जिला पंचायत सदस्य मेगजी अमलीयार, भूपेश सिंगोड, राजेन्द्र सोनी,श्री बाल्यान सहित बडी संख्या में कालोनीवासी महिला एवं पुरूष उपस्थित थे । इस अवसर पर प्रसादी का वितरण भी किया गया ।

आदिम जाति कल्याण विभाग, विमुक्त, घुमक्कड एवं अद्र्व घुमक्कड जनजातीय कल्याण विभाग के मंत्री श्री ओमकार सिंह मरकाम 07 सितम्बर को जिले के भ्रमण पर रहेगे

झाबुआ । आदिम जाति कल्याण विभाग, विमुक्त, घुमक्कड एवं अद्र्व घुमक्कड जनजातीय कल्याण विभाग मंत्री म.प्र.षासन श्री ओमकार सिंह मरकाम 07 सितम्बर षनिवार को झाबुआ जिले के भ्रमण पर रहेगे। प्रस्तावित कार्यक्रम के अनुसार मंत्री श्री मरकाम 07 सितम्बर को प्रातः 07ः00 बजे भोपाल से झाबुआ के लिए प्रस्थान कर दोपहर 12ः00 बजे झाबुआ सर्किट हाउस पर पहुचेगे। तत्पष्चात दोपहर 12ः30 बजे उत्कृष्ट विद्यालय मैदान झाबुआ पर आयोजित मदद योजनांतर्गत बर्तन वितरण कार्यक्रम में सम्मिलित होगे। तत्पष्चात 05ः00 से 06ः00 बजे तक स्थानीय कार्यक्रताओं एवं जनता से भेंट करेगे। उसके बाद झाबुआ से इंदौर के लिए प्रस्थान करेगे।

 आपकी सरकार आपके द्वारष् य¨जना का षिविर 07 सितम्बर को झकनावदा में आयोजित होगा
अधिकारियो की टीम गांव के हर वार्ड में चैपाल लगाकर सुनेगी समस्याए
झाबुआ । जिले के नागरिक¨ं विशेष रूप से ग्रामीण रहवासिय¨ं की समस्याअ¨ं के निराकरण अ©र विकास के सुझाव¨ं पर अमल के लिये षासन द्वारा प्रारंभ की गई आपकी सरकार आपके द्वार योजना का षिविर जिले में 07 सितम्बर को पेटलावद ब्लाक के ग्राम झकनावदा में आयोजित किया जाएगा। अधिकारियो की टीम गंाव के हर वार्ड में चैपाल लगाकर ग्रामीणो की समस्याए सुनेगी। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने निर्देष दिये कि 07 सितम्बर को सभी अधिकारी प्रातः 9 बजे आपकी सरकार आपके द्वार में चयनित विकासखण्ड पेटलावद के आकस्मिक भ्रमण के लिए चयनित गाँव में पहुचकर आम जनता से सम्पर्क कर योजना में सम्मिलित कार्यक्रम/गतिविधियो के संबंध में चर्चा कर फिडबेक ले। आकस्मिक भ्रमण वाले गाँव का नाम ग¨पनीय रहेगा। भ्रमण में गाँव की सभी संस्थाअ¨ं का निरीक्षण किया जायेगा। इन संस्थाअ¨ं में स्कूल, आँगनवाड़ी केन्द्र, राशन की दुकान, अस्पताल, ग्राम पंचायत का दफ्तर शामिल हैं। भ्रमण सुबह 9 से द¨पहर एक बजे तक रहेगा। इसके बाद द¨पहर द¨ बजे से झकनावदा में विकासखण्ड स्तरीय शिविर में उपस्थित रहे। शिविर में आने वाले आवेदको की समस्याअ¨ं का तत्काल निराकरण करेे। जिन आवेदन¨ं का तुरंत निराकरण संभव नहीं ह¨गा, उसके संबंध में आवेदक क¨ सूचित करे। एक समय-सीमा में निराकरण का कार्य किया जाना है। षिविर में प्राप्त आवेदनो की इन्ट्री भी षासन के पोर्टल पर उसी दिन की जाना है। इसलिए सभी आवष्यक व्यवस्थाये सुनिष्चित करे। कलेक्टर ने शिविर के संबंध में मुनादी एवं अन्य उपाय¨ं से भी ग्रामीण¨ं तक सूचना पहुँचाने का कार्य करने के लिए एसडीएम, सीईओ जनपद को निर्देषित किया।

कुपोषण एवं एनिमिया से मुक्त कर सुपोषण बनाने हेतु मिडिया कार्यषाला सम्पन्न
    
jhabua news
झाबुआ । भारत वर्ष के कुपोषण एवं एनिमिया से मुक्त कर सुपोषण बनाने हेतु भारत षासन ने राष्ट्रीय पोषण मिषन की षुरूवात की है, जो कि आगमी तीन वर्ष तक चलाया जावेगा। इस क्रम में सितम्बर माह राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में मनाया जा रहा है। जिसमें समुदाय को इस कार्यक्रम में जोड कर एवं जन भागीदारी को बढाया जा सके। इसी के अंतर्गत महिला बाल विकास विभाग झाबुआ द्वारा एक दिवसीय मिडिया कार्यषाला का आयोजन विगत 05 सितम्बर को जनपद पंचायत सभा कक्ष में किया गया। कार्यषाला में बताया गया कि प्रदेश में इस वर्ष भी सितंबर माह को राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में मनाया जायेगा। एक से 30 सितम्बर तक मनाये जाने वाले पोषण माह की टैग लाईन हर घर पोषण का त्यौहार रखी गयी है। पूरे माह राज्य, जिला, विकासखण्ड और आँगनवाड़ी स्तर पर पोषण जागरूकता एवं इसे जन-आंदोलन का रूप देने के लिये विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये जायेगे। राष्ट्रीय पोषण माह का मुख्य उद्देश्य स्वास्थ्य एवं पोषण आवश्यकता के प्रति जागरूकता, गर्भावस्था जाँच और पोषण देखभाल, शीघ्र स्तनपान व्यवहार, सही समय पर ऊपरी आहार और निरन्तरता आदि पर समुदाय को जागरूक करना है। एनीमिया या शरीर में खून की कमी को दूर करने के लिये आयरन सेवन एवं खाद्य विविधता संबंधित उपायों तथा पाँच वर्ष तक के बच्चों की शारीरिक वृद्धि निगरानी, किशोरी-शिक्षा, पोषण शिक्षा का अधिकार, सही उम्र में विवाह, सफाई और स्वच्छता की गतिविधियों के माध्यम से पोषण विषय को जन-आन्दोलन का रूप देना है। पोषण माह के सफल आयोजन में महिला-बाल विकास विभाग के साथ-साथ नगरीय प्रशासन, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, स्कूल शिक्षा, खाद्य-नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन, उच्च शिक्षा, दूरदर्शन एवं रेडियो, आकाशवाणी तथा डेव्हलपमेंट पार्टनर्स आदि सहभागी होंगे। पोषण माह में होने वाली सभी गतिविधियों की जानकारी केन्द्र सरकार के पोर्टल पर अपडेट की जाएगी तथा वेबसाइट के माध्यम से इसकी रोजाना समीक्षा भी होगी।

जन अधिकार कार्यक्रम 11 सितम्बर को मुख्यमंत्री योजनाओं के क्रियान्वयन और सम-सामयिक विषयों पर करेंगे चर्चा

झाबुआ । प्रदेश की आम जनता की समस्याओं, शिकायतों के सुनिश्चित और संतोषजनक समाधान के लिए राज्य सरकार द्वारा जन-अधिकार कार्यक्रम शुरू किया गया है। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ प्रति माह के दूसरे मंगलवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सभी जिलों के वरिष्ठ अधिकारियों से रूबरू होकर लोगों की दिक्कतों का समाधान करते है। इस माह मंगलवार को अवकाष होने से अगले कार्यदिवस 11 सितम्बर बुधवार को जन-अधिकार कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।

पटवारी भर्ती परीक्षा रू चयनित अभ्यर्थियांे के दस्तावेजों का सत्यापन 9 सितम्बर को
       
झाबुआ । पटवारी भर्ती परीक्षा में चयनित अभ्यर्थियों के दस्तावेजों का सत्यापन तृतीय काउसलिंग के दौरान किया जायेगा। यह काउसलिंग 9 सितम्बर को प्रातः 10 बजे से होगी। इस काउंसलिंग के दौरान चयनित अभ्यर्थियो को अपने साथ स्नातक उपाधि की डिग्री, आयु सत्यापन के लिये जन्म प्रमाण पत्र या 10वीं बोर्ड की मार्कशीट, मूल निवासी प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, निःशक्तजन होने पर निःशक्तता प्रमाण पत्र, भूतपूर्व सैनिक होने पर उसका प्रमाण पत्र, नोटरी द्वारा सत्यापित शपथ पत्र की मूल प्रति एवं उसकी 2-2 छायाप्रति सहित उपस्थित होना सुविधाजनक रहेगा। शपथ पत्र का प्रारूप वेबसाइट संदकतमबवतकेण्उचण्हवअण्पद पर उपलब्ध है।

सातवी आर्थिक गणना अगस्त/सितम्बर 2019 और नवंबर/दिसंबर 2019 के दौरान आयोजित की जाएगी

 झाबुआ । भारत सरकार सांख्यिकी कार्यक्रम मंत्रालय नई दिल्ली द्वारा जारी निर्देषो के अनुसार सातवी आर्थिक गणना अगस्त/सितम्बर 2019 और नवंबर/दिसंबर 2019 के दौरान आयोजित की जाएगी। जिले की भौगोलिक सीमा के भीतर आर्थिक गतिविधियो से संबंधित जानकारी निर्धारित प्रारूप में मोबाईल एप्लिकेषन की मदद से घर-घर जाकर सर्वे के माध्यम से नागरिक सुविधा केन्द्रो (बेब) द्वारा नियुक्त किए गए प्रगणको/पर्यवेक्षको द्वारा एकत्रित/सत्यापित की जाएगी। इसलिए नागरिको से अनुरोध है कि वे उन्हे सही जानकारी प्रदान करे। आर्थिक गणना से एकत्र की गई जानकारी जिले में उदयमो की वास्तविक आर्थिक स्थिति प्राप्त करने में मदद करेगी। एकत्र की गई आर्थिक गतिविधियो में लगे लोगो के जीवन स्तर को सुधारने के लिए नीति निर्माण में बहुत सहायक होगी, और रोजगार के अवसर पैदा करने में भी मदद करेगी। आपके द्वारा प्रदाय की गई जानकारी को पूरी तरह से गोपनीय रखा जाएगा। इस संबंध में आप आष्वस्त रहे। झाबुआ के सभी नागरिको से कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने अपील की है, कि आप सातवी आर्थिक गणना 2019 के लिए नियुक्त किए गए प्रगणको और सुपरवाईजरो को अपना सहयोग और समर्थन देवे और सही जानकारी प्रदान करे ताकि जिले में आर्थिक गणना का कार्य निर्धारित समय सीमा और गुणवता के साथ पूरा किया जा सके।

पात्रता पर्चीधारी परिवारो का होगा सत्यापन अयोग्य परिवार होंगे योजना से बाहर
   '
झाबुआ । जिले में 18 से 28 सितम्बर तक राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अंतर्गत सम्मिलित पात्रता पर्चीधारी परिवारों का सत्यापन घर-घर पहुंचकर किया जायेगा। इस दौरान पात्रता पर्चीधारी परिवार को संबंधित दस्तावेजो, प्रमाण पत्रों को दल के सदस्यो को बताना होगा। इस दौरान संबंधित दस्तावेज उपलब्ध नही कराने वाले परिवारो को इस योजना से पृथक किया जायेगा। जिला आपूर्ति अधिकारी से प्राप्त जानकारी अनुसार राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अंतर्गत 25 श्रेणी के परिवारो को पात्र परिवार के रूप में सम्मिलित किया गया है, इन पात्र परिवारो लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत अत्यन्त रियायती दर पर खाद्यान्न के साथ-साथ अन्य सामग्रियो का वितरण किया जा रहा है। लाभ वास्तविक पात्र एवं जरूरत मंद गरीब परिवारो तक पहुंचाया जाना अत्यन्त आवश्यक है। इसलिये पात्रता पर्चीधारी पात्र परिवारो की पात्रता का सत्यापन करने हेतु अभियान चलाकर अपात्र व मौके पर निवास न करने वाले परिवारो के विलोपन हेतु यह अभियान चलाया जायेगा। अतः जिले के समस्त पात्रता पर्चीधारी पात्र परिवारो से अनुरोध है कि 18 से 28 सितम्बर तक सत्यापन दलो द्वारा घर-घर जाकर किये जाने वाले सत्यापन के दौरान कृपया इस अवधि में अपने परिवार के सदस्यो पर जिस श्रेणी में उनको पात्रता पर्ची जारी है, उससे संबधित दस्तावेजोध्प्रमाण पत्रो सहित अपने निवास पर उपलब्ध रहने का कष्ट करें। जिससे सत्यापन के पश्चात् उन्हें परेशान न होना पडे।

राष्ट्रीय उद्यमशीलता पुरस्कार 2019 हेतु उम्मीदवारों के नामांकन 10 सितम्बर तक आमंत्रित
     
झाबुआ । कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय के द्वारा ‘‘राष्ट्रीय उद्यमशीला पुरस्कार 2019’’ के लिये नामांकन प्राप्त किये जा रहे है। 40 वर्ष तक के युवा उद्यमियों को तीन केटगरी में पुरस्कृत किया जायेगा। उद्यमिता के विभिन्न सेक्टरों, भौगोलिक क्षेत्रों तथा आर्थिक सामाजिक वर्ग से उभरकर समाज के सामने आए प्रथम पीढी के 40 वर्ष तक की आयु सीमा वाले उत्कृष्ट युवा उद्यमियों की पहचान कर उन्हें सम्मानित करना है। इस योजना अंतर्गत उत्कृष्ट युवा उद्यमियों को रू. 1 लाख, रू. 10 लाख और रू. 1 करोड की तीन अलग अलग प्रारंभिक निवेश श्रेणियों से जुडे उद्यम के क्षेत्र में सम्मानित किए जाने की व्यवस्था है। पुरस्कार विजेताओं को नवंबर के दूसरे सप्ताह में प्रस्तावित इस प्रतिष्ठित पुरस्कार समारोह में सम्मानित किया जाएगा। प्रत्येक विजेता को एक ट्रॉफी, एक प्रमाण पत्र तथा रू. 5 लाख से रू. 10 लाख तक नकद पुरस्कार राशि प्रदान किए जाने का प्रावधान है। पुरस्कार तीन श्रेणियों में विभाजित किया गया है। विस्तृत जानकारी वेबसाइट ूूूण्दमंेण्हवअण्पद पर देख सकते है। पुरस्कार हेतु नामांकन 10 सितम्बर तक ूूूण्दमंेण्हवअण्पद पर किया जा सकता है।

अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति के लिये षैक्षणिक संस्थाओ को जारी होगे नए लाॅगिन आईडी एवं पासवर्ड
    
झाबुआ । प्रभारी अधिकारी अल्पसंख्यक कल्याण विभाग पिंकी डिन्डोर ने बताया कि भारत सरकार अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय नई दिल्ली के माध्यम से संचालित अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति योजनाये वर्ष 2019-20 हेतु भारत सरकार द्वारा निर्मित दंजपवदंस ेबीवसंतेीपच चवतजंस पर पंजीकृत षैक्षणिक संस्थाओ को लाॅग इन आईडी एवं पासवर्ड प्रदान किये जायेगे। संबंधित षैक्षणिक संस्थाओ को पूर्व में अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति पोर्टल से प्रदत्त लाॅगिन आईडी एवं पासवर्ड के साथ-साथ संस्थाओ के ई-मेल आईडी एवं मोबाईल नम्बरो को भारत सरकार द्वारा छात्रवृत्ति पोर्टल से निरस्त किया गया है। जिन षैक्षणिक संस्थाओ के पास वैद्य डाईस कोड नही है, उन्हे अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति  पोर्टल से अपंजीकृत किया जायेगा। लेकिन षैक्षणिक संस्थाओ द्वारा वैद्य डाईस कोड प्राप्त करने के पष्चात छात्रवृत्ति पोर्टल पर संस्थाओ को पंजीकरण हेतु प्रावधान किया गया है। प्रत्येक षैक्षणिक संस्था विद्यालय/महाविद्यालय/विष्वविद्यालय के अधीकृत छात्रवृत्ति नोडल अधिकारी द्वारा अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति पोर्टल पर आॅनलाईन  फाॅर्म अपनी संस्था से संबंधित संपूर्ण जानकारी के साथ भरे।

उपाय ऐप रू बिजली संबंधी शिकायतों का समाधान अब और आसान
    
झाबुआ । बिजली फॉल्ट एवं बिल संबंधी शिकायत दर्ज कराने के लिए टोल फ्री नंबर 1912 और 0755-2551222 के साथ ही मोबाइल एप “उपाय (न्च्।ल्)’’ पर भी शिकायतें दर्ज होंगी। इस एप से उपभोक्ता अपनी शिकायत सीधे कॉल सेंटर में दर्ज करा सकते हैं। कंपनी के आईटी विभाग द्वारा इस एप के जरिए उपभोक्ताओं को बिजली बिल भुगतान के अलावा विद्युत अवरोध एवं बिलिंग संबंधी शिकायतें दर्ज कराने की सुविधा भी उपलब्ध कराई है। उपाय (न्च्।ल्) एप को गूगल प्ले स्टोर से फ्री में डाउनलोड किया जा सकता है। इस एप को भोपाल, नर्मदापुरम, ग्वालियर और चंबल संभाग के बिजली उपभोक्ता उपयोग कर सकेंगे। एप में उपभोक्ता बिल में दर्ज आईवीआरएस या उपभोक्ता आईडी नंबर सबमिट करने से उपभोक्ता के कनेक्शन के सभी विवरण स्वतः खुल जाएंगे। यदि बिजली उपभोक्ता की शिकायत अन्य व्यक्ति या अन्य पते की है, तो अन्य व्यक्ति को शिकायत दर्ज कराने के लिए एप में अपने मोबाइल नंबर को दर्ज करना होगा। अपने सभी विवरण दर्ज कराने होंगे।  शिकायत के पते के लिये उपभोक्ता को शहरध्क्षेत्रध्कॉलोनी एवं मकान नंबर की जानकारी भरनी होगी। इसके बाद अपनी समस्या या मांग के अनुरूप शिकायत की श्रेणी चुनना होगा। ऐसा करने पर समस्या या मांग दर्ज हो जाएगी एवं एसएमएस से शिकायत दर्ज होने की पुष्टि होगी। शिकायत दर्ज होने के बाद अगले कुछ ही समय में कंपनी के कॉल सेंटर से कॉल आएगा। शिकायत वेरिफाई की जाएगी और उसे संबंधित बिजली जोन में फॉरवर्ड कर दिया जाएगा। इस एप के जरिए उपभोक्ता अपनी शिकायत की स्थिति भी जान सकेंगे। उपाय एप के जरिए उपभोक्ता बिजली संबंधी शिकायतें दर्ज करने के साथ ही ऑनलाइन बिजली बिल का भुगतान भी कर सकेंगे।

अति वर्षा से क्षतिग्रस्त सड़क¨ं की मरम्मत 30 नवम्बर तक सुनिश्चित ह¨गी
    
झाबुआ । मुख्य सचिव श्री एस.आर. म¨हंती ने प्रदेश में अति वृष्टि अ©र अनेक जगह¨ं पर बाढ़ की स्थिति के बनने से क्षतिग्रस्त ग्रामीण अ©र शहरी क्षेत्र¨ं की सड़क¨ं की मरम्मत का कार्य 30 नवम्बर तक आवश्यक रूप से पूरा करने के निर्देश दिये हैं। मुख्य सचिव ने कहा कि सड़क¨ं की मरम्मत का कार्य 15 से 20 सितम्बर के बीच आवश्यक रूप से शुरू किया जाना सुनिश्चित किया जाये। संबंधित विभाग 15 सितम्बर से मरम्मत का कार्य शुरू करने के लिए अभी से प्रक्रियागत कार्यवाही पूरी कर आवश्यक तैयारियाँ करें। अति वृष्टि अ©र बाढ़ से प्रदेश में अनेक जगह¨ं पर नगरीय अ©र ग्रामीण क्षेत्र¨ं में सड़क¨ं क¨ क्षति पहुँची है। उन्ह¨ंने कहा कि अति वर्षा अ©र बाढ़ की स्थिति बनने से क्षतिग्रस्त हुई सड़क¨ं का आकलन कर सभी संबंधित विभाग मरम्मत की कार्यवाही तत्काल शुरू करें। इस संबंध में मुख्य रूप से ल¨क निर्माण, पंचायत एवं ग्रामीण विकास अ©र नगरीय प्रशासन  एवं विकास विभाग शामिल हुए।

मुख्य सचिव स्वयं करेंगे समीक्षा
मुख्य सचिव ने कहा कि क्षतिग्रस्त सड़क¨ं के मरम्मत कार्य की शुरूआत अ©र निर्धारित तिथि तक पूर्णता क¨ सुनिश्चित करने के लिए समय-समय पर अ©चक निरीक्षण किया जायेगा। मुख्य सचिव स्वयं भी समय-समय पर इसकी समीक्षा करेंगे।

उपभ¨क्ता जागरूकता संगठन¨ं से आॅनलाईन प्रस्ताव आमंत्रित
     
झाबुआ । उपभ¨क्ता हित¨ं के संरक्षण एवं संवर्धन के क्षेत्र में कार्यरत स्वैच्छिक उपभ¨क्ता संगठन¨ं से आॅनलाईन प्रस्ताव आमंत्रित किए गये हैं। प्रस्ताव 25 सितम्बर 2019 तक वेबसाइट रंहवहतंींारंहव.हवअ.पद/बू िपर भेजे जा सकते हैं। संचालक खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभ¨क्ता संरक्षण ने बताया कि भारत सरकार द्वारा उपभ¨क्ता हित संरक्षण की गतिविधिय¨ं में संलग्न संगठन¨ं क¨ वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।

डेंगु से बचाने हेतु सावधानी बरतना आवश्यक
     
झाबुआ । डेंगु डेन वायरस से फैलने वाली वायरस जनित संक्रामक रोग है, जो डेंगु संक्रमित व्यक्ति से स्वस्थ व्यक्ति में संचारी होता हैं। यह रोग संक्रमित मादा एडीज मच्छर के काटने से फैलता है। यह मच्छर दिन के समय प्रायः सुबह व शाम के समय काटता है। डेंगु का कोई टीका या दवा नहीं है। एडीज मच्छर के काटने से बचाव व संक्रमित मच्छरों के लार्वा का विनिष्टीकरण ही इसका एकमात्र उपाय हैं। एक बार शरीर में डेन वायरस का संक्रमण होने के बाद डेंगु बुखार के लक्षण  5-6 दिन पश्चात् प्रकट होते हैं। इस हेतु घबराने की जरूरत नहीं होती हैं इस अवस्था में रोगी को मच्छरदानी में पूर्ण आराम करने व जल-उपचार(जैसे-षिकंजी, नीबु पानी, ओआरएस, नारियल पानी, ग्लुकोस इत्यादि के द्वारा शरीर में जल की पूर्ति ) करने की सलाह दी जाती हैं।  मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बारिया ने बताया कि आमजन को डेंगु से बचाव के लिये निम्न सावधानियां बरतना चाहिए - डेंगु मच्छर के लार्वा घर के साफ पानी में पनपते है, घरों में लंबे समय तक बर्तनों में जल संग्रह ना करें, कुलर की पुरानी घास जला दें क्योंकि पुरानी घासों में डेंगु मच्छर का अंडे सूखी अवस्था में भी जीवित रहते है तथा कुलर का पानी सप्ताह में एक बार अवश्य ही खाली करें, घर के अंदर रखें बर्तनों, पक्षियों के सिकोरों व मवेशियों को पानी पिलाने के टंकियों व कंटेनरों की साफ सफाई रखें, घर के आसपास पानी जमा न होने दे निकासी की व्यवस्था करे निकासी न होने पर उसमें जला हुआ तेल/कैरोसीन डाल दें संक्रमण काल को देखते हुये स्वयं एवं स्कुली बच्चों को फुल आस्तीन के कपडें पहनायें क्योंकि बच्चों में प्रतिरक्षा तंत्र कमजोर होने के कारण यह सबसे पहले बच्चो को अपना शिकार बनाता हैं। घर की खिडकियों दरवाजों पर मच्छरप्रूफ जाली लगायें तथा घर में मच्छर भगाने वाली मेट ,काइल, लिक्विड का उपयोग अवश्य करे तथा सोते समय मच्छरदानी लगायें।

डेंगु बीमारी के लक्षण
सामान्य प्रकार के डेंगु में तेज सिरदर्द, आंखों के पीछे की ओर दर्द, शरीर पर लाल चकते या दाने, जोडों व मांसपेशियों मे दर्द होना दिखाई देता हैं। जब डेंगू घातक अवस्था में पहुँचता है तो उक्त लक्षणों के साथ-साथ मसुडों व आंतो से रक्त स्त्राव का होना अथवा खून में प्लेटलेट का कम होना लक्षण पाये जाते है इसमें तत्काल मरीज को नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र पर चिकित्सक की सलाह के अनुसार उपचार लेना चाहिये।

राज्य सरकार न्यूनतम ब्याज दर पर आदिवासियों को देगी ऋण
    
झाबुआ । आदिवासियों को साहूकारी ऋण समस्या और अधिक ब्याज दरों से मुक्ति के लिए सरकार ने निर्णय लेते हुए सभी आदिवासी विकास खंडों में आदिवासियों के ऊपर ऐसे सभी साहूकारी ऋणों को समाप्त करने का निर्णय लिया है। आदिवासियों को पैसे की अचानक आवश्यकता को ध्यान में रखकर सरकार द्वारा बैंकों से 10 हजार तक की लिमिट स्वीकृत की जा रही है जो वे अपने डेबिट कार्ड से कभी भी एटीएम से निकाल सकेंगे। सरकार आदिवासी विकासखंडों के ग्रामीण हाट बाजारों में बैंक एटीएम कार्य प्रारंभ हो गया है। राज्य सरकार आदिवासियों के जनधन खाते को क्रियाशील कर रुपए का बैंक डेबिट कार्ड उपलब्ध करवा रही है जिसमें 10 हजार तक की लिमिट में खाता धारी आदिवासियों को एटीएम के माध्यम से ऋण उपलब्ध होगा। लिमिट के अंदर जरूरतमंद आदिवासी खाताधारक न्यूनतम ब्याज दर पर यह राशि एटीएम से प्राप्त कर सकेंगे व उसी खाते में जमा कर बैंक में अपनी शाख स्थापित कर सकेंगे।

अनुसूचित जाति आय¨ग केन्द्र सरकार क¨ रिप¨र्ट के साथ य¨जनाएँ भी सुझाए
मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ से आय¨ग के अध्यक्ष एवं सदस्य¨ं की मुलाकात
झाबुआ। मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने कहा है कि केन्द्रीय अनुसूचित जाति आय¨ग य¨जनाअ¨ं के क्रियान्वयन की  राज्यवार समीक्षा रिप¨र्ट के साथ ही अपने अध्ययन के आधार पर ऐसी य¨जनाएँ भी बनाकर केन्द्र सरकार क¨ दें, ज¨ इन वगर्¨ं का सर्वांगीण विकास प्रभावी ढंग से कर सकें अ©र व्यवहारिक भी ह¨ं। श्री कमल नाथ मंत्रालय में केन्द्रीय अनुसूचित जाति आय¨ग के अध्यक्ष एवं सदस्य¨ं से चर्चा कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री नाथ ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार अनुसूचित जाति वर्ग के कल्याण के लिए प्रतिबद्व है। सरकार उनकी शिक्षा, स्वास्थ्य अ©र र¨जगार पर विशेष ध्यान दे रही है। प्रदेश में अनुसूचित जाति एवं जनजाति अत्याचार निर¨धक अधिनियम सख्ती से लागू किया गया है।    मुख्यमंत्री ने कहा कि वचन-पत्र के अनुसार राज्य सरकार अनुसूचित वर्ग की जनसंख्या के आधार पर बजट निर्धारित करने अ©र राशि वास्तविक रूप से खर्च ह¨, इसके लिए शीघ्र कानून बनाने जा रही है। आय¨ग अपने मैदानी अनुभव के साथ ज¨ य¨जनाएँ बनाएगा, वह अधिक प्रभावी ह¨ंगी। श्री नाथ ने कहा कि य¨जनाअ¨ं की समीक्षा करने के साथ यह भी देखें कि ज¨ य¨जनाएँ चल रही हैं, उनके क्रियान्वयन में क्या खामियाँ हैं। श्री नाथ ने कहा कि वे इसका परीक्षण कर केंद्र सरकार क¨ उचित सुझाव भी दें ताकि क्रियान्वयन के स्तर पर प्रभावी व्यवस्था बनाई जा सके। आय¨ग के अध्यक्ष डाॅ. रामशंकर कथेरिया ने अनुसूचित जाति वर्ग की य¨जनाअ¨ं के प्रभावी क्रियान्वयन के संबंध में सुझाव दिए। उन्ह¨ंने स्टार्टअप य¨जनाअ¨ं पर विशेष ध्यान देने क¨ कहा।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...