बिहार : नावालिग को गाड़ी की चाभी देने पर अभिभावकों से वसूली जाएगी 25000 रुपये - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 1 सितंबर 2019

बिहार : नावालिग को गाड़ी की चाभी देने पर अभिभावकों से वसूली जाएगी 25000 रुपये

minor-drivar
अरुण कुमार (आर्यावर्त) नाबालिग बेटे को गाड़ी का चाबी दिए और अगर वह गाड़ी लेकर रोड पर लेकर निकल गया तो समझिए कि पॉकेट से गया 25 हजार रुपया नकद। जी हां 1 सितंबर से मोटर वाहन अधिनियम के बड़े बदलाव के बाद जुर्माना की राशि भी बदल जाएगी।इतना ही नहीं नाबालिग के वाहन चलाने पर जुवेनाइल जस्टिस एक्ट के तहत मामला भी दर्ज होगा और वाहन का रजिस्ट्रेशन भी निरस्त कर दिया जाएगा। परिवहन सचिव संजय अग्रवाल के अनुसार अगर आपका बेटा नाबालिग है और ड्राइविंग करते पकड़ा गया तो इसका दोष सिर्फ नाबालिक पर ही नहीं जाएगा, बल्कि अभिभावकों पर भी जाएगा। नाबालिक पर तो जुर्माना लगेगा ही साथ में 25 हजार जुर्माने का प्रावधान अभिभावकों के लिए भी किया गया है।

स्पीड कंट्रोल 
स्पीड रेसिंग करने वालों के लिए भी नए मोटर वाहन अधिनियम में काफी सख्त नियम बनाए गए हैं। उसमें भी 500 से लेकर 5 हजार रुपये तक जुर्माना वसूला जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...