सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 11 सितंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 11 सितंबर 2019

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 11 सितंबर

जोधपुर के लिए रवाना हुआ सेन समाज मंडल 

sehore news
सीहेार। जोधपुर में भव्य सेन जयंती समारोह आयोजित किया जा रहा है। बुधवार सुबह सेन समाज का प्रतिनिधि मंडल रेलवे स्टेशन से समाज अध्यक्ष तुलसीराम सेन की अध्यक्षता में जोधपुरा के लिए रवाना हुआ। प्रतिनिधि  मंडल सेनाचर्या श्रीश्री 1008 अचलानंद महाराज के दर्शन कर आगामी सेन जयंती समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित करेगा। प्रतिनिधि मंडल में मूलचंद दहेलिया, ललित कुमार सेन,अरुण सेन,विश्वास बगवैया, दीपक उमरे, मनोज सेन,संजय उमरे,सुरेश सेन, मनीष सेन आदि शामिल है। 



जिले में अब तक 1343.5 मि.मी. औसत वर्षा

 जिले में आज 11 सितंबर, 2019 की प्रात:8 बजे समाप्त पिछले चौबीस घन्टों में 49.4 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई है। इसे मिलाकर 1 जून से अभी तक जिले में 1343.5 मि.मी औसत बारिश रिकार्ड की जा चुकी है जबकि गत वर्ष इस अवधि में 854.3  मिलीमीटर औसत वर्षा आंकी गई थी। अधीक्षक, भू-अभिलेख से मिली जानकारी के अनुसार पिछले चौबीस घन्टों में  सीहोर में 64, श्यामपुर में 38, आष्टा में 32, जावर में 45, इछावर में 64, नसरुल्लागंज में 28, बुधनी में 51, रेहटी में 73.3 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। आंकड़ों के मुताबिक जिले में अभी तक सीहोर में 1669.2, श्यामपुर में 1256, आष्टा में 1374, जावर में 915.9, इछावर में 1346, नसरूल्लागंज में 1517, बुधनी में 1259 तथा रेहटी में 1411 मिलीमीटर वर्षा रिकार्ड की गई है। इस अवधि में गत वर्ष सीहोर में 1203.2, श्यामपुर में 901, आष्टा में 799, जावर में 665.3, इछावर में 880, नसरूल्लागंज में 565.2, बुधनी में 865 तथा रेहटी में 956 मिमी वर्षा रिकार्ड की गई थी।        

एनसीडी पर दो दिवसीय कार्यशाला संपनन

sehore news
आईएचसीआई कार्यक्रम अंतर्गत एनसीडी कार्यशाला का आयोजन किया गया। एनसीडी कार्यक्रम की शुरआत शीघ्र ही जिले में होनी है। यह प्रशिक्षण स्टाफ नर्सेस को दी गई। कार्यक्रम के अंतर्गत ब्लड प्रेशर की दवाएं सरकारी खर्च पर आजीवन मरीज को मिलेगी । आशा कार्यकर्ताओं इसके लिए जिम्मेदारी दी गई है कि वे मरीज को अनिवार्य रूप से दवाए उपलब्ध कराएगी उन्हें इसके लिए प्रति मरीज 100/- की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी। एनसीडी कार्यक्रम की नोडल अधिकारी डॉ. नमीता नीलकंठ ने जानकारी दी कि आयोजित कार्यशाला सह प्रशिक्षण में डिकार्ड प्रबंधन, रिपोर्टिंग की जानकारी विस्तार से प्रदान की गई। कार्यक्रम के अंतर्गत शुगर, ब्लड प्रेशर, ब्रेस्ट केंसर, सर्वाईकल केंसर, गर्भाशय जैसी बीमारियों का उपचार किया जाएगा। कार्यशाला में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रभाकर तिवारी, एनसीडी नोडल अधिकारी डॉ. नमीता नीलकंठ, विश्व स्वास्थ्य संगठन के राज्य सलाहकार डॉ. जतीन ठक्कर, मेडिसीन विशिषज्ञ डॉ. आर के वर्मा, एनसीडी चिकितसा अधिकारी डॉ. इन्दू राठौर उपस्थित थे

नेशनल लोक अदालत हेतु खण्डपीट का गठन

जिला न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने बताया कि जिला मुख्यालय पर आयोजित होन वाली नेशनल लोक अदालत हेतु जिला न्यायलय स्थापना हेतु खण्डपीठ का गठन किया गया है जिसमें कुटुम्ब न्यायालय सीहोर के समस्त राजीनामा योग्य प्रकरण के लिये पीठासीन अधिकारी प्रधान न्यायाधीश कुटुम्ब न्यायालय सीहोर सुश्री नीना आशापुरे, सदस्य अधिवक्ता श्री कमर अहमद सिध्दीकी एवं श्रीमती सारिका ताम्रकार, स्वंय के न्यायालय के समस्त राजीनामा योग्य,‍ विद्युत पेंडिग प्रकरण एवं विद्युत प्रीलिटिगेशन प्रकरण के लिए पीठीसीन अधिकारी प्रथम अपर जिला न्यायाधीश सीहोर कुमारी अनीता बाजपेयी, सदस्य अधिवक्ता श्री राजेश काशिव एवं श्रीमती शोभना महाजन, स्वंय एवं जिला न्यायाधीश, विशेष न्यायाधीश, प्रथम अपर जिला न्यायाधीश, द्वितीय अपर जिला न्यायाधीश न्यायालय के एमएसीटी प्रकरण, आपराधिक प्रकरण, अपील, एवं सिविल प्रकरण, सिविल अपील प्रकरण तथा सिविल एम.जे.सी. प्रकरण के लिए पीठासीन अधिकारी तृतीय अपर जिला न्यायाधीश सीहोर श्रीमती स्मृता सिंह ठाकुर, सदस्य अधिवक्ता श्री उमेश सक्सेना एवं सुश्री राजू अग्रवाल, स्वयं के न्यायालय के आपराधिक एवं सिविल प्रकरण एवं समस्त मजिस्ट्रेट न्यायालय के आपराधिक एवं सिविल प्रकरण(धारा 138 पराक्रम्य अधिनियम के प्रकरण को छोड़कर) के लिये मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट सीहोर श्री शिवलाल केवट, सदस्य अधिवक्ता श्री एन एन दांगी एवं श्री लीलाकिशन गुजन, स्वं के न्यायालय के धारा 138 एवं समस्त मजिस्ट्रेट न्यायालय के धारा 138 पराक्रम्य अधिनियम के प्रकरण के लिये पीठासीन अधिकारी न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी सीहोर श्री जफर इकबाल, सदस्य अधिवक्ता श्री बी के वर्मा एवं श्री मनोज मालवीय तथा बैंक एवं फायनेंस कम्पनी एवं जलकर  आदि से संबंधित एवं अन्य प्रीलिटिगेशन प्रकरण के लिये पीठासीन अधिकारी न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी सीहोर श्रीमती जागृति सचिन चन्द्रकापुरे, सदस्य अधिवक्ता श्री विजिन्द्र श्रीवास्तव एवं सुश्री राजेश्वरी मालवीय को नियुक्त किया गया है। यदि किसी प्रकरणों का उल्लेख अंकित नही है तो अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश स्तर के प्रकरण वरिष्ठतम न्यायाधीश के न्यायालय में एवं मजिस्ट्रेट न्यायालय स्तर के प्रकरण वरिष्ठतम मजिस्ट्रेट न्यायाधीश के न्यायालय में रखे जायेंगे।

बीड़ी, चूना पत्थर के श्रमिकों के बच्चों को मिलेगी छात्रवृत्ति  

मध्यप्रदेश के बीड़ी, चूना पत्थर, डोलोमाईट, लौह-मैग्नीज-कोम अयस्क खदानों में कार्यरत श्रमिकों के पुत्र-पुत्रियों को मान्यता प्राप्त शिक्षण संस्थाओं में अध्ययन हेतु कक्षा-एक से उच्च शिक्षा ग्रहण करने पर छात्रवृत्ति, गणवेश की राशि 250 से अधिकतम 15 हजार रूपए प्रदाय की जाती है। योजना अंतर्गत पात्र छात्र-छात्राओं हेतु नेशनल स्कॉलरशिप https://scholarships.gov.in/helpdesk.nsp/gov.in ऑनलाइन आवेदन 15 अक्टूबर तक आमंत्रित किए गए हैं। नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करने व पात्रता की जानकारी प्रदर्शित की गई है। ऑनलाइन आवेदन के साथ संलग्न किए जाने वाले दस्तावेजों को स्वच्छ प्रति में संलग्न किया जाना आवश्यक है। आवेदन करने के पश्चात आवेदक अपने अध्ययनरत शिक्षण संस्थान से संपर्क स्थापित कर अपने आवेदन पत्र का सत्यापन कराना सुनिश्चित करें। सत्यापन कराने की जवाबदारी छात्र-छात्राओं की है। बिना सत्यापन के प्राप्त आवेदन पत्रों पर विचार नहीं किया जायेगा।

बिजली खम्बे और ट्रांसफार्मर से दूर बनाएँ पँडाल  

विद्युत वितरण कपंनी ने धार्मिक उत्सव समितियों और बिजली उपभोक्ताओं से अपील की है कि वे बिजली खम्बों, ट्रांसफार्मर और बिजली लाइनों से पँडाल दूर बनाएँ। इससे किसी भी प्रकार की विद्युत दुर्घटना से बचा जा सकेगा। विद्युत वितरण कंपनियों ने यह भी अपील की है कि वे मोहर्रम के दौरान धार्मिक पँडालों में बिजली साज-सज्जा, नियमानुसार अस्थाई कनेक्शन लेकर ही करें। विद्युत कंपनियों द्वारा सघन जांच आभियान भी चलाया जा रहा है। धार्मिक त्यौहार तथा अन्य सार्वजनिक अवसरों पर लगने वाले पँडालों को अस्थाई कनेक्शन देने के लिए विद्युत वितरण कंपनियों ने बेहतर प्रबंध किए हैं।

7 वीं आर्थिक गणना सितंबर से दिसंबर तक होगी  

भारत सरकार सांख्यिकी एवं कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्रालय नई दिल्ली के निर्देशानुसार संपूर्ण भारत में सातवीं आर्थिक गणना 2019 का कार्य माह सितंबर से माह दिसंबर के बीच संपन्न किया जाना है। जिले की भौगोलिक सीमा के भीतर आर्थिक गतिविधियों से संबंधित जानकारी निर्धारित प्रारूप में मोबाईल एप्लीकेशन की मदद से घर-घर जाकर सर्वे के माध्यम से नागरिक सुविधा केन्द्रों के द्वारा नियुक्त किये गए प्रगणकों एवं पर्यवेक्षकों द्वारा एकत्रित एवं सत्यापित की जाएंगी। आर्थिक गणना के माध्यम से एकत्रित की गई जानकारी  उद्यमों की वास्तविक आर्थिक स्थिति प्राप्त करने में मदद करेगी। एकत्रित की गई जानकारी आर्थिक गतिविधियों में लगे लोगों के जीवन स्तर के सुधारने के लिए नीति निर्माण में बहुत सहायक होगी। रोजगार के अवसर पैदा करने में मदद करेगी। नागरिकों द्वारा प्रदाय की गई जानकारी को पूरी तरह से गोपनीय रखा जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...