विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 06 सितंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 7 सितंबर 2019

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 06 सितंबर

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना गया तीर्थ दर्शन हेतु आवेदन 13 तक आमंत्रित

vidisha map
मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत जिले के 300 तीर्थ यात्री गया तीर्थ दर्शन के लिए 23 सितम्बर को रवाना होंगे और 26 सितम्बर को वापिस आएंगे।  गया तीर्थ दर्शन जाने के इच्छुक हितग्राही अपने आवेदन 13 सितम्बर तक नजदीक के निकाय कार्यालय में जमा कर सकते है। अंतिम तिथि तक प्राप्त आवेदनों को संबंधित तहसीलदार के माध्यम से जिला कार्यालय को प्रेषित किए जाएंगे। लक्ष्य से अधिक आवेदन प्राप्त होने पर तीर्थ यात्रियों का चयन कम्प्यूटर रेण्डमाइजेशन प्रणाली के माध्यम से किया जाएगा। छह अनुरक्षक भी तीर्थ यात्रियों के साथ जाएंगे। 

वृहद पोषण सभाओं का आयोजन 

पोषण अभियान के अंतर्गत सितम्बर माह में जिला ब्लाक परियोजना तथा ग्राम स्तर पर वृहद पोषण सभाओं का आयोजन किया जाएगा। आयोजन के मददेनजर महिला एवं बाल विकास विभाग के प्रमुख सचिव श्री अनुपम राजन के द्वारा प्रदेशयापी कार्यक्रम जारी किया गया है।  पोषण माह के तहत आयोजित होने वाले कार्यक्रमों के संबंध में विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे ने बताया कि जिला मुख्यालय पर दस सितम्बर को खण्ड एवं परियोजना स्तर पर 18 को तथा ग्राम स्तर पर 20 सितम्बर को वृहद पोषण सभा का आयोजन किया जाएगा।  जिला स्तर पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों की रूपरेखा के संबंध में बताया गया कि जिले में क्रियान्वित पोषण अभियान पर संक्षिप्त जानकारी, बेहतर पोषण के पांच मंत्र क्रमशः जीवन के प्रथम हजार स्वर्णिम दिवस में पोषण एवं स्वास्थ्य सेवाओं का महत्व, विविधतायुक्त पौष्टिक भोजन का सेवन एवं सेहत तथा बच्चों, किशोरियों, गर्भवती व धात्री महिलाओं का एनीमिया से बचाव, दस्त प्रबन्धन-जिंक ओआरएस के घोल का उपयोग एवं हाथ धुलाई का प्रदर्शन तथा सफाई-स्वच्छता का व्यवहार इत्यादि पर चर्चा के अलावा कुपोषण निवारण में जन प्रतिनिधियों एवं समुदाय की भूमिका, बाल पोषण स्नेह सरोकारियों का सम्मान एवं उनके अनुभव को सांझा करना, स्थानीय आवश्यकताओं के अनुसार अन्य गतिविधियों का क्रियान्वयन इत्यादि प्रमुख है।

पटवारी पद हेतु तृतीय काउंसलिंग नौ को

पटवारी भर्ती परीक्षा 2017 के माध्यम से चयनित अभ्यर्थियों के लिए तृतीय काउंसलिंग प्रक्रिया नौ सितम्बर को आयोजित की गई है। नवीन कम्पोजिट भवन (कलेक्ट्रेट परिसर) विदिशा के कक्ष क्रमांक 201 कार्यालय भू-अभिलेख में सोमवार की प्रातः 11 बजे से शुरू होगी।  अधीक्षक भू-अभिलेख ने काउंसलिंग प्रक्रिया के संबंध में बताया कि पटवारी पद हेतु विदिशा जिले के लिए चयनित अभ्यर्थी सम्पूर्ण दस्तावेंजो की मूलप्रति सहित छाया प्रति दो सेट लेकर नियत स्थान, तिथि व समय पर काउंसलिंग हेतु उपस्थित होना सुनिश्चित करेंगे। चयनित अभ्यर्थीगण जो दस्तावेंज अपने साथ लाऐंगे उनमें मान्यता प्राप्त विश्व विद्यालय से जारी स्नातक उपाधि की डिग्री, आयु संबंधी प्रमाण पत्र, जन्म प्रमाण पत्र अथवा दसवीं बोर्ड की मार्कशीट, मूल निवासी प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, निःशक्तजनों हेतु निःशक्तता का प्रमाण पत्र, भूतपूर्व सैनिको हेतु प्रमाण पत्र, अभ्यर्थियों को निर्धारित प्रारूप में नोटरी द्वारा सत्यापित शपथ पत्र काउंसलिंग के समय अनिवार्य रूप से प्रस्तुत करना होगा। 

स्वच्छ सर्वेक्षण का सर्वे 15 सितम्बर तक

स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण 2019 के संबंध में स्वच्छ भारत मिशन के द्वारा दिशा निर्देश जारी किए गए है। जिला पंचायत सीईओ श्री मयंक अग्रवाल ने बताया कि जिले में 14 अगस्त से शुरू हुआ है जो 15 सितम्बर तक स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण 2019 का सर्वे कार्य किया जाएगा। इसके अंतर्गत जिले की चुनिंदा ग्राम पंचायतों में भारत सरकार द्वारा नियुक्त संस्था इंस्पांस रिसार्च प्रायवेट लिमिटेड के द्वारा सर्वेक्षण कार्य प्रारंभ किया गया है।  गतवर्ष की स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण 2018 में राज्य के कई जिलो ने उत्कृष्ट प्रदर्शन किया था इस वर्ष भी सर्वेक्षण में उत्कृष्ट प्रदर्शन हेतु मूल्याकंन विधि के अनुसार निम्नलिखित गतिविधियां किये जाना आवश्यक है। सर्वेक्षण में कुल सौ अंको के मूल्यांकन में घटक एवं उनका अनुपातिक मान निम्नलिखित होगा। आमजनता का अभिमत इसके लिए कुल 35 प्रतिशत अनुपात, स्वच्छता लक्ष्यों, सेवाओं में प्रगति में 35 प्रतिशत, सर्वेक्षण दल द्वारा सीधा अवलोकन हेतु 30 प्रतिशत अनुपातिक मान होगा। ततसंबंध में अन्य विस्तृत जानकारी के लिए संस्था द्वारा नियुक्त राज्य प्रतिनिधि श्री सुजीत सिंह के मोबाइल नम्बर 9981533285 से सम्पर्क एवं समन्वय किया जा सकता है। 

सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना

मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग और संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षा के विभिन्न चरणों में सफल अनुसूचित जनजाति वर्ग के अभ्यर्थियों के लिये प्रोत्साहन योजना चलाई जा रही है। संघ लोक सेवा आयोग की अखिल भारतीय सिविल सेवा परीक्षा में अभ्यर्थी को प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण होने पर 40 हजार, मुख्य परीक्षा उत्तीर्ण होने पर 60 हजार एवं साक्षात्कार के बाद सफल होने पर 50 हजार रुपये प्रोत्साहन राशि दिये जाने का प्रावधान है। आय सीमा का किसी भी तरह का बंधन नहीं है। मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षा में विभिन्न स्तरों पर सफल जनजातीय अभ्यर्थियों को भी प्रोत्साहन राशि उपलब्ध कराई जा रही है। प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण होने पर 20 हजार, मुख्य परीक्षा में उत्तीर्ण होने पर 30 हजार रुपये और साक्षात्कार के बाद सफल होने पर 25 हजार रुपये की राशि दी जा रही है। 

राजस्व वसूली हेतु जिलेवार लक्ष्य निर्धारण

राजस्व विभाग द्वारा वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए राजस्व प्राप्ति के लक्ष्य का निर्धारण किया गया है के आश्य का पत्र राजस्व विभाग के उप सचिव श्री सुनील दुबे द्वारा जारी किया गया है कि जानकारी देते हुए अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने बताया कि भोपाल संभाग अंतर्गत विदिशा जिले के लिए राजस्व वसूली का लक्ष्य 13 करोड़ वित्तीय वर्ष 2019-20 हेतु मुख्य शीर्ष 0029 भू-राजस्व अंतर्गत निर्धारित किया गया है। 

मलेरिया, डेंगू व चिकुनगुनिया से बचाव के लिए एडवाइजरी जारी

स्वास्थ्य विभाग द्वारा बारिश के दौरान मलेरिया, डेंगू एवं चिकुनगुनिया से बचाव के लिए एडवाइजरी जारी की गई है। एडवाइजरी में कहा गया है कि बारिश के मौसम में अपने आसपास नियमित साफ-सफाई करें। वर्षा के जल को एक जगह एकत्रित न होने दें। वर्षाकाल में जगह-जगह एकत्रित पानी में मच्छरों की उत्पत्ति व वृद्धि होती है। ये मच्छर, रोगी व्यक्ति को काटने पर संक्रमित हो जाते है व इन संक्रमित मच्छर के काटने से मलेरिया, डेंगू, चिकुनगुनिया, रोग होता है। इन बीमारियों से ग्रसित रोगी को बुखार सिरदर्द, बदन दर्द, उल्टी आना, ठंड लगना जैसे लक्षण होते हैं जिनका त्वरित उपचार आवश्यक है।  कोई भी बुखार मलेरिया,, डेंगू,, चिकनगुनिया हो सकता है जिसका इलाज संभव है। किसी भी बीमारी के लक्षण दिखने पर शीघ्र स्वास्थ्य केन्द्र में निरूशुल्क जांच करायें तथा चिकित्सक के परामर्श से पूर्ण उपचार लें। मलेरिया की जांच ग्राम स्तर तक आरोग्य केन्द्र व स्वास्थ्य केन्द्रो में निरूशुल्क उपलब्ध है।

निःशुल्क रेटिना जांच शिविर 15 सितम्बर को

विदिशा। वर्ल्ड डाइबिटीज फाउंडेशन डेनमार्क के सहयोग से विज़न केयर रिसर्च भोपाल एवं सेवा भारती के सहयोग से सेवाभारती भवन श्रीकृष्ण कालोनी दुर्गानगर में 15 सितंबर को चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया है।सुबह 10 बजे से 1 बजे तक डायबिटीज से पीड़ित मरीजों के रेटिना नेत्र पटल की निःशुल्क जांच शंकर नेत्रालय मद्रास के पूर्व विशेषज्ञ डॉ गजेंद्र चावला एम एस भोपाल द्वारा की जाएगी।नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ विनोद भट्ट ने मरीजों से इस शिविर का लाभ उठाने का अनुरोध किया है।जिनके नेत्र पटल में ख़राबी आ गयी है एवं जिन्हें कम दिखाई देता हो वे इस शिविर में जांच कर सकते हैं।मरीज़ों की शुगर की भी जांच निःशुल्क की जाएगी।सेवा भारती के सचिव राजीव भार्गव ने बताया कि शिविर में केवल डायबिटीज़ से पीड़ित मरीज़ों के आँखों की रेटिना जांच की जाएगी।

विधायक शशांक भार्गव के प्रयासों से एस.एस.एल. जैन महाविद्यालय में  पी.जी. कोर्स की सीटों में  25 प्रतिशत की वृद्धि

विदिशा:- एस.एस.एल. जैन महाविद्यालय के छात्रों के प्रतिनिधी मण्डल ने  विधायक शशांक भार्गव से भेंट कर स्थानीय  एस.एस.एल. जैन महाविद्यालय में एम.ए., एमएससी, एम.काॅम एवं एल.एल.बी. के पीजी कोर्स में सीटों की वृद्धि हेतु मांग की थी, जिसके संबंध में विधायक शशांक भार्गव ने उच्च शिक्षा मंत्री म.प्र. शासन माननीय जीतू पटवारी एवं रजिस्ट्रार बरकतउल्लाह विश्वविद्यालय भोपाल से चर्चाकर छात्रों की मांग से अवगत कराया, जिस पर तत्काल कार्यवाही करते हुये एम.ए., एमएससी, एम.काॅम के पीजी कोर्स की 25 प्रतिशत सीटों की वृद्धि कर दी गईं है एवं एल.एल.बी. की सीटों की वृद्धि के संबध में बार कौन्सिल आॅफ इंडिया से अनुमति मिलने के बाद सीटें भी बढाने की कार्यवाही की जायेगी। विधायक जी के अथक प्रयासों से विदिशा के छात्रों को बढी राहत मिली है, उच्च शिक्षा के अध्ययन के लिये अव उन्हें शहर के बाहर नहीं जाना पडेगा।  इस निर्णय के लिये एन.एस.यू. आई नेता संजीव प्रजापति, मुआज़ काॅमिल, मोहक जैन, फजल शैख, दीपक दुबे, रवि यादव, राजेश कुशवाह, ऋषभ, राकेश, सपना मालवीय, ऋतु मेहरा, सुरेन्द्र, मुस्कान यादव, कंचन यादव, सचिन किरार, राजकुमार राठौर, ऋषी मारोठिया, हेप्पी शर्मा, आदि ने विधायक शशांक भार्गव जी का आभार व्यक्त किया है।  

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...