विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 09 सितंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 9 सितंबर 2019

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 09 सितंबर

विधायक शशांक भार्गव द्वारा देर रात तक अतिवर्षा से प्रभावित क्षेत्रों में दौरा कर प्रभावित परिवारों के बीच में उपस्थित रहे

vidisha news
विदिशा:- विधायक शशांक भार्गव ने दिनांक 08.09.2019 दिन रविवार को हुई अतिवर्षा से प्रभावित क्षेत्र सुभाषनगर, बंटीनगर, उदयनगर, झुग्गीबस्ती, तोपपुरा, पूरनपुरा आदि अनेक क्षेत्रों में सायं 6 बजे से रात्रि 1 बजे तक जल भराव वाली बस्तियों में आम नागरिकों से विस्तृत चर्चा करते हुये अतिवर्षा से हुई क्षति एवं परेशानियों के संबंध में जानकारी प्राप्त की उन्होंने कहा कि वास्तव में आम नागरिकों केा अतिवर्षा से काफी अधिक क्षति हुई है, जिसके संबंध में उन्होंनंे उनके साथ उपस्थित तहसीलदार विदिशा को तत्काल सर्वेकर मुआवजा राशि दिये जाने के संबंध में निर्देश दिये, इसी क्रम में उनके द्वारा दिनंाक 09.09.2019 सोमवार को प्रातः 7 बजे से अन्य प्रभावित क्षेत्रों का जिनमें करैयाखेडा रोड, आचार्य काॅलोनी, राजाभैया काॅलोनी, मोहनगिरी, सौंठिया अण्डरब्रिज आदि अनेक क्षेत्रों का दौरा कर नागरिकों को हर संभव मदद एवं सहायता दिये जाने का आश्वासन दिया। उन्हांेंने कहा कि शासन प्रशासन प्रभावितों की हर संभव मदद हर समय करने के लिये पूरी तरह से तैयार है।  इस निर्णय के लिये एन.एस.यू. आई नेता संजीव प्रजापति, मुआज़ काॅमिल, मोहक जैन, फजल शैख, दीपक दुबे, रवि यादव, राजेश कुशवाह, ऋषभ, राकेश, सपना मालवीय, ऋतु मेहरा, सुरेन्द्र, मुस्कान यादव, कंचन यादव, सचिन किरार, राजकुमार राठौर, ऋषी मारोठिया, हेप्पी शर्मा, आदि ने विधायक शशांक भार्गव जी का आभार व्यक्त किया है।  

फिर से विदिशा की जनता को छलने आ रहे है शिवराज- विधायक शशांक भार्गव 

विदिशा:- विदिशा विधायक शशांक भार्गव ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुये कहा है कि 11.09.2019 को प्रस्तावित विरोध प्रदर्शन में भीड जुटाने के लिये भाजपा नेता विदिशा की जनता के बीच बिजली बिल माफी के फार्म बटवाकर जनता को गुमराह कर रहे है।  जबकि पूर्व की भाजपा सरकार ने 200 रूपये बिजली बिल योजना के नाम पर जनता के साथ जालसाजी की थी। संबंल कार्डधारी उपभोक्ताओ को 200 रूपये में सिर्फ 130 यूनिट का बिजली बिल प्रस्तावित था, लेकिन भारतीय जनता पार्टी ने वोट बटोरने के लालच में 3 महिने तक मीटर रीडिंग के आधार पर बिल वितरित नहीं किये थे। नई सरकार बनने के बाद जब उपभोक्ताओं के पास मीटर रीडिंग के बिल पहुॅचे तो उनकी राशि बडी हुई थी, जिसे देखकर जनता अपने आप को ठगा सा महसूस कर रही है।  उन्होंने बताया कि बिजली बिल को लेकर कांग्रेस सरकार की नीति एकदम स्पष्ट है, जिसमें 100 यूनिट तक 100 रूपये बिजली बिल आयेगा एवं 100 यूनिट से अधिक होने पर 150 यूनिट तक 385 रूपये बिल आयेगा, 151 से अधिक यूनिट होने पर विद्युत विभाग की प्रचलित दरो पर बिल की गणना होगी, वहीं 10 हाॅर्सपावर तक के अस्थाई कृषि उपभोक्ताओ को 1400 की जगह 700 रूपये बिजली बिल देना होगा। अगर किसी उपभोक्ता के बिल में कोई विसंगति आ रही तो प्रत्येक मंगलवार को संबंधित सब स्टेशन पर बिजली उपभोक्ता समिति को अपनी शिकायत दर्ज करा सकते है।  विदिशा की जनता भाजपा के पुराने बायदों को याद कर रही है कि जिसमें विदिशा को पेरिस बनाने का बादा किया था, लेकिन भाजपा जनप्रतिनिधियों के दिशाहीन विकास के बजह से आज शहर की हर गली में पानी ही पानी दिखाई दे रहा है। जल निकासी को लेकर 15 सालो में कोई समुचित योजना नहींे बनाई गई। अगर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजंिसह चैहान वास्तविकता में विदिशा की जनता के लिये संवंदनशील है तो अपने प्रतिकात्मक सांसद के साथ विदिशा के हर गली मोहल्ले एवं निचली बस्ती मे पहुॅचकर अपने विकासरूपी विनाश की स्थिति से अवगत हो, ओर जनता भी अपने प्रतीकात्मक सांसद को देख सके। 
बाढ़ पीड़ितों के लिए निःशुल्क गेंहू और चावल का वितरण उचित मूल्य दुकानों से

जिले में लगातार जारी अनवरत वर्षा एवं जलभराव से उत्पन्न बाढ़ प्रभावितों के लिए निःशुल्क खाद्यान्न उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से वितरण करने के निर्देश कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह के द्वारा दिए गए है।  जिला आपूर्ति अधिकारी श्रीमती रश्मि साहू ने बताया कि प्रारंभिक तौर पर 2400 परिवारों को क्रमशः बीस किलो गेहूं एवं पांच किलो चावल निःशुल्क उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से वितरित करने की कार्यवाही क्रियान्वित की जाएगी।

सजग, सतर्क रहने की अपील 

vidisha news
कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने जिले के सभी नागरिकों खासकर बैस एवं बेतवा नदी के किनारे स्थित ग्रामों के रहवासियों से आग्रहपूर्ण अपील की है कि वे जिले में जारी लगातार वर्षा एवं अन्य जिलों का पानी बैस एवं बेतवा नदी के माध्यम से जिले में प्रवेश करता है इस कारण से नदियों का जल स्तर बढ़ जाने से नदियों के किनारों के गांव में कभी भी जलभराव की स्थिति निर्मित हो सकती है। उपरोक्त से बचाव के लिए जिला प्रशासन द्वारा राहत शिविरों का संचालन किया जा रहा है। राहत शिविरों में शीघ्र पहुंचने की अपील संबंधितो से की गई है।  कलेक्टर श्री सिंह न बताया कि विदिशा नगर में सेन्टमेरी कॉलेज, जय कॉम्पलेक्स, रंगई स्कूल एवं निकाय द्वारा निर्मित कराए गए पीएम आवासों में राहत शिविरों का संचालन किया जा रहा है। उन्होंने प्राकृतिक आपदा की इस संकट भर घड़ी में धैर्यता का परिचय देते हुए पूर्ण सतर्कता बरतने का आव्हान जिले के नागरिकों से किया है। खासकर वे क्षेत्र जहां शीघ्र ही जलभराव होने से बाढ़ जैसी स्थिति परलिक्षित होने लगती है। 

तमाम प्रबंध सुनिश्चित
कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि राहत शिविरों में तमाम प्रबंध सुनिश्चित किए गए है ताकि बाढ़ प्रभावितों के लिए बुनियादी सुविधाओं की पूर्ति शिविर स्थलों में ही हो सकें जिसमें चिकित्सकों द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण, समय पर भोजन वितरण की व्यवस्था के अलावा शिविर में रहने वालों के लिए ओढ़ने, बिछाने के कपडे के भी प्रबंध किए गए है। 
सर्वे शीघ्र
कलेक्टर श्री केव्ही सिंह ने सभी बाढ़ प्रभावितों को आश्वस्त कराते हुए कहा है कि श्ीघ्र ही टीमों द्वारा सर्वे कार्य कर आरबीसी के प्रावधानों के तहत राहत राशि पीड़ितों को मुहैया कराई जाएगी। उन्होंने बताया कि जैसे ही वर्षा बंद होती है सर्वे कार्य शुरू हो जाएगा। उन्होंने पीड़ितों से आग्रह किया कि सर्वे दलों को पूर्ण सहयोग कर वस्तुस्थिति से अवगत कराने का कष्ट करें ताकि बाजिव बाढ़ पीड़ितों को समय पर शासन के दिशा निर्देशानुसार मदद मिल सकें। 

बीमित फसल क्षति की सूचना टोल फ्री नम्बर पर दर्ज कराएं

जिले के सभी किसान भाईयों से आग्रह किया गया है प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना अंतर्गत बीमित फसलों की क्षति होने पर बीमा कंपनी के टोल फ्री नम्बर 1800116515 पर 72 घंटे के अन्दर नुकसान की सूचना दी जा सकती है।  प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनातंर्गत आपदाएं जैसे ओलावृष्टि, भू-स्खलन, जलभराव, बादल फटना एवं प्राकृतिक बिजली गिरने के कारण प्राकृतिक कारण, आग लगने आदि जोखिम को सम्मिलित किया गया है। किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के उप संचालक के द्वारा जिले के किसानों से आग्रह करते हुए अवगत कराया गया कि जिले में जारी लगातार वर्षा के कारण एवं जलभराव से किसान जिनके द्वारा अधिसूचित सोयाबीन, उड़द, मूंग फसल का बीमा कराया गया है और क्षतिग्रस्त होती है तो पूर्व उल्लेखित टोल फ्री नम्बर पर समयावधि में सीधे बीमा कंपनी को  सूचित कर शिकायत दर्ज कराई जा सकती है। प्रत्येक तहसील स्तर पर बीमा कंपनी द्वारा प्रतिनिधि नियुक्त किए गए है। 

जिले में 1305.6 मिमी औसत वर्षा दर्ज

विदिशा जिले में अब तक 1305.6 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई है जबकि गतवर्ष उक्त अवधि में 831.4 मिमी औसत वर्षा दर्ज हुई थी।  जिले की तहसीलों में स्थापित वर्षामापी यंत्रों पर सोमवार को दर्ज की गई वर्षा की जानकारी देते हुए अधीक्षक भू-अभिलेख ने बताया कि नौ सितम्बर की प्रातः आठ बजे रिकार्ड की गई वर्षा अनुसार 85.8 मिमी औसत वर्षा दर्ज हुई है।  नौ सितम्बर को तहसीलवार दर्ज की गई वर्षा की जानकारी तदानुसार विदिशा में 178.5 मिमी, बासौदा में 88 मिमी, कुरवाई में 34.6 मिमी, सिरोंज में 16 मिमी, लटेरी में 52 मिमी, ग्यारसपुर में 105 मिमी, गुलाबगंज में 125 मिमी, नटेरन तहसील में 87 मिमी वर्षा दर्ज हुई है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...