जमशेदपुर : पूरे प्रदेश में आदर्श आचार संहिता लागू - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 2 नवंबर 2019

जमशेदपुर : पूरे प्रदेश में आदर्श आचार संहिता लागू

code-of-conduct-jharkhand
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता) निर्वाचन आयोग भारत सरकार द्वारा 1 नवंबर 2019 को झारखंड में विधानसभा चुनाव की तिथियों की घोषणा के पश्चात पूरे प्रदेश में जहां आदर्श आचार संहिता लागू हो गया है वही इसके अनुपालन का आदेश आयोग द्वारा सभी जिला निर्वाचन पदाधिकारी को दिया गया है। इस क्रम में पूर्वी सिंहभूम जिला में सुव्यवस्थित एवं शांतिपूर्ण चुनाव संपन्न कराने के उद्देश्य से आज जिला निर्वाचन पदाधिकारी की अध्यक्षता में सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचल पदाधिकारी, सभी नोडल पदाधिकारी, सभी विधानसभा निर्वाची पदाधिकारी, सहायक निर्वाची पदाधिकारी की बैठक समाहरणालय सभागार में संपन्न हुई। उपायुक्त द्वारा सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, सभी ए आर ओ को आदर्श आचार संहिता का अक्षरशः अनुपालन कराना सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। उन्होंने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ आदर्श आचार संहिता के अनुपालन के संबंध में बैठक करने का निर्देश दिया। जिला निर्वाचन पदाधिकारी द्वारा सभी ए आर ओ, सभी आर ओ, सभी नोडल पदाधिकारियों को निर्देश दिया गया कि सभा के लिए स्थल, हेलीपैड, प्रचार गाड़ी से संबंधित राजनीतिक दलों के आवेदन का निष्पादन यथाशीघ्र करें, किसी भी राजनीतिक दिल को किसी प्रकार की शिकायत करने का अवसर ना दें। उन्होंने बैठक में उपस्थित सभी पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि आदर्श आचार संहिता के लागू होने के साथ ही पूरे जिले में रात्रि 10:00 बजे से सुबह 6:00 बजे तक किसी भी प्रकार का लाउडस्पीकर नही बजे यह सुनिश्चित करें। किसी विशेष परिस्थिति में पूर्व में दिए गए आदेश के आधार पर अनुमति  शर्तों के साथ प्रदान कर सकते हैं। उन्होंने सभी फ्लाइंग स्क्वायड टीम, एस एस टी, वी एस टी को आज से ही अपना काम प्रारंभ कर देने का निर्देश दिया। उपायुक्त ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को स्पष्ट निर्देश दिया कि वे सभी मतदान केंद्रों पर  मूलभूत सुविधा, वलनरेबल और सेंसेटिव मतदान केंद्रों से संबंधित प्रतिवेदन 4 नवंबर 2019 तक हर हाल में उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। ईवीएम वीवीपैट के माध्यम से चलाए जा रहे प्रतिदिन मतदाता जागरूकता कार्यक्रम से संबंधित प्रतिवेदन उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। उपायुक्त द्वारा बैठक में उपस्थित सभी पदाधिकारियों को चुनाव से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी प्रदान की गई उसके पश्चात सभी पदाधिकारियों को ईवीएम वीवीपट से संबंधित तकनीकी एवं उपयोग करने से संबंधित प्रशिक्षण प्रदान किया गया। आज के बैठक में मुख्य रूप से उप-विकास आयुक्त, अपर उपायुक्त, अपर जिला दंडाधिकारी, अनुमंडल पदाधिकारी धालभूम, अनुमंडल पदाधिकारी घाटशिला, निदेशक डीआरडीए, विशिष्ट अनुभाजन पदाधिकारी, जिला परिवहन पदाधिकारी, जिला उप निर्वाचन पदाधिकारी, जिला योजना पदाधिकारी, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, जिला शिक्षा पदाधिकारी, जिला शिक्षा अधीक्षक सहित सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी सभी अंचल पदाधिकारी सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...