जमशेदपुर : दिव्यांग एवं 80 वर्ष से अधिक के मतदाताओं हेतु पोस्टल बैलेट से मतदान करने की सुविधा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 7 नवंबर 2019

जमशेदपुर : दिव्यांग एवं 80 वर्ष से अधिक के मतदाताओं हेतु पोस्टल बैलेट से मतदान करने की सुविधा

demand-postal-ballot-foe-old
जमशेदपुर (प्रमोद कुमार झा) जिला निर्वाचन पदाधिकारी रविशंकर शुक्ला द्वारा आज समाहरणालय सभागार में प्रेस प्रतिनिधियों को संबोधित किया गया। इस दौरान भारत निर्वाचन आयोग द्वारा दिव्यांग मतदाताओं एवं 80 वर्ष से अधिक के मतदाताओं हेतु शुरू किए गए नवाचार से प्रेस प्रतिनिधियों को अवगत कराया गया। उन्होने बताया कि उक्त दोनों वर्ग के मतदाताओं हेतु निर्वाचन आयोग द्वारा पहली बार पोस्टल बैलेट से मतदान करने की सुविधा प्रदान की जा रही है। दिव्यांग एवं 80 वर्ष से अधिक के मतदाताओं को प्रपत्र 12-D  भरकर आवेदन देना होगा, मतदाता अपना आवेदन पोस्ट या अपने किसी प्रतिनिधि के माध्यम से भी जमा कर सकेंगें जिसका जिला प्रशासन द्वारा सत्यापन के पश्चात इसपर अग्रेतर कार्रवाई की जाएगी। जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि 16 नवंबर तक पोस्टल बैलेट से मतदान करने का आवेदन दिया जा सकता है तत्पश्चात 22 नवंबर से 3 दिसंबर तक मतदान की प्रक्रिया चलेगी। हालांकि यह अनिवार्य नहीं है, मतदाता चुनाव कर सकते हैं कि वे मतदान केन्द्र आकर मताधिकार का प्रयोग करेंगें या पोस्टल बैलेट से। इस हेतु पीठासीन पदाधिकारी के साथ दो अन्य सहयोगी संबंधित मतदाता के घर जाकर मतदान प्रक्रिया सुनिश्चित करायेंगे। किसी कारणवश मतदाता उक्त दिवस को अपने घर में नहीं रहेंगे तो उनके परिजनों को अगली तिथि की जानकारी दी जाएगी जिससे मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग अवश्य कर सकें।  जिला निर्वाचन पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि झारखंड में पहली बार क्यू मैनेजमेंट एप का प्रयोग इस विधानसभा चुनाव में किया जा रहा है जिससे मतदाता अपने मोबाइल के माध्यम से मतदान केन्द्र में लगे कतार की जानकारी घर बैठे प्राप्त कर सकेंगे। मतदाता सूची से नाम हटाने की कार्रवाई बंद कर दी गई है। हालांकि वैसे मतदाता जिनका नाम अभी तक किसी कारणवश मतदाता सूची में दर्ज नहीं हो सका है वे अपना नाम 8 नवंबर तक दर्ज करा सकते हैं। सभी विधानसभा क्षेत्र से वैसे 20 मतदान केन्द्रों को चिन्हित किया गया है जिनपर पिछले लोकसभा चुनाव में कम वोटिंग हुई थी। उक्त सभी मतदान केन्द्रों के बीएलओ को विशेष प्रशिक्षण निर्वाची पदाधिकारी एवं जिला निर्वाचन पदाधिकारी के स्तर से दिया जा रहा है ताकि मतदान प्रतिशत बढ़ाया जा सके। सभी बीएलओ को मतदाता पर्ची वितरण एवं मतदाता जागरूकता से संबंधित आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया है ताकि मतदान प्रतिशत बढ़ाया जा सके।

6 नवंबर को प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के 5 बीएलओ को 3 कैटेगरी में अवार्ड दिया जाएगा
1. जिन बीएलओ ने सबसे ज्यादा प्रपत्र-6 प्राप्त किया है
2. जिन बीएलओ ने सबसे ज्यादा मिलेनियम मतदाता का नाम जुड़वाया है
3. जिन बीएलओ ने सबसे ज्यादा महिला मतदाता का नाम मतदाता सूची में दर्ज कराया है

जिला निर्वाचन पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि 6 नवंबर को पैटकर कलाकृति से सजे डायरी एवं कैलेंडर भी लॉन्च किया जाएगा एवं सम्मान पाने वाले बीएलओ को डायरी एवं कैलेंडर दिया जाएगा। साथ ही CVIGIL एप के संबंध में भी प्रेस प्रतिनिधियों को जानकारी देते हुए बताया गया कि CVIGIL एप पर काम शुरू हो चुका है, आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत इस एप के माध्यम से दर्ज करायी जा सकती है

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...