यह ऐतिहासिक निर्णय देश की एकता, अखंडता, संस्कृति को और बल प्रदान करेगा : अमित शाह - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 9 नवंबर 2019

यह ऐतिहासिक निर्णय देश की एकता, अखंडता, संस्कृति को और बल प्रदान करेगा : अमित शाह

historic-decision-will-give-more-strength-shah
नयी दिल्ली, 09 नवंबर, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष एवं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अयोध्या में श्री राम जन्मभूमि मामले में उच्चतम न्यायालय के फैसले का स्वागत किया है और विश्वास जताया है कि यह ऐतिहासिक निर्णय देश की एकता, अखंडता और महान संस्कृति को और बल प्रदान करेगा।श्री शाह ने सर्वोच्च अदालत का फैसला आने के बाद ट्विटर पर अपनी प्रतिक्रिया में कहा, “श्री राम जन्मभूमि पर सर्वसम्मति से आये सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का मैं स्वागत करता हूँ। मैं सभी समुदायों और धर्म के लोगों से अपील करता हूँ कि हम इस निर्णय को सहजता से स्वीकारते हुए शांति और सौहार्द से परिपूर्ण ‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ के अपने संकल्प के प्रति कटिबद्ध रहें।”उन्होंने कहा, “मुझे पूर्ण विश्वास है कि सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिया गया यह ऐतिहासिक निर्णय अपने आप में एक मील का पत्थर साबित होगा है। यह निर्णय भारत की एकता, अखंडता और महान संस्कृति को और बल प्रदान करेगा। ...दशकों से चले आ रहे श्री राम जन्मभूमि के इस कानूनी विवाद को आज इस निर्णय से अंतिम रूप मिला है। मैं भारत की न्याय प्रणाली एवं सभी न्यायमूर्तियों का अभिनन्दन करता हूँ।”श्री शाह ने श्री राम जन्मभूमि कानूनी विवाद के लिए प्रयासरत सभी संस्थाएं, पूरे देश के संत समाज और अनगिनत अज्ञात लोगों के प्रति कृतज्ञता व्यक्त की जिन्होंने इतने वर्षों तक इसके लिए प्रयास किया।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...