बिहार में दुआ-प्रार्थना करने के बाद केरल मेंं भी शुरु - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 18 दिसंबर 2019

बिहार में दुआ-प्रार्थना करने के बाद केरल मेंं भी शुरु

इसी संत सेवेस्टियन चर्च से प्रेरणा लेकर पुरोहित बने थे फादर मैथ्यू।इसी संत सेवेस्टियन चर्च में दफन होंगे। इसी चर्च में दुआ प्रार्थना के बल पर भारतीय 'संत' बनाने का मार्ग प्रर्दस्त किया जाएगा। इसी चर्च से दुआ और प्रक्रिया होगी शुरू
pray-for-bihar-keral
पटना,18 दिसम्बर। पटना महाधर्मप्रांत के महाधर्माध्यक्ष विलियम डिसूजा के नेतृत्व में मुजफ्फरपुर धर्मप्रांत कैथेड्रल में धार्मिक अनुष्ठान कर फादर मैथ्यू ओराथल को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गयी। इनके साथ पटना महाधर्मप्रांत के महाधर्माध्यक्ष के उत्तराधिकारी सेवास्टियन कल्लुपुरा, मुजफ्फरपुर धर्मप्रांत के वर्तमान धर्माध्यक्ष काजीटेन फ्रांसिस ओस्ता, इसी धर्मप्रांत पूर्व  धर्माध्यक्ष जोन बापतिस्ट ठाकुर,बेतिया धर्मप्रांत के धर्माध्यक्ष पीटर सेवास्टियन गोविएस,रायगढ़ धर्मप्रांत के धर्माध्यक्ष फुलजेंस तिग्गा,बक्सर धर्मप्रांत के विकर जनरल फादर जेम्स आमाकट, भागलपुर धर्मप्रांत के विकर जनरल, दरभंगा पल्ली के पल्ली पुरोहित वाल्टर सुशील, हाजीपुर पल्ली के पल्ली पुरोहित साजी अगस्टीन के साथ 90 से अधिक बिशप व पुरोहित मिलकर ख्रीस्तयाग अर्पित करने बाद भावभीनी श्रद्धांजलि दी।मौके पर भक्तों की उपस्थिति से मुजफ्फरपुर धर्मप्रांत के कैथेड्रल खचाखच भर गयी। मिस्सा पूजा करने के बाद फादर मैथ्यू ओराथल के पार्थिव शरीर को विशेष तरह से तैयार कर दिया गया। आज मुजफ्फरपुर धर्मप्रांत के प्रतिनिधि फादर फिलिप कट्टाकायम को मनोनीत कर फादर मैथ्यू ओराथल के पार्थिव शरीर को सौंप दिया गया। फादर फिलिप पटना से पार्थिव शरीर वायुमार्ग से  6:15  मिनट पर  बैंगलौर पहुंचे। फादर साजी के अनुसार बैंगलौर से एम्बुलैंस केरल पहुंचेंगे। कोई 10 घंटे के बाद कण्णूर पहुंचेंगे। उन्होंने कहा कि 19 दिसम्बर को सुबह 8.00 पार्थिव शरीर घर पहुंच पायेगा। केरल की रीति रिवाज के अनुसार धर्मविधि घर शुरू होगी ।घर पर वहां के पल्ली पुरोहित अंतिम संस्कार प्रार्थना करने के लिए जाएंगे। प्रार्थना के बाद जुलूस के शक्ल में पार्थिव शरीर को चर्च लाया जाएगा। सुबह 9.30 पूर्व आर्च बिशप जॉर्ज Valiamattam ,Thellichery के द्वारा The church name is St. Sebastian's Church Chedikulam में मिस्सा पूजा किया जाएगा। अंतिम संस्कार की प्रार्थना और कब्र की ओर प्रस्थान। St. Sebastian's Church, Chedikulam में ही कब्र निर्माण किया जा रहा है। इस बीच सभी मौजूद परिजन व शुभचिंतक की फूल अर्पित करेंगे और स्वभाव से 'संत' तुल्य फादर के पार्थिव शरीर और माथे पर चुंबन करेंगे। शरीर पर चुंबन लेने के बाद  परिवार वाले पार्थिव शरीर को कवर कर देंगे और ताबूत बॉक्स को बंद कर देंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: