विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 02 दिसंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 2 दिसंबर 2019

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 02 दिसंबर

जन्म से मृत्यु तक इंसान सुख की तलाश में भटकता है: अंकितकृष्ण तेनगुरिया
वैशालीनगर में भागवत कथा के दूसरे दिन ही उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़
vidisha news
विदिशा- शहर के रीठाफाटक स्थित वैशाली नगर में चल रहा सात दिवसीय भागवत कथा के दूसरे दिन ही श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी। कथास्थल पर मौजूद श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए महाराजश्री अंकितकृष्ण तेनगुरिया ने कहा कि कथा सुनना समस्त दान, व्रत, तीर्थ, पुण्यादि कर्मो से बढ़कर है। धुन्धकारी जैसे शराबी,  कवाबी, महापापी, प्रेतआत्मा का उद्धार हो जाता है। उन्होंने बताया कि कर्म के अनुसार मनुष्य जन्म मिलता है तब जन्म से मृत्यु तक इंसान सुख की तलाश में यहां-वहां भटकता रहता है लेकिन उसे वह सुख केवल भगवत प्रेम से ही प्राप्त होता है. आदमी के जीवन में इतनी ऊँचाइयाँ रहनी चाहिए की वह हर व्यक्ति के गुणो और धर्म का सम्मान कर सके l मनुष्य के जीवन में उदारता ऐसी होना चाहिए l वैसे ही जैसे दीपको में भेद होता , कोई दीपक महंगा होता है कोई सस्ता होता है लेकिन ज्योति में कोई भेद नहीं होता। महाराजश्री ने श्रद्धालुओं से अपील करते हुए कहा कि हमें अपने अंदर सेवा का भाव भी लाना होगा। कोई भी दुखी मानव की सेवा सबसे बड़ी होती है।  बटुकजी महाराज ने विस्तार बताते हुए कहा कि दुखी मानव की सेवा से माधव भी प्रसन्न होता है। क्योंकि मानव सेवा ही माधव सेवा होती है। उन्होंने कहा किl संसार में धर्म , शास्त्र और सिद्धांतों का जन्म मनुष्य जीवन के कल्याण के लिए हुआ है l लड़ाई के लिए नहीं l धर्म और शास्त्र हम सबको एक साथ प्रेम से मिलकर रहना सिखाते है l धर्म शास्त्रो में सुनी गयी बातों , कथाओं का और उनसे मिलने वाली शिक्षाओ को सकारात्मक रूप में हमे अपने जीवन में उतारना चाहिए महाराजश्री ने बताया की किस प्रकार बालक ध्रुव की तपस्या के बाद श्री ठाकुर जी ने उन्हे दर्शन दिये l महाभारत , समीक ऋषि , राजा श्री परीक्षित और भक्त प्रहलाद के प्रसंगो , श्री नरसिंह अवतार का भी वर्णन भी कथा में किया गया जिसका सुंदर और मनमोहक मंचन नृत्य नाटिकाओ के माध्यम से प्रस्तुत किया गया l श्री शिव जी के विवाह प्रसंग ने कथा में उपस्थित हजारो भक्तो को भाव विभोर कर दिया l इस अवसर बटुकजी और भजन मंडली द्वारा गाए भजनों पर श्रोता खुद को थिरकने से रोक नहीं सके । अंत में भागवत पुराण की आरती के बाद प्रसादी का वितरण किया गया। मुख्य यजमान कुशवाह परिवार द्वारा व्यास गादी की पूजा की गई। आचार्य सतेंद्र शास्त्री ने बताया कि तीसरे दिन मंगलवार को कपिल देवहूति संवाद, सती चरित्र,ध्रुव चरित्र,अजामिल उपाख्यान पर महाराजश्री बटुकजी द्वारा कथा पर प्रकाश डाला जाएगा। 

विश्व विकलांग दिवस आज

प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी तीन दिसम्बर को विश्व विकलांग दिवस का आयोजन किया गया है। सामाजिक न्याय विभाग के उप संचालक श्री पीके मिश्रा ने बताया कि तीन दिसम्बर को जिला मुख्यालय पर विश्व विकलांग दिवस का आयोजन जिला दिव्यांग पुर्नवास केन्द्र में किया गया है। उक्त केन्द्र विदिशा के अहमदपुर रोड हलाली कालोनी में स्थित है। आयोजन स्थल पर दिव्यांगजनों के लिए खेलकूद प्रतियोगिता एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। 

खुशियों की दास्तां : भटकाव से मुक्ति मिली 

दिव्यांगजनों के उत्थान हेतु संचालित योजनाओं का लाभ उन्हें समय पर मिले के पुख्ता प्रबंध जिले में भी सुनिश्चित किए गए है। योजनाओं का लाभ लेने के लिए दिव्यांगजनों के पास निःशक्तता प्रमाण पत्र (यूडीआईडी) कार्ड होना आवश्यक है। जिले के दिव्यांगजनों को भटकाव से मुक्ति मिली है। खण्ड मुख्यालय पर ही यूडीआईडी कार्ड जारी करने की प्रक्रिया सम्पादित कराई गई है जिसका लाभ स्थानीय दिव्यांगजनों को मिला है। जिले में इस प्रकार के कुल सात शिविरों का आयोजन किया गया था इन विशेष शिविरों में 1196 दिव्यांगों के द्वारा पंजीयन कराया गया था जिन्हेंं शासन की योजनाओं की जानकारी मौके पर दी गई वही मेडीकल बोर्ड के द्वारा 1072 दिव्यांगजनों के लिए यूडीआईडी कार्ड जारी करने की प्रक्रिया सम्पादित की गई है।  शीघ्र ही संबंधित दिव्यांगजनों को एटीएम की तर्ज पर यूडीआईडी कार्ड उपलब्ध कराया जाएगा जिसका वे कभी भी शासकीय योजना का लाभ लेने के लिए उपयोग कर सकेंगे। विशेष अभियान के माध्यम से जिले के 1072 दिव्यांगजनों को यूडीआईडी कार्ड बनवाने के भटकाव से मुक्ति मिली है। उपरोक्त कार्ड संबंधित दिव्यांगजन के घर के पते पर सीधे पंजीकृत डाक के द्वारा उपलब्ध कराएं जाएंगे। कागज के प्रमाण पत्र की अपेक्षा एटीएम आकारनुमा यूडीआईडी कार्ड जहां उन्हें रखने में सहूलियत होगी वही कटने-फटने और भींगने के भय से मुक्त हुए है। 

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना सभी वर्गो के लिए-जनपद अध्यक्ष श्रीमती रमादेवी

vidisha news
मातृ शक्ति, राष्ट्र शक्ति को चरितार्थ कर रही है प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना। जिसका लाभ सभी वर्गो के हितग्राही ले सकेंगे। बशर्ते आयकर दाता ना हो। उक्त आश्य के विचार विदिशा जनपद पंचायत की अध्यक्ष श्रीमती रामदेवी रंधीर सिंह ठाकुर ने आज जिला मुख्यालय पर मातृ वंदना सप्ताह के शुभांरभ कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए।  जनपद अध्यक्ष श्रीमती रामदेवी ठाकुर ने कहा कि बालिकाओं के लिए प्रदेश में जो योजनाएं चल रही है का लाभ तक पहुंचाना हम सबकी नैतिक जबावदेंही है। घर में बालिका के पढ़ने लिखने से एक घर नही बल्कि दो घरो में सुधार होता है। महिला एवं बाल विकास विभाग के विदिशा शहरी परियोजना अधिकारी श्री संजय सिंह ने प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के उद्वेश्यो को रेखांकित करते हुए कहा कि गर्भवती महिलाओं को योजना के तहत प्रथम किश्त राशि पंजीयन कराने पर एक हजार रूपए, द्वितीय किश्त राशि एनएनसी जांच पर दो हजार रूपए एवं बच्चे के जन्म के बाद टीकाकरण कराने पर तृतीय किश्त के रूप में दो हजार रूपए इस प्रकार प्रथमवार गर्भवती महिला को प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत कुल पांच हजार रूपए की राशि प्रदाय की जाती है। योजना का लाभ सभी वर्गो के लिए है इसमें बीपीएल होना आवश्यक नही है। वह महिलाएं जो शासकीय रूप में कार्यरत है। उन महिलाओं को योजनाओं का लाभ नही दिया जाता है। योजना का उद्वेश्य सुरक्षित जननी, विकसित धारणी, गर्भवती महिलाओं के पोषण पर ध्यान देना है ताकि जब बच्चा जन्में तो वह पूर्ण स्वस्थ हो साथ ही मां एवं बच्चे दोनो के पोषण का विशेष ध्यान दिया जा सकें। परियोजना अधिकारी श्री संजय ने बताया कि विदिशा परियोजना के अंतर्गत वर्ष 2017 से अब तक 3048 महिलाओं को योजना के तहत लाभांवित किया जा चुका है।   मानव सेवा न्यास प्रागंण में सम्पन्न हुए उक्त कार्यक्रम को विभाग के सहायक संचालक श्री विवेक शर्मा ने भी सम्बोधित किया। सप्ताह अवधि के दौरान द्वितीय एवं तृतीय किश्त के लंबित प्रकरणों का समाधान शत प्रतिशत किया जाएगा। परियोजना की समस्त आंगनबाडी केन्द्रों पर जागरूकता गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा। कार्यक्रम में शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र परियोजना की पर्यवेक्षक एवं आंगनबाडी कार्यकर्ता मौजूद थी। 

वन्दे मातरम् का गायन हुआ
  
vidisha news
प्रत्येक माह की एक तारीख को शासकीय कार्यालयों में वन्दे मातरम्् गायन जारी दिशा निर्देशो के के अनुपालन में सम्पादित होता है। किन्तु एक दिसम्बर को शासकीय अवकाश रविवार होने के कारण आज दो दिसम्बर को जिले के सभी शासकीय कार्यालयों में राष्ट्रीय गीत वंदे मातरम का गान होता है। आज दो दिसम्बर को नवीन कलेक्ट्रेट परिसर में अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री केएल बंजारे की उपस्थिति में अधिकारी-कर्मचारियों ने वन्दे मातरम् गान का गायन किया।

सघन मिशन इन्द्रधनुष दो का शुभांरभ

राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रम के अंतर्गत सघन मिशन इन्द्रधनुष दो का आज जिला चिकित्सालय परिसर में विधायक श्री शशांक भार्गव ने मास्टर अनिका को पोलियो विमुक्ति की दो बूंदे पिलाकर शुभांरभ किया। इस अवसर पर रोटरी क्लब के अध्यक्ष श्री सुजीत देवलिया, लायंस क्लब के अध्यक्ष श्री अशोक अग्रवाल, श्री दीवान किरार के अलावा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार, अटल बिहारी वाजपेयी चिकित्सा महाविद्यालय के डीन डॉ सुनील नंदेश्वर के अलावा सिविल सर्जन सह अधीक्षक एवं अन्य चिकित्सकों ने नवजात शिशुओं एवं दो वर्ष आयु तक के छूटे हुए बच्चों को दवा पिलाई है।  इसके अलावा गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण कार्य स्वास्थ्य विभाग के अमले द्वारा किया गया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी  डॉ केएस अहिरवार ने बताया कि सघन मिशन इन्द्रधनुष दो के प्रथम चरण में 739 टीकाकरण सत्र का आयोजन किया जाएगा। इन स्थलों पर चिन्हित 947 गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण किया जाएगा वही शून्य से दो वर्ष आयु के तीन हजार 216 बच्चों का टीकाकरण किया जाएगा।  

सड़कों के विवरणयुक्त साइन बोर्ड लगाने के निर्देश

vidisha news
कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने आज लंबित आवेदनो की समीक्षा बैठक के दौरान सड़को के निर्माण कार्यो को सम्पादित कराने वाले विभागों के अधिकारियों को सचेत करते हुए स्पष्ट निर्देश दिए कि जिस भी विभाग के द्वारा पूर्व में अथवा वर्तमान में सड़कों का निर्माण कार्य कराया जा रह है। उन सड़कोंं पर पूर्ण विवरणयुक्त साइन बोर्ड अनिवार्यतः सड़क निर्माण कार्य के शुरूआत और अंत स्थल पर लगाए जाएं। उपरोक्त कार्य के लिए कलेक्टर द्वारा एक माह की मियांद निर्धारित की है। जिसमें पूर्व वर्षो के निर्माण सड़कों पर साइन बोर्ड लगाए जा सकें। प्रत्येक सड़क पर लगने वाले विवरण पटिट्कायुक्त साइन बोर्ड पर सडक कहा से कहां तक बननी है। सड़क की कुल लागत, सड़क निर्माण ठेकेदार का नाम, किस विभाग के माध्यम से सड़क का टेण्डर हुआ है और सड़क की मरम्मत मियांद अवधि कितने वर्ष की है इत्यादि उल्लेखित जानकारी अनिवार्यतः बोर्ड पर दर्ज हो।  कलेक्टर श्री सिंह ने समस्त एसडीएमों को निर्देश दिए कि जारी आदेश का अनुपालन नही करने वाले विभागों के अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की कार्यवाही की जाए।

सीएम हेल्प लाइन
मुख्यमंत्री हेल्पलाइन के तहत दर्ज होने वाले आवेदनों पर त्वरित कार्यवाही हो इसके लिए कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह के द्वारा जिले में विशेष पहल की जा रही है। प्रत्येक ऐसे विभाग जिनके यहां पांच से अधिक आवेदन लंबित है उन विभागो के अधिकारियों को हर रोज कलेक्ट्रेट कार्यालय में डिप्टी कलेक्टर श्री तन्मय वर्मा को रिपोर्टिंग करने के निर्देश दिए गए है। जब तक एल-वन स्तर पर समस्या का हल नही हो जाता है तब तक उन विभागों के अधिकारियों को कलेक्ट्रेट नही छोड़ने की हिदायत दी गई है।  कलेक्टर श्री सिंह ने सीएम हेल्प लाइन के लिए नियुक्त नोडल डिप्टी कलेक्टर श्री वर्मा को निर्देश दिए है कि सर्वाधिक लंबित आवेदनों वाले विभागों को क्रमशः हर रोज प्रातः नौ बजे कलेक्ट्रेट में उपस्थिति दर्ज कराए और जब तक निराकरण की कार्यवाही अंकित ना हो जाए तब तक वे कलेक्ट्रेट में मौजूद रहेंगे। विशेष परिस्थितियों में मेरी अनुमति के उपरांत ही कलेक्ट्रेट से रवाना होंगे। 

प्रकोष्ठ गठन
कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने सीएम हेल्पलाइन के अलावा मंत्रीगणों, वरिष्ठ कार्यालयों के अलावा विभिन्न आयोगो एवं आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम, जनसुनवाई, लोक सेवा गारंटी इत्यादि फोरम के माध्यम से प्राप्त होने वाले आवेदनों के निराकरण हेतु अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह के नेतृत्व में प्रकोष्ठ गठन करने के निर्देश दिए है। संबंधित विभागों के अधिकारी, पूर्व उल्लेखित स्थलों से प्राप्त होने वाले आवेदनों पर क्या कार्यवाही की है से स्वंय उपस्थित होकर अपर कलेक्टर को अवगत कराएंगे। उपरोक्त कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नही की जाएगी।  इस अवसर पर विभिन्न विभागों में लंबित आवेदनों पर की गई कार्यवाही से संबंधित विभागों के अधिकारियों द्वारा जानकारियां प्रस्तुत की गई। कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में सम्पन्न हुई उक्त बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री मयंक अग्रवाल, अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह के अलावा समस्त एसडीएम एवं विभिन्न विभागों के जिलाधिकारी मौजूद थे। 

एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश

कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने आज लंबित आवेदनो की समीक्षा बैठक के दौरान समस्त एसडीएमों को निर्देश दिए कि शुद्व के लिए युद्व, साथ आएं मिलावट खोरो को जड़ से मिटाएं , के अभियान तहत खाद्य पदार्थो की सघन जांच पड़ताल करने के निर्देश दिए है। कलेक्टर श्री सिंह ने जिले में खाद, बीज की कालाबाजारी को रोकने के लिए सघन जांच पड़ताल दल अनुविभाग क्षेत्रों पर गठित कर उनके माध्यम से जांच कार्यवाही सम्पादित कराने के निर्देश दिए है। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि परीक्षण के दौरान जिन संस्थानो में लापरवाही परलिक्षित होती है तो सबसे पहले अविलम्ब एफआईआर दर्ज कराने की कार्यवाही की जाए। उपरोक्त कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नही की जाएगी। कलेक्टर श्री सिंह ने प्रत्येक एसडीएम को कम से कम चार-चार एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिए है जिसमें खाद, बीज संबंधी दो और खाद्य पदार्थो के नमूनो पर दो-दो एफआईआर दर्ज कराकर शीघ्रतिशीघ्र संबंधितों पर कार्यवाही करने के निर्देश दिए है।

पायलेट प्रोजेक्ट के रूप में विदिशा चयनित
   
सभी शासकीय कार्यालयों में ई भुगतान प्रणाली का क्रियान्वयन किया जा रहा है। ततसंबंध में विदिशा एवं बैतूल जिले को डिजीटल पायलेट प्रोजेक्ट के रूप में चयनित किया गया है। 15 जनवरी तक शत प्रतिशत दिशा निर्देश बिन्दुओं का क्रियान्वयन पूरा किया जाएगा। लीड़ बैंक आफीसर श्री दिलीप सिरवानी ने बताया कि कोई भी विभाग सीधे कैश भुगतान नही करेंगे। हर विभाग में डिजीटल भुगतान की प्रक्रिया को फालो किया जा रहा है के आश्य का प्रमाण पत्र सभी विभागों के अधिकारियों द्वारा 15 जनवरी तक अनिवार्यतः उपलब्ध कराया जाएगा। लीड़ बैंक आफीसर श्री सिरवानी ने बताया कि ऐसे विभाग जिन्हें भुगतान प्रक्रिया सम्पादित कराने हेतु मशीनों की आवश्यकता भी उन विभागों के लिए उपलब्ध कराई जाएगी। खासकर स्कूल शिक्षा विभाग, निकायो में नियमित भुगतान की प्रक्रिया नगद राशि के माध्यम से होती है अतः डिजीटल भुगतान प्रक्रिया के लिए आवश्यकतानुसार मांग के अनुरूप मशीने उपलब्ध कराई जाएगी। 

घायल को आर्थिक मदद जारी

कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्र्रम सिंह ने सड़क दुर्घटना में घायल को आर्थिक मदद के आदेश जारी कर दिए है। जारी आदेश में उल्लेख है कि गुलाबगंज तहसील के विशाल मालवीय पुत्र बलराम मालवीय सड़क दुर्घटना में घायल हो जाने पर उन्हें साढे सात हजार रूपए की आर्थिक मदद जारी की गई है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...