बिहार : लोकतान्त्रिक जन पहल के द्वारा दिनभर का अनिश्चितकालीन धरना - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 30 जनवरी 2020

बिहार : लोकतान्त्रिक जन पहल के द्वारा दिनभर का अनिश्चितकालीन धरना

महात्मा गांधी की शहादत दिवस से प्रतिदिन दिनभर का अनिश्चितकालीन धरना का
peace-protest
पटना, 30 जनवरी। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की शहादत दिवस 30 जनवरी है। गुरूवार 30 जनवरी की सुबह 9.30 बजे से शाम 5.00 बजे तक पटना के गांधी मैदान स्थित गांधी मूर्ति के पास सीएए, एनपीआर और एनआरसी के खिलाफ प्रतिदिन दिनभर का अनिश्चितकालीन धरना का आयोजन किया गया है। उक्त प्रावधानों के बारे में गलतफहमी है कि यह केवल मुसलमानों के खिलाफ है। वास्तव में यह दलितों, अतिपिछड़ों, पिछड़ों, आदिवासियों और गरीबों तथा महिलाओं के खिलाफ भी है।इसके चलते सबकी नागरिकता खतरे में पड़ने वाली है। नागरिकता खत्म होने का मतलब सभी अधिकारों व सुविधाओं से वंचित किया जाना है।अपने संविधान, लोकतंत्र व सामाजिक न्याय को बचाने के इस मुहिम में शामिल हों।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...