विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 03 जनवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 3 जनवरी 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 03 जनवरी

जवाहर नवोदय विद्यालय में कक्षा छटवीं  हेतु प्रवेश  परीक्षा 11 को  चयन परीक्षा में 5211 परीक्षाथी शामिल होंगे

vidisha map
जवाहर नवोदय विद्यालय शमशाबाद में कक्षा छटवीं के लिए प्रवेश चयन परीक्षा 2020 के लिए 11 जनवरी शनिवार को आयोजित की गई है। परीक्षा 15 केन्द्रों पर एक साथ 11.30 बजे से दोपहर 1.30 बजे तक आयोजित की जाएगी। जवाहर नवोदय विद्यालय शमशाबाद के प्राचार्य श्री बीडी रामटेके ने बताया कि छटवीं कक्षा में प्रवेश हेतु चयन परीक्षा के लिए कुल 5211 विद्यार्थियों के द्वारा ऑन लाइन पंजीयन कराया गया है। विदिशा जिले में उक्त परीक्षा 15 केन्द्रों पर एक साथ आयोजित की गई है। लटेरी विकासखण्ड में एक तथा सिरोंज, कुरवाई, बासौदा, ग्यारसपुर में क्रमशः दो-दो परीक्षार्थी केन्द्र बनाए गए है जबकि नटेरन एवं विदिशा विकासखण्ड में तीन-तीन परीक्षा केन्द्र बनाए गए है। ब्लाकवार परीक्षा केन्द्रों एवं शामिल होने वाले परीक्षार्थियों की जानकारी इस प्रकार से है। शासकीय मॉडल स्कूल परीक्षा केन्द्र लटेरी में 464 परीक्षार्थी शामिल होंगे। इसी प्रकार शासकीय बालक उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सिरोंज में 385 तथा शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सिरोंज मेंं 300 परीक्षार्थी शामिल होंगे। बालक उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कुरवाई में 473, शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कुरवाई में 370, शासकीय बालक उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, बासौदा में 416, शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बासौदा में 300, जवाहर नवोदय विद्यालय शमशाबाद नटेरन में 280, शासकीय बालक उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नटेरन में 275, शासकीय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय शमशाबाद में 300, शासकीय बालक उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय ग्यारसपुर में 290, शासकीय हाई स्कूल गुलाबगंज में 200 तथा विदिशा विकासखण्ड पर केन्द्रीय विद्यालय में 250, शासकीय बालक उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय विदिशा में 400 तथा शासकीय एमएलबी उच्चतर माध्यमिक विद्यालय विदिशा के परीक्षा केन्द्र पर 508 परीक्षार्थी शामिल होंगे। 

सुकन्या समृद्वि योजना की पात्र बालिकाओं के खाते खोले जाएं

बेटी बचाओं, बेटी पढाओ अभियान के तहत अभिभावकों द्वारा अपनी लाड़ली बेटी को जन्म से ही सशक्त  व सृदृढ बनाने हेतु सुकन्या समृद्वि योजना के अंतर्गत खाते खोले जाने हेतु प्रभारी कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने जिले में महिला एवं बाल विकास विभाग के समस्त परियोजना अधिकारियों को निर्देश दिए है कि पात्र बालिकाओं का शत प्रतिशत बैंक/डाकघर में खाते खोले जाएं। प्रभारी कलेक्टर श्री सिंह ने विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी को निर्देश दिए है कि जिले में दस वर्ष तक की अधिक से अधिक बालिकाओं को उक्त योजना का लाभ पहुंचाकर जिले को सम्पूर्ण सुकन्या जिला घोषित करवाने हेतु अधीनस्थों को आवश्यक मार्गदर्शन सह दिशा निर्देश देकर खाते खोले जाने की कार्यवाही पूरी की जाए। ज्ञातव्य हो कि विगत वर्ष जिले में 369 ग्राम शत प्रतिशत सुकन्या ग्राम बनाए गए थे इसी तरह अगस्त 2019 तक 115 सुकन्या ग्राम बनाए जा चुके है। 

निरामयम योजना के तहत नटेरन खण्ड मुख्यालय पर स्वास्थ्य शिविर आज 

आयुष्मान भारत ‘‘निरामयम’’ योजना के तहत चार जनवरी शनिवार को नटेरन के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया है। शिविर प्रातः 11 बजे से शुरू होगा। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अहिरवार ने शिविर में आने वाले मरीजों के स्वास्थ्य का बेहतर परीक्षण कर उन्हें रोगोपचार दवाईयां निःशुल्क प्रदाय कराने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। उन्होंने चिकित्सकों को निर्देश दिए है कि परीक्षण में यदि कोई गंभीर बीमारी से ग्रस्त मरीज पाया जाता है के इलाज हेतु वाहन से जिला चिकित्सालय भिजवाने के प्रबंध किए जाएं। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अहिरवार ने बताया कि नटेरन में आयोजित होने वाले स्वास्थ्य शिविर में मेडीसिन विशेषज्ञ डॉ अशोक कुमार जैन, सर्जिकल विशेषज्ञ डॉ अनूप वर्मा, स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ प्रतिभा ओसवाल के अलावा जिला क्षय अधिकारी डॉ पुनीत महेश्वरी शिविर में उपस्थित होकर मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण कर रोगोपचार दवाईयां प्रदाय कराएंगे।

बीबीबीपी के तहत नुक्कड़ नाटको का आयोजन छह से 

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं योजना के तहत विदिशा जिले को सम्मिलित किया गया है। जिले में घटते बालिका लिंगानुपात में सुधार लाने हेतु नीति आयोग द्वारा जारी गाइड लाइन के अनुपालन में महिला एवं बाल विकास विभाग के द्वारा परियोजना स्तर पर विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जा रहा है।  विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे ने बताया कि जिले में चिन्हित 177 ग्राम जिनमें बालिका लिंगानुपात में सुधार हेतु विशेष पहल की जा रही है इन ग्रामो में छह से 11 जनवरी तक नुक्कड़ नाटकों के माध्यम से लिंगानुपात में सुधार और बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं योजना के कंसेप्ट से ग्रामीणजनों को अवगत कराया जाएगा। 

आवश्यक औषधियां पहुंचाने हेतु पायलेट प्रोजेक्ट में जिला शामिल 

एबीडी के माध्यम से एकीकृत सामग्री परिवहन प्रणाली द्वारा ग्राम आरोग्य केन्द्र तक ईडीएल औषधियां पहुंचाने के लिए राज्य स्तर पर विदिशा जिले को पायलेट प्रोजेक्ट के रूप में चिन्हित किया गया है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार ने बताया कि जिले में उपरोक्त कार्यो को सम्पादन करने वाले अमले को सुव्यवस्थित रूप से प्रशिक्षित करने हेतु चार जनवरी को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य  अधिकारी कार्यालय में प्रातः 11 बजे से आयोजित किया गया है। जिसमें प्रत्येक विकासखण्ड के स्टोरकीपर व दो-दो चिकित्सक मौजूद रहेंगें। जिले के सभी ग्राम आरोग्य केन्द्र तक आवश्यक चौबीस औषधियां पहुंचाने के लिए विशेष व्यवस्था क्रियान्वित की गई है जिसके तहत प्रत्येक केन्द्र पर अब सीधे चिन्हित 24 औषधियां पहुंचाई जाएगी। 

प्रशिक्षण आज 

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन कार्यक्रम के तहत विदिशा एवं बासौदा शहरी क्षेत्र की समस्त आशा कार्यकर्ताओं को जेस्टेशनल डायबिटिज मेलाइटस के निदान एवं प्रबंधन पर एक दिवसीय प्रशिक्षण चार जनवरी को आयोजित किया गया है। उक्त प्रशिक्षण मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय के सभाकक्ष में प्रातः 11 बजे से शुरू होगा। संबंधितों को उक्त प्रशिक्षण में शामिल होने की सूचनाएं प्रेषित की गई है और उन्हें समय पर उपस्थित होने के निर्देश दिए गए है। 

बीबीबीपी के प्रति जागरूकता लाने हेतु लोकल चैम्पियन 

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं योजना के अंतर्गत ‘‘लोकल चैम्पियन’’ बनाए जाने हेतु जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे के द्वारा समस्त परियोजना अधिकारियों, डीईओ, डीपीसी और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को पत्र प्रेषित कर लोकल चैम्पियन के प्रति सकारात्मक वातावरण निर्माण एवं जागरूकता लाने हेतु सीएसआर (चाइल्स सैक्स रेसो) में वृद्वि, लिंग संबंधी भेदभाव को समाप्त करने के लिए क्रियान्वित की जा रही है।  लोकल चैम्पियन जिले की प्रतिभावान बालिकाएं, हाई स्कूल, हायर सेकेण्डरी स्कूल परीक्षा परिणाम में सर्वाधिक अंक प्राप्त करने वाली छात्राएं एवं विषम परिस्थितियों में रहकर अध्ययन कर प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली छात्राएं, संस्कृति कार्यक्रमों एवं खेल कूद जैसे रंगोली, निबंध, संगीत, पेटिंग, भाषण, वाद विवाद, आदि कार्यक्रमों में राज्य एवं जिले स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली बालिकाएं एचएमआईएस पोर्टल अनुसार जिले में एसआरबी, एएनसी रजिस्ट्रेशन एवं संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देने वाले डाक्टर, नर्स, एएनएम, आंगनबाडी सहायिका, कार्यकर्ता आदि बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं योजना अंतर्गत बालक बालिका लिंगानुपात में सुधार हेतु प्रयास करने वाले बालिका, महिला, आंगनबाडी कार्यकर्ता एवं सामाजिक क्षेत्र से कोई भी महिला पुरूष जिसने महिलाओं एवं बालिकाओं को क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य किया हो को चयन कर सकते है।

उड़नदस्ता गठित

विदिशा जिला मुख्यालय पर 12 जनवरी को सात केन्द्रों पर एक साथ मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2019 का आयोजन दो सत्रों में किया गया है। प्रभारी कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने पीएससी की प्रारंभिक परीक्षा सुव्यवस्थित रूप से सम्पन्न हो इसके लिए तमाम प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। परीक्षा निर्विध्न एवं सुचारू रूप सम्पादित हो तथा  अनैतिक साधनो का उपयोग ना हो हो इसके लिए उड़नदस्ता गठित करने का आदेश जारी कर दिया गया है। प्रभारी कलेक्टर द्वारा गठित कि एगए उड़नदस्ते में विदिशा एसडीएम श्री प्रवीण प्रजापति, नगर पुलिस अधीक्षक श्री भारतभूषण शर्मा तथा मुख्य नगरपालिका अधिकारी विदिशा श्री सुधीर सिंह को शामिल किया गया है। यह दल निरंतर भ्रमण कर परीक्षा केन्द्रों का निरीक्षण करेंगे तथा परीक्षा उपरांत परीक्षा शांतिपूर्वक सम्पन्न होने संबंधी प्रतिवेदन प्रभारी अधिकारी को सौंपेगें।
  
सप्ताह के चौथे दिन आंगनबाड़ी में बाल चौपाल आयोजित होंगी

महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे ने बताया कि जिले की आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा बच्चों के संरक्षण संबंधी प्रावधानों से आमजन को अवगत कराने सप्ताह के चौथे दिन वार्ड स्तर और ग्राम पर बाल-चौपाल का आयोजन किया जायेगा। इस संबंध में महिला एवं बाल विकास अधिकारी ने बताया कि बाल चौपाल के साथ स्कूलों में पाँचवे दिन बाल-अधिकार से संबंधित विशेष कक्षाओं का आयोजन कर पाक्सो अधिनियम तथा सुरक्षित और असुरक्षित स्पर्श का प्रशिक्षण दिया जायेगा। साथ ही संस्था में निवासरत बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण भी किया जायेगा। सप्ताह के आखरी दिन जिले की प्रत्येक संस्था में स्थानीय स्तर पर खेलकूद और सांस्कृतिक गतिविधियाँ आयोजित की जायेगी। संस्था में निवासरत बच्चों को विशेष किशोर पुलिस ईकाई, पुलिस थानों, पिकनिक स्पॉट, बगीचों का भ्रमण भी कराया जायेगा। 

फसलों को पाले से बचाने हेतु किसानों को सामयिक सलाह

कृषि विभाग के द्वारा किसानो को फसलों में पाले से बचाव हेतु आवश्यक सलाह दी गई है विभाग के उप संचालक श्री अमर सिंह चौहान ने किसानो से आग्रह किया है कि अपनी फसलों को पाले से बचाने के लिए दी गई सलाह का उपयोग जरूर करें।  सायंकाल आसमान साफ हो, हवा शांत हो एवं तापमान में कमी के साथ गलावट बढ़ रही हो तो तय मान लें कि उस रात पाला पड़ने वाला है। पाले के प्रति अति संवेदनशील फसल अरहर, मसूर, मटर, टमाटर, बैगन एवं आलू है। फसलो को पाले से बचाने हेतु सर्व प्रथम हल्की सिचाई करें तथा रात 10 बजे के पश्चात खेत के उत्तर एवं पश्चिम दिशा की मेडों पर धुँआ करें। जैविक नियंत्रण के लिए 500 मिली. ताजा गोमूत्र अथवा 500 मिली. गाय के दूध को प्रति पम्प (15 लीटर पानी) की दर से घोल बनाकर पाले से पूर्व फसल पर छिडकाव करे। स्थाई समाधान के लिए खेत के उत्तर-पश्चिम दिशा में वायुरोधक वृक्षों की बाड़ तैयार कर पाले के प्रभाव को कम किया जा सकता है।  

फोटो निर्वाचक नामावली का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम संशोधित

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्वाचक नामावली के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण-2020 के कार्यक्रम की तिथियों में परिवर्तन किया गया हैं। एक जनवरी की अर्हता तिथि के दृष्टिगत संशोधित कार्यक्रम जारी किया गया हैं। निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार दावे आपत्तियां दर्ज करने की अवधि 15 जनवरी  तक हैं। दावे आपत्तियों का निराकरण 27 जनवरी से पूर्व, पूरक सूची की तैयारी 4 फरवरी तथा निर्वाचक नामावली का अंतिम प्रकाशन 7 फरवरी को होगा।

कलयुग में भक्ति से ही प्रभु की कृपा संभव: अंकितकृष्ण तेनगुरिया
भागवत कथा के दूसरे दिन उमड़ा श्रद्धालुओं का सैलाब
विदिशा- शहर के अरिहंत हिल्स में चल रही श्रीमद् भागवत कथा ज्ञान यज्ञ सप्ताह के दूसरे दिन गौवत्स पंडित अंकितकृष्ण ने परीक्षित का जन्म, कलियुग का प्रवेश, कर्दम ऋषि व देवाहुति के विवाह के बाद जन्मे कपिल भगवान की कथा का वृतांत सुनाया। कथा स्थल पर मौजूद श्रोताओं को संबोधित करते हुए महाराजश्री बटुकजी ने कहा कि कलियुग में श्रीमद् भागवत महापुराण श्रवण कल्पवृक्ष से भी बढ़कर है। क्योंकि कल्पवृक्ष मात्र तीन वस्तु अर्थ, धर्म और काम ही दे सकता है। मुक्ति और भक्ति नही दे सकता है। कलयुग में भक्ति ही एक मात्र ऐसा रास्ता है जिससे प्रभु की कृपा प्राप्त की जा सकती है । उन्होंने कहा कि श्रीमद् भागवत केवल पुस्तक नहीं साक्षात श्रीकृष्ण स्वरुप है। इसके एक एक अक्षर में श्रीकृष्ण समाये हुये है। धुन्धकारी जैसे शराबी, कवाबी, महापापी, प्रेतआत्मा का उद्धार हो जाता है। बटुकजी ने श्रद्धालुओं से दुख में संयम रखने की अपील करते हए कहा कि सुखदुख जीवन के दो पहलू है कभी सुख मिलता है तो कभी दुख । दुख में हमें घबराना नहीं चाहिए बल्कि संयम के साथ प्रभु का गुणगान करना चाहिए, दुख में ही तो गोविन्द का दर्शन होता है।  महाराज अंकितकृष्ण तेनगुरिया ने ऋषभ देव के चरित्र वर्णन करते हुए कहा कि मनुष्य को ऋषभ देव जी जैसा आदर्श पिता होना चाहिए। जिन्होंने अपने पुत्रों को समझाया कि इस मानव शरीर को पाकर दिव्य तप करना चाहिए, जिससे अंत:करण की शुद्धि हो तभी उसे अनंत सुख की प्राप्ति हो सकती है। भगवान को अर्पित भाव से किया गया कर्म ही दिव्य तप है। कथा में महाराजश्री द्वारा गाए भजनों पर श्रद्धालु खुद को थिरकने से भी नहीं रोक सके। संगीत पर सांची से आए राजा विश्वकर्मा, राहुल शर्मा ( खामखेड़ा) के साथ ही अन्य कलाकार कथा में अपनी प्रस्तुति दे रहे हैं।मुख्य यजमान, आचार्य सतेंद्र शास्त्री और पंडित गणेशराम शर्मा ने व्यास गादी की आरती की। इस अवसर पर आयोजन समिति के शोभित भार्गव, कांति ठक्कर, गिरीश छाबड़ा और जीवन सचदेवा के साथ ही बड़ी संख्या में कॉलोनी के धर्मप्रेमी बंधु शामिल हुए। आचार्य सतेंद्र शास्त्री ने बताया कि कथा के तीसरे दिन राजा पारिक्षित श्राप, अजामिल उपाख्यान और वामन अवतार के प्रसंगों की कथा होगी, कथा प्रतिदिन दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक चल रही है ।

कोई टिप्पणी नहीं: