जमशेदपुर : पोटका प्रखंड का रमणीय स्थल पहाड़ भांगा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 1 फ़रवरी 2020

जमशेदपुर : पोटका प्रखंड का रमणीय स्थल पहाड़ भांगा

pahar-bhanga-potka
जमशेदपुर (प्रमोद कुमार झा) पूर्वी सिंहभूम जिले के पोटका प्रखंड का पहाड़ भांगा रमणीय स्थल है। इसे प्रकृति ने अनुपम सुंदरता से संवारा है। हरियाली तथा पहाड़ से घिरे पहाड़भांगा में कलरव करती नदी बरबस ही सैलानियों को अपनी ओर आकर्षित करती है। नदी के पानी में बच्चों के साथ-साथ बड़े भी अठखेलियां करने से खुद को रोक नहीं पाते। पहाड़ के नीचे बहते नदी की निर्मल धारा में स्नान करना हो या गीत-संगीत के साथ वनभोज, हजारों की संख्या में लोग इस मनोरम वादी में परिवार, सगे-संबंधी के साथ समय बिताने पहुंचते हैं। वैसे तो पहाड़भांगा किसी भी मौसम में घूमने जाया जा सकता है लेकिन नए साल के मौके पर यहां पूर्वी-सिंहभूम से सटे दूसरे राज्यों के जिले के पर्यटक भी पिकनिक-सह-वनभोज का आनंद लेने पहुंचते हैं।   

जमशेदपुर से लगभग 20 किलोमीटर दूर है पहाड़ भांगा
pahar-bhanga-potka
शंकरदा पंचायत अंतर्गत दामुडीह गांव के लोवाडीह टोला के निकट है पहाड़ भांगा। यहां पहुंचने के लिए जमशेदपुर शहर से सुंदरनगर होते हुए बाना डुंगरी(15 किमी), वहां से दाहिने पाथरचाकड़ी (एक किमी) होते हुए दाहिने मुड़कर चांद-भैरव चौक दामुडीह (2 किमी) जहां से बांया (1.5 किमी) दामुडीह गांव होते हुए पहाड़भांगा पहुंचा जा सकता है। शहर के कोलाहल से दूर अगर प्रकृति की गोद में अपनों के संग समय बिताना चाहते हैं तो पहाड़भांगा की मनोरम वादियों में जरूर जाएं।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...