जमशेदपुर : सरयू राय का रघुवर दास पर एक और हमला - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 8 फ़रवरी 2020

जमशेदपुर : सरयू राय का रघुवर दास पर एक और हमला

  • पूर्व मुख्यमंत्रियों को मिलनेवाली सुविधाओं पर उठाए सवाल

जमशेदपुर पूर्व से रघुवर दास को विधानसभा चुनाव में शिकस्त देनेवाले सरयू राय का हमला जारी है. इस बार उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के आदेश का जिक्र करते हुए सीएम हेमंत सोरेन को आग्रह करते हुए रघुवर दास को मिलनेवाली सुविधाओं पर सवाल उठाया.
saryu-rai-attack-raghuwar-das
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता) निर्दलीय विधायक सरयू राय का पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास पर ताबड़तोड हमला जारी है. सरयू राय ने इस संवाददाता से बातचीत के दौरान रघुवर दास पर हमला बोला है. इस बार यह हमला सीधा न होकर पूर्व मुख्यमंत्रियों को मिलने वाली सुविधा को लेकर किया है. विधानसभा सदस्य सरयू राय ने  सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का भी जिक्र किया है. उन्होंने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का ध्यान आकर्षित कराते हुए कहा कि पूर्व मुख्यमंत्रियों को सुविधा देने के पहले सर्वोच्च न्यायालय के की तरफ से 657/ 204 में दिए गए आदेश को देखकर ही सरकार विचार करे. इस संबंध में जमशेदपुर पूर्वी के निर्दलीय विधायक सरयू राय ने बताया कि एक याचिका के बाद 657/204 में सर्वोच्च न्यायालय ने पूर्व मुख्यमंत्रियों के आवास और अन्य सरकारी सुविधाएं नहीं देने का आदेश दिया था. इससे जुड़े एक जनहित याचिका 4509/2016 पर हाईकोर्ट ने 7/09/2018 को तत्कालिन सरकार से पूछा था कि सरकार क्या पूर्व मुख्यमंत्रियो को आवास और सरकारी सुविधा मुख्यमंत्री की तरह दे रही है. इसके जबाब तत्कालीन झारखंड सरकार के महाधिवक्ता ने हाई कोर्ट में अपना पक्ष रखते हुए कहा था कि यह सरकार पूर्व से ही यह नियम को लागू कर दिया है. सरयू राय ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से आग्रह किया है कि वह भी सर्वोच्च न्यायालय के आदेश पर पूर्व मुख्यमंत्रियों को आवास और अन्य सरकारी सुविधाएं नहीं दें. ऐसा करना न्यायालय की अवमानना होगा. बता दें कि पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से अपने लिए आवास और अन्य सरकारी सुविधा देने के लिए पत्र लिखा था.

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...