बिहार : पटना सीएम हाउस के सामने एक युवक ने आत्मदाह की कोशिश की - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 9 फ़रवरी 2020

बिहार : पटना सीएम हाउस के सामने एक युवक ने आत्मदाह की कोशिश की

मौके पर पुलिसकर्मियों ने बचाई जान।
try-burn-self-at-sm-house-patna
पटना (आर्यावर्त संवाददाता) पटना जहाँ सीएम हाउस के बाहर एक लड़के ने आत्महत्या की नाकाम कोशिश करने की दुःसाहस की है।इस वक्त मुख्यमंत्री आवास के बाहर अफरा-तफरी का माहौल है।युवक ने खुद को आग लगाकर सुसाइड करने की कोशिश की जिसे वहाँ तैनात पुलिसवालों ने युवक को आत्महत्या करने से रोका है।उसका हाथ जल गया है।घटना राजधानी के सचिवालय थाना इलाके की है,जहाँ सीएम हाउस के बाहर एक युवक ने आत्महत्या करने की कोशिश की है।मिली जानकारी के मुताबिक युवक ने अपने शरीर में आग लगाकर जान देने की कोशिश की जिसमे युवक का एक हाथ जल गया है।हालांकि सुरक्षा व्यवस्था में लगे पुलिसवालों ने फौरन युवक की आग बुझा दी और उसको इलाज एक लिए ले जाया गया है। मिली जानकारी के मुताबिक जख्मी युवक की पहचान अभिजीत शर्मा के रूप में की गई है।अभिजीत ने बताया कि उसकी मौसी की मौत डेंगू की वजह से हुई थी।उसने पीएमसीएच के डॉक्टरों के ऊपर इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है।उसने बताया कि पीएमसीएच में डेंगू की रिपोर्ट निगेटिव बताई गई थी।प्राइवेट हॉस्पिटल में वह अपनी मौसी का इलाज करा रहा था,इसी क्रम में उनकी जान चली गई।सरकारी अस्पतालों के डॉक्टरों की बात की जाय तो कभी कभी ये लोग इतने संवेदनहीन हो जाते हैं कि इन्सानियत और मानवता नाम की कोई चीज ही नहीं रह जाती उनके समक्ष,शायद इसी आक्रोश में युवक ने आत्मदाह की नाकाम कोशिश की।वैसे भी सरकारी दफ्तरों में आज भी आम जनमानस को तो जानवर ही समझा जा रहा है,घूसखोरी,भ्रष्टाचारी तो कभी खत्म ही नहीं हो सकने बाली नासूर की तरह हो गई है,चाहे जिस किसी की भी सरकार हो।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...