विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 27 फ़रवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 27 फ़रवरी 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 27 फ़रवरी

किसान सम्मेलन तैयारियों संबंधी बैठक आज

जय किसान फसल ऋण माफी योजना के अंतर्गत विदिशा जिला मुख्यालय पर तहसील स्तरीय प्रमाण पत्र वितरण कार्यक्रम दो मार्च को आयोजित किया गया है। उपरोक्त कार्यक्रम के मद्देनजर की जाने वाली तैयारियों की समीक्षा कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह के द्वारा 28 फरवरी शुक्रवार की दोपहर दो बजे से नवीन कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में आयोजित की गई है। कलेक्टर श्री सिंह के द्वारा किसान सम्मेलन आयोजन के मद्देनजर जिन विभागों के अधिकारियों को जबावदेंही सौंपी है उन सभी को तमाम जानकारियों सहित बैठक में उपस्थित होने के निर्देश दिए है। 

5423 कृषकों के ऋण खाते में 33.56 करोड़ राशि जमा होगी

जय किसान फसल ऋण माफी योजना के तहत द्वितीय चरण में जिले की विदिशा जिले की तहसील विदिशा, ग्यारसपुर और गुलाबगंज तहसील के पात्र 5423 किसानों के ऋण खातो में 33 करोड़ 56 लाख की राशि जमा की जाएगी। जिसमें विदिशा तहसील के 3246 किसान, ग्यारसपुर के 1169 तथा गुलाबगंज के 1008 किसान शामिल है।  विदिशा जिला मुख्यालय पर द्वितीय चरण के तहत कृषकों को प्रमाण पत्र वितरण कार्यक्रम पुरानी कृषि उपज मंडी के प्रागंण में दो मार्च को आयोजित किया गया है। उक्त कार्यक्रम में जय किसान फसल ऋण माफी योजना के अंतर्गत चालू ऋण (पीए) 2515 किसानो के लिए 169885909 रूपए के प्रमाण पत्र तथा कालातीत ऋण (एनपीए) धारक 731 किसानों का 29744349 रूपए का ऋण माफी प्रमाण पत्र प्रदाय किए जाएंगे। 

चिली महोत्सव में शामिल होने की अपील

खरगौन जिले की कसरावद मंडी प्रागंण में राष्ट्रीय स्तर के चिली महोत्सव का आयोजन 29 फरवरी से एक मार्च तक किया गया है। उद्यान विभाग के सहायक संचालक श्री केएल व्यास ने जिले के प्रमुख मिर्च उत्पादक कृषकों से अनुरोध किया है कि चिली महोत्सव में अधिक से अधिक संख्या में स्वंय के व्यय पर उपस्थित होकर मिर्च की खेती की वैज्ञानिक तकनीकी एवं अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां प्राप्त की जा सकती है। 

जिपं की सामान्य बैठक 29 को

जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी की अध्यक्षता में जिला पंचायत की सामान्य सभा की बैठक 29 फरवरी को आयोजित की गई है। यह बैठक जिला पंचायत के सभागार कक्ष में दोपहर एक बजे से शुरू होगी। जिला पंचायत सीईओ श्री मयंक अग्रवाल ने बताया कि उक्त बैठक में कृषि, आरईएस, ग्रामीण आजीविका मिशन, सिंचाई विभाग, वन विभाग की संचालित विभागीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों  की समीक्षा की जाएगी। 

आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम आठ को लटेरी में

आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के तहत आयोजित होने वाले शिविर आठ मार्च को लटेरी जनपद पंचायत मुख्यालय पर आयोजित किया गया है। कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने समस्त विभागों को आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम की मंशा के अनुरूप कार्यो का सम्पादन करने के निर्देश दिए है। कलेक्टर द्वारा कार्यक्रम स्थल पर जिन विभागों के द्वारा प्रदर्शनी लगाई जाती है उन्हें तथा चिकित्सा स्वास्थ्य शिविर एवं अन्य गतिविधियों के आयोजन की रूपरेखा संबंधी तमाम जानकारियां अनुसूचित जाति, जनजातीय कार्य विभाग के जिला संयोजक कार्यालय में पांच मार्च की दोपहर एक बजे तक अनिवार्यतः उपलब्धक कराना सुनिश्चित करेंगें। साथ ही विभाग के ईमेल आईडी Dotw.vds@mp.gov.in पर मेल भी कर सकते है। 

लकवा रोग निदान शिविर आज 

लकवाग्रस्त मरीजों एवं उनके पारिवारिकजनों के लिए निःशुल्क जागरूकता एवं रोग निदान शिविर 29 फरवरी को आयोजित किया गया है। यह शिविर सिटी हास्पिटल परिसर में प्रातः दस बजे से शुरू होगा। शिविर में शामिल होने के लिए निःशुल्क पंजीयन हेतु 7089189189 पर दर्ज कराया जा सकता है। हम साथ है एक अनोखी निःशुल्क हेल्पलाइन जो लकवा मरीजों के परिवारजनों को मरीजों से संबंधित सभी आयामों की जानकारी देती है जो आपको सही तरीके से इलाज करने व करवाने में मदद करेगी। विदिशा में आयोजित होने वाले रोग निदान शिविर में जिन बीमारियों की फिजियोथैरेपी व परामर्श दिया जाएगा उनमें लकवा, मुंह का टेढ़ा होना, चेहरे का लकवा, पैराप्लिजिया व क्वाड्री प्लिजिया, मांसपेशियों में कमजोरी आना, अचानक पूरे शरीर का काम ना कर पाना, बैलेंस प्रोब्लम, चलने में लचक आना, सेरेब्रल पाल्सी, रिस्ट ड्रोप व फुट ड्रोप, पार्किन्सन बीमारी, नसों का दर्द इत्यादि शामिल है। शिविर में मरीजों के लिए निःशुल्क भर्ती होने की सुविधा उपलब्ध रहेगी। 

आवासीय शैक्षणिक संस्थाओं में सोलर गीजर प्लांट की स्थापना

प्रदेश के विशेष पिछड़ी जनजाति बहुल क्षेत्रों के 15 जिलों में संचालित 2016 आवासीय शैक्षणिक संस्थाओं में सोलर गीजर प्लांट की स्थापना की जा रही है। इस काम पर आदिम-जाति कल्याण विभाग द्वारा 26 करोड़ रुपये की राशि खर्च की जा रही है। लाभान्वित संस्थाओं में 56 जूनियर छात्रावास, 531 सीनियर छात्रावास, 39 महाविद्यालयीन छात्रावास और 382 शालाओं सहित 1008 विभागीय संस्थाएं शामिल हैं। 

आदिवासी शालाओं के 52 हजार 466 शिक्षक नवीन संवर्ग में हुए नियमित

राज्य शासन ने आदिवासी शालाओं के 52 हजार 466 शिक्षकों को समयबद्ध तरीके से नवीन शिक्षक संवर्ग में नियमित कर दिया है। आदिम-जाति कल्याण विभाग द्वारा जारी आदेशानुसार इनमें से शैक्षणिक संस्थाओं में कार्यरत 2663 वरिष्ठ अध्यापकों को उच्च माध्यमिक शिक्षक, 14 हजार 22 अध्यापकों को माध्यमिक शिक्षक तथा 35 हजार 781 सहायक अध्यापकों को प्राथमिक शिक्षक पद पर नियमित किया गया है। 

फीस के अभाव में परीक्षा से वंचित नहीं किया जा सकता

सत्र 2019 - 20 की वार्षिक परीक्षा मे फीस के अभाव मे बच्चों को वार्षिक परीक्षा से वंचित न करने के निःशुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम, राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग नई दिल्ली द्वारा दिये गए निर्देशों के परिपालन में अशासकीय शालाओं के लिए निम्नानुसार निर्देश जारी किये गये है। निर्देश में कहा गया कि अशासकीय स्कूलों द्वारा अध्ययनरत बच्चों को समय पर फीस न जमा करने के कारण प्रताडित किये जाने के प्रकरण समक्ष में आये है एवं इस कारण से विद्यार्थियो की आत्महत्या की घटनायें भी प्रकाश में आयी है। इस मुद्दे पर बच्चों को किसी प्रकार से प्रताड़ित कराना Juvenile Justice/Care and Protection Act,2015  के सेक्शन 75 का उल्लंघन है। बच्चों की फीस समय पर प्राप्त न होने का मुददा स्कूल प्रबंधन तथा अभिभावकों से संबंधित है। यह एक वित्तीय विषय है, इसलिए इसका समाधान अभिभावक से ही चर्चा कर की जानी चाहिए। यदि किसी अशासकीय स्कूल द्वारा उक्त निर्देशों का उल्लघंन किया जाता है तो उसके विरूद्ध नियामानुसार वैद्यानिक कार्यवाही ही जायेगी। उक्त निर्देशो का कड़ाई से पालन किया जाये संबंधी लेख किया गया है। जिला अन्तर्गत समस्त प्रबंधक, प्राचार्य, प्र.अ. अशासकीय शालाओं को बिन्दु क्रमांक-1 एवं 2 का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने हेतु पत्र प्रेषित किया गया किन्तु इस कार्यालय को अभिभावको, छात्र-छात्राओं द्वारा शिकायत प्राप्त हो रही है कि वार्षिक बोर्ड परीक्षा कक्षा 10 एवं 12 का प्रवेश पत्र प्रबंधक, प्राचार्य द्वारा फीस के अभाव मे नही दिया जा रहा है एवं अन्य कक्षाओं की वार्षिक परीक्षाओं में भी प्रबंधक, प्राचार्य छात्र - छात्राओं को फीस के अभाव मे वंचित कर रहे है। अतः आपको उक्त संदर्भित पत्रों का पुनः स्मरण कराना चाहेगें जिसमे स्पष्ट रूप से निर्देश दिये गये है कि फीस के अभाव मे आप अध्ययनरत बच्चों को वार्षिक परीक्षा से वंचित नही करेगें। बच्चों की फीस समय पर प्राप्त न होने का मुददा स्कूल प्रबंधन तथा अभिभावकों से संबंधित है। यदि उक्त प्रकार की शिकायत इस कार्यालय को प्राप्त होती है तो उस संस्था के विरुद्ध वरिष्ठ कार्यालय द्वारा जारी निर्देशो के पालन न करने एवं मान्यता नियमों का उल्लंघन मानते हुये नियामानुसार वैधानिक कार्यवाही की जायेगी। जिसका सम्मपूर्ण उत्तरदायित्व आपका होगा। 

साठ वर्ष की आयु प्राप्त करने पर लघु एवं सीमांत कृषकों को मिलेगी पेंशन

वृद्वावस्था संरक्षण एवं लघु और सीमांत किसानों की सामाजिक सुरक्षा के लिए आरंभ की गई प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना के तहत दो हेक्टेयर तक की खेती वाले व 18 से 40 वर्ष के बीच के आयु के आवेदकों को 60 वर्ष की आयु प्राप्त करने तक 55 से 200 रूपये मासिक योगदान देने पर 60 वर्ष की आयु प्राप्त करने के बाद प्रतिमाह न्यूनतम तीन हजार रूपये की पेंशन दी जाएगी। उक्ताशय की जानकारी देते हुए परियोजना संचालक (आत्मा) ने बताया कि यदि किसान की मुत्यु हो जाती है, तो किसान का परिवार पेंशन के रूप में पचास प्रतिशत पेंशन पाने का हकदार होगा। पारिवारिक पेंशन केवल पति या पत्नी के लिए लागू होती है। इस योजना के तहत खंड स्तर पर स्थित लोक सेवा केन्द्र पर निःशुल्क पंजीयन कराया जा सकता है। जिसके लिए आवेदक को अपना आधार कार्ड एवं बचत बैंक खाता, पी.एम.किसान खाता साथ ले जाना अनिवार्य है। पंजीयन का कार्य सीधे रूप में योजना के अधिकारिक पोर्टल http://pmkmy.gov.in पर किसान स्वंय पंजीयन कर सकते हैं। 

जिले में अब तक 77 हजार 910 ने पंजीयन कराया, अंतिम दिन आज

समर्थन मूल्य पर विक्रय हेतु पंजीयन की अंतिम तिथि 28 फरवरी है जिले में रबी फसल गेंहू, चना, मटर की फसल लेने वाले कृषकबंधुओ से आग्रह किया गया कि नजदीक के पंजीयन केन्द्र पर पहुंचकर अपना पंजीयन अनिवार्यतः कराएं।जिला आपूर्ति अधिकारी श्रीमती रश्मि साहू ने बताया की जिले में अब तक गेंहू हेतु 70 हजार 546 कृषकों द्वारा पंजीयन कराया जा चुका है। इसी प्रकार चना हेतु 28 हजार पांच सौ तथा मसूर के आठ हजार 396 किसानो के द्वारा पंजीयन कराया जा चुका है। इस प्रकार जिले में अब तक 77 हजार 910 किसानों ने समर्थन मूल्य पर विक्रय करने हेतु पंजीयन कराया है। जिला आपूर्ति अधिकारी श्रीमती साहू ने बताया कि पंजीयन के लिए जिले में 123 केन्द्र बनाए गए है इसके अतिरिक्त किसानबंधु घर बैठे एमपी किसान एप ई उपार्जन एप से भी पंजीयन कर सकते है। एमपी ऑन लाइन कियोस्क केन्न्द्रों के माध्यम से भी पंजीयन किए जा रहे है। इस वर्ष एमपी किसान एप के माध्यम से 12 हजार 104 और ई उपार्जन एप के माध्यम से 338 किसानों ने घर बैठे पंजीयन किया है। कियोस्क के माध्यम से जिले में 21 हजार 628 पंजीयन हुए है।  

5423 कृषकों के ऋण खाते में 33.56 करोड़ राशि जमा होगी

जय किसान फसल ऋण माफी योजना के तहत द्वितीय चरण में विदिशा जिला मुख्यालय पर तीन तहसील  विदिशा, ग्यारसपुर और गुलाबगंज का संयुक्त सम्मेलन दो फरवरी को पुरानी कृषि उपज मंडी विदिशा में प्रातः 11 बजे से आयोजित किया गया है। तीनो तहसीलों के पात्र 5423 किसानों के ऋण खातो में 33 करोड़ 56 लाख की राशि जमा की जाएगी। जिसमें विदिशा तहसील के 3246 किसान, ग्यारसपुर के 1169 तथा गुलाबगंज के 1008 किसान शामिल है। विदिशा जिला मुख्यालय पर द्वितीय चरण के तहत कृषकों को प्रमाण पत्र वितरण कार्यक्रम में जय किसान फसल ऋण माफी योजना के अंतर्गत चालू ऋण (पीए) 2515 किसानो के लिए 169885909 रूपए के प्रमाण पत्र तथा कालातीत ऋण (एनपीए) धारक 731 किसानों का 29744349 रूपए का ऋण माफी प्रमाण पत्र प्रदाय किए जाएंगे। इसी प्र्रकार ग्यारसपुर तहसील के चालू ऋण (पीए) 65 किसानो के खातो में 45208231 रूपए तथा कालातीत ऋण (एनपीए) धारक 514 किसानो के खातो में 20586739 रूपए, गुलाबगंज तहसील के चालू ऋण (पीए) धारक 545 किसानो के खातो में 50357751 रूपए तथा कालातीत ऋण (एनपीए) धारक 263 कृषको के खातो में ऋण माफी की राशि 19882120 रूपए जमा होंगे। 

तत्काल जबाव प्रस्तुत करें

कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने जिले के समस्त विभागों के जिलाधिकारियों को पत्र प्रेषित कर उन्हें न्यायालयीन प्रकरणों में जबाव दावा तत्काल प्रस्तुत करने के निर्देश दिए है। जारी पत्र में उल्लेख है कि कतिपय विभागों के 3-4 वर्षो से अधिक अवधि के मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय के संबंधित अपील, याचिका के प्रकरण जबाव दावा प्रस्तुत करने हेतु लंबित है। प्रकरण में नियुक्त प्रभारी अधिकारियों द्वारा भी प्रकरण में जबाव प्रस्तुत करने में रूचि नही ली जाती है। जिससे प्रकरण न्यायालय में अनावश्यक रूप से लंबित रहते है एवं शासन हित भी प्रभावित होता है। ततसंबंध में विभागों के अधिकारियों को पूर्व में भी समय समय पर जबाव दावा प्रस्तुत करने हेतु स्मरण कराया जाता रहा है। विभागों के अधिकारियों को ततसंबंध में कलेक्टर द्वारा पुनः निर्देशित किया गया है कि लंबित प्रकरणों में तत्काल जबाव प्रस्तुत करना सुनिश्चित किया जाकर कृत कार्यवाही से जिला कार्यालय को अवगत कराएं। 

जनगणना कार्य से प्रशिक्षित हुए , प्रथम चरण में मकानो की गणना कार्य एक मई से 14 जून तक

विदिशा जिले में राष्ट्रीय जनगणना 2021 के कार्यो को सम्पादन करने हेतु नियुक्त तहसील स्तर पर नियुक्त चार्ज अधिकारियों का दो दिवसीय प्रशिक्षण आज सम्पन्न हुआ है एसएटीआई के स्मार्ट क्लास एवं नाथू कक्ष मेंं सम्पन्न हुए प्रशिक्षण में प्रशिक्षणार्थियों को जनगणना कैसे करनी है के मापदण्डो की विस्तारपूर्वक जानकारी एलसीडी पावर प्रोजेक्टर के माध्यम से दी गई है। इस दौरान मास्टर ट्रेनर्सो द्वारा जनगणना कार्यो से संबंधी जिज्ञासाओं का समाधान किया गया है। दो दिवसीय जनगणना प्रशिक्षण कार्यक्रम में समस्त तहसीलदार, जनगणना चार्ज एवं निकायों के अधिकारियों को प्रशिक्षित किया गया है।  जिला योजना अधिकारी श्री सेवा राम रायकवार ने बताया कि जनगणना दो चरणों में सम्पन्न होगी। प्रथम चरण में एक मई से 14 जून तक मकानो का गणना कार्य किया जाएगा। द्वितीय चरण में मानव जनगणना का कार्य किया जाएगा। प्रशिक्षणार्थियों को अवगत कराया गया कि प्रथम चरण में मकानों के सूचीकरण एवं गणना के साथ-साथ राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर एनपीआर का अद्यतन किया जाना है। दूसरे चरण में परिवारों की गणना के साथ-साथ मानव गणना की जाएगी। वर्ष 2021 में होने वाली जनगणना का समस्त कार्य मोबाइल एप डिजिटल पद्वति के माध्यम से किया जाएगा। जिले में जनगणना का क्षेत्रीय कार्य करने वाले प्रगणक एवं सुपरवाईजरों की जानकारी तैयार कर उन्हें चार्ज सौंपा गया है।

जी-टीवी के ‘‘सारेगामापा‘‘ नए शो का भव्य शुभारंभ शनिवार 29 को रात 8 बजे
विदिषा की नन्ही बेटी स्टार सिंगर सौम्या शर्मा देंगी मनमोहक चमत्कारी प्रस्तुतियांयह अंतर्राष्ट्रीय नूतन शो प्रत्येक शनिवार-रविवार रात 8 बजे निरंतर जारी रहेगा
vidisha news
विदिषा 27 फरवरी 2020/विष्वविख्यात एन्टरटेनमेन्ट चैनल जी-टीवी पर अंतर्राष्ट्रीय स्तरीय ‘‘सारेगामापा‘‘ नवीन शो का 29 फरवरी शनिवार को रात्रि 8 बजे भव्य शुभारम्भ होने जा रहा है। यह अति लोकप्रिय सिल्वर-जुबली शो प्रति सप्ताह प्रत्येक शनिवार-रविवार को रात्रि 8 बजे निरंतर जारी रहेगा। स्टार प्लस चैनल के अंतर्राष्ट्रीय शो ‘‘दिल है हिन्दुस्तानी‘‘ पर अपनी चमत्कारी प्रस्तुतियां देकर स्टार सिंगर बनी विदिषा की नन्ही बेटी सौम्या शर्मा इस नूतन शो में भी अपनी मनमोहक प्रस्तुतियां देती दिखाई देंगी। इस विषिष्ट शो के जज सुविख्यात संगीतकार-गायक कुमार सानु, सुश्री अलका याग्निक तथा उदित नारायण सौम्या को वरदानी शुभाषीर्वाद प्रदान करते दिखाई देंगे। वहीं, सौम्या शर्मा की अनुपम प्रस्तुति पर स्टूडियो में उपस्थित हजारों दर्षकों की गगनभेदी तालियों की गड़गड़ाहट के साथ ज्यूरी में विराजमान सभी 30 सदस्य भी दर्षकों के साथ स्वयं भी खड़े होकर तालियां बजाकर सौम्या शर्मा का अभिनंदन करते दिखाई देंगे। इस प्रकार ना केवल दर्षक, अपितु समस्त ज्यूरी सदस्य भी सौम्या शर्मा को तालियांे की गड़गड़ाहट के साथ स्टेण्ंिडग ओवेषन देते दिखाई देंगे। यहां यह भी स्मरणीय है कि जी-चैनल की एक बड़ी कवरेज टीम ने हाल ही विदिषा का दो-दिवसीय दौरा कर सौम्या शर्मा के साथ सौम्या के निवास तथा परिजनों से साक्षात्कारों की व्यापक शूटिंग की है। इसी के साथ विदिषा की पतित पावनी वैत्रवती तट स्थित श्री चरणतीर्थ धाम सहित अनेक प्राचीन पुरातात्विक स्थलों पर भी सुदीर्घ शूटिंग की गई है। विदिषा के पौराणिक आध्यात्मिक तथा प्राचीन पुरातात्विक वैभव को विषिष्ट महत्व प्रदान करने यह शूटिंग विषेष रूप से की गई है। पिछले दिनों मुम्बई में भी सौम्या के पिता अमिताभ शर्मा तथा कुछ अन्य परिजनों के साक्षात्कार स्टूडियों में भी शूट कर रिकाॅर्ड किए गए हैं। इन शूटिगों के अंष भी सौम्या के गायन के साथ प्रदर्षित होंगे। 

श्रीहरि वृद्धाश्रम पहुँच कर मुनि संघ ने निरूपित किया सेवा ही सच्चा धर्म है 

vidisha news
विदिषा 27 फरवरी 2020/ पूज्य संत शिरोमणि आचार्यश्री विद्यासागरजी महाराज के परम प्रभावक शिष्य मुनिश्री प्रसादसागरजी, मुनिश्री पुराणसागरजी, मुनिश्री शैलसागरजी, मुनिश्री निकलंकसागरजी ने पुराना जिला चिकित्सालय स्थित श्रीहरि वृद्धाश्रम के नवीन स्थान पधारकर पूरे वृद्धाश्रम का सूक्ष्म निरीक्षण कर कहा कि यह स्थान सेवा की तपोभूमि से कम नही है। सेवा ही सच्चा धर्म है। इस संस्था का और विस्तार-विकास होना चाहिए।  इस अवसर पर श्रीहरि वृद्धाश्रम की अध्यक्ष श्रीमती इंदिरा शर्मा, संचालक वेदप्रकाश शर्मा, उपाध्यक्ष विष्णु नामदेव सहित संस्था के बुजुर्गो और परामर्श दात्री के  समिति के  वरिष्ठ सदस्य सीएल गोयल, राकेश जैन, केशर जहाॅँ, कमल रायकवार ने मुनिसंघ को श्रीफल भेंटकर आशीर्वाद ग्रहण किया। कार्यक्रम का संचालन शीतलनाथ दिगंबर जैन मंदिर की साध्वी सुश्री हेमा दीदी ने करते हुए श्रीहरि वृद्धाश्रम की सेवा और समाज के योगदान पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर संपन्न एक धर्मसभा को संबोधित करते हुए मुनिश्री प्रसाद सागरजी ने कहा मनुष्य को केवल कर्म करना चाहिए, फल की इच्छा नहीं रखना चाहिए। हमें जो भी मिलता है वह अपने कर्मों का प्रतिफल ही है। इसलिए सदैव अच्छे कर्म करने चाहिए। उन्होंने हरि नाम की महिमा और हरि कृपा पर भी विस्तृत प्रकाष डाला। उन्होंने श्री हरि वृद्धाश्रम के लिए सर्वसुविधासंपन्न नवीन भवन प्रदान करने के लिए राज्य सरकार और जिला प्रशासन को साधुवाद देते हुए विष्वास व्यक्त किया कि इस जनहितेषी व लोकमंगलकारी नवीन व्यवस्था से बुजुर्गो की बेहतर सेवा हो सकेगी। उन्होने कहा कि विदिशा का समाज सेवा में विशेष स्थान है। इसकी गरिमा बनाए रखने सभी को प्रयास करने चाहिए। उन्होने श्रीहरि वृद्धाश्रम में बुजुर्गों की बेहतर सेवा का अवलोकन करते हुए कहा कि यहाँ भगवान महावीर के सिद्धांत, अहिंसा परमो धर्मः, एवं जीव दया का समर्पित भाव परिलक्षित हो रहा है। उन्होने कहा कि बुजुर्गों की सेवा हमारी संस्कृति है। हमें इसे बचाए रखना है। उन्होंने युवा पीढ़ी को संदेश देते हुए कहा कि वे सभी अपने अपने माता-पिता की सेवा करें। यह ना केवल धर्म है, बल्कि उनकी नैतिक जिम्मेदारी भी है। जिस घर में माता-पिता वसते-खुष रहते है उस घर मे ईश्वर निवास करते है, माता-पिता ही सच्चे ईश्वर है। उन्होंने कहा कि संसार के प्रत्येक प्राणी में समाहित आत्मा रूपी परमात्मा का हम सब को सम्मान करना चाहिए और समाज के पीड़ित बुजुर्गो की सहायता में सभी वर्गों को आगे आकर सार्थक भूमिका निभानी चाहिए।  इस अवसर पर वरिष्ठ समाजसेवी राजेश जालौरी, हरिनारायण शर्मा, डॉक्टर जनार्दनसिंह जादौन आदि सहित बड़ी संख्या में समाजसेवी उपस्थित रहे। संस्था की अध्यक्ष श्रीमती इंदिरा-वेद  प्रकाश शर्मा ने आभार व्यक्त किया।

शांति-सद्भावना मार्च आयोजित कर देश में अमन शांति की अपील की, साथ ही दिल्ली हिंसा के मृतको को दी श्रद्धाजंली

vidisha news
विदिशाः- विदिशा शहर के अमनपसंद नागरिकगणों द्वारा विधायक शशांक श्रीकृष्ण भार्गव की अगुवाई में शहर के प्रमुख मार्गो से शांति-सद्भावना मार्च का आयोजन किया गया, विगत दिनों राजधानी दिल्ली में सांप्रदायिक हिंसा में 35 बेगुनाह लोगो की जान गई एवं करोडो रूपये की संपत्ति जलकर राख हो गई एवं दिल्ली के लाखों मेहनतकश लोगो के सामने रोजी रोटी का संकट खड़ा हो गया है। दिल्ली की घटना से भारत की असहिष्णुता की छवि अंतराष्ट्रीय स्तर पर खराब हुई है।   शांति-सद्भावना मार्च में शहर विदिशा के सैकड़ो गणमान्य नागरिक शामिल हुए मार्च के आगे महात्मा गांधी जी का प्रिय भजन रघुपति राघव राजा राम का गायन हो रहा था। पंक्तिवद्ध कतार के रूप में मार्च में शामिल लोग शांति पूर्वक चल रहे थे मार्च नीमताल गंाधी चैक से प्रारंभ होकर मुख्य बाजार से होते हुए काॅच मंदिर माधवगंज पर समाप्त हुआ। यहाॅ पर सभी लोगों ने मोमवत्ती जलाकर, पुष्पांजलि अर्पित कर 2 मिनिट का मोन धारण कर मृत आत्माओं के प्रति श्रद्धाजंली अर्पित की।इस दौरान विधायक शशांक भार्गव ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि भारत सर्वधर्म सदभाव का देश है। दिल्ली की घटना से पूरे देश के अमन पसंद नागरिक व्यथित हैं। मृतकों के प्रति श्रध्दा सुमन अर्पित करते हुए हम महामहिम राष्ट्रपति महोदय से अनुरोध करते हैं कि दिल्ली हिंसा की निष्पक्ष एजेंसी से जांच कराई जाये और इसमें किसी राजनैतिक दल की संल्पित्ता साबित होती है तो उस राजनैतिक दल की मान्यता समाप्त कर दी जाये। इस अवसर पर शांति-सद्भावना मार्च मे प्रमुख रूप से जिला प्रशासन की ओर से एसडीएम संजय जैन, तहसीलदार सरोज अग्निवंशी, धर्मगुरू ज्ञानी मंजीत सिंह, शहरकाजी सैयद साजिदअली, हिन्दु उत्सव समिति के अध्यक्ष अतुल तिवारी, मुस्लिम त्यौहार कमेटी के अध्यक्ष मुआज कामिल, व्यापार महासंघ अध्यक्ष मुन्ना भैया जैन, वेतवा समिति के अध्यक्ष अतुल शाह, रामलीला मेला समिति के सचिव रिंकू शर्मा, प्रेस क्लव अध्यक्ष राजेश शर्मा, समाजसेवी डाॅ. सुरेश गर्ग, दिनेश मिश्र, किराना व्यापार महासंघ अध्यक्ष सुरेश मोतियानी, सिंधी पंचायत अध्यक्ष हरीश वाधवानी, कमल सिलाकारी, चीना भाई, मजीद भाई, मनोज कपूर, रईस अहमद कुरैशी, करतार सिंह, महेन्द्र यादव, संजीव शर्मा, शरीफ भाई, सोहेल बब्लू, आसिफ पटेल, सुजीत देवलिया, अजय कटारे, सुरेन्द्र भदौरिया, पंकज निगम, डालचंद्र अहिरवार, बृजेन्द्र वर्मा, मनोज कुशवाह, मोनू पाल, जेपी चतुर्वेदी, हेमन्त शर्मा, राजकुमार डीडोत, वैभव भारद्वाज चीनू, माधवसिंह पोटी, दीपक दुवे, सुनील शर्मा, दशन सक्सेना, सुरेन्द्र दांगी, बंटी सेन, संतोष गौड़, डीके रायकवार, संतोष गुर्जर, जितेन्द्र तिवारी, संजीव प्रजातपि, धन्नालाल कुशवाह, नूर भाई सहित शहर के सैकड़ो नागरिक शांति सदभावना मार्च में शामिल हुए।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...