सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 18 मार्च - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 18 मार्च 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 18 मार्च

लगाए गए टेंडरों में हुई भारी अनियमित्ताएं  कोरोना महामारी फैलने से पहले हो सफाई 
नपाध्यक्ष अमिता जसपाल अरोरा को सेवादल  जिलाध्यक्ष खंगराले ने पार्षदों के हस्ताक्षर युक्त सौपा ज्ञापन 
sehore news
सीहोर। सेवादल कांग्रेस जिलाध्यक्ष नरेंद्र खंगराले ने पार्षदों के हस्ताक्षर युक्त ज्ञापन नपाध्यक्ष अमिता जसपाल सिंह अरोरा को पदभार ग्रहण के पत्श्चात सीएमओ संदीप श्रीवास्तव की उपस्थिति में सौपा गया।  इस अवसर पर श्री खंगराले ने नपाध्यक्ष को बताया की हाल हीं में नगर पालिका प्रशासन के द्वारा निर्माण कार्य को लेकर टेंडर लगाए गए है उस में भारी अनियमित्ताएं हुई है। शहर के एक हीे वार्ड में दस टेंडर लगा दिए गए है। जबकी अन्य वार्डो में इक्का दुक्का टेंडर लगाकर पार्षदों और जनता के साथ अन्याय अत्याचार किया गया है। जिस से पार्षद काफी दुखी है श्री खंगराले ने कहा की नगर पालिका प्रशासन इस गलती को सुधारकरते हुए जिन वार्डो में कार्य नहीं हुए है चुनाव की नजदीकी को देखते हुए उन वार्डो के प्रस्ताव बनाए जाकर उपसंचालक कार्यालय से टीएस प्राप्त कर उनके भी वार्डो में निर्माण कार्य के दस दस टेंडर लगाए जाए। तभी पार्षदों और जनता को न्याय मिल सकेगा। भूखे मरने की स्थिति में आ गए बंद सफाई कर्मचारियों की गैंग को तत्काल रखा जाए कोरोना वायरस और अन्य महामारी मौसमी गंभीर बीमारियों के फेलने से पहले शहर की एवं नालियों की साफ सफाई के निर्देश एवं पूरे शहर में मच्छर मार दवा डीडी का छीड़काव किया जाए। इन कार्यो की सामीक्षा के दौरान लापरवाही सामने आने पर तुरंत कार्यवाही की जाए। ज्ञापन सौपते समय कांग्रेस समर्पित सभी पार्षद और शहर के नागरिकगण मौजूद थे। 

जिला न्यायालय परिसर में कोरोना वायरस के लिए किया गया जागरूकता अभियान -
माननीय उच्च न्यायालय के आदेषानुसार एंव निर्देषानुसार में माननीय जिला एवं सत्र न्यायाधीष/अध्यक्ष (श्री राजवर्धन गुप्ता सर) जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीहोर के मार्गदर्षन एंव उपस्थिति में दिनांक 18.03.2020 को देष मे बढ रहे कोरोना वायरस को देखते हुए जिला न्यायालय परिसर में समस्त अधिवक्तागण व पक्षकारो को जागरूक किये जाने हेतु विधिक साक्षरता षिविर का आयोजन किया गया। जिसमें जिला न्यायाधीष/अध्यक्ष श्री राजवर्धन गुप्ता सर, सुश्री अनीता वाजपेयी प्रथम अपर जिला न्यायाधीष, द्वितीय अपर जिला न्यायाधीष श्री विजय चंद्रा, अपर जिला न्यायाधीष/सचिव श्री षैलेन्द्र कुमार नागौत्रा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, तृतीय अपर जिला न्यायाधीष श्रीमती स्मृतासिंह ठाकुर, मुख्य न्यायिक मजिस्टेट श्रीमती किरण तुमराची धुर्वे, श्री रवि चैकसे जिला रजिस्ट्रार, कु. ऋचा बठेजा, कु. के. षिवानी, कु. तनु गर्ग, कु. शालिनी मिश्रा, श्री अविनाष छारी, श्री अनिरूद्ध कुमार, श्री शरद जोषी अध्यक्ष अभिभाषक संघ एंव श्री लखन परमार सचिव अभिभाषक संघ, न्यायिक कर्मचारीगण, सीहोर जिले स्थित समस्त अधिवक्तागण उपस्थित हुए। ा। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीहोर द्वारा जिला न्यायालय परिसर, अभिभाषक संघ व ए.डी.आर सेंटर में हेण्ड वाॅष युनिक स्थापित किये गये। जिनका शुभारंभ माननीय जिला एंव सत्र न्यायाधीष/अध्यक्ष महोदय द्वारा किया गया। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा पैरालीगल वालेटियर्स के माध्यम से भी लोगो को जागरूक किये जाने का कार्य किया जा रहा है। कोरोना वायरस से बचाव व रोकथाम के सम्बंध मे जिला प्राधिकरण के पैरालीगल वालेटियर्स को प्रषिक्षित किया गया है। इसी के अंतर्गत हैण्डवाॅष पाइंट और नमस्ते अभियान का भी शुभारंभ किया गया है। माननीय जिला न्यायाधीष/अध्यक्ष महोदय ने द्वारा जागरूकता कार्यक्रम मे व्यक्त किया कि यह कोरोना वायरस ने वैष्विक माहवारी का रूप लिया है। इसके लिए अभी तक कोई वैक्सीन तैयार नही हुआ है। ऐसे में इससे सावधानी सतर्कता एंव जागरूकता से ही बचा जा सकता है। कोरोना वायरस से बचने के लिए सभी अधिवक्तागण व पक्षकारो को जागरूक किया गया कि अच्छे से बार-बार हाथ धोने एंव हाथ मिलाने के बजाय नमस्ते करने के लिए अनुरोध किया। श्री विजय चंद्रा द्वितीय अपर जिला न्यायाधीष ने देष मे फेल रहे कोरोना वायरस के सम्बंध मे माननीय उच्च न्यायालय म.प्र. द्वारा जारी एडवायजरी के बारे मे विस्तृत रूप से जानकारी देते हुए व्यक्त किया कि जिला न्यायालय सीहोर एंव समस्त तहसील न्यायालयों में अतिआवष्यक मामले यथा जमानत, निषेधाज्ञा आदि के मामलो मे सुनवाई की जावेगी। अभिभाषक संघ श्री शरद जोषी अध्यक्ष एंव श्री लखन परमार सचिव ने व्यक्त किया गया कि कोरोना वायरस के बचाव के लिए न्यायालय प्रांगण मे उपस्थित लोगो से आग्रह किया गया कि कम-से-कम 01 मीटर की दूरी बनाये रखे, बार-बार मुह पर हाथ न लगाए, और नमस्कार कर ही लोगो से मिलना जुलना करे। जिला चिकित्सालय से सीएचएमओ ने जागरूक्ता अभियान एंव षिविर मे उपस्थित होकर लोगो को कोरोना वायरस से बचने के उपाय बताए। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा जिला न्यायालय परिसर, अभिभाषक संघ एंव ए.डी.आर. सेंटर मे स्थापित हेण्डवाॅष पाइंट पर सेनीटाइजर व हैण्डवाॅष उपलब्ध कराये गए है। साथ ही कार्यक्रम मे उपस्थित अधिवक्तागणों व पक्षकारो को कोरोना वायरस से बचने हेतु मास्क भी वितरित किये गये।  जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री अनीसुद्दीन अब्बासी ने कोरोना वायरस के सम्बंध में जागरूक्ता अभियान एंव षिविर में उपस्थित जिला न्यायाधीष/अध्यक्ष महोदय श्री राजवर्धन गुप्ता सर, अन्य न्यायाधीषगणों, समस्त अधिवक्तागण, समस्त कर्मचारीगण एंव पक्षकारो का आभार व्यक्त कर समापन किया गया। 

गणगौर पर्व में सभी समाज के महिलाओं द्वारा गणगौर के गीत एवं कोरोना महामारी से बचाव के लिए एवं जागरूकता फैलाने के लिए कोरोना  गीत भी  गाया गया !

sehore news
सीहोर, सुहाग की आकांक्षा से 16 दिन मनाए जाने वाले गणगौर पर्व में मारवाड़ी सोनी ब्राह्मण समाज व अन्य सभी समाज के महिलाओं द्वारा गणगौर के गीत एवं झाले गाए जाते हैं।  चारों तरफ करोना महामारी से बचाव के लिए सभी प्रयत्नशील हैं क्या समाज क्या सरकार तो भला गणगौर पर्व इससे अछूता कैसे रहता। आज गणगौर के शाम के समय निकलने वाले जुलूस के बाद जब महिलाएं श्रीमती ज्योति रूठिया के बगीचे में गणगौर पर्व मनाने पहुंची तो वहां गणगौर के पारंपरिक गीतों के अलावा झाले में कोरोना से बचाव के लिए भी गीत गाया  गया श्रीमती निर्मला व्यास द्वारा रचित यह गीत उन्होंने अपनी सखियों श्रीमती शशि विजयवर्गी राजू पालीवाल प्रेमा रूठिया मंजू भरतीया ममता पीतलया मंजू अग्रवाल संध्या विजयवर्गी  पुष्पा सोनी  रानी   मंजू  राजू पालीवाल आभा कासता श्वेता विजयवर्गीय प्रीति शर्मा  अनीता शर्मा आदि ने मिलकर कोरोना से बचाव के लिए यह गीत गाया ।उपस्थित सभी महिलाओं ने समाज में  कोरोना के प्रति इस तरह की जागरूकता फैलाने के लिए उनकी भूरी भूरी प्रशंसा की। श्रीमती निर्मला व्यास ने पूर्व में भी गणगौर के गीत की क्लासे लगाई थी और बहुत सारी नई बहुओं को गणगौर के परंपरागत गीत सिखाएं अब उसी में नवीनता लाने हेतु उन्होंने आज समाज में जिस  जागरूकता की आवश्यकता थी उसके लिए यह कौराना पर आधारित झाला गीत बनाया। और आगे भी इसी तरह से प्रयत्नशील रहने का अपना संकल्प दोहराया।इस गीत की वीडियो रिकॉर्डिंग श्रीमती निर्मला व्यास द्वारा यूट्यूब पर भी डाली गयी है।

न्याय मांगने घायल अवस्था में कलेक्ट्रेट पहुंचे पीडि़त   महिलाओं बच्चों सहित आठ लोगों पर किया था धारदार हथियारों से खतरनाक जानलेवा हमला 
खुलेआम घूम रहे आरोपी, दे रहे बहन बेटियों को धमकी
sehore news
सीहोर। आरोपियों के प्रति पुलिस के सहनुभूति पूर्ण रवैये से आक्रोशित पीडि़तों ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर न्याय की गुहार लगाई है। आठ लोगों ने मिलकर तलवार फार्सी हॉकी डंडों छुरों से जहांगीरपुरा में एक परिवार पर जानलेवा हमला कर दिया पीडि़तों को जिंदा जलाने की कोशिश की गई। महिलाओं के कपड़े फाड़ दिए गए उन्हे बेईज्जत किया गया।  घटना को होली के दिन अंजाम दिया गया था। जमकर खून की होली खेली गई थी। सुनियोजित हमले में महिलाओं बच्चों सहित कई लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। जिला अस्पताल से गंभीर घायलों को ईलाज के लिए भोपाल रिफर किया गया था। गंभीर मामले में साधारण धाराओं में पुलिस ने मामला दर्ज किया था। आरोपी खुलेआम घूम रहे है धमकियां दे रहे है आरोपियों पर सहीं सख्त कार्रवाहीं की मांग पीडि़त करते रहे लेकिन पुलिस ने एक नहीं सुनीं।  जनसुनवाई में कलेक्टर को दिए शिकायती पत्र के माध्यम से जगदीश लोधी ने बताया की मंगलवार 10 मार्च का परिवार में बेटी की सगाई की रास्म पूरी करने के लिए समधी दयाराम आए थे इसी बीच आरोपी पड़ोसी कोमल लोधी ने दुव्र्यवहार शुरू कर दिया। कुछ समझ पाते इस से पहले योजनाबद होकर आरोपी केवलराम, राजू, गंगा सिंह, अजय, दिल्लू, लखन,रचना,शेखर ने धारदार हथियारों से हमला कर दिया जिस में संजीव लोधी,बनवारी, जगदीश, गजेंद्र, काजल,आशा, सुनिता,पूजा, आकाश को सिर हाथ पैर सीने मुंह पीठ पर गंभीर चौट पहुंचाकर घायल कर दिया। पीडि़तों के अन्य पड़ोसियों ने हांड्रेड डायल कर पुलिस को घटना की सुचना दी मौके पर पहुेची पुलिस ने 108 एंबुलेंस से ईलाज के लिए जिला अस्पताल भेजा था। पीडि़त परिवार ने प्रशासन से आरोपियों को गिरफ्तार कराने जानलेवा हमले की धाराएं लगाने और आर्थिक मदद देने की मांग की है। 

पी.सी.पी.एंड डी.टी. समिति जिला स्तरीय कार्यशाला संपन्न, कलेक्टर ने दिए सोनोग्राफी सेंटर्स के नियमित जांच के निर्देश

sehore news
पी.सी.पी.एंड डी.टी.एक्ट को लेकर जिला स्तरीय कार्यशाला का आयोजन कलेक्टर श्री अजय गुप्ता की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में किया गया। बैठक में कलेक्टर ने  निर्देशित किया गया कि सोनोग्राफी सेंटर्स की नियमित जांच की जाएं। लिंगानुपात को लेकर भी बैठक में गहन चिंता व्यक्त की गई। सीहोर में 2011 की जनगणना के अनुसार लिंगानुपात के अनुसार 918 बालिकाओं का जन्म होता है। बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.प्रभाकर तिवारी सहित समिति के अशासकीय सदस्य श्री बसंत दासवानी, श्री ओम वर्मा, श्रीमती प्रेमलता राठौर सहित निजी चिकित्सालय संचालक, एमडी मेडिसीन डॉ आर.के. वर्मा, पी.सी.पी.एंड डीटी एक्ट के नोडल अधिकारी डॉ.कोरी सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में जनजागरूकता अभियान संचालित करने के भी निर्देश दिए गए वहीं अपंजीकृत चिकित्सकों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही करने एवं बगैर अधिकृत चिकित्सक के उपचार पर्ची के दवा देने वाले दवा विक्रेताओं के विरूद्ध सख्त कार्यवाही करने के निर्देश भी कलेक्टर द्वारा दिए गए।

25 मार्च को आयोजित नेत्र शिविर निरस्त

जिला चिकित्सालय सीहोर में 25 मार्च 2020 को आयोजित होने वाला जिला स्तरीय मोतियाबिंद नेत्र जांच शिविर स्थगित कर दिया गया है। जिला दृष्टिविहीन नियंत्रण अधिकारी डॉ.यूके श्रीवास्तव ने जानकारी दी कि कोरोना वाइरस को लेकर जारी की गई एडवायजरी के मद्देनजर सावधानानियों के फलस्वरूप यह शिविर निरस्त किया गया है। भविष्य में आयोजित शिविर की तारीख पृथक से जारी की जाएगी। यह शिविर सदगुरू सेवा संघ आनंदपुर द्वारा जिला दृष्टिविहीन नियंत्रण समिति के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किया गया था।  

तय रेट से ज्यादा पर मास्क, सेनेटायजर बेचा तो होगी कार्यवाही मास्क एवं सेनेटायजर आवश्यक वस्तु अधिनियम में शामिल

नोवेल कोरोना वायरस को लेकर वीडियो कांफ्रेस के माध्यम से प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण ने सख्त निर्देश दिए है कि दवा विक्रेता यदि तय कीमत से अधिक दामों पर मास्क अथवा सेनेटायजर का विक्रय करते है तो उनके विरूद्ध सख्त कार्यवाही करने के निर्देश समस्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, ड्रग इंस्पेक्टर को दिए गए। मास्क तथा सेनेटाइजर को लेकर दवा विक्रेताओं का रिकार्ड तथा उक्त सामग्री की बिक्री और मुद्रित मूल्य की जांच करने के भी निर्देश दिए गए है। यदि कोई दवा विक्रेता बगैर लाईसेंस मास्क एवं सेनेटाइजर की बिक्री करता पाया जाता है तो सामग्री जब्त करने के निर्देश दिए गए है। प्रतिदिन का विक्रय का रिकार्ड के भी जांच करने के निर्देश दिए गए है। सभी दवा विक्रेताओं को मास्क एवं सेनेटाइजर की कीमत दुकान पर प्रदर्षित करने तथा कोरोना वायरस से संबंधित जागरूकता सामग्री भी दुकान पर अनिवार्य रूप से प्रदर्शित करने के निर्देश दिए गए है। नोवेल कोराना के लक्षणो में नाक बहना, खांसी गले में खराष, कभी-कभी सिरदर्द, सांस लेने में तकलीफ, बुखार जो कुछ दिनों में तक सकता है, कमजोर प्रतिरोधक क्षमता वाले लोगों यानी जिनकी रोगों से लडने की ताकत कम हैं ऐसे लोगों की ताकत कम है ऐसे लडने की ताकत कम है ऐसे लोगों के लिए यह घातक है। कोरोना वायरस से बचाव हेतु खांसते समय मुंह पर रूमाल रखें अथवा कोहनी से मुंह को जरूर ढंके। दिन में कई बार साबुन से अच्छी तरह हाथों को धोएं सेनिटाइजर का उपयोग करें। एक दूसरे से मिलते समय हाथ मिलाने की जगह नमस्ते एवं आदाब करने की आदत डाले। जुकाम होने पर बार-बार नाक को हाथ ना लगाएं टिशु पेपर या रूमाल का प्रयोग करें। फ्लू से ग्रसित व्यक्ति भीड़-भाड़ वाले इलाकों में जाने से बचें एव मुंह पर मास्क या रूमाल लगाकर जाएं। प्रभावित देशों से यात्रा कर लौटने वाले यात्रियों के सीधे संपर्क में ना आवें। अनावष्यक यात्रा से बचें बहुत ही जरूरी होने पर ही यात्रा करें।

मतदाता पंजीकरण के संबंध में विशेष अभियान चलाने के लिए निर्वाचन आयोग ने दिए निर्देश

उप जिला निर्वाचन अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि  राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा नगरीय निकायों एवं पंचायतों के आम निर्वाचन 2020 के लिए फोटोयुक्त मतदाता सूची तैयार करने का कार्यक्रम जारी किया जा चुका है। आयोग द्वारा संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि जिले को कोई भी पात्र मतदाता पंजीकरण से वंचित न रहे। सामान्य पात्र मतदाताओं के पंजीकरण कराने के साथ-साथ जिले में निवासरत् नवीन मतदाताओं, महिला मतदाताओं, नवीन बसाहटों के, दिव्यांग वंचित समूहों तथा दूरस्थ क्षेत्रों में स्थित मतदाताओं एवं बिखरे हुए समूह के मतदाताओं के पंजीकरण के लिए विशेष कार्ययोजना बनाकर उनका शत-प्रतिशत पंजीकरण कराना सुनिश्चित करें जिससे कोई भी मतदाता मताधिकार से वंचित न रहे। 

शस्त्र लायसेंस धार के यूनिक यूआईएन के लिए करें 31 मार्च तक दस्तावेज जमा

भारत सरकार गृह मंत्रालय द्वारा शस्त्र लायसेंस की जानकारी कम्प्यूटर के माध्यम से भरने एवं मॉनीटर करने के लिए एनडीएल-एएलआईएस सॉफ्टवेयर बनाया है। जिसके माध्यम से सभी शस्त्र लायसेंस के लिए एक यूनिक यूआईएन क्रमांक जारी करने का कार्य किया जा रहा है। इसके अन्तर्गत ऐसे शस्त्र लायसेंस धारक जिनका शस्त्र लायसेंस 31 मार्च 2016 या उससे पहले की दिनांक को जारी किया गया है एवं उनका यूनिक यूआईएन क्रमांक अभी जारी नहीं हुआ है, ऐसे शस्त्र लायसेंस धारको को अपने आवेदन पत्र स्पष्ट एवं सही व संपूर्ण जानकारी सहित 31 मार्च 2020 तक अनिवार्य रूप से जमा कर दें, ताकि उनके आर्म्स लायसेंस का डाटाबेस ऑनलाईन फीडिंग किया जाकर विशिष्टि नम्बर (यूआईएन) सर्जित किया जा सके। नियत अवधि तक आवेदन प्राप्त नहीं होने एवं यूआईएन सर्जित न होने की दशा में उनके शस्त्र लायसेंस स्वतः निरस्त (रद्द) कर दिए जाएंगे।

5 वीं एवं 8 वीं के स्वाध्यायी परीक्षा फार्म आवेदन एमपी ऑनलाइन से 25 मार्च तक

राज्य शिक्षा केन्द्र के निर्देशानुसार आयोजित की जाने वाली कक्षा 5 वीं एवं 8 वीं की स्वाध्यायी परीक्षार्थियों के लिए फार्म एम पी आनलाइन के माध्यम से 25 मार्च 2020 तक किये जा सकेंगे। स्वाध्यायी परीक्षार्थियों की परीक्षा मप्र राज्य मुक्त स्कूल शिक्षा बोर्ड करेगा। ऐसे बच्चे, व्यक्ति जो प्राथमिक शिक्षा पूर्ण नहीं कर पाये है एवं जिनकी उम्र 11, 14 वर्ष से अधिक है। उनको मध्यप्रदेश राज्य मुक्त स्कूल शिक्षा बोर्ड द्वारा अप्रैल माह में आयोजित कक्षा 5 वीं एवं कक्षा 8 वीं की परीक्षाओं में स्वाधायी परीक्षार्थी के रूप में सम्मिलित किया जा सकेगा। इनकी परीक्षा जिला स्थित परीक्षा केन्द्र पर संपन्न होगी।

अधिकृत वित्तीय स्थापनाओं की सूची वेबसाइट पर उपलब्ध

संस्थागत वित्त संचालनालय ने जमा स्वीकार करने के लिए अधिकृत वित्तीय स्थापनाओं की सूची अपनी वेबसाइट पर उपलब्ध कराई है। अनधिकृत वित्तीय स्थापनाओं के बारे में प्रदेश की जनता को जागरूक करने के उद्देश्य से यह कदम उठाया गया है। भारतीय रिजर्व बैंक, सिक्योरिटीज एण्ड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (सेबी), राष्ट्रीय आवास बैंक (एनएचबी) सहित राष्ट्रीयकृत बैंक, निजी क्षेत्र के बैंक, राज्य के सहकारी बैंक, बहु-प्रदेशीय सहकारी बैंक, स्माल फायनेंस बैंक, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक, पैमेंट बैंक, गैर बैंकिग वित्तीय कम्पनियाँ (एनबीएफसी), इण्डिया पोस्ट पैमेंट बैंक के साथ-साथ, बीमा नियामक एवं विकास अभिकरण (आईआरडीए) द्वारा जमा स्वीकार करने के लिये अधिकृत वित्तीय स्थापनाओं की सूची वेबसाइट एवं पोर्टल पर उपलब्ध कराई गई है। यह जानकारी www.dif.mp.gov.in के लिंक ‘जमा स्वीकार करने हेतु अधिकृत वित्तीय स्थापनाएं  financial establishments Authorized to accept deposits" पर उपलब्ध है।साथ ही संचालनालय संस्थागत वित्त द्वारा विकसित पोटर्ल  "searchable database of registered entities with financial regulators for common public"  पर भी आमजन के लिये उपलब्ध कराई गई है।

नगरीय निकाय करें सौर ऊर्जा का उपयोग

प्रमुख सचिव नगरीय विकास एवं आवास श्री संजय दुबे ने नगरीय निकायों के मुख्य नगरपालिका अधिकारियों को सौर ऊर्जा से विद्युत आवश्यकताओं की पूर्ति करने के लिये कार्यवाही करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा है कि ऐसा करने से विद्युत देयकों के भुगतान की राशि कम होगी और इस बची हुई राशि से निकाय अन्य विकास कार्य करवा सकेंगे। श्री दुबे ने कहा है कि मध्यप्रदेश विकेन्द्रीयकृत नवकरणीय ऊर्जा नीति और मध्यप्रदेश विद्युत नियामक आयोग के नेटमीटरिंग विनियमन के अन्तर्गत सौर फोटोबोल्टेक पॉवर प्लान्टस की स्थापना से नगरीय निकायों के विद्युत बिलों में उल्लेखनीय कमी लाई जा सकेगी। इसके साथ ही, हरित ऊर्जा के उपयोग से पर्यावरण के प्रति जनता को सकारात्मक संदेश दिया जा सकेगा। प्रमुख सचिव ने बताया कि शून्य निवेश पर सौर संयंत्र की स्थापना करवाई जा सकती है। इसके लिये ऊर्जा विकास निगम द्वारा ष्रेस्को मॉडलष् की अवधारणा पर कार्य किया जा रहा है।

नरवाई जलाना पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा

जिले में गेहूँ की फसल काटने के उपरांत पौध अवशेषों को जलाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। यदि कोई व्यक्ति या संस्था द्वारा फसल कटाई के उपरांत फसल अवशेषों को जलाने पर ग्रीन ट्रिब्यूनल के निर्देशानुसार पर्यावरण मुआवजा वसूलने के साथ भारतीय दण्ड विधान की धारा-188 के तहत दण्डनीय कार्रवाई की जायेगी। किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के आदेशानुसार अब गेहूँ की फसल काटने के उपरांत पौध अवशेषों को जलाना पूर्णत: प्रतिबंधित किया गया है। अब हार्वेस्टर मशीन संचालकों को यह आवश्यक होगा कि वे हार्वेस्टर मशीन के साथ-साथ भूसा बनाने की मशीन (स्ट्रीरीपर) लगाकर फसल की कटाई के बाद अवशेष स्थल पर ही भूसा बनाकर अवशेष का निपटान करें। प्रत्येक कम्बाईन हार्वेस्टर संचालक फसल कटाई प्रारंभ करने के पूर्व अपना पंजीयन करना होगा। बिना पंजीयन के स्ट्रीरीपर का उपयोग करते पाए जाने पर इसकी सूचना संबंधित पुलिस थाने, ग्राम पंचायत निगरानी अधिकारी एवं पंचायत सचिव को दें। हार्वेस्टर मशीन एवं स्ट्रीरीपर (भूसा बनाने का संयंत्र) से भूसा बनाने के दौरान निकलने वाली चिंगारी से आगजनी की घटना को रोकने हेतु मशीन संचालक अग्नि सुरक्षा संयंत्र के साथ-साथ आग बुझाने के लिये रेत एवं पानी की व्यवस्था सुनिश्चित करेगा। उन्होंने किसान भाईयों से आग्रह किया है कि गेहूँ के अवशेषों को खेतों में न जलायें। बल्कि अवशेषों से मशीन से भूसा बनाकर जानवरों हेतु उपयोग करें।

सोलर पम्प हेतु किसानों से आवेदन आमंत्रित

मुख्यमंत्री सोलर पम्प योजना के तहत किसानों को सिंचाई के लिये सोलर पम्प प्रदान किए जायेंगे। सोलर पम्प स्थापना हेतु ऑनलाइन आवेदन पत्र आमंत्रित किए गए हैं। इच्छुक किसान www.cmsolarpump.mp.gov.in पर आवेदन कर सकते हैं। सोलर पम्प के लिये भारत सरकार व प्रदेश सरकार द्वारा अनुदान भी किसानों को उपलब्ध कराया जायेगा। योजना के तहत एक एचपीडीसी सबमर्सिबल के लिये किसान को 19000 रूपए अंशदान, दो एचपीडीसी सरफेस के लिये 23000 रूपए, दो एचपीडीसी सबमर्सिबल के लिये 25000 रूपए, तीन एचपीडीसी के लिये 36000 रूपए व पांच एचपीडीसी के लिये 72 हजार रूपए, 7.5 एचपीडीसी के लिये 135000 रूपए अंशदान राशि किसानों को जमा करनी है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...