विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 04 मार्च - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 4 मार्च 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 04 मार्च

ठेकेदार को नोटिस देने के निर्देश 

vidisha news
कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बुधवार को महाराणा प्रताप चौराहा से अहमदपुर चौराहे की ओर बन रही सड़क की गुणवत्ता का औचक निरीक्षण किया। विभिन्न जगह सड़क गुणवत्तापूर्ण नही पाए जाने पर, समय सीमा में कार्य नही करने पर संबंधित ठेकेदार अमित कंस्ट्रक्शन को शोकॉज नोटिस देने के निर्देश दिए है। वही नगरपालिका और संबंधित अन्य दोषियों के खिलाफ भी कार्यवाही करने की चेतावनी उनके द्वारा दी गई है। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि जो सड़के खुदी है वे बारिश से पहले पूर्ण गुणवत्ता के साथ दुरस्त कराई जाए। इस कार्य में राजस्व अमले की भी मदद ली जाएगी। उन्होंने कहा कि निरीक्षण के दौरान गुणवत्ताविहिन सड़क पाई गई है। सड़क का जो-जो बेलुवेशन कर रहे है वे दोषियों है। उनके खिलाफ कार्यवाही करने हेतु नगरपालिका को निर्देश दिए जाएंगे। कलेक्टर श्री सिंह ने सर्किट हाउस से शुरू हुई सड़क निर्माण कार्य का अहमदपुर चौराहा-अहमदपुर रोड़ की ओर पैदल चलकर सड़क के कार्यो का बारिकी से अवलोकन किया। वही बाजू वाली सड़क पिछले दो साल से बनी है और अभी तक दुरस्त है। किन्तु पाइप लाइन डालने के लिए सडक की दूसरी और किए गए खनन कार्य उपरांत बनाई गई सड़क अभी से डेमेज होने लगी है। कलेक्टर श्री सिंह ने मौके पर मौजूद नगरपालिका के अधिकारी को निर्देश दिए कि उक्त सड़क का निर्माण कार्य पूर्ण गुणवत्ता से होने के उपरांत ही भुगतान ठेकेदार को किया जाए। निरीक्षण के दौरान अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह, डिप्टी कलेक्टर श्री लोकेन्द्र सरल, लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन यंत्री श्री योगेन्द्र सिंह के अलावा अन्य अधिकारी व नगरपालिका के कर्मचारी तथा संबंधित ठेकेदार कंपनी के प्रतिनिधि साथ मौजूद थे। 

केन्द्रीय संयुक्त सचिव द्वारा विद्यालयों का औचक निरीक्षण

vidisha news
मानव संसाधन विकास मंत्रालय भारत सरकार के संयुक्त सचिव श्री सचिन सिन्हा ने आज विदिशा जिले के अनेक स्कूलों का औचक निरीक्षण कर शैक्षणिक गतिविधियों के साथ-साथ अध्ययनरत विद्यार्थियों को योजनाओ के तहत मुहैया कराई जाने वाली सुविधाओं का मौके पर जायजा लिया है। भ्रमण के दौरान जिला पंचायत सीईओ श्री मयंक अग्रवाल तथा राज्य शिक्षा केन्द्र भोपाल के द्वय उप निदेशक श्री एके पारिक एवं श्री आरके सिंह भी साथ मौजूद थे। संयुक्त सचिव श्री सिन्हा ने शमशाबाद में स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय में पहुंचकर विद्यालय के संचालन की जानकारियों का अवलोकन किया। वही विद्यालय की स्मार्ट क्लास में दीक्षा एप पर पढ़ाते हुए जानकारी प्राप्त की। संस्था के प्राचार्य श्री बीडी रामटेके ने विद्यालया की गतिविधियों से अवगत कराते हुए समस्याएं जैसे सड़क, बाउण्ड्रीवाल की ऊंचाई बढाने तथा अटल टिंकिरिंग भवन लैब भवन के अभाव से अवगत कराया है। संयुक्त सचिव श्री सिन्हा ने सुनपुरा में स्थित मीडिल एवं प्राथमिक स्कूल में पहुंचकर उत्कृष्टता की ओर पदोसोपान बढाने वाले इस स्कूल में किए गए प्रबंधो पर संतोष जाहिर किया। उन्होंने विद्यालय में और क्या-क्या सुविधाएं बच्चों को दे सकते है पर सुझाव जाने। संयुक्त सचिव श्री सिन्हा ने मध्यान्ह भोजन के लिए डायनिंग हाल, टेबिल पर बकायदा बच्चे खाना खाते मिले और यहां उन्होंने बच्चों से संवाद स्थापित कर मध्यान्ह भोजन की गुणवत्ता के संबंध में जानकारी ली। बच्चों की शैक्षणिक सुविधाओं के लिए किए गए प्रबंधो की भी जानकारियां प्राप्त की गई है। जिला शिक्षा अधिकारी श्री एसपी त्रिपाठी ने बताया कि केन्द्रीय संयुक्त सचिव श्री सचिन सिन्हा के द्वारा विदिशा जिले की जिन स्कूलों, कार्यालय मेंं पहुंचकर जायजा लिया गया है उनमें पिपलधार की कन्या छात्रावास, केन्द्रीय विद्यालय, नवोदय विद्यालय, सतपाडा में हायर सेकेण्डरी, माध्यमिक एवं प्राथमिक विद्यालय, सुनपुरा में माध्यमिक एवं प्राथमिक विद्यालय का तथा ग्यारसपुर विकासखण्ड में गोपालपुरा की प्राथमिक शाला एवं बरमढी की माध्यमिक शाला का अवलोकन कर शैक्षणिक गतिविधियों का जायजा लिया गया है इसके अलावा संयुक्त सचिव के द्वारा विदिशा डाइट कार्यालय में पहुंचकर विभागीय योजनाओं का पर्यवेक्षण एवं समीक्षा की है। 

कोरोना वायरस प्रभावित देशों से आने वालो पर सतत नजर, कलेक्टर द्वारा जिला स्तरीय प्रबंधो का जायजा

कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बुधवार को जिला स्तर पर नवीन कोरोना वायरस के संदर्भ में जन समुदाय को अवगत कराने, यदि कोई मरीज प्रारंभिक सूचना पर प्राप्त होता है तो उसकी देखभाल करने के लिए क्या प्रबंध किए गए है एवं क्या-क्या सावधानियां बरती जानी है कि समीक्षा कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में की। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि विश्व धरोहर साँची जिले के समीप है वहां आने वाले अन्य देशों खासकर कोरोना वायरस प्रभावित देशों से आने वालो पर सतत नजर रखी जाए और उन्हें बकायदा इस बात से अवगत कराया जाए कि यदि कही वे कोरोना वायरस से प्रभावित है तो उनक इलाज के लिए जिला स्तर पर क्या प्रबंध किए गए है। जिला चिकित्सालय में पृथक से एक वार्ड चिन्हित किया गया है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केसी अहिरवार ने इस दौरान बताया कि जिला मुख्यालय के साथ-साथ खण्ड मुख्यालयों पर संचालित होने वाले शासकीय अस्पतालों में कोरोना वायरस की रोकथाम के उपाय और रोग कैसे फैलता है से अवगत कराने हेतु हर संसाधनों का उपयोग किया जा रहा है। यदि कोई व्यक्ति विदेश से आता है तो उस पर 28 दिन तक लगातार सतत नजर रखी जा रही है। इस दौरान बरती जाने वाली सावधानियां, मास्क, दवाईयां इत्यादि की आपूर्ति की जा रही है। वही प्रभावित व्यक्ति के परिजन को क्या-क्या सावधानियां बरती जानी है से भी अवगत कराया जा रहा है। ऐसे व्यक्ति जिन्होंने पिछले 14 दिनों के दौरान कोरोना वायरस प्रभावित देश की यात्रा की है और उनमें अचानक बुखार, खाँसी अथवा साँस लेने में इस प्रकार के कोई एक लक्षण परलिक्षित होता है तो वे तत्काल अपने निकटतम शासकीय चिकित्सालय में सूचना देकर निःशुल्क जांच एवं उपचार अनिवार्यतः कराएं। सिविल सर्जन सह अधीक्षक डॉ संजय खरे ने बताय कि कि श्रीमंत माधवराव सिंधिया जिला चिकित्सालय की चौथी मंजिल में पृथक से एक आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है जिसमें गत दिवस कोरोना वायरस से संभावित होने के लक्षण आधार पर डेमो कर तैयारियों का जायजा लिया गया है। जिला स्तरीय नोडल अधिकारी डॉ शोएब खॉन ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा वायरस के संबंध में हेल्थ शिक्षा देने के प्रबंध सुनिश्चित किए है इसके लिए बकायदा स्कूलों, आंगनबाडी के साथ-साथ हाट बाजारों में प्रचार-प्रसार के माध्यम से आमजनों को अवगत कर कोरोन वायरस क्या है, कैसे फैलता है, क्या सावधानियां बरते और शासकीय चिकित्सालयों में इलाज के प्रबंधो से अवगत कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि 15 जनवरी के उपरांत कोरोना वायरस प्रभावित देशों से आने वालो पर सतत नजर रखी जा रही है। इसके लिए जिला स्तर पर नोडल अधिकारी डॉ आरएल सिंह को नियुक्त किया गया है। ततसंबंध में किसी भी प्रकार की जानकारी प्राप्त करने के लिए न्यू देहली के कंट्रोल रूम 01123978046 अथवा मध्यप्रदेश के टोल फ्री नम्बर 104 पर सम्पर्क कर सूचित किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि जिले में कोरोना वायरस के संबंध में किसी भी प्रकार के अब तक लक्षण नही पाए गए है फिर भी एहतियात और सतर्कता बरती जा रही है। बाहर से आने वाले की निगरानी 28 दिनों तक की जा रही है और फार्म-ए में उनकी हर रोज की जानकारियां स्वास्थ्य विभाग को प्रेषित की जा रही है। उन्होंने सामान्य रोग एवं बचाव के उपायों से भी अवगत कराया। जिला स्तरीय सतर्कता, मूल्यांकन समिति की उक्त बैठक में अटल बिहारी वाजपेयी मेडीकल कॉलेज के प्रतिनिधिगण, समस्त बीएमओ समेत स्वास्थ्य विभाग के अन्य अधिकारियों के अलावा डिप्टी कलेक्टर श्री लोकेन्द्र सिंह सरल भी मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...