बिहार : पहले दुखभोग काल और अब कोरोना काल होने से विवाह होने में दिक्कत - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 15 अप्रैल 2020

बिहार : पहले दुखभोग काल और अब कोरोना काल होने से विवाह होने में दिक्कत

ईसाई समुदाय को दुखभोग काल मार दिया और जो बचा है कोरोना संक्रमणकाल ने मार दिया..
dukhbhog-bihar
चेलिडंगाल,15 अप्रैल। ईसाई समुदाय का दुखभोग व पवित्र सप्ताह खत्म हो गया। खजूर रविवार,पुण्य वृहस्पतिवार ,पुण्य शुक्रवार और पुण्य शनिवार का धार्मिक समारोही आयोजन को यू ट्यूब पर सीधा प्रसारण किया गया। उसी तरह ईस्टर संडे को भी सीधा प्रसारण किया गया। आसनसोल धर्मप्रांत के संत जोंस पल्ली अन्तर्गत चेलिडंगाल में रहने वाली जैस्मिन साह ने कहा कि पल्ली पुरोहित फादर डोल्फिन ने हरेक दिन मिस्सा करने का आग्रह स्वीकार कर लिये हैं। अब लॉकडाउन पार्ट -2 में शाम 5:30 बजे से डेली मास की सीधा प्रसारण यू ट्यूब पर होगा।ऐसा करके संत जोंस पल्ली प्रथम पल्ली बन गया है। संत जोंस पल्ली व चेलिडंगाल के भक्तों के बीच जनवकालत करने वाले यूथ एनिमेटर बंटी थोमस पीटर ने कहा कि यहां के सभी तबके के लोग और फादर डोल्फिन ने भी कहा कि देश में संपूर्ण लॉकडाउन है,उसे हमलोग पूर्णत: पालन कर रहे हैं। भक्तगण इसके चलते चर्च नहीं आ रहे हैं। अब तो इसको तीन मई तक बढ़ा दिया गया है। जनप्रिय फादर डोल्फिन ने निश्चय किया है तबतक हरेक दिन संध्या समय मिस्सा का सीधा प्रसारण होगा। ऐसा करने से अधिक से अधिक लोग चर्च से जुड़े रहेंगे और प्रभु येसु ख्रीस्त से नोवल कोरोना से पीड़ित लोगों के लिए दुआ करते रहेंगे। खुद भी सीधा प्रसारण से आध्यात्मिक लाभ उठाएंगे। बता दें ईसाई समुदाय दुखभोग काल के चालीस दिन विवाह नहीं करते हैं।विवाह करने सिलसिला ईस्टर मंडे से शुरू हो जाता है। इस साल संपूर्ण लॉकडाउन के कारण शुरू नहीं हो सका। ईसाई समुदाय को दुखभोग काल मार दिया और जो बचा है कोरोना संक्रमणकाल ने मार दिया।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...