सरायकेला में उद्योग खोले जाने की प्रशासन से मांगी अनुमति, कहा- लॉकडाउन का होगा अनुपालन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 29 अप्रैल 2020

सरायकेला में उद्योग खोले जाने की प्रशासन से मांगी अनुमति, कहा- लॉकडाउन का होगा अनुपालन

सरायकेला में औद्योगिक क्षेत्र के तकरीबन 73 कंपनियों ने जिला प्रशासन से कंपनियां खोले जाने की इजाजत मांगी है. कंपनियों ने इससे संबंधित मांगपत्र जिला प्रशासन के साथ-साथ झारखंड औद्योगिक क्षेत्रीय विकास प्राधिकार को भी सौंपा है. 
industry-will-open-jamhsedpur
सरायकेला (आर्यावर्त संवाददाता) राष्ट्रीय आपदा कोरोना वायरस संक्रमण के बीच जिले के औद्योगिक क्षेत्र की तकरीबन 73 कंपनियों ने जिला प्रशासन से कंपनियां खोले जाने की इजाजत मांगी है. उद्योग खोले जाने वाले कंपनियों ने संबंधित मांगपत्र जिला प्रशासन के साथ-साथ झारखंड औद्योगिक क्षेत्रीय विकास प्राधिकार को भी सौंपा है. जिसमें उद्योग चलाए जाने की अनुमति के साथ लॉकडाउन की अवधि में सरकारी नियमों के पालन किए जाने की भी सहमति जतायी गयी है. लॉकडाउन के अवधि में औद्योगिक क्षेत्र के कंपनियों को खोले जाने के मामले में जिले के उपायुक्त कार्यालय के निर्देश पर झारखंड क्षेत्रीय विकास प्राधिकार ज्यादा से इस मामले में मंतव्य मांगा गया है. वहीं, आवश्यक शर्तों के साथ चुनिंदा कंपनियों को संचालन के लिए सभी शर्त और नियमों के अनुपालन किए जाने का भी आदेश दिया गया है. रांची में विगत दिनों राज्य आपदा प्रबंध विभाग टास्क फोर्स की बैठक में संबंधित मुद्दों पर चर्चा हुई थी, इस दौरान बैठक में सरायकेला जिले में केस 2 केस बेसिस पर उद्योगों को अनुमति प्रदान किए जाने पर भी चर्चा हुई. जिसमें आवश्यक सेवाओं से संबंधित उद्योग धंधों को अनुमति प्रदान किए जाने पर पूर्व में ही सहमति बन चुकी है. हालांकि आवश्यक सेवा से अलग संबंधित उद्योगों को अब तक इस संबंध में कोई स्पष्ट निर्देश नहीं दिया गया है और वैसे उद्योगों ने अपने-अपने उद्योग और इकाई संचालन की अनुमति मांगी है. लॉकडाउन के दौरान उद्योग संचालित किए जाने के मामले पर सरकार और उद्योग विभाग द्वारा पूर्व में ही स्थिति साफ कर दी गई है. जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग के साथ स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर का पालन किए जाने की बात कही गई है. इधर, आवेदन किए तकरीबन 73 कंपनियों ने सोशल डिस्टेंसिंग और एसओपी अपनाए जाने का लिखित आश्वासन दिया है ताकि जल्द से जल्द आवश्यक उद्योगों को शुरू किया जा सके.

कोई टिप्पणी नहीं: