बिहार : जिला प्रशासन ने खाजपुरा को Containment zone घोषित किया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 27 अप्रैल 2020

बिहार : जिला प्रशासन ने खाजपुरा को Containment zone घोषित किया

khajpura-patna-Containment-zone
पटना,26 अप्रैल। राजधानी पटना के खाजपुरा तो कोरोना वॉरियस लोगों के लिए खास बन गया है।यहां पर अभी तक सोलह कोविड-19 मामलों को देखकर जिला प्रशासन पटना के द्वारा इस इलाके को Containment zone घोषित कर दिया है। पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी गयी है।खाजपुरा के संक्रमितों की संख्या 20 हो चुकी है।  बता दें कि कोरोना संक्रमण राजधानी पटना के नए इलाकों में पांव पसार रहा है। जिससे स्थिति गंभीर होती दिख रही है। इस बीच हॉट-स्पॉट बने खाजपुरा सहित सभी इलाकों को सील कर लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराया जा रहा है। अभी तक राजधानी में कुल 33 कोरोना पॉजिटिव केस मिल चुके हैं। इनमें से पांच कोरोना मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। वहीं प्रशासन ने खाजपुरा सहित संक्रमण वाले सभी हॉट स्पॉट इलाकों को सील कर सैनिटाइज कराया है। आशियाना मोड़ से लेकर जगदेव पथ, डाकबंगला चौराहा और पटेल नगर के रोड नंबर पांच को सील कर दिया गया है। वहां सैनिटाइजेशन का काम लगातार जारी है। पुलिस की सख्ती भी बढ़ गई है। इस बीच रविवार को पीएमसीएच में एक महिला की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद हंगामा खड़ा होने की सूचना है। उसके नवजात बच्चे का भी सैंपल लिया गया है। साथ ही बीती रात मिले बेउर के कोरोना पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आए पांच डॉक्टर व पांच अन्य स्वास्थ्यकर्मियों के भी सैंपल जांच के लिए गए हैं। बता दें पटना में कोरोना संक्रमण के हॉट-स्पॉट इलाकों में लगातार नए मरीज मिल रहे हैं, वहीं संक्रमण नए इलाकों में भी फैलता दिख रहा है। शनिवार को राजधानी के बेउर इलाके के तीन मरीज कोरोना संक्रमण के शिकार मिले। वहीं देर रात मिले खाजपुरा के चार नए संक्रमितों में एक सब्जी बिक्रेता है। सब्जी विक्रेता के सामाजिक संपर्क को देखते हुए उसके ग्राहकों की भी खोज की जा रही है। खाजपुरा के संक्रमितों की संख्या 20 हो चुकी है। वहीं पटना में एटीएम में कैश लोड करने वाली एजेंसी सीएमएस के जगदेव पथ निवासी एक मैनेजर से भी संक्रमण की चेन बनी है। इस चेन में रोगियों की संख्या 21 हो गई है। उधर, पटना के हृदयस्थली डाकबंगला चौराहा स्थित एक बैंक के मैनेजर को भी संक्रमित पाया गया है। इसके बाद डाकबंगला स्थित बैंक आफ बड़ौदा, एचडीएफसी, कॉरपोरेशन व आइडीबीआइ बैंकों के 60 से अधिक कर्मचारियों ने शनिवार को कोरोना जांच के लिए नमूने दिए। इनमें से सर्वाधिक 41 नमूने बैंक आॅफ बड़ौदा से लिए गए। इन सभी के एटीएम में सीएमएस एजेंसी ही पैसे डालती थी। राजा बाजार फ्लाईओवर के पिलर नंबर 37 से पिलर नंबर 11 तक का रास्ता शुक्रवार की दोपहर सील कर दिया गया है। यहां से अब इमरजेंसी सेवा छोड़कर किसी प्रकार के वाहनों के आवागमन पर रोक लगा दी गई है। इसके साथ ही लॉकडाउन का पालन करान के लिए जगदेवपथ में 12 जवानों की तैनाती की गई है। मीडिया को भी प्रतिबंधित क्षेत्र में आने जाने की इजाजत नहीं दी जा रही है। खाजपुरा की 8 गलियों में 20 जवानों तैनाती की गई है। मोहल्ले में दो घरों में मिले पीड़ित के आसपास के आठ घरों से किसी को भी बाहर निकलने की इजाजत नहीं दी जा रही है। आशियाना मोड़ से जगदेवपथ मुख्य मार्ग को पूरी तरह सील कर दिया गया है। सिर्फ प्रशासन और एम्बुलेंस को आने जाने की छूट मिली है। इसके अलावा पैदल आने-जाने वालो को भी पुलिस रोक रही है। राजधानी के कंकड़बाग अंचल में सबसे ज्यादा लोग होम क्वारंटाइन किए गए हैं। यहां 200 से अधिक का आंकड़ा पार कर गया है। इन सभी घरों के बाहर होम क्वारंटाइन का बोर्ड लगा है। इसके बाद पटना सिटी और नूतन राजधानी अंचल का नंबर है। सीएमएस एजेंसी के कैश वैन चालक की कोरोना संक्रमित का उपचार करने वाले ईएसआइसी हॉस्पिटल के पास स्थित चांदसी दवाखाने के डॉक्टर की रिपोर्ट निगेटिव आई है। वहीं खाजपुरा के संक्रमित युवक के एक बुजुर्ग पड़ोसी में सर्दी-खांसी व सांस लेने में तकलीफ को देखते हुए उसे क्वारंटाइन किया गया है। रामनगरी मोड़ के पास से भी एक बुजुर्ग को जांच के लिए भेजा गया है। कोरोना वायरस के संक्रमण चेन को रोकने के लिए लगाए गए डॉकडाउन फेज- 2 का आज 12वां दिन है। बिहार में कोरोना के मरीजों की संख्या 274 हो गई है। 22 अप्रैल को 17, 23 अप्रैल को 27, 24 अप्रैल को 53, 25 अप्रैल को 28 और 26 अप्रैल को 23 मरीज मिले हैं।पिछले 5 दिनों में 148 नए मरीजों की पुष्टि हुई है। राज्य में कोरोना के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। एक सप्ताह पहले तक 13 जिले इस बीमारी की चपेट में थे और 86 मरीजों की पुष्टि थी।  जो बढ़कर 21 जिले में पांव जमाकर 274 मरीजों तक पहुंच गया।  आधा राज्य इस बीमारी की चपेट में आ चुका है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...