मंत्रियों-सांसदों के वेतन में 1 साल तक होगी 30 फीसदी की कटोती - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 6 अप्रैल 2020

मंत्रियों-सांसदों के वेतन में 1 साल तक होगी 30 फीसदी की कटोती

लॉकडाउन को लेकर प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि हम हर मिनट दुनिया की स्थिति की निगरानी कर रहे हैं। राष्ट्रहित में निर्णय लिया जाएगा। अधिकारियों के कई समूह स्थिति का आंकलन कर रहे हैं….
minister-mla-mp-salary-30-precent-cut
पटना, 06 मार्च। केंद्र सरकार ने सोमवार को कोरोना से लड़ने के लिए एक बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने प्रधानमंत्री समेत सभी कैबिनेट मंत्रियों और सांसदों के वेतन में एक अप्रैल से 30 फीसदी की कटौती करने का फैसला लिया है। यह कटौती एक साल तक रहेगी। वहीं सांसद को मिलने वाले  2022-21 और 2021- 22 सांसद निधि को स्थगित कर दिया गया है।यह कटौती दो साल तक रहेगी।केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कैबिनेट के इस फैसले की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इसके लिए केंद्र सरकार सोमवार को ही एक अध्यादेश जारी कर दी है।केंद्रीय मंत्रिमंडल ने संसद अधिनियम, 1954 के तहत इसके सदस्यों के वेतन, भत्ते और पेंशन में संशोधन के अध्यादेश को मंजूरी दी है। इसके तहत एक अप्रैल, 2020 से एक साल के लिए भत्ते और पेंशन को 30 फीसदी तक कम किया जाएगा। इसके पूर्व ही केन्द्रीय मत्स्यपालन,पशुपालन एवं डेयरी मंत्री गिरिराज सिंह ने अपनी सैलरी से 1 लाख पीएम केयर्स फंड में दे दिया है। सभी से सांसद से प्रार्थना किए थे कि अपने सामर्थ्य के अनुसार इसमें उदारता पूर्वक दान करें। इसे सरकार ने कैबिनेट से मंजूरी लेकर एक साल के लिए भत्ते और पेंशन को 30 फीसदी तक कम कर दिया है। बता दें कि बिहार में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए बीजेपी के सांसद गिरिराज सिंह की चिंता बढ़ गई है। केंद्रीय मंत्री ने एक बड़ा निर्णय लेते हुए सांसद निधि से 50 लाख की राशि के विमुक्ति की घोषणा की थी। बेगूसराय सीट से भाजपा सांसद गिरिराज सिंह ने अपने सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास निधि से कोरोना वायरस ( कोविड - 19 ) के रोकथाम एवं इलाज में प्रयुक्त होने वाले वेंटीलेटर एवं सामग्रियों के लिए जिला बेगूसराय हेतु रूपये 50 ,00,000/- ( रूपये पचास लाख मात्र ) की राशि विमुक्त कर दिया है। इसको केन्द्रीय मत्स्यपालन,पशुपालन एवं डेयरी मंत्री सह बेगूसराय सांसद गिरिराज सिंह ने सांसद विकास निधि से बेगूसराय के लोगों को समर्पित 50,00,000 रूपए अनुशंसा कर दी है। जिला पदाधिकारी बेगूसराय को विमुक्त करने का निर्देश दिया है। यह राशि निश्चित तौर पर वैश्विक महामारी के इस दौर में आम लोगों को आवश्यक सुविधा की वस्तुओं को मुहैया कराने में महती की भूमिका का निर्वाह करेगी।  भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष से जेपी नड्डा के आह्वान पर बतौर भाजपा सांसद प्रधानमंत्री राहत कोष में भी एक करोड़ के राशि की अनुशंसा के माध्यम से सांसद में अपनी सेवा के भाव को दशार्या है साथ ही अपने निजी कोष से प्रधानमंत्री राहत कोष में 1,00,000 का दान देकर आम लोगों से अपील करते हुए कहा कि इस वैश्विक महामारी के दौर में प्रधानमंत्री एवं संपूर्ण सरकार को सहयोग करें।भाजपा सांसद ने सांसद निधि से राशि की घोषणा करने के साथ-साथ कोरोना से लड़ाई लड़कर उसे हारने की भी बात कही। उन्होंने साथ मिलकर इस जानलेवा बीमारी से लड़ाई लड़ने की बात कही है। उन्होंने जनता से अपील की कि बेवजह कोई भी व्यक्ति अपने घरों से बाहर नहीं निकले। इससे पहले गिरिराज सिंह ने ट्वीट कर अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की थी। उन्होंने बताया था कि बिहार सरकार के स्वास्थ्य विभाग के प्रिंसिपल सेक्रेटरी से हुई थी।उन्होंने जानकारी दी है कि कोरोना वायरस की जांच हेतु 10000 किट उपलब्ध हैं। कोरोना वायरस से लड़ने एवं इसके रोकथाम हेतु अपनी सांसद निधि से 1 करोड़ रूपए प्रधानमंत्री सहायता कोष वित्तिय वर्ष 2020-21 से दे रहा हूं। कुल ढाई करोड़ दिये।

कोई टिप्पणी नहीं: