झारखंड में आईपीएस के तबादलों पर बोले सांसद विद्युत वरण महतो, लॉकडाउन में नहीं होना चाहिए ट्रांसफर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 30 अप्रैल 2020

झारखंड में आईपीएस के तबादलों पर बोले सांसद विद्युत वरण महतो, लॉकडाउन में नहीं होना चाहिए ट्रांसफर

कोरोना वायरस को लेकर किए गए लॉकडाउन में झारखंड में बड़े पैमाने पर आईपीएस का तबादला हुआ है. जबकि एक जिले से दूसरे जिलों में जाने पर रोक लगी हुई है. ऐसे में जमशेदपुर लोकसभा के सांसद ने कहा है कि वर्तमान हालात को देखते हुए कोरोना मामले में ट्रांसफर नहीं होना चाहिए.
no-transfer-in-lock-downजमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता) : देश आज महामारी के संकट के दौर से गुजर रहा है. लॉकडाउन के जरिए लोगों को घरों में रहने की अपील की जा रही है. सोशल डिस्टेंस बनाए रखने की अपील की जा रही है. वहीं, झारखंड में बीते 2 दिन पहले बड़े पैमाने पर आईपीएस का तबादला हुआ है. एक तरफ सरकार आम जनता को विकट परिस्थिति में दूसरे जिलों में जाने से मना कर रही है. वहीं, ऐसे माहौल में आईपीएस के तबादले पर जमशेदपुर लोकसभा के सांसद विद्युत वरण महतो ने कहा है कि यह एक प्रक्रिया है. वर्तमान हालात को देखते हुए ट्रांसफर पोस्टिंग नहीं होना चाहिए. हालांकि सांसद ने कहा है कि सरकार ने जो किया है सोच समझकर ही किया होगा, लेकिन नए लोगों के नए जगह जाने पर वहां की स्थिति को समझने में वक्त लगेगा.

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...