सरयू राय को शहर आने की अनुमति नहीं मिलने से समर्थक नाराज, लोगों की कर रहे मदद - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 29 अप्रैल 2020

सरयू राय को शहर आने की अनुमति नहीं मिलने से समर्थक नाराज, लोगों की कर रहे मदद

जमशेदपुर में जारी लॉकडाउन में विधायक सरयू राय के भतीजे सह भारतीय जन मोर्चा के सदस्य ने नन्हे बच्चों के दूध और मेडिकल सेवा के लिए हेल्प लाइन नंबर जारी किया गया है. साथ ही भारतीय जन मोर्चा के कार्यकर्ता क्षेत्र के विधायक सरयू राय को रांची से शहर में आने की अनुमति नहीं मिलने से उनमें नाराजगी है. 
saryu-rai-suporter-helping-people
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता) कोरोना को लेकर जारी लॉकडाउन में विधायक सरयू राय रांची में फंसे हैं. लेकिन उनके दिशा- निर्देश पर भारतीय जन मोर्चा के कार्यकर्ता संकल्प के साथ क्षेत्र में गरीब, असहाय और मजदूरों को भोजन मुहैया करा रहे हैं. विधायक सरयू राय के भतीजे सह भारतीय जन मोर्चा के सदस्य ने बताया कि नन्हें बच्चों के दूध और मेडिकल सेवा के लिए हेल्प लाइन नंबर जारी किया गया है और बच्चों को दूध मुहैया कराई जा रही है. देशव्यापी लॉकडाउन में जमशेदपुर पूर्वी विधानसभा क्षेत्र के विधायक सरयू राय के निर्देश पर बिस्टुपुर स्थित कार्यालय से क्षेत्र में गरीब, असहाय और मजदूरों को प्रतिदिन भोजन मुहैया कराई जा रही है. भारतीय जन मोर्चा के कार्यकर्ता क्षेत्र के विधायक सरयू राय को रांची से शहर में आने की अनुमति नहीं मिलने से उनमें नाराजगी है. वहीं, भारतीय जन मोर्चा के सदस्य संकल्प के साथ प्रतिदिन 6000 के लगभग लोगों को भोजन के अलावा अनाज मुहैया करा रहे हैं. गौरतलब है कि लॉकडाउन होने से जमशेदपुर पूर्वी विधानसभा के विधायक सरयू राय रांची में फंसे हैं. वहीं, सरकार से अनुमति मांगे जाने के बावजूद उन्हें अपने क्षेत्र में आने की अनुमति नहीं मिली है. जमशेदपुर में विधायक सरयू राय के भतीजे और भारतीय जन मोर्चा के सदस्य आशुतोष राय ने बताया कि वर्तमान हालात में झारखंड सरकार के जरिए सरयू राय को शहर आने की अनुमति नहीं दी गई है, जबकि ऐसे समय में जनप्रतिनिधियों को उनके क्षेत्र में जनता के बीच रहना चाहिए, जिससे उनकी समस्याओं का निदान किया जा सके. उन्होंने बताया है कि विधायक के नहीं होने के बावजूद हमलोगों ने संकल्प के साथ क्षेत्र में छह हजार के लगभग गरीब असहाय मजदूरों को भोजन और अनाज मुहैया करा रहे हैं. इसके अलावा नन्हे बच्चों के लिए दूध उपलब्ध कराया जा रहा है. इसके लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है और मेडिकल सेवा के लिए भी हेल्पलाइन नंबर जारी की गई है.

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...