सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 22 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 23 अप्रैल 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 22 अप्रैल

अफवाह में जिस पुलिसकर्मी का जिक्र,वह सीहोर नहीं भोपाल में पदस्थ तथा निवासरत्सी होर में अब तक एक भी कोरोना संक्रमित मरीज नहीं

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर सुधीर कुमार डेहरिया ने जानकारी देते हुए बताया कि भोपाल के तलैया पुलिस थाने में पदस्थ श्री जितेन्द्र कुमार कोरोना वायरस से पॉजिटिव पाए गए हैं। उनका सैंपल 16 अप्रैल 2020 को भोपाल में लिया गया था जहां 22 अप्रैल को उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।   उन्होंने बताया कि श्री जितेन्द्र कुमार का पैतृक निवास सीहोर के जनता कॉलोनी में है तथा पिछले कई दिनों से उनका सीहोर आना-जाना नहीं हुआ है। जितेन्द्र कुमार की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के उपरांत उन्हें भोपाल के चिकित्सालय में आइसोलेशन में रखकर इलाज कराया जा रहा है। श्री डेहरिया ने बताया कि जितेंद्र के भोपाल में पॉजिटिव पाए जाने की जानकारी प्राप्त होते ही स्वास्थ्य विभाग सीहोर के दल द्वारा 22 अप्रैल बुधवार को जितेन्द्र कुमार के पैतृक निवास जनता कॉलोनी सीहोर पहुंचकर परिवार के सभी कुल 13 सदस्यों के सैंपल लिए गए तथा जांच के लिए भोपाल भेजे गए हैं परिवार के सभी सदस्यों को क्वॉरेंटाइन कर दिया गया है साथ ही उन्हें सख्त हिदायत दी गई है कि क्वॉरेंटाइन के सभी नियमों का कड़ाई से पालन करें।

दीनदयाल रसोई योजना से की जा रही है अनेक परिवारों के भोजन की व्यवस्था

sehore news
कलेक्टर श्री अजय गुप्ता के निर्देशानुसार बस स्टैंड स्थित दीनदयाल रसोई से प्रतिदिन मजदूर और कमजोर वर्ग के परिवारों को घर-घर जाकर नियमित रुप से भोजन पहुंचाया जा रहा है। भोजन की गुणवत्ता जिला खाद्य अधिकारी द्वारा प्रतिदिन जांच की जा रही है वह स्वयं भी यहां निर्मित भोजन को खाकर गुणवत्ता को पर ध्यान रखते हैं। खाद्य अधिकारी श्री अनिल शर्मा ने बताया कि संपूर्ण जिले में शासन और समाजसेवी संस्थाओं द्वारा कमजोर वर्ग के लोगों के लिए की जा रही व्यवस्थाओं पर विभाग द्वारा सतत निगरानी रखी जा रही है और आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए सहयोग किया जा रहा है। नगर पालिका के अमले द्वारा नगर के हर क्षेत्र में जहां कमजोर और मजदूर वर्ग के लोग रह रहे हैं तैयार भोजन का वितरण किया जा रहा है। यहां प्रतिदिन लगभग 3 से 5 हजार लोगों के लिए भोजन तैयार होता है इसके अलावा अनेक लोग बस स्टैंड स्थित रसोई में आकर भी भोजन ग्रहण कर रहे हैं।

लॉकडाउन में बाहर से फंसे हुए लोगों को दिया जाएगा राशन   

जिला आपूर्ति अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि संचालक खाद्य नागरिक आपूर्ति उपभोक्ता संरक्षण संचनालय के आदेश अनुसार कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम हेतु लॉकडाउन अवधि में आवागमन के साधनों को बंद किए जाने के कारण जो परिवार अपने निवास स्थान से अन्यत्र रुके हुए है अथवा अन्य बे-घर, बे-सहारा व्यक्तियों भोजन के लिए खाद्यान्न (गेहूं एवं चावल) उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से नि:शुल्क प्रदाय कराए जाने के आदेश जारी किए गए हैं। कलेक्टर श्री अजय गुप्ता के निर्देशानुसार जिले को 2 हजार क्विंटल खाद्यान्न (गेहूं एवं चावल) का आवंटन किया गया है। जिले की समस्त उचित मूल्य दुकानों से इन परिवारों को नि:शुल्क खदान का वितरण कराया जा रहा है।

सौदा पत्रक के माध्यम से किसाना बेच सकते हैं अपनी उपज  

कृषि उपज मंडी समिति सचिव ने जानकारी देते हुए बताया कि राज्य शासन के निर्देशानुसार कृषि उपज मंडी समिति द्वारा कृषक अपनी उपज सौदा पत्रक के माध्यम से विक्रय कर सकेंगे। इस व्यवस्था के अन्तर्गत कृषि उपज के नमूना के आधार पर व्यापारी व कृषक की अपनी सहमति से उपज का भाव निर्धारित करेंगे तथा सौदा पत्रक मंडी समिति द्वारा जारी किया जाएगा। कृषकों का अपनी उपज सौदा पत्रक अनुसार संबंधित व्यापारी की दुकान पर तुलवाने के उपरांत उसी दिन नगद भुगतान किया जाएगा। मंडी समिति द्वारा चार फर्मो को विशिष्ट अनुज्ञप्ति (खरीदी केन्द्र)मंडी प्रांगण के बाहर कृषि उपज क्रय करने के लिए प्रदान की गई है। जिनमें मेसर्स राजमल अनोखीलाल खंडेलवाल एसपी निवास के सामने, मेसर्स चांडक एजेंसी मंडी थाना के सामने, मेसर्स कमला एजेंसी एवं मेसर्स फ्रुड प्रोडक्ट इंस्ट्रीय ऐरिया मंडी सीहोर है तथा पूर्व में दो क्रय केन्द्र श्यामपुर रोड पर स्थित हैं जिनमें मेसर्स चंपा किसान चौपाल व मेसर्स राज राजेश्वरी चौपाल द्वारा कृषाकों की उपज क्रय की जा रही है तथा आईटीसी लिमिटेड सागर चौपाल इन्दौर रोड पर भी कृषि उपज क्रय की जा रही है। कृषि उपज मंडी समिति द्वारा किसानों से अपील की गई है कि किसान अपनी उपज इन खरीदी केन्द्रों पर विक्रय कर सकते हैं। किसानों का अपनी उपज बेचने में, तुलाई व भुगतान के संबंध में किसी भी प्रकार की समस्या, परेशानी या शिकायत हो तो वे मंडी प्रांगण में शिकायत केन्द्र पर संपर्क कर सकते हैं।  

पिछले 24 घंटों में की गई 604 लोगों की स्क्रीनिंग  

sehore news
स्वास्थ्य विभाग के अमले द्वारा मैदानी स्तर पर ग्राम एवं शहरी वार्डो में निरंतर घर-घर सर्वे कर विदेश से सीहोर जिले में लौटे तथा अन्य जिलों व राज्यों से व्यक्तियों की खोजबीन की जा रही है। पिछले 24 घंटे के दौरान जिले में अन्य राज्यों व अन्य जिलों से आए हुए करीब 604 व्यक्तियों की पहचान व पता लगाकर उनकी तत्काल स्क्रीनिंग की गई तथा उन्हें होम क्वारेंटाईन किया गया है। सीहोर जिले में अन्य जिलों अथवा राज्यों से लौटे हुए यात्रियों की संख्या अब तक कुल 28841 है। उन्हें होम कोरेंटाईन से संबंधित गाईड लाईन की जानकारी प्रदान कर सख्त हिदायत दी गई है कि होम कोरेंटाइन गाइड लाइन का कड़ाई से पालन करेंगे। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुधीर डेहरिया ने जानकारी दी कि जिले में अन्य देशों से सीहोर पहुंचे कुल व्यक्तियों की संख्या 232 है जिनमें से 184 लोगों की अब तक स्क्रीनिंग स्वास्थ्य विभाग द्वारा की जा चुकी है। पिछले 24 घंटों के दौरान 604 ऐसे व्यक्तियों की पहचान की गई जो अन्य राज्यों और अन्य जिलों से लौटे थे इन सभी व्यक्तियों की तत्काल स्क्रीनिंग कर इन्हें 22 अप्रैल को ही होम कोरेंटाईन कर दिया गया है जिले में अब तक होम कोरेंटाईन किए गए व्यक्तियों की संख्या 28841 है। डॉ.डेहरिया ने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान ऐसे व्यक्ति जो विदेश से सीहोर जिले में नहीं लौटे थे परंतु अन्य जिलों एवं राज्यों से लौटे थे और विभागीय अधिकारियों कर्मचारियों द्वारा घर-घर सर्वे के दौरान चिन्हित किए गए। पिछले 24 घंटों में होकोंरेटाईन की अवधि से 899 लोग बाहर आ चुके हैं जबकि अब तक कुल 22286 व्यक्तियों का होम कोरेंटाइन पूर्ण किया जा चुका है। जिले से अब तक 160 सेम्पल जांच के लिए भेजे गए थे जिनमें से 100 की रिपोर्ट अब तक निगेटिव प्राप्त हुई है। बुधवार को ही 29 सेम्पल जांच के लिए भोपाल भेजे गए है। 29 सेंपलों सहित कुल 56 सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। आज की स्थिति में हास्पिटल आईसोलेशन में भर्ती मरीजों की संख्या, कोरोना संक्रमण पाजीटिव मरीजों की संख्या शून्य है। विभाग की ओर से मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय में जिला स्तरीय नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर 7247704181 है इस नंबर पर बाहर से बाहर से आए हुए व्यक्तियों की जानकारी 24 घंटे दी जा सकती है। वहीं कलेक्ट्रेट कार्यालय में भी 24 घंटे के लिए काल सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 9893635076 है इस नंबर पर संपर्क कर कोविड-19 के संबंध में किसी प्रकार की सलाह ली जा सकती है 24 घंटे संचालित उक्त काल सेंटर में चिकित्सा अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है जिनके द्वारा विदेश, अन्य राज्यों व जिलों से आकर होम कोरेंटाइन किए गए व्यक्तियों को फोनकर  प्रतिदिन फीडबैक लिया जाता है तथा इसकी जानकारी जिला स्तरीय नोडल अधिकारी, संबंधित ब्लाक मेडिकल आफिसर को तत्काल दी जाती है। वहीं जिला चिकित्सालय सीहोर में टेलीमेडिसिन सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562-401259 है यहां पर टेलीमेडिसिन के संबध में उचित सलाह ली जा सकती है।

06 माह से 06 वर्ष के बच्चो एवं गर्भवती तथा किशोरी बालिकाओं को पोषण आहार प्रदाय करने के निर्देश  

महिला एवं बाल विकास आयुक्त द्वारा सभी कलेक्टर्स को नोवेल कोरोना वायरस कोविड-19 से संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए प्रदेश में समस्त आंगनवाड़ी केन्द्रों को टोटल लॉकडाउन की बढ़ाई गई अवधि तक बन्द करने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही आगामी दिशा निर्देश तक 06 माह से 06 वर्ष आयु वर्ग के बच्चे एवं गर्भवती, धात्री माताओं एवं किशोरी बालिकाओं को पूरक आहार को निर्बाध रूप से प्रदाय किए जाने के निर्देश दिए हैं। इसके लिए समस्त पात्र हितग्राहियों को प्रत्येक 15 दिवस के अंतराल में पूरक पोषण आहार प्रदाय किया जाना सुनिश्चित किया जाए।

म.प्र. में कोरोना की रोकथाम में मददगार हो रही है सूचना प्रौद्योगिकी  

कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने में सबसे जरुरी शर्त सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने में सूचना प्रौद्योगिकी का उपयोग मददगार साबित हो रहा है। विभिन्न जिलों से  सूचना प्रौद्योगिकी आधारित  सेवाओं देने  के नवाचारी उपायों के उदाहरण सामने आ रहे हैं। आम लोग घर पर रहकर इन उपायों और सुविधाओं का  बेहतर उपयोग कर रहे है। सूचना प्रौद्योगिकी आधारित नवाचारों को बढ़ावा देने  वाले मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान  स्वयं वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से महत्वपूर्ण  समीक्षा बैठकें ले रहे हैं। समाज के विभिन्न क्षेत्रों के लोगों से  कोरोना को हराने के लिए सलाह-मशविरा कर रहे हैं। किसानों को एसएम्एस देकर फसल भण्डारण के लिये बुलाया जा रहा है। आरोग्य सेतु एप,  सीएम हेल्पलाइन 181,  टेलीमेडिसिन, सर्व ग्वालियर एप,  जैसे कई नवाचारी प्रयास   उपयोगी सिद्ध हो रहे हैं। स्कूल शिक्षा विभाग का  मोबाइल एप "टॉप पैरंट" विद्यार्थियों को घर पर रहकर पढ़ाई जारी रखने में मददगार साबित हो रहा है। थ्रीजी लैप-आपकी पढ़ाई-आपके घर योजना के माध्यम से 12 वीं तक के विद्यार्थी अंग्रेजी, हिंदी, गणित और विज्ञान आदि विषयों की अध्ययन सामग्री  व्हाट्सएप पर ही प्राप्त कर रहे हैं। जनसम्पर्क विभाग ने फेसबुक के सहयोग से एमपी गव्हर्नमेन्ट कोरोना व्हॉट्सएप इन्फोडेस्क और विभाग के आधिकारिक फेसबुक मैसेंजर चैटबॉट तैयार कराया  है। कोरोना व्हॉट्सएप हेल्पडेस्क (917834980000) और मैसेंजर चैटबॉट आसानी से कोरोना वायरस संक्रमण से जुड़ी जानकारी मिल रही है। सीएम हेल्प लाइन 181 पर करीब 2.77 लाख लोगो को कोरोना संक्रमण से सम्बंधित जानकारी मिली। इस सेवा का उपयोग लगातार जारी है। सामान्य प्रशासन विभाग ने  ई-मेल, ई-आफिस और एनआईसी से जारी आदेश, पत्राचार, स्वीकृति एवं पत्राचार को मान्य किया है।

गेंहू खरीदी व्यवस्था का विधायक राय ने किया निरीक्षण,   किसानों से जानी परेशानियां, सायलों केंद्र को दिए निर्देश 

sehore news
सीहोर। किसानों के द्वारा अनाज बिक्री में आ रहीं दिक्कतों की शिकायतों के बाद  विधायक सुदेश राय बुधवार दोपहर में गल्लामंडी स्थित सायलों केंद्र पहुंचे। किसान हितैशी विधायक श्री राय ने सबसे पहले सोयलों केंद्र गेंहू बेचने पहुंचे किसानों से चर्चा की।  किसानों ने विधायक श्री राय को बताया की सोयलों केंद्र के द्वारा काफी कम मात्रा में गेंहू की खरीदी की जा रहीं है जिस से गेंहू सायलों केंद्र तक लाने का टे्रक्टर ट्राली का भाड़ा भी नहीं निकल पा रहा है। हल्ले रंग के गेंहू को रिजस्ट किया जा रहा है जिस कारण आर्थिक नुकसान हो रहा है। किसानों ने बताया की काफी धीमीगति से खरीदी की जा रहीं है जिस के चलते घंटो तक लाईन में ट्रेक्टर ट्राली को लगाना पड़ रहा है। विधायक श्री राय ने किसानों से कहा की किसानों को किसी भी तरह की परेशानी सोयलों केंद्र और मंडिय़ों सहित सभी शासकीय गेंहू उपार्जन केंद्र पर नहीं आने दी जाएगी।  किसानों कीे परेशानियों के सुनने के बाद विधायक सुदेश राय ने सायलो केंद्र में किस प्रकार से खरीदी की जा रहीं है सोयलों केंद्र में कुल कितने इलेक्ट्रीक तौल कांटे है वजन कैसे मापा जा रहा है ट्राली और गेंहू के वजन की कैसे गणना की जा रहीं है इस का बरीकी से निरीक्षण किया। उन्होने सोयलों केंद्र के टैक्रिशियनों और प्रभारी अधिकारी से किसानों की समस्याओं को दूर करने का लेकर चर्चा भी की।  सायलों केंद्र प्रभारी मुकेश पटेल ने विधायक श्री राय को बताया की खरीदी शुरू होने के बाद से अबतक 35 हजार क्वावंटल गेंहू की खरीदी की जा चुकी है। न्रतिदिन 220 ट्राली गेंहू किसानों से खरीदी जा रहा है। बुधवार को सोयलोंं केंद्र के द्वारा 6 हजार क्वांटल गेंहू खरीदा गया है। सोयलों केंद्र पहुंचे वाले किसानों को शासन के द्वारा तय सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रहीं है।  सोयलो केंद्र की गेंहू खरीदी व्यवस्थाओं का जायजा लेने के बाद विधायक सुदेश राय ने केेंद्र प्रभारी श्री पटेल को तत्काल व्यवस्थाएं दुरूस्त करने और किसानों की सुविधा के लिए अतिरिक्त तौल कांटा लगाने गेंहू खरीदी प्रति ट्राली भंडारण के मुताबिक बढ़ाने किसानों को किसी भी तरह की परेशानियां नहीं आए इस का ध्यान रखने के निर्देश दिए। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...