कोरोला संकट काल में आत्मनिर्भर हो कोरोना से मुकाबला : मोदी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 26 अप्रैल 2020

कोरोला संकट काल में आत्मनिर्भर हो कोरोना से मुकाबला : मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘गांव वालों ने दो गज दूरी का, या कहें दो गज देह की दूरी का मंत्र दिया
self-dependent-fight-corona-modi
जहानाबाद, भारत में हर साल 24 अप्रैल को राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस मनाया जाता है। ये दिन भारतीय संविधान के 73वें संशोधन अधिनियम, 1992 के पारित होने का प्रतीक है, जो 24 अप्रैल 1993 से लागू हुआ था।देश में पंचायती राज पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी लेकर आए थे। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि कोरोला संकट काल में हम आत्मनिर्भर होकर कोरोना से मुकाबला कर सकते हैं। कोरोना महामारी की तरह फैला हुआ है l कोरोना संकट के कारण लगाए गए लॉकडाउन की कामयाबी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ग्रामीणों की तारीफ की है lवहीं ई-ग्राम स्वराज पोर्टल-मोबाइल ऐप और स्वामित्व योजना की शुरुआत करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि लॉकडाउन के मौके पर गांव वालों ने सोशल डिस्टेंसिंग नहीं बल्कि ‘दो गज दूरी’ का संदेश भी दिया, जिसने कमाल कर दिया है l पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘इस कोरोना संकट ने दिखा दिया है कि देश के गांवों में रहने वाले लोगों ने इस दौरान अपने संस्कारों-अपनी परंपराओं की शिक्षा के दर्शन कराए हैं l आपको बता दे की गांवों से जो अपडेट्स आ रहा है, वो बड़े-बड़े विद्वानों के लिए भी प्रेरणा देने वाला है और साथ ही अन्य को भी l मोदी जी ने कहा आप सभी ने दुनिया को बहुत सरल शब्दों में मंत्र दिया है,’ग्रामीणों की तारीफ करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘गांव वालों ने दो गज दूरी का, या कहें दो गज देह की दूरी का मंत्र दिया l इस मंत्र के पालन पर गांवों में बहुत ध्यान दिया जा रहा है। ये आपके ही प्रयास हैं कि आज दुनिया में चर्चा हो रही है कि कोरोना को भारत ने किस तरह जवाब दिया है,’ देश के लोगों की तारीफ करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘इतना बड़ा संकट आया, इतनी बड़ी वैश्विक महामारी आई, लेकिन इन 2-3 महीनों में हमने ये भी देखा है कि भारत का नागरिक, सीमित संसाधनों के बीच अनेक कठिनाइयों के सामने झुकने के बजाय, उनसे टकरा रहा है, लोहा ले रहा है l ‘लोगों से अपील करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘ये सही है कि रुकावटें आ रही हैं, परेशानी हो रही है, लेकिन संकल्प का सामर्थ्य दिखाते हुए, नई ऊर्जा के साथ आगे बढ़ते हुए, नए-नए तरीके खोजते हुए, देश को बचाने का और देश को आगे बढ़ाने का काम भी निरंतर जारी है l इसमें हर लोगो ने मदद की है l इस अवसर पर जहानाबाद जिले के आदर्श ग्राम पंचायत धरनई के मुखिया अजय सिंह यादव ने कहा कि हमने लॉकडाउन को बेहतर ढंग से कियान्वयन करा रखा है। ए.एन.एम.दीदी और आशा बहन कर्तव्य निर्वाह कर रही हैं। सभी लोग मास्क लगा रहे हैं। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो रहा है। छह फीट की दूरी बनाने को कहा जा रहा है।इतना कहना था कि प्रधानमंत्री जी ने मुखिया से कहा कि दो गज की दूरी,दो गज देह की दूरी। इसके बाद मुखिया जी सुधार कर बोले।

जरा आदर्श ग्राम पंचायत धरनई के मुखिया अजय सिंह यादव के बारे में जाने
 इनके द्वारा शानदार कार्य के कारण पंचायत को  पुरस्कार मिला है। पहले ग्रामीण विकास के काम में उल्लेखनीय कार्यों के लिए कई पुरस्कार मिला हैं। इसके बाद पंचायती राज मंत्रालय भारत सरकार द्वारा आदर्श ग्राम पंचायत धरनई को तीन राष्ट्रीय पुरस्कारों के लिए चयन किया गया। भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी व निदेशक पंचायती राज विभाग चंद्रशेखर सिंह के पत्रांक 6494 दिनांक 15 अक्टूबर 2019 के माध्यम से जिला पदाधिकारी जहानाबाद को एक पत्र भेजा गया था । पत्र में ग्राम पंचायत धरनई को पंचायती राज मंत्रालय भारत सरकार द्वारा तीन पुरस्कारों के लिए चयन का जिक्र किया गया था। इसमें से पहला दीन दयाल उपाध्याय पंचायत सशक्तिकरण पुरस्कार दूसरा नानाजी देशमुख राष्ट्रीय गौरव ग्राम सभा पुरस्कार और तीसरा बाल पुरस्कार ग्राम पंचायत आवार्ड। इन तीनों राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए धरनई पंचायत का चयन किया गया था। यह तीनों राष्ट्रीय पुरस्कार नई दिल्ली मंे 23 अक्टूबर 2019 को पीएम नरेंद्र मोदी एवं नरेंद्र सिंह तोमर मंत्री पंचायती राज ग्रामीण विकास कृषि विभाग मंत्रालय भारत सरकार अमरजीत सिन्हा सचिव पंचायती राज एवं ग्रामीण विकास मंत्रालय भारत सरकार के हाथों से पुरस्कार वितरण किया गया। पंचायत के मुखिया अजय सिंह यादव को तीनों पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया। आदर्श ग्राम पंचायत धरनई देश का प्रथम ग्राम पंचायत पुरस्कार पाने एवं विकास कार्य में प्रथम स्थान प्राप्त कर लिया है। मालूम हो कि आदर्श ग्राम पंचायत धरनई 2017 में भी दीन दयाल पंचायत सशक्तिकरण पुरस्कार एवं वर्ष 2018 में मनरेगा पुरस्कार मिला है। तब पूरे देश में बारह पंचायतों को मनरेगा पुरस्कार मिला था। धरनई देश मे दूसरा स्थान प्राप्त हुआ था। इसके अलावा अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार स्मार्ट विलेज पुरस्कार एवं विभिन्न प्रकारों के पुरस्कारों एवं जिला एवं राज्य स्तर पर भी उत्कृष्ट कार्य के लिए पुरस्कृत किया गया है। मुखिया को पुरस्कार दिए जाने के एलान से पंचायतवासी काफी खुश हैं। 

कोई टिप्पणी नहीं: