कोरोना से उभरने के लिए भारतीय मेडिकल कंपनियों की मदद करे सरकार : दीपक अग्रवाल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 3 मई 2020

कोरोना से उभरने के लिए भारतीय मेडिकल कंपनियों की मदद करे सरकार : दीपक अग्रवाल

dipak-agrawal
नई दिल्ली। देश और दुनिया मे कोविड 19 का कहर जारी है ओर विश्व भर के देशों में लॉक डाउन की स्थिति बनी हुई है देश भर में भी लॉक डाउन का दूसरा चरण है और तीसरा चरण 3 मई से 17 मई  तक होने जा रहा  जिसका कारण कोरोना वायरस के बढ़ते मरीजो की तादात है और अभी तक इस वायरस का कोई इलाज या वेक्सीन नही बना है सिर्फ इससे बचाव ही उपाय है जिसके लिए सरकार ने सामाजिक दूरी व साबुन से लगातार हाथ धोने ओर मास्क,ग्लब्ज इत्यादी के प्रयोग करने पर ज़ोर दिया है क्योंकि यह वायरस इतना खतरनाक है यह डॉक्टर्स,नर्स,स्वाथ्य कर्मियों ओर पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों के जवानों में भी फैल रहा है। इसी दिशा में सामाजिक सरोकारों को लेकर कार्यरत पी .डी पॉलिस्टर प्राईवेट लिमिडेट आजाद पुर दिल्ली लगातार प्रोटेक्टिव थ्री लेयर मास्क के प्रोडक्शन में जुटी हुई है। इस कार्य से वह लॉक डाउन के समय कई लोगो के घर रोजगार भी उपलब्ध करवा रही है कंपनी ने मीनाक्षी परिवार एन जी ओ ओर ऐसी कई सामाजिक संस्थाओ की मदद से महिलाओं के लिये रोजगार के अवसर भी दिए हैं जिससे वह लॉकडाउन के दौरान भी  अपने घरों के अर्थ तंत्र को मजबूत बनाकर अपनी मूलभूत आवशयकता पूरी कर सकें। सामाजिक सरोकारों को पूरा करते पी डी पॉलिस्टर प्राईवेट लिमिडेट के प्रबंध निदेशक दीपक अग्रवाल ने कहा कि यदि देश मे सभी भारतीय कंपनिया व्यापक तौर पर गलब्ज ,पीपीटी किट ,सेफ़्टी प्रोटेक्टिव थ्री लेयर मास्क व्यापक तौर पर तैयार करें ताकि सस्ती ओर पर्याप्त मात्रा में यही देश मे इस कोरोना एमरजेंसी की स्थिति में आसानी से मुहैया करायी जा सके। दीपक अग्रवाल ने केंद्र और दिल्ली सरकार से यह आग्रह भी किया कि वह ऐसी कंपनियों को चलाने के लिये जरूरी सहायता करें ताकि कच्चा माल उन्हें आसानी से उपलब्ध हो पाये ओर किसी भी स्थिति से निपटने के दौरान सुरक्षा के ये साधन उपलब्ध रहे उन्होंने कहाँ की लाकडाउन के समय में छोटे व्यपारियो को भी राहत दी जानी चाहिये।  ताकि उनकी आर्थिक परिस्थिति में भी सुधर सके। जबकि उनके साथ काम करने वाले कर्मचारी भी लॉक डाउन खत्म होने पर वापसी कर सके जिससे बेरोज़गारी ज्यादा न बढ़े। देश की अर्थव्यवस्था पर लॉक डाउन से होने वाले नुकसान का ज्यादा असर भी कम रहे। दीपक अग्रवाल ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी और दिल्ली सरकार के इस कोरोना संकट में किये जा रहे प्रयासों की सराहना करते कहा कि सही समय मे लाकडाउन यदि नहीं किया गया होता और राज्य सरकार उसे सख्ती से लागू नही करती तो आज देश में परिस्थितियां भयावाह हो सकती थी। उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों के जवान डॉक्टर्स,पैरामेडिकल,स्टाफ,पत्रकार और समाजसेवी निरंतर लाकडाउन में सुरक्षा,उपचार, जरूरत मंदों को खाना राहत सामग्री और सूचना पहुचाने का काम कर रहे है वह काबिले तारीफ है और में इन सभी को ज़िम्मेदार नागरिक होने के नाते में इन कोरोना योद्धाओ का आभार व्यक्त करता हूँ और सभी देश वासियो से  आग्रह करता हूँ कि तीसरे चरण के लॉक डाउन को भी सफल बनायें  सामाजिक दूरी बनाये रखें ,घरो के भीतर रहे, सुरक्षित रहे।  

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...