जमशेदपुर चैंबर ऑफ कॉमर्स ने उपायुक्त को सौंपा ज्ञापन, 4 घंटे दुकान खोलने की मांगी अनुमति - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 5 मई 2020

जमशेदपुर चैंबर ऑफ कॉमर्स ने उपायुक्त को सौंपा ज्ञापन, 4 घंटे दुकान खोलने की मांगी अनुमति

ग्रीन जोन होने के बावजूद जमशेदपुर में लाॅकडाउन बढ़ाए जाने से यहां के व्यापारियों मे रोष देखा जा रहा है. इनके समर्थन में जमशेदपुर चैंबर ऑफ कॉमर्स ने जिले के उपायुक्त रविशंकर शुक्ला को एक ज्ञापन सौंपा है. उन्होंने डीसी से 4 घंटे दुकान खोलने की अनुमति की मांग की है और कहा कि इस दौरान सारे नियमों का पालन किया जाएगा.
jamshedpur-chamber-of-commerce-memorendum
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता)  कोरोना संक्र॔मण को रोकने के उद्देश्य से एक बार केंद्र सरकार ने लाॅकडाउन की तारीख को फिर बढ़ा दिया है. हालांकि ग्रीन जोन में सरकार ने कुछ राहत दी है लेकिन झारखंड में बाहर से आ रहे प्रवासी मजदूरों और छात्र-छात्राओं को लौटने के कारण झारखंड में लाॅकडाउन को दो सप्ताह तक बढ़ा दिया गया है. वहीं ग्रीन जोन होने के बावजूद जमशेदपुर में लाॅकडाउन बढ़ाए जाने से यहां के व्यापारियों मे रोष देखा जा रहा है. इनके समर्थन में जमशेदपुर चैंबर ऑफ कॉमर्स ने जिले के उपायुक्त रविशंकर शुक्ला को एक ज्ञापन सौंपा है. इस ज्ञापन में कहा गया है की सरकार की तरफ से इस वक्त राहत बांटी जा रही है. सभी वर्ग को कुछ न कुछ मिल रहा है लेकिन व्यापारी वर्ग इससे अछूता है ना तो कोई राहत सामग्री मिली है ना ही कोई आश्वासन. लाॅकडाउन के लगभग 2 महीने की अवधि में व्यापारी वर्ग की कमर टूट गई है. सरकार को राजस्व देनेवाला वर्ग आज अपने आप को असहाय महसूस कर रहा है. बैंकों का ब्याज, कामगारों को वेतन, व्यापारियों के लिए चिंता का विषय बन गया है. इसलिए जिला प्रशासन यहां के व्यापारियों की हित का ध्यान रखते हुए कम से कम 4 घंटे दुकान खोलने की अनुमति दे. जमशेदपुर चेंबर ऑफ कॉमर्स ने आश्वासन दिया कि दुकान खोलनेवाले दुकानदार सारे नियमों का पालन करेंगे.

कोई टिप्पणी नहीं: