लॉकडाउन में जुस्को ने लोगों को दी सौगात, ऐप के जरिए खुद करेगी बिजली के मीटर की रीडिंग - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 5 मई 2020

लॉकडाउन में जुस्को ने लोगों को दी सौगात, ऐप के जरिए खुद करेगी बिजली के मीटर की रीडिंग

कोरोना लॉकडाउन में देश में कई सिस्टम में बदलाव के संकेत दिए है. जिनमें कुछ धरातल पर काम कर रही है. जमशेदपुर में नागरिक सुविधा मुहैया कराने वाली टाटा स्टील की जुस्को ने शहर की जनता को लॉकडाउन में एक नई सौगात दी है.
jusco-meter-reading-by-app-jamshedpur
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता) जमशेदजी के सपनों का शहर जमशेदपुर में आये दिन शहर वासियों को कंपनीयों ने नई-नई सुविधाओं से लाभान्वित करता रहा है. जिसके कारण यह शहर देश के नामचीन शहरों में स्टील सीटी के नाम से पहचान बनाई हुई है. कोरोना लॉकडाउन में देश में कई सिस्टम लॉकडाउन है. वहीं जमशेदपुर शहर नागरिक सुविधा देने वाली टाटा स्टील की जुस्को ने लॉकडाउन में जनता को दिए जाने वाली सुविधा में कटौती ना हो इसके लिए कुछ खास प्रयास किया गया है जो जनता को भी भाह रहा है. बता दें कि जुस्को ने शहर वासियों की सुविधा के लिए जिम्मेदार स्टील सीटी ऐप बनाया है. इस ऐप के जरिये कंज्यूमर अपने मोबाइल में जुस्को के भेजे गए बिल का भुगतान कर सकते है. वहीं लॉकडाउन होने के कारण बिजली मीटर की रीडिंग के लिए मीटर रीडर्स का घर-घर जाना बंद है. ऐसे में उपभोक्ता ने इस्तेमाल किये गए बिजली की रीडिंग को सहज तरीके से रीडिंग करने के लिए जुस्को ने जिम्मेदार सटील सीटी ऐप का नाम बदल कर जिम्मेदार नागरिक ऐप दिया गया है. जिसमें कई नए फीचर जोड़ा गया है. इस ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकेगा. जिसके बाद ऐप के कॉलम में उपभोक्ता को अपना कंज्यूमर नंबर के साथ डिटेल भर कर समिट करना होगा. जिसके बाद उपभोक्ता को एक कोड मिलेगा जिसके आधार अपर उपभोक्ता पानी के साथ बिजली बिल घर बैठे जान सकेंगे. ऐफ में नए फीचर के जरिये उपभोक्ता के इस्तेमाल किये गए बिजली के यूनिट को रीडिंग किया जा सकेगा. मीटर रीडिंग ऐप के जरिये डिपार्टमेंट के सरवर में उपभोक्ता के नाम के सर्विस अकाउंट में सुरक्षित चला जाएगा. इस आधार पर डिपार्टमेंट ने बिजली तैयार कर उपभोक्ता के मोबाइल में इंस्टाल जिम्मेदार नागरिक ऐप में चला जायेगा. ऐफ में बिजली के बिल की कॉपी को उपभोक्ता डाउनलोड कर प्रिंट निकाल सकेंगे. पहले यह सुविधा नहीं थी, बिल के आधार पर उपभोक्ता ऑनलाइन बिल का भुगतान कर सकेंगे. इसके लिए उपभोक्ता को उनके कंज्यूमर नंबर कर आधार पर दिए गए कोड के तहत निर्धारित दिन के अंदर अपने मोबाइल के जरिये ऐप के सहारे मीटर रीडिंग करना होगा. ऐप के लिए बनाया कॉल सेंटर जुस्को ने जारी जिम्मेदार नागरिक ऐप की जानकारी के लिए कॉल सेंटर भी बनाया गया है. जिसके जरिये ऐप में किसी जानकारी के उपभोक्ता कभी भी फोन के जरिये जानकारी ले सकते है. बता दें कि 50 हजार के लगभग जुस्को के उपभोक्ता है जो जुस्को का पानी और बिजली का इस्तेमाल करते आ रहे है. अब उनके द्वारा खुद से अपने मीटर की रीडिंग करने से समय पर वो अपना बिल जमा कर सकेंगे. बिजली मीटर के साथ-साथ उपभोक्ता सप्लाई पानी के लिए लगाए गए पानी के मीटर की रीडिंग कर सकेंगे. जनता ने इस नई ऐप को सराहा जमशेदपुर शहर में रहने वाली जनता ने इस ऐप को सराहा है. राहुल सिंकू बताते है कि लॉकडाउन में घुम-घूम कर मीटर रीडिंग करना असंभव है. ऐसे में जुस्कों ने अपने ग्राहकों को उनकी सुबिधा के लिए तैयार किया गया ऐप उन्हें पसंद है. बहरहाल, कोरोना महामारी में लॉकडाउन के दौरान जुस्को की नई पहल से एक तरफ जुस्को ने अपनी जिम्मेदारी निभाया है. वहीं जनता भी जिम्मेदार नागरिक ऐप का इस्तेमाल कर जिम्मेदारी निभा रही है.

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...