झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 09 मई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 9 मई 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 09 मई

ग्राम घावलिया मे मास्क साबुन एवं खाद्य सामग्री का किया वितरण 

jhabua news
पारा । कोवीड 19 कोरोना से बचाव के लिए पूरे देश मे लाकडाउन चल रहा है, जिसके कारण लोगों के पास इस समय खाने पीने की सामग्री की कमी आ रही है इसीके चलते ग्राम पंचायत पलासडी के सरपंच व एनजीओ के सदस्यो ने ग्रामीण जनो खाद्य सामग्री व मास्क आदि वितरित किए। कोविड 19 कोरोना के कारण टोटल लाकडाउन के चलते ग्रामीण क्षेत्र मे भी खानेपीने कि सामग्री कि कम होती जा रही हें ग्रामीण जन भी इस बीमारी से लडने में सभी अपनी अपनी भूमिका निभा रहे हैं, इसी कड़ी में पलासड़ी के सरपंच व भाजपा झाबुआ के जिला मंत्री सरदार सिंह डावर ने अपनी पंचायत के ग्राम घवलिया में 114 गरीब परिवार को खाद्य एवं आवश्यक सामग्री आटा, दाल,शक्कर, चावल ,तेल, साबुन हल्दी मिर्च नमक का वितरण किया । वही ग्राम पलासड़ी में भी 20 कल्याणी महिलाओं को खाद्य सामग्री वितरित की व कोरोना से बचाव व सुरक्षा के लिए पलासड़ी व घवालिया दोनों गांव के प्रत्येक घर घर जाकर हाथ धोने की समझाइश देकर साबुन व मुह पर बांधने के लिये मास्क वितरण किये। सामग्री पाकर सभी ग्रामीणों ने सरपंच डावर का ओर संस्था एजुकेट गर्ल्स एवं संस्था इनरेम झाबुआ का आभार माना। इच अवसर पर पंचायत सचिव कांजी ढाकिया सहीत एनजीओ इनरेम के सचिन वाणी व एनजीओ एजुकेट गर्ल के कर्मचारी सहीत ग्रामीण जन उपस्थित थै। 

कलेक्टर श्री सिपाहा द्वारा मेघनगर में स्थित रेल्वे स्टेषन पर श्रमिकों के लिए की गई व्यवस्था का जायजा

jhabua news
झाबुआ 8 मई 2020। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने षुक्रवार को मेघनगर में स्थित रेल्वे स्टेषन पर 9 मई को गुजरात से टेªन द्वारा आ रहे झाबुआ, अलीराजपुर, बड़वानी, तथा धार जिले के श्रमिकों के लिए की जा रही आवष्यक तैयारियों का जायजा लिया। आपके साथ पुलिस अधीक्षक श्री विनीत जैन तथा रेल्वे के पुलिस अधीक्षक श्री रमण कुमार भी थे। कलेक्टर श्री सिपाहा ने इस दौरान रेल्वे प्लेटफार्म नंम्बर 1 पर श्रमिकों के आने पर स्वास्थ्य परीक्षण, पेय जल, भोजन व्यवस्था, विद्युत व्यवस्था, साफ-सफाई व्यवस्था सुरक्षा व्यवस्था तथा अन्य आवष्यक व्यवस्थाएं सुनिष्चित करने के निर्देष दिए। श्री सिपाहा ने बसों की पार्किंग स्थल का निरीक्षण किया और मुख्य नगरपालिका अधिकारी को स्थल समतलीकरण करने तथा वाहनों के निकासी के लिए अस्थाई पहुंच मार्ग बनाने के निर्देष दिये। श्री सिपाहा ने श्रमिकों को व्यवस्थित रूप से बसों में भेजने के लिए तथा रेल्वे स्टेषन पर सभी आवष्यक तैयारियों के लिए कार्य योजना अनुरूप कार्य करने के निर्देष दिये। श्री सिपाहा ने इस अवसर पर अधिकारियों को सौपे गये कार्यो की प्रगति की समीक्षा की और निर्देष दिये हैं कि सौपे गए कार्य तत्काल पूर्ण कराए। पुलिस अधीक्षक श्री जैन ने इस दौरान सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करने के निर्देष पुलिस विभाग के अधिकारियों को दिये। इस अवसर पर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व मेघनगर श्री पराग जैन, स्टेषन प्रबंधक श्री राम हरि मीणा, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत श्री विरेन्द्र सिंह रावत, मुख्य नगर पालिका अधिकारी श्री विकास डावर, पुलिस अधिकारी श्री मनोहर सिंह गवली, मजीस्टेªट श्री अजय चैहान सहित अन्य अधिकारी तथा पत्रकार गण उपस्थित थे।

अन्य राज्यों में फंसे मजदूरों की चिंता करे सरकार - कलावती भूरिया
कोरोना महामारी में हजारों मजदूर अभी भी अपने घर आने को हो रहे परेशान जिले की दबंग कांग्रेस विधायक कलावती भूरिया ने उठाई आवाज
jhabua news
थांदला। झाबुआ जिले की एक मात्र दबंग महिला विधायक जोबट की कलावती भूरिया ने इस संवाददाता से कोरोना महमारी को लेकर विशेष चर्चा में बताया कि मध्यप्रदेश सरकार ने अन्य राज्यों में फंसे मध्यप्रदेश के मजदूरों को लाने के लिए कांग्रेस के द्वारा उठाये मुद्दे पर बहुत देर से ही सही पर निर्णय लिया यह अच्छी बात है लेकिन वर्तमान समय मे उनके द्वारा जो प्रयास किये जा रहे है वह केवल खाना पूर्ति ही है। आज गुजरात, राजस्थान, महाराष्ट्र आदि अन्य राज्यों के अनेक स्थानों पर मध्यप्रदेश के मजदूर गए हुए है। उन्हें वहाँ न तो खाने को मिल रहा है न ही उनकी कोई सुध ली जा रही है। हजारों मजदूर भूखे प्यासे नँगें पैर पैदल चलकर आ रहे है जिनसे उनके पैरों में छाले तक पड़ गए है वही कई लोगों को जानकारी के आभाव में पास नही बने है व वे बाहर निकलते है तो पुलिस के डंडे पड़ते है या प्रशासन द्वारा परेशान हो जाते है। इन सबकी मध्यप्रदेश सरकार को चिंता करना चाहिए व उन्हें अन्य राज्यों से सम्पर्क कर खाने पीने की व्यवस्था करना चाहिए। ज्ञातव्य है कि मध्यप्रदेश की राजनीति में सक्रिय इस महिला विधायक ने सबसे पहले झाबुआ जिले के अन्य राज्यों में फंसे सैकड़ो मजदूरों को लाने की पहल की थी उसके बाद ही मध्यप्रदेश ही नही अपितु अन्य राज्यों में भी पलायन को गए मजदूरों को लाने के प्रयास किये जा रहे है। दबंग महिला विधायक के पास बाहर अन्य राज्यों में गए मजदूरों के सतत फोन कॉल्स आ रहे है जिन्हें वह अपने स्तर पर स्थानीय प्रशासन व अन्य राज्यों के जनप्रतिनिधियों व प्रशासन से सम्पर्क कर लाने के प्रयास कर रही है, इसलिए उन्होंने अनुभव के आधार पर कहा कि अभी भी हजारों मजदूर ऐसे है जो स्टेशन से बहुत दूर है व उन्हें ऑन लाइन पास प्रक्रिया का भी ज्ञानाभाव है जिसके चलते परेशान है जिनकी चिंता हर प्रशासनिक व्यक्ति को भी करना चाहिए। उन्होंने जिले की ग्रामीण जनता के माध्यम से देश की जनता को सन्देश देते हुए कहा कि अभी भी वक्त है कोरोना महमारी को गम्भीरता से लो व शासन के निर्देशों का पालन करो। उन्होंने कहा कि लॉक डाउन खुलने का यह कतई मतलब नही है कि हम अपने घरों से बाहर घुमते फिरे। सभी जनता आवश्यक व ज्यादा जरूरी हो तो ही अपने घरों से निकले व आवश्यक कार्य कर वापस अपने घरों में रहे। सोशल डिस्टेंश की अहमियत समझे, स्वयं भीड़ न बढ़ाये व भीड़ वाले स्थान पर भी न जाये। मुँह पर मास्क लगाए व साबुन से बार बार हाथ धोते रहे। उन्होंने क्षेत्र की जनता कि ओर से समस्त समाजसेवी संगठनों व पत्रकारों का धन्यवाद करते हुए कहा कि आप सभी के ग्रामीण अंचल की जनता को जागरूक करने के सामूहिक प्रयास व जन सेवा भाव प्रशंसनीय है उन्हें अनवरत जारी रखिये तभी हम मिलकर इस कोरोना की जंग को जीत सकते है।

अभी खतरा टाला नहीं ये लापरवाही कही झाबुआ जिले पर भारी ना पड जाये

jhabua news
थांदला। जैसे ही झाबुआ जिले में पहला कोरोना पॉजिटिव मरीज मिला वैसे पूरे जिले में हड़कम मच गया  प्रशासन  हाईअलर्ट होगया लेकिन क्या प्रशासन अभी भी सजग हे अपनी जिम्मेदारी से ? नहीं आपको ये जानकर हैरानी होगी की 7 मई को  जिला प्रशासन एक आदेश जारी करता है ,ई-पास से सम्बंधित जिसमे जिले में अन्य स्थानों से आये और गए लोगो को 14 दिनों तक होम क्वारंटाइन करने के आदेश होते हे  लेकिन प्रशासन की नींद अब खुल रही हे 7 मई को जबकि ये जो सूचि हे जिसमे तकरीबन 83 लोगो के नाम हे जो झाबुआ जिले से बहार गए और आये हे और इसमें कइयो को तो 14 दिन से ज्यादा समय हो गया हे जिन्हे किसी तरह से प्रशासन ने होम  क्वारंटाईन नहीं किया न उनकी सुध ली और ये जो लोग हे इनमे से कई इंदौर रेड जोन और दाहोद घूम कर आये हे और मस्ती से बे फिक्र होकर घूम रहे हे और कितने ही लोगो से भी मिले हे ,, यदि इन लोगो में से किसी में भी  कोरोना से जुड़े लक्षण उत्पन्न  होते हे तो ऐसी परिस्तिथि में  प्रशासन किसे जिम्मेदार ठहराएगा इसमें स्थानीय प्रशासन तक भी यह सूचि और आदेश 7 मई को प्राप्त हुआ जिसमे अब दबाव स्थानीय प्रशासन पे आगया  अब यदि स्थानीय प्रशासन कोई कार्यवाही करता हे तो किसी की समयावधि 14 दिन से ज्यादा होगई या किसी में कोरोना के लक्षण पाए जाते हे तो इसका जिम्मेदार कौन होगा ? तो कुल मिलकर प्रशासन की ये लापरवाही कही झाबुआ जिले के लिए घातक  न बन जाये ,,ऐसे ही   प्रशासन की चूक से झाबुआ जिला ग्रीन जोन से ऑरेंज जोन में पहुंच गया हे और अब ये लापरवाही कही ऑरेंज जोन से रेड जोन में ना बदल जाये।

अपना होटल अधिग्रहित

झाबुआ। अपर जिला दण्डाधिकारी श्री एस. पी. एस. चैहान ने कोविड -19 कोरोना वायरस के संक्रमण के बचाव एवं नियंत्रण के लिये सम्पूर्ण लाॅक डाउन होने से जिला चिकित्साल्य झाबुआ के आईसोलेषन वार्ड में पदस्थ डाॅक्टर व पैरामेडिकल स्टाप के लिए झाबुआ षहर में स्थित अपना होटल जेल चैराहा झाबुआ को अन्य आदेष पर्यन्त तक अधिग्रहित किया है। यह आदेष तत्काल प्रभावषील होगा।

3 हजार 790 श्रमिकों के खातों में राषि जमा

झाबुआ,। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने अवगत कराया कि झाबुआ जिले के 3 हजार 790 नागरिक तथा श्रमिक जो कि अन्य राज्यों में फसे हुए हैं के खातों में एक-एक हजार रूपये की राषि जमा की गई है।

अधिकारियों का दल गठित

झाबुआ,। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने जिन अधिकारियों की ड्यूटी कन्ट्रोल रूम में लगाई गई है उन्हें कन्ट्रोल रूम से मुक्त करते हुए गुजरात राज्य से लोट रहे प्रवासी मजदूरों के अंतर्राज्यीय पिटोल बार्डर पर लगातार आगमन को दृष्टिगत रखते हुए अधिकारियों के दल गठित किया जाकर तत्काल प्रभाव से पिटोल चैक पोस्ट- माछलिया घाट रोड़ पर ड्यूटी लगाई गई है। दल क्रमांक 1 में कार्यपालन अधिकारी अन्त्यावसायी श्री एस. एस. मण्डलोई, प्रभारी कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवाएं श्री एन.एस. चैहान, जिला षिक्षा अधिकारी श्री एस. एस. सोलंकी को रखा गया है। इनकी ड्यूटी बुधवार को रहेगी । दल क्रमांक 2 में कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग श्री आर. जी षाक्य, जिला महिला सषक्तिकरण अधिकारी श्री राधुसिंह बघेल, सहायक संचालक मत्सय उद्योग श्री यू. सी. भाटी को रखा गया है। इनकी ड्यूटी गुरूवार को रहेगी तथा दल क्रमांक 3 में परियोजना समन्वयक सर्व षिक्षा अभियान श्री एल. एन. प्रजापति, सहायक परियोजना प्रसाषक श्री भारत सिंह चैहान एवं सहायक प्रबंधक मध्य प्रदेष ग्रामीण सड़क विकास प्राधिकरण श्री बी.डी. षर्मा को रखा गया है। इनकी ड्यूटी षुक्रवार को रहेगी। इनकी ड्यूटी रात्रि 10 बजे से प्रातः 8 बजे तक रहेगा।

अधिकारियों को उत्तरदायित्व सौपे

झाबुआ। अनुविभागीय दण्डाधिकारी पेटलावद ने कोरोेना वायरस (कोविड-19) महापारी को दृष्टिगत रखते हुए पेटलावद तहसील के ग्राम केसरपुरा तथा नाहरपुरा में कन्टेनमेंट घोषित किया है। इन क्षेत्रों में आवष्यक व्यवस्थाए उपलब्ध कराने के लिए अधिकारियों को दायित्व सौपे हैं प्रभारी तहसीलदार श्री जितेन्द्र अलावा को ग्राम नाहरपुरा के लिए सम्पूर्ण प्रभारी बनाया गया है वे ग्राम नाहरपुरा में जो सर्वेदल कार्य कर रहा है उसकी प्रतिदिन स्वयं मानिटरिंग कर प्रगति से अवगत कराएगें ताकि कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा को जानकारी प्रस्तुत की जा सके। इसी प्रकार नायब तहसीलदार श्री भूपेन्द्र भिडे़ को ग्राम केसरपुरा के प्रभारी बनाया गया है। वे ग्राम नाहरपुरा में जो सर्वेक्षण दल कार्य कर रहा है उसकी प्रतिदिन स्वयं मानिटरिंग कर अवगत करावेगें ताकि कलेक्टर श्री सिपाहा को अवगत कराया जा सके। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत पेटलावद को ग्राम नाहरपुरा एवं केसरपुरा मे सर्वे कार्य मे लगे सदस्यों तथा पुलिस दल के सदस्यों के ठहरने की व्यवस्था की जिम्मेदारी दी गई है। इसी प्रकार खण्ड षिक्षा अधिकारी को ग्राम नाहरपुरा तथा केसरपुरा में छात्रावासों से पलंग, गद्दे की व्यवस्था की जिम्मेदारी दी गई है। खण्ड स्त्रोत समन्वयक को इन दोनों गाॅंव में भोजन की व्यवस्था की जिम्मेदारी दी गई है। अनुविभागीय अधिकारी पुलिस पेटलावद तथा थाना प्रभारी पेटलावद को कन्टेनमेंट क्षेत्र के ग्रामों पर लगाए गए बेरियर से आवागमन षतप्रतिषत प्रतिबंधित का पालन कराने का दायित्व सौपा गया है। खण्ड चिकित्सा, अधिकारी को स्वास्थ्य विभाग के अमले से सर्वेक्षण कार्य कराने  तथा अन्य जिम्मेदारी सौपी गई है।

नोडल अधिकारियों की ड्यूटी

झाबुआ,। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा द्वारा कोविड -19 कोरोना वायरस के संक्रमण के बचाव एवं नियत्रंण को दृष्टिगत रखते हुए बेहतर रोजगार के लिए गुजरात राज्य में प्रवास पर गए श्रमिकों के जिले की अंतर्राज्यीय बार्डर पिटोल पर आने के दौरान श्रमिकों को उनके गंतव्य स्थान पर छोड़ने एवं सम्पूर्ण व्यवस्थाओं के लिए नोडल अधिकारियों की ड्यूटी लगाई है। इसमें उप संचालक कृषि श्री एन. एस. रावत तथा प्रभारी तहसीलदार श्री रविन्द्र चैहान की ड्यूटी दोपहर 12 बजे से सायं 6 बजे तक, उप संचालक पषु चिकित्साह सेवाएं डाॅक्टर विलसन डावर तथा नायब तहसीलदार श्री हरसल बहरानी की ड्यूटी सांय 6 बजे से यात्री 12 बजे तक, महा प्रबंधक जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र श्री विरेन्द्रसिंह इस्के तथा प्रभारी तहसीलदार श्री प्रवीण ओहरिया की ड्यूटी रात्री 12 बजे से प्रातः 6 बजे तक, सहायक संचालक श्री विजयसिंह तथा तहसीलदार श्री षक्तिसिंह की ड्यूटी प्रातः 6 बजे से दोपहर 12 बजे तक लगाई गई है।

6 उपयंत्रीयों को षोकार नोटिष जारी

झाबुआ,। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री संदीप षर्मा ने 6 उपयंत्रीयों को बैठक में अनुपस्थित रहने पर षोकाज नोटिष जारी किया है। जिसमें ग्रामीण यांत्रिकी सेवा विभाग के उपयंत्री श्री दिलीप गुप्ता, श्री दिलीप भूरिया, श्री जयेष गुप्ता, श्री लोकेष सोलंकी, उपयंत्री जल संसाधन श्री एन. के. प्रजापति तथा उपयंत्री मनरेगा श्री नीरज पांचाल षामिल है।

4 हजार 882 व्यक्तियों को भोजन प्रदाय

झाबुआ। कोविड-19 (कोरोना वायरस) संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिए जिला स्तर से अब तक सर्दी, खांसी के मरीजों के साथ आईसोलेषन वार्ड क्वारेंटाइन केन्द्र एवं बाॅर्डर पर तैनात स्वास्थ्य कर्मी, पुलिस के लोग, आंगनवाडी एवं आषा कार्यकर्ता के कुल 387 सेम्पल जांच के लिए भेजे गये है। जिनमें से 325 सेम्पल कोरोना पाजिटिव नहीं पाए गये और 1 सेम्पल कोरोना पाजीटिव पाया गया है। 34 सेम्पलो की जांच रिपोर्ट आना षेष है। जिले में कुल 1 हजार लोगों को कोरेण्टाइन सेन्टर में रखा गया है। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने अवगत कराया कि षुक्रवार कोे 4 हजार 882 जरूरतमंद व्यक्तियों को भोजन प्रदाय किया गया है। पुलिस विभाग द्वारा जिले में अब तक कुल 22 व्यक्तियों के खिलाफ एफ आई आर, धारा 151 के तहत 8 प्रकरण तथा 24 व्यक्तियों को अस्थाई जेल में निरूद्ध किया गया।

139041.50 क्विंटल गेंहू का उपार्जन

झाबुआ। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने अवगत कराया की जिले में समर्थन मूल्य पर गुरूवार तक खरीदी केन्द्रो पर 3 हजार 337 किसानांे से 139041.05 क्विंटल गेंहू का उपार्जन किया गया है। जिले में किसानो को 4 करोड 38 लाख 52 हजार 345 रूपये की राषि का भुगतान किया जा चुका है। पंजीकृत किसानो को एस एम एस से सूचना प्रति दिन भेजी जा रही हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: