झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 11 मई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 12 मई 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 11 मई

संगठन ने जो जिम्मेवारी दी गई है उसे पूरी निष्ठा एवं ईमानदारी के साथ निर्वाह करंेंगे- भाजपा जिलाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक
  • भाजपा में यह स्वस्थ परंपरा रही है कि परिवारवाद से परे हट कर व्यक्तित्व के कार्य को देखते हुए उन्हे दायित्व सौपे जाते है- सांसद गुमानसिंह डामोर
  • भाजपा के नव नियुक्त जिलाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक का सोष्यल डिस्टेंसिंग का पालन कर किया भव्य स्वागत ।
jhabua news
झाबुआ। भारतीय जनता पार्टी के नव नियुक्त जिलाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक का जिला मुख्यालय पर उन्हे जिले के भाजपा की कमान सौपे जाने पर भव्य स्वागत का आयोजन किया गया । प्रदेश भाजपा संगठन द्वारा जिला भाजपा की कमान सौपे जाने पर झाबुआ नगर में प्रथम आगमन पर लाॅक डाउन के चलते श्री नायक का सोश्यल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए राजगढ नाका स्थित पण्डित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा पर सांसद गुमानसिंह डामोर के मुख्य आतिथ्य में नव नियुक्त भाजपा जिलाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक द्वारा पण्डित दीन दयाल उपाध्याय की प्रतिमा पर सांसद गुमानसिंह डामोर, पूर्व विधायकगण सुश्री निर्मला भूरिया, शांतिलाल बिलवाल, कलसिंह भाबर सहित भाजपाई पदाधिकारियों की उपस्थिति में पण्डित जी की जय जय कारों के साथ माल्यार्पण किया गया । इस  अवसर पर उपस्थित भाजपा पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए सांसद गुमानसिंह डामोर ने नवागत भाजपा जिलाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक का स्वागत करते हुए प्रदेश भाजपाध्यक्ष व्हीडी शर्मा एवं संगठन का आभार व्यक्त किया गया ।उन्होने कहा कि  भाजपा में यह स्वस्थ परंपरा रही है कि परिवारवाद से परे हट कर व्यक्तित्व के कार्य को देखते हुए उन्हे दायित्व सौपे जाते है । श्री डामोर ने कहा कि लक्ष्मणसिंह नायक कीक आयु भी भाजपा की आयु के समकक्ष है। संघ के कार्यकर्ता के साथ ही भाजपा में विभिन्न दायित्वों का इन्होने निर्वाह किया । आज हमे फिर स नौैजवान भाजपा अध्यक्ष मिला है, वे ऐसे लोक प्रिय व्यक्ति है जिनको भाजपा का हर कार्यकर्ता अपना मानता रहा है ।उन्होने आशा व्यक्त करत हुए कहा कि आगामी समय मंे त्रिस्तरीय पंचायती राज के चुनावों में जिलेेमें भाजपा श्री नायक के नेतृत्व में व्यापक सफलता अर्जित करेगी । आज की स्थिति में भाजपा काुी मजबुत स्थिति में है । नवागत अध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक का तीन बातों  जिसमें हमेशा चहरे पर मुस्कराहट रखते हुए यदि कोइ्र्र उन्हे भला बुरा भी कहें तो सार्वजनिक तौर पर प्रतिक्रिया व्यक्त नही करते हुए भाजपा को मजबुत बनाने में जुटे रहे,सभी को समानता के आधार पर देखे तथा सबकी बातों को सुने, शीर्षस्थ पद पर बैठने वाला व्यक्ति को अपना आदर्श प्रस्तुत करना होता है और श्री नायक भाजपा को सशक्त पार्टी बनाने में अपनी भूमिका का निर्वाह करते रहेगें । नवागत भाजपा जिलाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक ने भी अपने उदबोधन में पण्डित दीनदयाल के आदर्शो एवं विचारों का जिक्र करत हुए अन्त्योदय के तहत अन्ति व्यक्ति के लिये कार्य करने का जिक्र करते हुए कहा कि उन्हे जो जिम्मेवारी दी गई है उसे पूरी निष्ठा एवं ईमानदारी के साथ निर्वाह करंेंगे । प्रदेश भाजपा संगठन द्वारा उन पर जो विश्वास किया गया है तथा जिम्मेवारी दी गई है उस भाजपा के सभी वरिष्ठतम साथियों के सहयोग एवं मार्गदर्शन के साथ निर्वाह करेगें  ।उन्होने भाजपा केे कार्यकर्ताआंेसेे अपेेक्षा की कि यदि वे पथ से विचलित होते दिखाई दे तो उन्हे आगाह करते रहे ताकि वेे गलतियों का सुधार सके । समन्वय की भावना के साथ पार्टी को स्थापित किये जाने की दिशा में वे अपनी प्रखर भूमिका निभाते रहेगें ।उन्होने सांसद गुमानसिंह डामोर सहित सभी पूर्व पदाधिकारियों से सतत मार्गदर्शन दिये जाने का अनुरोध भी किया तथा भाजपा को जिले में नई पहचान दिलानें में उनकी भूमिका का जिक्र किया । हम सभी टीम भावना के साथ भाजपा को मजबुत एवं स्थापित करने का काम करेगें ।उन्होने अपने आप को भाग्यशाली बताते हुएकहा कि उन्हे जिले में अनुभवी एवं काम करने वाले कार्यकर्ताओ का मार्गदर्शन मिलता रहेगा।उन्होने कहा कि पार्टी के विश्वास पर वे खरा उतरने का प्रयास करेगें । उन्होनंे  विश्वास दिलाया कि हर समय कार्यकर्ताओं के लिये काम करते रहेगें । इस अवसर पर पूर्व विधायक सुश्री निर्मला भूरिया ने अपने उदबोधन में लक्ष्मणसिंह नायक को भाजपा जिलाध्यक्ष का दायित्व मिलनेे पर बधाईया दी । पूव विधायक शांतिलाल बिलवाल ने श्री नायक को संघ का कर्मठ कार्यकर्ता बताते हुए भाजपा में परिवारवाद का कोइ्र स्थान नही होने का जिक्र किया । पूर्व विधायक कलसिंह भाबर ने भी श्री नायक के नेतृत्व मेंभाजपा को और आगे ले जाने का आव्हान किया ।  कार्यक्रम का सफल संचालन प्रदेश भाजपा कार्यकारिणी सदस्य दौलत भावसार ने किया तथा आभार प्रदर्शन पूर्व जिलाध्यक्ष शैलेष दुबे ने किया । इसके बाद नगवात अध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक, सांसद गुमानसिंह डामोर सहित सभी ने आजाद चैक पर जाकर आजाद प्रतिमा पर तथा बस स्टेंड पर जाकर टण्ट्या मामा की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर नमन किया । इस अवसर पर श्यामा ताहेड, अंकुर पाठक, पण्डित महेन्द्र तिवारी, विजय चैहान,पण्डित महेन्द्र तिवारी, मनोज अरोडा, विजूभाई माली,पपीश पानेरी, अजय सोनी, अजय पोरवाल, नरेन्द्र राठौरिया, जुवानसिंह गुण्डिया, राजेन्द्रकुमार सोनी, बबलु सकलेचा, नाना राठौर, जितेन्द्र पांचाल, जितेन्द्र शाहज, राजू थापा, कीर्ति भावसार, यशवंत भंडारी, रमेश शर्मा, विनोद मडा, मितेश गादिया, महश वर्मा, अवि भावसार, राजा ठाकुर, आशीष सिंगाड, दिनेश भाबर, पूर्वेश कटारिया, छितूसिंह मेडा, योगेन्द्र नाहर, आदि द्वारा नवागत जिला भाजपा अध्यक्ष का पुष्पमालाओं से स्वागत किया गया । नव नियुक्त जिलाध्यक्ष लक्ष्मणनायक का स्वागत इसके बाद पण्डित महेन्द्र तिवारी के आवास पर किया गया जिसमें  पूर्व विधायक कलसिंह भाबर, प्रफुल्ल गादिया, श्यामा ताहेड,, आरके सोनी, जवानसिंह गुण्डिया, अंकर पाठक आदि उपस्थित रहें ।

भाजपा के नवनियुक्त जिलाध्यक्ष नायक ने कहा सबके सहकार व मार्गदर्शन मे संगठन को मजबुत बनाने का काम करुंगा।

jhabua news
झाबुआ। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वी डी शर्मा द्वारा झाबुआ सहित अन्य जिलो की जिलाध्यक्ष पदो की घोषणा की गई। झाबुआ जिला भाजपा जिलाध्यक्ष पद पर जिले के उपाध्यक्ष रहे लक्ष्मण नायक की ताजपोशी की गई। इस अवसर पर लक्ष्मण नायक ने आज झाबुआ मुख्यालय पहुचकर पंडित दीनदयाल उपाध्यायजी प्रतिमा पर पुष्पांजली अर्पित की इस अवसर पर आपके साथ क्षैत्रीय सांसद गुमानसिंह डामोर पूर्व विधायिका सुश्री निर्मला भुरिया, पूर्व विधायक शांतीलाल बिलवाल, कलसिंह भाभोर, भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य दौलत भावसार , शेलेष दुबे, जिला महामंत्री प्रफुल्ल गादिया प्रवीण सुराणा, श्यामा ताहेड सहित जिला पदाधिकारी मंडल पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे। इस अवसर पर नव नियुक्त भाजपा जिलाध्यक्ष उपस्थित पदाधिकारी व कार्यकर्ताओ को संबोधित करते हुए कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्यायजी हम सबके प्रेरणा स्त्रोत है, हमे इनके सामने संकल्पित होकर कहता हुॅ कि जिले मे भाजपा को मजबुत बनाने हेतु मुझे सभी का सहयोग व मार्गदर्शन समय समय पर मिलता रहा तो मै विश्वास दिलाता हुॅ कि भाजपा को मजबुत बनाने मे कामयाब होउंगा इस अवसर पर नायक ने कहा कि अब चमचागिरी भाई भतीजा वाद नही चलेगा संगठन के लिये हर किसी को मिल जुलकर व एकजुट होकर कार्य करना होेगा। मै यदि कोई गलती करु तो मे सभी वरिष्ठजनो से अपील करता हूॅ कि वे मुझे उसी समय टोके ओर मेरा सही मार्गदर्शन कर गलती होने से मुझे बचाये। इस अवसर पर क्षैत्रीय सांसद डामोर ने कहा कि हम सब को आगामी चुनौतियों के लिये मिलजुलकर संघर्ष कर भाजपा को मजबुत बनाना है भाजपा की यह खासियत है कि भाजपा के नाम पर आव्हान करने पर सभी कार्यकर्ता एकजुट हो जाते है लक्ष्मणसिंह नायक के रुप मे हमे नया जिलाध्यक्ष मिला है हम सब उनके नेतृत्व मे भाजपा को मजबुत बनाने का कार्य करेगे। इस अवसर पर सांसद ने कहा कि मे पूर्व जिलाध्यक्ष दौलत भावसार को धन्यवाद देता हूॅ कि लक्ष्मणसिंह नायक को अपने कार्यकाल मे उपाध्यक्ष बनाकर राजनीति मे एक अच्छा कार्यकर्ता दिया। इस अवसर पर पूर्व विधायक सुश्री निर्मला भुरिया ने कहा कि लक्ष्मण नायक के नेतत्व मे हमको एक जुट होकर इन्हे सहयोग कर भाजपा को मजबुती प्रदान करने का आज इस अवसर पर संकल्प लेना चाहिए। इस अवसर पर पूर्व विधायक शांतीलाल बिलवाल ने कहा कि लक्ष्मण नायक संघर्षशील व्यक्ति है इन्होने संघ मे रहकर कांग्रेस विचारधारा से बहुत बडा संघर्ष किया है कांग्रेस ने इनहे व इनके परिवारो को बहुत प्रताडित भी किया था परंतु ये हिम्मत नही हारे जेल मे जाने के बाद भी यह दृढता से कार्य करते रहे। इस अवसर पर पूर्व विधायक कलसिंह भाभोर ने कहा कि लक्ष्मण नायक भाजपा जिलाध्यक्ष के रुप मे एक समर्पित कार्यकर्ता मिला है जो पूर्णकालिक बन भाजपा के लिये संतत कार्य करेगे हम सबको इनका सहयोग कर मजबुत बनाना है। कार्यक्रम का संचालन करते हुए प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य पूर्व जिलाध्यक्ष भावसार ने कहा कि प्रदेश भाजपा ओर संभागीय नेत्त्व का सर्वश्रेष्ठ निर्णय है इसका हम सब स्वागत करते है निश्चित रुप से नायक संघर्षशील व्यक्तित्व के धनी है ओर हमको इनके नेतत्व मे कांग्रेस को उखाड फेकने हेतु संघर्ष करने का आनंद आयेगा। कार्यक्रम का आभार प्रदर्शन प्रदेश कार्यकारणी सदस्य दुबे ने कहा कि लक्ष्मण नायक एक योग्य ओर विश्वास के धनी संघर्षशील व्यक्त्वि के धनी है इन्होने रासुका ओर जेल जैसी यात्रा भी कांगे्रस के समय मे झेली है मे इस अवसर पर यहा उपस्थित सभी पदाधिकारीयो व जनप्रतिनिधीयो व कार्यकर्ताओ का आभार व्यक्त करता हुॅ। कार्यक्रम के अवसर पर जिला उपाध्यक्ष अजय पोरवाल, जिला कार्यालय मंत्री पंडित महेन्द्र तिवारी, अंकुर पाठक, कीर्ति भावसार, जुवानसिंह गुण्डिया, रमेश शर्मा, नाना राठौर, बबलु सकलेचा, अजय सोनी, अवि भावसार, सौरभ जायसवाल, पार्षद मैडा, योगेश नाहर, यंशवत भण्डारी, मिडिया प्रभारी राजेन्द्र सोनी दिलीप नलवालया कांति प्रजापत सहित बडी संख्या मे कार्यकर्ता सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए उपस्थित हुए। उक्त जानकारी जिला भाजपा मिडिया प्रभारी राजेन्द्र सोनी ने दी।

भाजपा के नवागत जिलाध्यक्ष का थांदला में सोशल डिस्टेंश भूल कार्यकर्ताओं ने किया गरमजोशी से स्वागत सेल्फी भी ली

jhabua news
थांदला। भारतीय जनता पार्टी के नए जिलाध्यक्ष के लिए झाबुआ जिले के लिए संघ से जुड़े जमीनी कार्यकर्ता लक्ष्मणसिंग नायक को मौका दिया गया। विगत कई वर्षों से संघ और भाजपा में सक्रिय रहे लक्ष्मणसिंग नायक जिलाध्यक्ष बनते ही झाबुआ के बाद पहली बार आज दोपहर थांदला पहुँचे। यहाँ उन्होंने पण्डित दीनदयाल व शहीद ऐ आजम चन्द्रशेखर आजाद की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। वही भाजपा के शिखर पुरुष रहे  स्व.लक्ष्मीनारायण पाठक एवं फकीरचन्द राठौड़ (नेताजी) के घर पहुँच कर उनके चित्र पर माल्यार्पण किया। इस दौरान स्थानीय सावरिया सेठ मंदिर पर गवली समाज, जवाहर मार्ग पर नगर परिषद अध्यक्ष बंटी डामोर, श्यामा ताहेड, पूर्व विधायक कलसिंह भाभर, अरविंद रुनवाल, पारस शाहजी, कमलेश लोढ़ा, संजय भाभर, अमित शाहजी, सुरेश राठौड़ सहित अनेक कार्यकर्ताओं ने गर्मजोशी के साथ सोशल डिस्टेंश भूलकर फूल माला पहनाते हुए गर्मजोशी के साथ स्वागत किया वही भन्साली चैराहे पर अनिल भंसाली मित्र मंडल व अन्य कार्यकर्ताओं ने भी इसी उत्साह के साथ स्वागत किया। इस दौरान कुछ कार्यकर्ता सेल्फी भी लेते नजर आए। अब सत्ता पक्ष का इस तरह शासन के निर्देशों का मखौल उड़ाना कितना सही है यह कहने की बात नही अपितु बड़े पदाधिकारी के लिये समझने का विषय जरूर हो सकता है।

थांदला विधानसभा क्षेत्र प्रशासन की लापरवाही से फैल सकता है कोरोना

jhabua news
थांदला। विधानसभा क्षेत्र के थांदला व मेघनगर विकासखण्ड क्षेत्र में लॉक डाउन के साथ ही दोनो खण्ड के प्रशासकीय व पुलिस अधिकारीयो द्वारा सतर्कता बरतने का नतीजा रहा कि यह विधानसभा क्षेत्र ष्ग्रीन झोनष् में ही रहा । इस क्षेत्र में एक भी कोरोना मरीज या कोरोना संदिग्ध नही पाया गया परन्तु वर्तमान के हालातों पर नजर डाले तो विगत दिनों जैसे ही व्यापार शुरू करने की छूट मिलने के बाद दोनों विकासखण्डों में प्रशासकीय अधिकारी लापरवाह नजर आ रहे है । इस लापरवाही का खामियाजा कही नगर की जनता को न चुकाना पड़े यह आने वाला वक्त बताएगा। लापरवाही व अनदेखी के कुछ ऐसे उदाहरण है जिस पर प्रशासन को वर्तमान हालातों पर नजर रखकर सतर्कता बरतने की आवश्यकता है । 

होम क्वॉरेंटाइन वाले घरों से हो रहा व्यवसाय - प्रशासन मौन
थांदला क्षेत्र के प्रमुख रेलवे स्टेशन थांदला रोड़ (उदयगढ़) जो मेघनगर विकासखण्ड नोगावा पंचायत में आता है । इस ग्राम के कुछ परिवार दाहोद गुजरात में भी निवास करते है व थांदला रोड़ में भी इनका व्यवसाय व निवास स्थान होकर प्रतिदिन आवागमन करते थे, लेकिन लॉक डाउन के पूर्व दाहोद जाने के बाद आ नही पाए थे। उक्त व्यापारी 4 मई को व्यापार की छूट मिलते ही यहाँ आये व दुकान खोलकर धड़ल्ले से व्यापार प्रारम्भ भी कर दिया। वर्तमान में गुजरात का दाहोद कोरोना संक्रमित क्षेत्र है, गांववासियों ने जब प्रशासन को अवगत करवाया तब मेघनगर चिकित्सालय की टीम ने आकर उन्हें परिवार सहित होम क्वॉरेंटाइन कर 14 दिन घर मे रहने की सलाह देकर इतिश्री कर इस आशय का सूचना पत्र चस्पा कर दिया। हालांकि सूचना पत्र में भी प्रशासनिक गलती के चलते उनका सही नाम नही लिखा गया जिसे वह महज त्रुटि ही मान रह है, जो एक गम्भीर बात हो सकती है।

घर के बजाय गोडाउन पर सूचना चस्पा की गई 
चिकित्सा दल ने परिवार के 7 सदस्यो को होम क्वॉरेंटाइन करने के बाद जो सूचना चस्पा की वह निवास सह दुकान के बजाय व्यापारी के गोडाउन पर कर 16 मई तक 14 दिन घर मे रहने की सलाह देकर खानापूर्ति कर दी गई। व्यापारी परिवार द्वारा चिकित्सक की बात को नजरअंदाज करते हुए दूसरे ही दिन से दुकान खोलकर अपना व्यपार भी शुरू कर दिया व धड़ल्ले से बिना सोशल डिस्टेंश का पालन करते हुए माल बेचने लगा। कहने को व्यापारी परिवार, नोकर को दुकान में बिठाकर निर्देश देकर कार्य करवा रहा है परन्तु दुकान के पीछे के भाग में बैठकर एक तरह से स्वयं ही लेनदेन कर व्यापार कर रहा है तो फिर होम क्वॉरेंटाइन का औचित्य ही क्या है ? 

व्यापारी का लालच कही स्थिति खराब न कर दे
उक्त परिवार के व्यापार व पैसों का लालच कही क्षेत्र की स्थिति ऐसी न कर दे कि यह ग्रीन झोन, ऑरेंज या रेड झोन में बदल जाये । प्रशासन को चाहिए की ऐसे परिवार के साथ उचित कार्रवाई कर उन्हें क्वॉरेंटाइन सेंटर में शिफ्ट कर दिया जाना चाहिए ताकि संक्रमित क्षेत्र से आने वाले व्यक्तियों से जनता को कोई खतरा उत्पन्न न हो। इस मामले को प्राथमिकता से लेते हुए क्षेत्र की सुरक्षित स्थिति को बनाए रखने की सख्त आवश्यकता है । इस तरह की लापरवाही जनता के लिए जान का जोखिम बन सकती है, वही संबंधित लोगों के निवास पर क्वॉरेंटाइन की सूचना न लगाकर उनके बंद बड़े प्रतिष्ठानों पर उसकी सूचना लगाना वह भी नाम मे भूल करते हुए बड़ी लापरवाही का सूचक है । प्रशासन को इस ओर विशेष ध्यान देने की जरूरत है क्वॉरेंटाइन किए गए लोगों का व्यवसाय करना या अपने मुलाजिमों से व्यवसाय का संचालन करवाना बड़े खतरे का निमंत्रण है । जिला प्रशासन के द्वारा उन्हें सख्त हिदायत देते हुए उनके व्यवसायिक प्रतिष्ठानों को तुरंत बंद करवाना चाहिये ।

विधानसभा क्षेत्र व गाँव के फलियों में अनेक परिवार प्रवेश कर गए
थांदला मेघनगर विधानसभा क्षेत्र के अनेक गॉव फलियों में हाल ही में मजदूरों की घर वापसी के दौर में गुजरात, महाराष्ट्र व राजस्थान के राज्य में मजदूरी पर गए अनेक परिवार जांच व 14 दिन के लिए क्वॉरेंटाइन सेंटर में न रख दे इस भय के चलते पिटोल बार्डर से गावो के रास्ते पैदल निकलकर बिना जांच के क्षेत्र में प्रवेश कर अपने फलिये घरों में पहुँच गए है । अगर इन मजदूरों में कोई एक भी कही कोरोना ग्रस्त निकल गया तो यह ग्रीन झोन रेड झोन में बदल सकता है । प्रशासन को चाहिए कि क्षेत्र के तड़वी, सरपंच व सचिव के माध्यम से ऐसे लोगो की जानकारी निकालकर उनकी जांच करवाये अन्यथा क्षेत्र पर संकट का साया मंडरा जाएगा । 

शीतल पेय व्यवसाय भी धड़ल्ले से जारी
चिकित्सको के अनुसार कोरोना महामारी के इस दौर में होटल व शीतल पेय प्रतिबंध किया गया है वही शीतल पेय तो हानिकारक भी माना गया है। वैसे तो जिला प्रशासन द्वारा कही भी शीतलपेय, आइसक्रीम, बर्फ की दुकानों, आइस फेक्ट्री को अनुमति प्रदान नही की गई है परन्तु थांदला नगर व आसपास में शीतलपेय पदार्थ कोकाकोला, पेप्सी, स्प्राइट, जीरु, आइसक्रीम, कुल्फी आदि का व्यवसाय भी नगर के मध्य मुख्य मार्ग के पिपली चैराहे पर 4 मई से धड़ल्ले से खुलेरूप से किया जा रहा है । इस बात की शिकायत जब पुलिस  प्रशासन के पास पहुची तो उक्त दुकान बंद करवाई गई थी परन्तु कुछ समय बाद वापस प्रारंम्भ कर दी गई जो प्रतिदिन खुल रही और धड़ल्ले से व्यापार हो रहा है।

क्या है साठगांठ समझ से परे है
गन्ने का रस एक तरह से आयुर्वेद दवा के रूप में है जो चिकित्सक बीमार मरीजो को पीने की सलाह देते है । जब प्रशासन गन्ने के रस के दुकानदारों को व्यवसाय प्रारम्भ करने की अनुमति नही दे रहा है तो फिर कोरोना में खतरनाक कोकाकोला, पेप्सी, जैसे शीतलपेय की बिक्री कैसे हो रही है । पुलिस प्रशासन द्वारा दुकान बंद करवाने के कुछ ही समय बाद ही वापस उक्त दुकान खुल जाने व व्यापार करना क्या कोई साठगांठ का प्रतीक है ? क्या यह इस कोरोना महामारी में आमजन के स्वास्थय से खुला खिलवाड़ नही है ? अगर इस तरह का व्यवसाय प्रतिबंधित नही है तो फिर गन्ने के रस सहित समस्त शीतलपेय के व्यवसायियों को भी अपने व्यवसाय के लिए अनुमति प्रदान कर देना चाहिए । थांदला क्षेत्र के प्रशासन व जिला कलेक्टर को इस ओर तत्काल संज्ञान लेकर उचित कार्यवाही करने चाहिए ।

कोरोना ने दिया कमाई का मौका

थांदला। इन दिनो देश में महामारी का कारण बनी बवतवदं बीमारी के बारे में हर कोई जान ही गया होगा। इसके चलते देश को काफी समस्याओ का सामना करना पड़ रहा है।बवतवदं बीमारी ने सभी को अपने मे जकड़ लिया इससे पीछा छुड़ाने के लिए सरकार भी नित नए-नए उपाय खोज रही है।जिसके चलते देश की अर्थव्यवस्था पर गहरा प्रभाव पड़ा है।वही दूसरी ओर कई लोगो के लिए यह बीमारी एक वरदान साबित होती नजर आ रही है जिसका फायदा हर कोई उठा रहा है।जिसमें किराना व्यापारी,अनाज व्यापारी,बैंक कियोस्क चलाने वाले ग्राहक सेवा केंद्र और खास कर पुलिस प्रशासन भी शामिल है।पुलिस प्रशासन भी इनमे सबसे अहम भूमिका निभाता नजर आ रहा है।ग्राम परवलिया में ये सब आम बात हो गयी है।साथ ही साथ व्यापारियों द्वारा भी बनाये गए नियमो का उल्लंघन करना आम बात हो गयी है।कलेक्टर द्वारा जारी किए गए आदेश अनुसार ग्रामीण इलाकों में जो छूट दी गयी थी उस नियम का पालन न करते हुए उन्हें तोड़ा जाना यहाँ के व्यापारियों के लिए खेल बन चुका है।सुबह 08 से दोपहर 02 बजे तक का समय होने के बाद भी किराना व्यापारी शाम के वक्त एक तरफ से शटर  खोल कर व्यवसाय चालू रखते है।जिसमे व्यापार के लिए बने हॉटस्पॉट-स्कूल चैराहा,बस स्टैंड,विष्वकर्मा मंदिर सभी के आस पास के व्यापारियों द्वारा सभी नियमो को नकारा गया।जिसमे पुलिस प्रशासन भी चुप्पी साधे बैठा है।

स्पीड ब्रेकर पर कंटेनर ने अचानक लगाया ब्रेक पीछे से आ रही आईसर भिडी 
सड़क पर नहीं है स्पीड ब्रेकर होने का कोई संकेतक संकेतक के अभाव में आए दिन दुर्घटना का रहता है अंदेशा 
jhabua news
कालीदेवी। इंदौर अहमदाबाद नेशनल हाईवे पर ग्राम कालीदेवी में बस स्टैंड के पास स्पीड ब्रेकर होने का सड़क पर संकेतक नहीं होने से दुर्घटना का अंदेशा बना रहता है वाहन चालक राजगढ़ की ओर से उतार होने से तेज गति से एक के पीछे एक आते हैं अचानक स्पीड ब्रेकर देख आगे की गाड़ी वाला ब्रेक लगा देता है जिससे पीछे आ रही गाड़ी के टक्कर होने का अंदेशा रहता है रविवार सुबह 7 बजे ऐसे ही एक अज्ञात कंटेनर के स्पीड ब्रेकर के पास आकर ब्रेक लगाने से पीछे आ रही टाटा आईसर क्रमांक जीजे 05 बीएक्स 3903 का चालक नियंत्रण नहीं रख सका और कंटेनर में पीछे जाकर घुस गया जिससे आईसर के आगे का हिस्सा बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया कंटेनर का चालक वाहन लेकर फरार हो गया ग्रामीणों ने बड़ी मशक्कत के बाद आईसर के चालक को बाहर निकालकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया चालक को पैर में चोट लगी यहां स्पीड ब्रेकर होने का सड़क पर कोई संकेतक नहीं होने से आए दिन वाहन चालक गच्चा खाते हैं संकेतक के  नाम पर स्पीड ब्रेकर से कुछ दूरी पर रोड की साइड में एक बोर्ड लगा हुआ है जो कि वाहन चालकों को दिखता नहीं है जिससे दुर्घटना का अंदेशा बना रहता है रात्रि में भी तेज गति होने व संकेतक नहीं होने से वाहन चालक स्पीड ब्रेकर दूर से  देख नहीं  पाते हैं  जिससे स्पीड में  ब्रेकर कूदने से  बहुत ही  तेज आवाज आती है यही हालत झाबुआ की ओर से आ रहे रोड पर जनपद पंचायत के सामने भी है अगर समय रहते सड़क पर संकेतक नहीं बनाए गए तो बड़ी दुर्घटना होने का अंदेशा बना हुआ है ।

मूक पक्षियो की सेवा के लिए हर समय तत्पर राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग की टीम, राष्ट्रीय पक्षी मोरों के लिए आहार की व्यवस्था की

jhabua news
झाबुआ। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच मूक पक्षी जिसमें मयूर, चिड़िया कबूतर आदि भीषण गर्मी में तपती धूप में भी अत्यधिक परेशान है। भीषण गर्मी मंे इन्हंे जीवित रहने के लिए प्रतिदिन दाना-पानी की आवष्यकता होती है। जिसके दृष्टिगत राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग तथा पत्रकार संघ झकनावदा ने जन-सहयोग से मूक-पक्षियों के लिए अनाज की व्यवस्था की। झकनावदा नगर में राजवाड़े परिसर में राष्ट्रीय पक्षी मोरो की संख्या करीब 400 के आसपास है। इसके साथ ही झकनावदा के समीपस्थ मधु कन्या नदी के समीप स्थित जगदीश माली के खेत पर करीब 200 के आसपास मोरों की संख्या है। आयोग की टीम ने इन स्थानों पर पहुंचकर मूक पक्षियों के लिए चावल, गेहूं एवं मक्का की व्यवस्था की। अपने हाथों से पक्षियों को आहार करवाया। इसके अतिरिरक्त जिले के प्रसिद्ध श्रंृगेश्वर महांकाल मंदिर के समीपस्थ माही नदी में मछलियों के लिए आटे की गोली बनाकर नदी में मछलियों के भोजन के लिए डाली गई।

इनका रहा मुख्य सहयोग, पुलिस चैकी के पीछे भी पक्षियों के लिए डाला अनाज
इस अनाज की व्यवस्था में राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग के प्रतिनिधि प्रदेश अध्यक्ष मनीष कुमट, युवा पत्रकार शुभम कोटडिया, संजय व्यास, अरविंद राठौर, गोपाल विश्वकर्मा ,ठा. जगपालसिंह राठौर, ओमप्रकाश अरोड़ा, रवि राठौड़ विशाल दईया का मुख्य सहयोग रहा। इसके साथ ही स्थानीय पुलिस चैकी के पीछे भी करीब 50 से 75 मोरों की संख्या ह,ै वहां भी उपस्थितजनों ने मूक पक्षियों के लिए अनाज की व्यवस्था की। इस अवसर पर चैकी प्रभारी रंजनसिंह गणावा, एएसआई जाओसिंह बिलवाल, आरक्षक पंकज राजावत एवं राकेश लक्षिता आदिद उपस्थित थे जिन्होंने अपने हाथों से पक्षियों को अनाज डाला।

मूक प्राणियों की सेवा करने से बड़ा ओर कोई कार्य नहीं
इस पर चैकी प्रभारी गणावा एवं नंदलाल बर्फा के इस कार्य की सराहना की। चैकी प्रभारी श्री गणावा ने कहा कि अपना पेट भरने की तो हर कोई सोचता है, लेकिन इन मूक पक्षियों के लिए सोचना और उनकी सेवा करना सबसे बड़ा पुण्य का कार्य है। 10 मई, रविवार को युवा पत्रकार शुभम कोटड़िया का जन्मदिवस होने से सभी ने श्री कोटड़ियाको जन्मदिवस की शुभकामनाएं देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।

सेन समाज झाबुआ ने मप्र के मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर स्टेनों को पत्र देकर समाज के लोगों की आर्थिक मद्द करने की मांग की, डेढ़ महीने से व्यवसाय बंद होने से परिवार के पालन-पोषण में आ रहीं काफी कठिनाईयां

jhabua news
झाबुआ। नोवेल कोरोना वायरस (कोविड-19) जैसी महामारी से आज भारत देष सहित संपूर्ण विष्व जूझ रहा है। भारत देष में कोरोना वायरस से रोकथाम हेतु आगामी 17 मई लाॅकडाउन-03 लगा हुआ है। लाॅकडाउन में शासन-प्रषासन द्वारा संपूर्ण देष में सेन समाज के लोगों को अपना व्यवसाय खोलने की अनुमति नहीं दी जा रहीं है। विषेषकर मप्र में शासन द्वारा सैलून-हेयर डेªसर्स व्यवसाईयों को उनके प्रतिष्ठान बंद रखने हेतु कहा गया हे। जिसका भलाभांति पालन पिछले डेढ़ महीने से मप्र सहित झाबुआ शहर में भी सेन समाज करता आ रहा है और समाज के लोगों द्वारा अपनी दुकाने नहीं खोली जा रहीं है, लेकिन इस बीच बड़ी चिंता का विषय यह है 45 दिनों से भी अधिक समय से समाज के लोगों की दुकाने नहीं खुलने से समाज के गरीब एवं मध्यम वर्ग के लोगों के सामने रोजी-रोटी का संकट उत्पन्न हो गया है। व्यवयाय पूरी तरह से बंद होने से आखिर समाज के लोग अपना परिवार कैसे चलाएं .... ? जिसे ध्यान में रखते हुए सेन समाज झाबुआ द्वारा एक पत्र तैयार कर मप्र के मुख्यमंत्री षिवराजसिंह चैहान के नाम समाज के कुछ पदाधिकारी-सदस्यों ने कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर कलेक्ट्रेट स्टेनों को देकर मांग की है कि संकट और आपातकाल की इस घड़ी में शासन-प्रषासन सेन समाज के लोगों की आवष्यक मद्द करे। विषेषकर समाज के सभी लोगांे की आर्थिक मद्द की जाए। समाज अध्यक्ष घनष्याम भाटी, उपाध्यक्ष हरिष पडिहार, सचिव अषोक देवड़ा, कोषाध्यक्ष विजय पडिहार, ओमप्रकाष पडिहार, कांतिलाल पडिहार, प्रवीण श्रीवास, कमल भाटी आदि ने फेस पर मास्क पहनकर एवं सोषल डिस्टेनसिंग के साथ कलेक्टोरेट पहुचकर दिए गए पत्र में बताया कि आज देष एवं प्रदेष में कोरोना वायरस की महामारी के चलते मप्र के केष षिल्पीयों एवं सर्व सेन समाज परिवार पर बड़ा संकट पैदा हो गया है। इस महमारी के बीच समाज के लोग अपने प्रतिष्ठान बंद होने से अपने परिवार का पालन पोषण कैसे करे। मकान, दुकान किराया एवं बिजली बिल कैसे भरे। बच्चों की षिक्षा का खर्च एवं आवष्यक सामग्रीयों के इंतजाम कैसे करे।

जिले के समाज के लोगों का केष षिल्पी कार्ड बनवाया जाएं
पत्र मंे आगे बताया कि जिले के समाजजनों का केष षिल्पी कार्ड नहीं बना है, तत्काल कार्ड बनवाए जाएं। तत्काल राषन पर्ची उपलब्ध करवाई जाए, ताकि समाज के लोगों को उचित मूल्य की दुकानों से राषन सामग्री उपलब्ध हो सके। समाज के बच्चों की फीस में छूट हेतु समस्त विद्यालयों को आदेषित करे। परिवार की सुरक्षा हेतु बीमा सुविधा उपलब्ध करवाई जाएं। समाज के लोगों को कोरोना वायरस के कारण सावधानीपूर्वक लंबे समय तक अपने प्रतिष्ठान बंद रखना है। जिसके कारण उन्हें अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ेगा। लाॅकडाउन में समाज के अत्यंत निर्धन वर्ग के लोगों की स्थिति बहुत दुखदायी हो गई है। कोरोना वायरस की इस लड़ाई में पूरा समाज शासन-प्रषासन के साथ खड़ा है एवं हर संभव सहयोग के लिए पूरी तरह से तत्पर है। बस समाज के लोगों का पालन-पोषण समय पर हो सके, ऐसी व्यव्स्था करने की मप्र सरकार एवं भारत सरकार से मांग की गई।

समाज के लोगों का कार्य दूसरे वर्ग के लोग भी कर रहे
पत्र में यह भी उल्लेख किया गया कि सेन समाज का पुष्तैनी धंधा एवं व्यवसाय सैलून और हेयर ड्रेसेस का ही रहा है, लेकिन वर्तमान में दूसरे वर्ग के कई लोग भी यह व्यवसाय करने लगे है। सेन समाज इसका विरोध करता है एवं शासन-प्रषासन को आगाह करना चाहता है कि इनके कारण यदि भविष्य में कोई घटना होती है, तो उसके लिए सेन समाज को जवाबदार ना ठहरा जाएं।

4 हजार 458 व्यक्तियों को भोजन प्रदाय

झाबुआ। कोविड-19 (कोरोना वायरस) संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिए जिला स्तर से अब तक सर्दी, खांसी के मरीजों के साथ आईसोलेषन वार्ड क्वारेंटाइन केन्द्र एवं बाॅर्डर पर तैनात स्वास्थ्य कर्मी, पुलिस के लोग, आंगनवाडी एवं आषा कार्यकर्ता के कुल 390 सेम्पल जांच के लिए भेजे गये है। जिनमें से 325 सेम्पल कोरोना पाजीटिव नहीं पाए गये और 1 सेम्पल कोरोना पाजीटिव पाया गया है। 37 सेम्पलो की जांच रिपोर्ट आना षेष है। जिले में कुल 962 लोगों को कोरेण्टाइन सेन्टर में रखा गया है। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने अवगत कराया कि रविवार कोे 4 हजार 458 जरूरतमंद व्यक्तियों को भोजन प्रदाय किया गया है। पुलिस विभाग द्वारा जिले में अब तक कुल 22 व्यक्तियों के खिलाफ एफ आई आर, धारा 151 के तहत 10 प्रकरण तथा 26 व्यक्तियों को अस्थाई जेल में निरूद्ध किया गया।

163815.50 क्विंटल गेंहू का उपार्जन

झाबुआ । कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने अवगत कराया की जिले में समर्थन मूल्य पर षनिवार तक खरीदी केन्द्रो पर 3 हजार 854 किसानांे से 163815.50 क्विंटल गेंहू का उपार्जन किया गया है। जिले में किसानो को 4 करोड 84 लाख 58 हजार 68 रूपये की राषि का भुगतान किया जा चुका है। पंजीकृत किसानो को एस एम एस से सूचना प्रति दिन भेजी जा रही हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...