सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 28 मई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 28 मई 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 28 मई

जिले के आष्टा में मिला एक कोरोना पॉजिटिव मरीज अभी तक कुल 788 सेंपल जांच के लिए भेजे गए

sehore news
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुधीर डेहरिया ने जानकारी दी कि जिले में अन्य देशों से सीहोर पहुंचे कुल व्यक्तियों की संख्या 232 है जिनमें से 184 लोगों की अब तक स्क्रीनिंग स्वास्थ्य विभाग द्वारा की जा चुकी है। पिछले 24 घंटों के दौरान 85 ऐसे व्यक्तियों की पहचान की गई जो अन्य राज्यों और अन्य जिलों से लौटे थे इन सभी व्यक्तियों की तत्काल स्क्रीनिंग कर इन्हें  होम कोरेंटाईन कर दिया गया है जिले में अब तक होम कोरेंटाईन किए गए व्यक्तियों की संख्या 42866 है। डॉ. डेहरिया ने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान ऐसे व्यक्ति जो विदेश से सीहोर जिले में नहीं लौटे थे परंतु अन्य जिलों एवं राज्यों से लौटे थे और विभागीय अधिकारियों कर्मचारियों द्वारा घर-घर सर्वे के दौरान चिन्हित किए गए। पिछले 24 घंटों में होमकोंरेटाईन की अवधि से 273 लोग बाहर आ चुके हैं जबकि अब तक कुल 36877 व्यक्तियों का होम कोरेंटाइन पूर्ण किया जा चुका है। जिले से अब तक कुल 788 सेम्पल जांच के लिए भेजे गए थे जिनमें से 745 सेंपलों की रिपोर्ट अब तक निगेटिव प्राप्त हुई है। गुरुवार को 27 सेंपल जांच के लिए भेजे गए। कुल 30 सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। अभी तक की स्थिति में हास्पिटल आईसोलेशन में भर्ती मरीजों की कुल संख्या 14 है। कोरोना संक्रमण पाजीटिव मरीजों की संख्या 6 है। कोरोना संक्रमण के कारण मृत्यु संख्या 1 है। कुल कंटेंमेंट एरिया 3 हैं। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 8 है। वहीं विदेश से आए यात्री जो गृह जिला या निवासरत जिला में वापस नहीं आए उनकी संख्या 48 है। कोरोना संक्रमित उपरांत ठीक हुए मरीजों की संख्या 4 है। आष्टा निवासी एक व्यक्ति की रिपोर्ट आज इंदौर में पॉजिटिप आई है। उपचार के दौरान उसका इंदौर में कोरोना सेंपल जांच के लिए लिया गया था जिसकी रिपोर्ट गुरुवार को पॉजिटिप प्राप्त हुई है। उक्त व्यक्ति के करीबी संपर्क वाले 27 व्यक्तियों के कोरोना सेंपल जांच के लिए भोपाल भेजे गए हैं तथा सभी लोगों को क्वांरेंटाईन कर दिया गया है। पॉजिटिव व्यक्ति के निवास स्थान वाले क्षेत्र का कंटेनमेंट घोषित किया गया है। स्वास्थ्य सर्वे दल द्वारा बिल्किसगंज अंतर्गत फ्रीगंज कंटेनमेंट एरिया के वार्ड क्रमांक 16 एवं 17 में  3 स्वास्थ्य सर्वे दलों द्वारा 181 घरों का सर्वे कर 1045 व्यक्तियों से स्वास्थ्य संबंधी जानकारी ली गई सभी स्वस्थ है। वहीं इंदिरा नगर कंटेनमेंट एरिया वार्ड नंबर 2 के 175 घरों का सर्वे कर 556 व्यक्तियों से स्वास्थ्य संबंधी फालोअप लिया गया। कंटेनमेंट एरिया घोषित किए जाने के बाद से स्वास्थ्य सर्वे दलों द्वारा निरंतर वहां के निवासियों का फालोअप प्रतिदिन लिया जा रहा है। जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर-7247704181 है कोविड-19 से संबंधित जानकारी इस संपर्क नंबर पर ली व दी जा सकती है। वहीं जिला चिकित्सालय सीहोर में टेलीमेडिसीन के लिए संपर्क नंबर 07562-401259 जारी किया गया है तथा राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104  नंबर पर ई-परामर्ष सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। ई-संजीवनी ओपीडी सेवा हेतु www.esanjeevaniopd.in पंजीयन कराया जा सकता है। कलेक्ट्रेट कार्यालय में भी जिला स्तरीय काल सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562-226470 है तथा होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। जिस पर संस्थागत क्वारंटाइन अथवा होम क्वारंटाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकोलाजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्ष मानसिक सेवा प्रदाताओं से निःशुल्क प्राप्त कर सकते है। 

एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय बांसापुर बुदनी में छात्र-छात्राएं 10 से 15 जून तक कर सकते हैं आवेदन  

जिला संयोजक आदिम जाति कल्याण विभाग ने जानकारी देते हुए बताया कि एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय बांसापुर बुदनी में रिक्त सीटों की पूर्ति की जाना है। संस्था में केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) से शिक्षा व्यवस्था, नि:शुल्क आवास, भोजन, पाठयपुस्तक, लेखन सामग्री, गणवेश एवं अन्य सुविधाएं प्रदान की जाती हैं। जिसके लिए पात्र केवल अनुसूचित जनजाति के छात्र/छात्राएं 10 से 15 जून 2020 तक प्रात: 10 से दोपहर 12 बजे तक प्रोफाईल पंजीयन एवं दस्तावेज के साथ एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय बांसापुर बुदनी आवेदन कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि संस्था में कक्षा 7 के लिए 5 बालक एवं 7 बालिकाएं, कक्षा 8 के लिए 4 बालक एवं 4 बालिकाएं तथा कक्षा 11 के लिए 6 बालक एवं 12 बालिकाओं के स्थान रिक्त हैं। आवेदन करने के लिए आवेदक को मध्यप्रदेश का मूल निवासी होना आवश्यक है तथा पिछले सत्र 2019-20 में सीबीएसअर् पाठ्यक्रम पिछली कक्षा में न्यूनतम 60 प्रतिशत या अधिक अंकों के साथ उत्तीर्ण होना आवश्यक है। चयन मेरिट के आधार पर किया जाएगा। शिक्षा का माध्यम हिन्दी है, कक्षा 11 वीं की सीटों की संख्या परिवर्तनशील है। अन्य जानकारी के लिए कार्यालयीन समय पर संस्था में सपंर्क किया जा सकता है। अंतिम तिथि के बाद प्राप्त आवदेन पर कोई विचार नहीं किया जाएगा।    

नगरीय निकाय प्राथमिकता से करें वापस आये श्रमिकयों का सर्वे

आयुक्त नगरीय प्रशासन एवं विकास श्री पी. नरहरि ने सभी नगर निगम आयुक्तयों, मुख्य नगर पालिका अधिकारियों और अन्य संबंधित अधिकारिययों को निर्देश दिये हैं कि  मध्यप्रदेश के मूल निवासी श्रमिक जो कोविड-19 महामारी के कारण वापस आये हैं, का सर्वे प्राथमिकता से करें। सर्वे, सत्यापन और पंजीयन के लिए 27 मई से 3 जून तक अभियान चलाया जा रहा है। श्री नरहरि ने कहा है कि श्रम विभाग के निर्देशयों के अनुसार सर्वे के लिए दल गठित कर कलेक्टर के मार्गदर्शन में श्रम विभाग के साथ समन्वय बनाकर कार्य करें। उन्हयोंने कहा है कि इसका प्रचार-प्रसार समाचार पत्रयों के माध्यम से और वाडर्यों में मुनादी करवाकर करें। श्री नरहरि ने कहा है कि संभाग स्तर पर संयुक्त संचालक तथा जिला स्तर पर जिला परियोजना अधिकारी जिला शहरी विकास अभिकरण प्रतिदिन प्रगति प्रतिवेदन संचालनालय को ई-मेल करें। 

रेत खनिज के ठेकेदारों से वास्तविक उत्खनन की राशि ली जाएगी

राज्य शासन द्वारा रेत खनन के ठेकेदारों को लॉकडाउन अवधि के लिए राहत देने का निर्णय लिया गया है। लॉकडाउन प्रारंभ होने की तिथि 22 मार्च, 2020 से अथवा अनुबंध दिनांक से वास्तविक उत्खनित मात्रा पर ही ठेके की राशि ली जाएगी। समानुपातिक गणना के आधार पर देय किश्त राशि में छूट दी जाएगी। शासन ने 18 मई, 2020 अथवा अनुबंध दिनांक से 31 अक्टूबर, 2020 तक ठेकेदारों से वास्तविक उत्खनित मात्रा पर अनुबंधित दरों पर ठेके की राशि ली जाएगी। ठेकेदारों को यह भी सुविधा दी गयी है कि उक्त अवधि की देय किश्त राशि का समायोजन करते हुए शेष राशि को बिना ब्याज के समान किश्तों में नियमित भुगतान किया जाए। राज्य शासन द्वारा मध्यप्रदेश रेत खनन, परिवहन, भण्डारण एवं व्यापार नियम-2019 के अंतर्गत यह आदेश प्रदान किये। राज्य शासन ने रेत ठेकों की अवधि बढ़ाने के संबंध में भी निर्देश दिए हैं। मध्यप्रदेश रेत नियम-2019 के नियम के प्रावधान को शिथिल करते हुए आर्थिक ठेका धन में 10 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी के साथ 30 जून, 2023 तक ठेके की अवधि बढ़ाई जा सकेगी। शासन द्वारा वैधानिक अनुमतियों को अनुबंध निष्पादन के पूर्व प्राप्त करने की अनिवार्यता को शिथिल किया गया है। ऐसे शिथिलीकरण उपरांत नियम-13 के तहत निष्पादित अनुबंध में वैधानिक अनुमतियाँ प्राप्त होने के पश्चात ही खदान संचालित किये जाने की शर्त अधिरोपित की जायेगी। इस प्रकार से निष्पादित अनुबंध में ठेके की किश्त की राशि दिनांक 8 जून, 2020 अथवा जलवायु सम्मति दिनांक से वसूल की जायेगी। उक्त राहत केवल उन्हीं जिला समूहों के रेत ठेकेदारों को दी जायेगी जिनके द्वारा 6 जून, 2020 तक अनुबंध का निष्पादन किया गया हो। कोविड-19 के संक्रमण के कारण प्रदेश की आर्थिक गतिविधियाँ प्रभावित हुई हैं। प्रदेश में बाहरी राज्यों से श्रमिक वापस आ रहे हैं। इन श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिये राज्य शासन द्वारा प्रयास किये जा रहे हैं। भारत सरकार द्वारा कोविड-19 संक्रमण के दृष्टिगत विभिन्न राहत पैकेज जारी किये गये हैं। इन राहत पैकेज संबंधी निर्माण कार्यों को रेत खनिज की आपूर्ति के लिए राज्य शासन द्वारा रेत खनिज की उत्खनन अनुज्ञा के अधिकार जिला कलेक्टरों को देने का निर्णय लिया गया है। मध्यप्रदेश गौण खनिज नियम-1996 के नियम-66 के तहत नियम-68 की शर्तों को शिथिल करते हुए रेत खनिज की उत्खनन अनुज्ञा स्वीकृत करने के अधिकार संबंधित जिले के कलेक्टर को देने के आदेश जारी किये गये हैं। जिला कलेक्टर शासकीय एवं सार्वजनिक निर्माण कार्यों की आवश्यकता को दृष्टिगत रखते हुए अपने जिले में रेत की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिये मध्यप्रदेश गौण खनिज नियम-1996 के नियम-68 के तहत मध्यप्रदेश रेत खनन, परिवहन, भण्डारण तथा व्यापार नियम-2019 के अंतर्गत जिले में रेत खनिज की स्वीकृत निविदा दर अनुसार राशि अग्रिम में जमा करने के उपरांत ही रेत की अस्थायी अनुज्ञा जारी कर सकेंगे। इस संबंध में समस्त जानकारी कलेक्टर कार्यालय की खनिज शाखा से प्राप्त की जा सकेगी।

माध्यमिक शिक्षा मण्डल ने शेष बची परीक्षाअयों का कार्यक्रम जारी किया, 9 से 16 जून तक हयोंगी हायर सेकेण्डरी के शेष विषययों की परीक्षा

माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा हायर सेकेण्डरी एवं हायर सेकेण्डरी व्यावसायिक परीक्षा-2020 की शेष बची परीक्षाअयों (सामान्य/दिव्यांग छात्र) का परीक्षा कार्यक्रम जारी कर दिया गया है। परीक्षा 9 जून से 16 जून तक संचालित की जायेगी। सचिव माध्यमिक शिक्षा मण्डल ने सभी प्राचायर्यों को निर्देशित किया है कि प्रत्येक परीक्षार्थी को परीक्षा की तिथि और समय की जानकारी देना सुनिश्चित करें। परीक्षा कार्यक्रम मण्डल की वेबसाइट <www-mpbse-nic-in> पर भी देखा जा सकता है।

हायर सेकेण्डरी एवं हायर सेकेण्डरी व्यावसायिक पाठ्यक्रम परीक्षा का कार्यक्रम
हायर सेकेण्डरी एवं हा.से. व्यावसायिक पाठ्यक्रम परीक्षा इस प्रकार है मंगलवार 9 जून को रसायन विज्ञान एवं भूगोल, बुधवार 10 जून को बुक-कीपिंग एवं एकाउंटेंसी तथा प्रथम प्रश्न-पत्र व्होकेशनल कोर्स, गुरुवार 11 जून को जीव-विज्ञान, शुक्रवार 12 जून को व्यावसायिक अर्थशास्त्र तथा एनिमल हसबेंड्री, मिल्ड ट्रेड, पोल्ट्री फार्मिंग एवं फिशरीज, शनिवार 13 जून को राजनीति-शास्त्र, शरीर रचना क्रिया विज्ञान एवं स्वास्थ्य, स्टिल लाइफ एण्ड डिजाइन एवं द्वितीय प्रश्न-पत्र व्होकेशनल कोर्स, सोमवार 15 जून को हायर मैथेमेटिक्स, विज्ञान के तत्व, भारतीय कला का इतिहास तथा तृतीय प्रश्न-पत्र वोकेशनल कोर्स, मंगलवार 16 जून को अर्थशास्त्र तथा क्रॉप प्रोडक्शन एवं हॉर्टीकल्चर विषय की परीक्षाएँ होंगी। हायर सेकेण्डरी एवं हायर सेकेण्डरी व्यावसायिक के जिन विषयों की परीक्षाएँ आयोजित नहीं की जायेंगी उन विषययों में बॉयो टेक्नालॉजी, शारीरिक शिक्षा, नेशनल स्किल्स क्वालिफिकेशन फ्रेमवर्क के विषय आई.टी, सिक्योरिटी, ब्यूटी एण्ड वेलनेस, बैंकिंग एण्ड फायनेंशियल सर्विसेस, इलेक्ट्रिकल टेक्नालॉजी, हेल्प-केयर, फिजिकल एजुकेशन एण्ड स्पोर्ट, रिटेल तथा ट्रेवल एण्ड टूरिज्म की परीक्षाएँ शामिल हैं।

दृष्टिहीन, मूक-बधिर (दिव्यांग) छात्रयों के लिये हा.से. एवं हा. से.व्यावसायिक परीक्षा पाठ्यक्रम
दृष्टिहीन, मूक-बधिर (दिव्यांग) छात्रयों के लिये हायर सेकेण्डरी एवं हायर सेकेण्डरी व्यावसायिक परीक्षा पाठ्यक्रम की शेष परीक्षाएँ 9 जून से 15 जून तक दोपहर 2 से 5 बजे तक हयोंगी। मंगलवार 9 जून को हायर मेथमेटिक्स एवं भूगोल, बुधवार, 10 जून को बुक-कीपिंग एवं एकाउंटेंसी तथा क्रॉप प्रोडक्शन एवं हॉर्टीकल्चर, गुरुवार 11 जून को जीव-विज्ञान एवं अर्थशास्त्र, शुक्रवार 12 जून को व्यावसायिक अर्थशास्त्र, एनिमल हसबेंड्री मिल्क ट्रेड पोल्ट्री फार्मिंग एवं फिशरीज, शनिवार 13 जून को राजनीति-शास्त्र, स्टिल लाइफ एण्ड डिजाइन तथा शरीर रचना क्रिया विज्ञान एवं स्वास्थ्य, सोमवार 15 जून को रसायन विज्ञान, विज्ञान के तत्व, भारतीय कला का इतिहास, समाज-शास्त्र, मनोविज्ञान, ड्राइंग एण्ड डिजाइनिंग तथा एनवायरमेंटल एजुकेशन एण्ड रूरल डेव्हलपमेंट, इंटरप्रेनुअरशिप की परीक्षा होगी। हायर सेकेण्डरी/हा.से. व्या. परीक्षा के विषय दृष्टिहीन एवं मूक-बधिर (दिव्यांग) छात्रयों के लिये विशिष्ट भाषा उर्दू, शारीरिक शिक्षा, बॉयो टेक्नालॉजी, कृषि मानविकी, होम साइंस (कला समूह), नेशनल स्किल्स क्वालिफिकेशन फ्रेमवर्क सिक्यूरिटी की परीक्षाएँ आयोजित नहीं की जायेंगी। परीक्षाकाल में शासन द्वारा यदि कोई सार्वजनिक अथवा स्थानीय अवकाश घोषित किया जाता है तो भी परीक्षाएँ यथावत कार्यक्रमानुसार सम्पन्न हयोंगी। मण्डल आवश्यकता होने पर तिथि एवं समय में कभी भी बिना पूर्व सूचना के परिवर्तन कर सकता है, जिसकी सूचना विद्यार्थिययों को संचार माध्यमयों से दी जायेगी। हायर सेकेण्डरी परीक्षा में केवल वाणिज्य संकाय के विषययों को छोड़कर शेष विषययों में नियमित एवं स्वाध्यायी छात्रयों के लिये प्रश्न-पत्र 100 अंकयों का होगा किन्तु नियमित छात्रयों को 100 अंक के प्राप्तांक का 80 प्रतिशत अधिभार एवं स्वाध्यायी छात्रयों को 100 अंकयों के प्राप्तांक ही अंकसूची में प्रदर्शित किये जायेंगे।

प्रायोगिक परीक्षा
स्वाध्यायी छात्रों की शेष प्रायोगिक परीक्षाएँ आवंटित परीक्षा केन्द्र में 8 जून से 16 जून के मध्य आयोजित की जायेंगी। आवश्यकता पड़ने पर अवकाश के दिनयों में भी आयोजित की जा सकेगी।

सुरक्षा नियमयों का होगा सख्ती से पालन
परीक्षा केन्द्रयों पर सभी छात्रयों को अपने नाक और मुँह को नकाब/कपड़े/मास्क से ढंककर रखना होगा तथा फिजिकल डिस्टेंस नियमयों का सख्ती से पालन करना होगा। सभी परीक्षार्थिययों की थर्मल स्क्रीनिंग होगी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...