कोटा से ट्रेन से रांची पहुंचे पूर्वी सिंहभूम के छात्र-छात्राएं पहुंचे जमशेदपुर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 4 मई 2020

कोटा से ट्रेन से रांची पहुंचे पूर्वी सिंहभूम के छात्र-छात्राएं पहुंचे जमशेदपुर

पारडीह चेक पोस्ट में की गई हेल्थ स्क्रीनिंग, दिए गए आवश्यक दिशा-निर्देश
student-return-from-kota
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता) उपायुक्त, एसएसपी देर रात पहुंचे पारडीह चेकनाका, बच्चों की रवानगी तक बारीकी  से रखा व्यवस्थाओं पर नजर    कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण से बचाव को लेकर सरकार के निर्णय के बाद प्रवासी मजदूर/पर्यटक/श्रद्धालु एवं छात्र- छात्राएं अपने प्रदेश लौटने लगे हैं। कोटा से छात्रों को लेकर रांची के हटिया स्टेशन पहुंची ट्रेन में पूर्वी सिंहभूम जिले के भी बच्चे शामिल थे जिनका पारडीह चेकनाका(जमशेदपुर) पहुंचने पर आवश्यक चिकित्सीय जांच की गयी। छात्र-छात्राओं को रांची से जदशेदपुर लाने के लिए 10 बसों की व्यवस्था की गई थी जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए वे लाए गए। सभी बसों को रांची से रवानगी से पहले सैनिटाइज भी कराया गया था।  

उपायुक्त, एसएसपी खुद करते रहे व्यवस्थाओं की निगरानी, बच्चों से मिलकर जाना उनका हाल
बच्चों के आगमन को लेकर सुरक्षा के दृष्टिकोण से क्या-क्या कदम उठाए जाने हैं इसकी पुख्ता तैयारी पूर्व में ही कर ली गई थी। बच्चों के पहुंचते ही उनके स्वाब का सैंपल कलेक्शन किया गया। सभी बच्चों के नाम, पता, मोबाइल नंबर भी दर्ज किया गया है। उपायुक्त श्री रविशंकर शुक्ला एवं एसएसपी श्री एम. तमिल वाणन ने बच्चों से मिलकर उनका कुशलक्षेम जाना तथा होम क्वारंटाइन में रहने के बाबत आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उपायुक्त ने कहा कि जिला नियंत्रण कक्ष के माध्यम से होम क्वारंटाइन में रहने वाले सभी बच्चों पर निगरानी रखी जाएगी, आप सभी से अपील भी है कि अगले 28 दिनों तक स्वयं तथा अपने परिवार की सुरक्षा को देखते हुए क्वारंटाइन में रहना सुनिश्चित करें। एसएसपी द्वारा भी सभी बच्चों को होम क्वारंटाइन के नियमों के अक्षरशः अनुपालन की बात कही गयी तथा किसी भी प्रकार की समस्या आने पर जिला नियंत्रण कक्ष का  फोन नम्बर 9431301355, 0657-2440111, 8987510050(whatsapp) उप्लब्ध कराते हुए संपर्क करने की बात कही गई। मौके पर सभी बच्चों के मोबाइल फोन में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड कराया गया। जिला प्रशासन द्वारा पारडीह चेकनाका पर आवश्यक कार्रवाई के पश्चात सभी बच्चों को दंडाधिकारी की निगरानी में उनके निवास स्थान तक पहुंचाया गया।

कोई टिप्पणी नहीं: