सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 27 जून - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 27 जून 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 27 जून

तीन व्यक्ति जिला क्वांरेटाइन सेंटर से घर भेजे गए, अभी तक कुल 1265 सेंपल जांच के लिए भेजे गए

sehore news
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुधीर डेहरिया ने जानकारी देते हुए बताया कि सराय निवासी तीन व्यक्तियों को 14 जून को वैशाली नगर स्थित क्वांरेटाईन सेंटर में एक महिला के भोपाल में कोरोना पॉजीटिव मिलने के उपरांत तथा सराय क्षेत्र में 2 दिन ठहरने पर तीन परिजनों को क्वांरेटाईन किया गया था, जिन्हें आज संस्थागत क्वांरेटाईन की अवधि पूर्ण होने पर घर भेज दिया गया है। जिले में अन्य देशों से सीहोर पहुंचे कुल व्यक्तियों की संख्या 232 है जिनमें से 184 लोगों की अब तक स्क्रीनिंग स्वास्थ्य विभाग द्वारा की जा चुकी है। पिछले 24 घंटों के दौरान एक भी ऐसे व्यक्ति की पहचान नहीं की गई जो अन्य राज्यों और अन्य जिलों से लौटे थे। जिले में अब तक होम कोरेंटाईन किए गए व्यक्तियों की संख्या 43913 है। डॉ. डेहरिया ने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान ऐसे व्यक्ति जो विदेश से सीहोर जिले में नहीं लौटे थे परंतु अन्य जिलों एवं राज्यों से लौटे थे और विभागीय अधिकारियों कर्मचारियों द्वारा घर-घर सर्वे के दौरान चिन्हित किए गए। अब तक कुल 43913 व्यक्तियों का होम कोरेंटाइन पूर्ण किया जा चुका है। जिले से अब तक कुल 1265 सेम्पल जांच के लिए भेजे गए थे जिनमें से 1220 सेंपलों की रिपोर्ट अब तक निगेटिव प्राप्त हुई है। अभी तक हास्पिटल आईसोलेशन में भर्ती मरीजों की कुल संख्या 14 है। कोरोना संक्रमण पाजीटिव मरीजों की संख्या 13 है। कोरोना संक्रमण के कारण मृत्यु संख्या 2 है। कुल कंटेंमेंट एरिया 2 हैं। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 24 है। वहीं विदेश से आए यात्री जो गृह जिला या निवासरत जिला में वापस नहीं आए उनकी संख्या 48 है। कोरोना संक्रमित उपरांत ठीक हुए मरीजों की संख्या 9 है। सीहोर शहरी क्षेत्र के सैकड़ाखेड़ी रोड स्थित वार्ड नंबर 4 में दो सर्वे दलों द्वारा 43 घरों का सर्वे कर 243 व्यक्तियों के स्वास्थ्य परीक्षण की जानकारी प्राप्त की गई। वहीं बफर एरिया में 64 घरों का सर्वे कर 268 व्यक्तियों से स्वास्थ्य संबंधी फालोअप लिया गया। इधर वार्ड नंबर 13 में तीन सर्वे दलों द्वारा 94 घरों का सर्वे कर 343 व्यक्तियों का स्वास्थ्य फालोअप लिया गया। वहीं बफर एरिया में 98 घरों का सर्वे कर 173 व्यक्तियों का स्वास्थ्य फालोअप लिया गया। कोविड केयर सेंटर सीहोर में 1 पॉजीटिव व्यक्ति भर्ती है जिसका उपचार चल रहा है। गंज निवासी एक व्यक्ति की रिपोर्ट भोपाल में पॉजीटिव आई थी उसका उपचार भोपाल में ही चल रहा है। जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर-7247704181 है कोविड-19 से संबंधित जानकारी इस संपर्क नंबर पर ली व दी जा सकती है। वहीं जिला चिकित्सालय सीहोर में टेलीमेडिसीन के लिए संपर्क नंबर 07562-401259 जारी किया गया है। राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104  नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। ई-संजीवनी ओपीडी सेवा हेतु www.esanjeevaniopd.in पंजीयन कराया जा सकता है। कलेक्ट्रेट कार्यालय में भी जिला स्तरीय काल सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562-226470 है तथा होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। जिस पर संस्थागत क्वारंटाइन अथवा होम क्वारंटाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकोलाजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से निःशुल्क प्राप्त कर सकते है।

जिले में अब तक 255.7 मि.मी. औसत वर्षा

जिले में आज 27 जून, 2020 की प्रात:8 बजे समाप्त पिछले चौबीस घन्टों में 14.9 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई है। इसे मिलाकर 1 जून से अभी तक जिले में 255.7 मि.मी औसत बारिश रिकार्ड की जा चुकी है जबकि गत वर्ष इस अवधि में 37.2 मि.मी बारिश रिकार्ड की गई थी। अधीक्षक, भू-अभिलेख से मिली जानकारी के अनुसार पिछले चौबीस घन्टों में सीहोर में 21.2, आष्टा में 31, जावर में 35, इछावर में 12.1, नसरुल्लागंज में 9, बुधनी में 5, रेहटी में 5.6, मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। जबकि श्यामपुर में वर्षा की स्थिति शून्य रही। आंकड़ों के मुताबिक जिले में अभी तक सीहोर में 247.5, श्यामपुर में 156, आष्टा में 292.6, जावर में 249, इछावर में 247.5, नसरुल्लागंज में 294, बुदनी में 256 एवं रेहटी में 302.6 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। गत वर्ष इस अवधि में सीहोर में 59.5, श्यामपुर में 21, आष्टा में 45, जावर में 13, इछावर में 48, नसरुल्लागंज में 52, बुधनी में 33 रेहटी में 25.8 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई थी।

किसानों को मौसम के अनुसार कृषि कार्य करने की सलाह

भारत सरकार के भारतीय मौसम विभाग पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय से संबध्द आंचलिक कृषि अनुसंधान केंद्र द्वारा आगामी चार दिनों के मौसम को देखते हुये जिले के किसानों को मौसम के अनुसार कृषि कार्य करने की की सलाह दी गई है।   आंचलिक कृषि अनुसंधान केन्द के नोडल अधिकारी ने बताया कि अगले 120 घंटो के दौरान 27 जून से एक जुलाई तक अधिकांश क्षेत्रों में घने बादल रहने और हल्की वर्षा होने की संभावना है। अधिकतम तापमान 31-34 डिग्री.सेन्टीग्रेट और न्यूनतम तापमान 22-25 डिग्री.सेन्टीग्रेट के मध्य रहने तथा अधिकतम सापेक्षित आर्द्रता 75 से 87 प्रतिशत और न्यूनतम सापेक्षित आर्द्रता 42 से 51 प्रतिशत रहने की संभावना है। आने वाले दिनों में हवा पश्चिम दिशा में चलने और 9-14 कि.मी. प्रति घंटे की गति से हवा चलने की संभावना हैं।    

प्रशिक्षण के दौरान दी गई बच्चों के संरक्षण की जानकारी

sehore news
जिला कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती रचना बुधोलिया के मार्गदर्शन में जिले में बच्चों की सुरक्षा संरक्षण व उनके उचित पुर्नवास हेतु विभागीय प्रशिक्षण का आयोजन किया गया। जिसमें बाल कल्याण समिति, किशोर न्याय बोर्ड, विशेष किशोर पुलिस ईकाई एवं पर्यवेक्षकों को प्रशिक्षण में किशोर न्याय बालकों की देखरेख और संरक्षण अधिनियम 2015 एवं लैंगिग अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012 की जानकारी प्रदान की गई।  प्रशिक्षण में कोरोना महामारी से बचाव के लिए अपने-अपने स्तर पर बच्चों को साबुन से हाथ धोने, हाथों को सेनेटाइज करने एवं एक गज की दूरी सोशल डिस्टेसिंग बनाए रखने के बारे में विस्तार से समझाया एवं वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुऐ बच्चों को भयमुक्त वातावरण में अपनी देखभाल, सुरक्षा व सावधानी बरतते हुये इन परिस्थितियों में कैसे काम करना हैए और बच्चों का अच्छा वातावरण कैसे बनाया जाना है के संबंध में प्रशिक्षण में जानकारी दी गई। बाल कल्याण समिति द्वारा संरक्षण की आवश्यकता वाले बच्चों की सुरक्षा एवं संरक्षण से संबधित गतिविधियों के बारे में अवगत कराया गया। प्रशिक्षण में महिला एवं बाल विकास विभाग से सहायक संचालक श्रीमती गौतमी गोलायत व बाल संरक्षण अधिकारी श्री अनिल पोलाया, श्री अमित दुवे, परामर्शदाता श्री सुरेश पांचाल एवं चाईल्ड लाईन टीम उपस्थित थे।

नगरीय निकायों की प्रारुप मतदाता सूची पुनरीक्षण 2020 के अन्तर्गत स्टेंडिंग कमेटी की बैठक 1 जुलाई को

उप जिला निर्वाचन अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार नगरीय निकायों की प्रारुप मतदाता सूची 2020 के प्रकाशन के संबंध में स्टेंडिंग कमेटी की बैठक 1 जुलाई को दोपहर 12 बजे कलेक्ट्रेट कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित की जाएगी। सभी संबंधित बैठक में उपस्थित होना सुनिश्चित करें।       

ट्राय सायकल, छड़ी और व्हील चेयर पाकर खुश हुए 103 दिव्यांग वृद्धजन (सफलता की कहानी)

sehore news
ग्रामीण शहरी क्षेत्र के सौ से अधिक दिव्यांग वृद्धजनों को विधायक श्री सुदेश राय ने नवीन ट्रायसायकल छड़ी और व्हील चेयर प्रदान किए। जिससे अब 103 दिव्यांग वृद्धजनों को चलने में परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा। ट्राय सायकल, छड़ी और व्हील चेयर पाकर दिव्यांगजनों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सबका साथ सबका विकास के पथ पर चलकर प्रदेश को उन्नती मार्ग पर ले जा रहे है। दिव्यांग और वृद्धजन हितैशी अनेक योजनाएं प्रदेश सरकार के द्वारा संचालित की जा रहीं हैं। इन योजनाओं के तहत ही दिव्यांग हितग्राहियों को ट्राय सायकल, छड़ी और व्हील चेयर सहायक उपकरण उपलब्ध कराए गए है। शहरी क्षेत्र के 26 और ग्रामीण क्षेत्र के 77 हितग्राहियों को ट्राई सिकल छड़ी और व्हील चेयर प्रदान किए गए।

खेल पुरस्कार- 2020 के लिए ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 30 जून

मध्यप्रदेश के बहुप्रतिष्ठित खेल पुरस्कार- 2020 के लिए खेल एवं युवा कल्याण द्वारा ऑनलाइन आवेदन आंमत्रित किए गए हैं। कोविड- 19 संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए एकलव्य, विक्रम, विश्वामित्र, लाइफ टाईम एचीव्हमेंट तथा स्व. श्री प्रभाष जोशी खेल पुरस्कार के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 30 जून 2020 निर्धारित की गई है। निर्धारित तिथि के पश्चात् प्राप्त आवेदनों पर विचार नहीं किया जायेगा। वर्ष 2020 के खेल पुरस्कारों के लिए आवेदकों द्वारा ऑनलाइन आवेदन mis-dsywmp-gov-in@anudan@defaul2-aspx अथवा dsywmp-gov-in की विभागीय वेबसाइट पर किए जा सकते है। इसमें आवेदक की व्यक्तिगत एवं खेल उपलब्धियों की जानकारी की प्रविष्टि की जाएगी। इसके बाद ऑनलाइन आवेदन की रसीद जनरेट होगी, जिसके प्रिंटआउट के साथ आवेदक को आवेदन में उल्लेखित खेल गतिविधियों के प्रमाण-पत्रों की छायाप्रति संलग्न कर संबंधित संभागीय/जिला खेल और युवा कल्याण कार्यालय अथवा संचालनालय में 30 जून 2020 तक जमा कराना होगा।

संसाधनों के बेहतर उपयोग से अच्छे परिणाम प्राप्त करें, आमजन को संकट की घड़ी से बाहर निकालकर पहुंचाए राहत, मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कलेक्टर्स-कमिश्नर्स को दिये निर्देश

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में संसाधनों का बेहतर उपयोग करते हुए विभिन्न क्षेत्रों में अच्छे परिणाम प्राप्त किए जाएं। संकट की घड़ी में बेहतर कार्य से आमजन को कठिनाईयों से बाहर निकाल कर राहत पहुंचाई जाए। इसके लिए प्रशासनिक अमला सक्रिय हो जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वीडियो कॉन्फ्रेंस में प्रदेश में गेहूँ उपार्जन, श्रम सिद्धि अभियान, मानसून के आगमन पर मौसमी बीमारियों और बाढ़ से बचाव की तैयारी, रोजगार सेतु की प्रगति, पथ विक्रेता उत्थान योजना, मध्यप्रदेश इनोवेशन चैलेंजस पोर्टल पर सुझाव देने, वनाधिकार पट्टों के संबंध में पुन: परीक्षण कर कार्यवाही करने और लोक सेवाओं के बेहतर प्रदाय के संबंध में निर्देश दिये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में अच्छी कानून व्यवस्था सर्वोच्च प्राथमिकता है। अनलॉक की स्थिति में अपराध न हों, इसके लिए पुलिस बल सजग रहे।  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश के किसानों को समुचित खाद और बीज की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि खरीफ फसलों के लिए किसानों को आवश्यक आदान की आपूर्ति सुनिश्चित की जाए। इसके साथ ही नकली बीज के उपयोग पर नजर रखते हुए दोषियों के विरूद्ध कार्यवाही भी की जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश के किसानों ने एक करोड़ 29 लाख मीट्रिक टन गेहूँ का उपार्जन कर ऑलटाइम रिकार्ड बना लिया है। इसके लिए किसान बंधु, खाद्य और नागरिक आपूर्ति विभाग के सभी अधिकारी और कर्मचारी एवं संबंधित एजेंसियां बधाई की पात्र हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि उपार्जित गेहूँ के परिवहन के बाद शत-प्रतिशत भंडारण भी हो रहा है। कहीं भी गेहूँ बारिश से भीगने की शिकायतें नहीं आना चाहिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि प्रवासी श्रमिकों को उनके कौशल के अनुरूप रोजगार से जोड़ने का कार्य निरंतर चलना चाहिए। प्रदेश में करीब 5 हजार प्रवासी श्रमिक रोजगार सेतु के माध्यम से विभिन्न संस्थानों में कार्य कर रहे हैं। प्रदेश में 7 लाख से अधिक प्रवासी श्रमिक लौटे हैं, इन्हें रोजगार सेतु पोर्टल पर पंजीकृत करने का कार्य चल रहा है। करीब 18 हजार 500 नियोक्ता पंजीकृत हो गए हैं। श्रमिकों को उनकी दक्षता के आधार पर कार्य उपलब्ध करवाने का अवसर दिया जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने श्रम सिद्धि अभियान में श्रमिकों को जॉब कार्ड उपलब्ध करवाने, मनरेगा कार्यों में मशीनों का इस्तेमाल न करने और समय पर मजदूरी के भुगतान के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कॉन्फ्रेंस में निर्देश दिए कि वर्षाकाल के आगमन पर जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठकें आयोजित कर सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं। शहरों में जल का भराव न हो और ग्रामीण क्षेत्रों में नदियों में जल स्तर बढ़ने की स्थिति में बचाव दल की उपयोगिता को देखते हुए उन्हें प्रशिक्षित करने का कार्य भी पूरा कर लिया जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मानसून के आगमन पर प्रदेश के क्वारेंटाइन केन्द्रों में रह रहे नागरिकों की सुरक्षा के संबंध में भी कलेक्टर्स को निर्देश दिये कि ऐसे नागरिकों को स्वच्छता और संक्रमण मुक्त वातावरण उपलब्ध करवाया जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के आव्हान के लिए आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के लिए पूरे प्रयास किए जाएं। शहरों और गाँवों में स्ट्रीट वेण्डर्स को ब्याज मुक्त ऋण उपलब्ध करवाने के लिए पंजीयन की कार्यवाही पूरी की जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मध्यप्रदेश इनोवेशन चैलेंज पोर्टल पर सुझाव देने का भी आव्हान किया। इस पोर्टल पर 30 जून तक विभिन्न क्षेत्रों में अभिनव और मौलिक सुझाव आमंत्रित किए गए हैं। विशेष रूप से आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के लिए रोजगार, शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि, उद्योग और अधोसंरचना क्षेत्र के साथ ही नवीन तकनीक के उपयोग और लोक सेवा प्रदाय कार्य को बेहतर बनाने के संबंध में सुझाव दिए जा सकते हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वन क्षेत्र में काबिज निवासियों को पट्टा देने के लिए वन अधिकारियों के साथ बैठक कर पुन: परीक्षण किया जाए और निरस्त किए गए पट्टों के संबंध में आवश्यक कार्यवाही की जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्व-सहायता समूहों के सशक्तिकरण के भी निर्देश दिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने लोकल को वोकल बनाने के आव्हान के अनुरूप इन समूहों की क्षमताओं को बढ़ाने और आर्थिक समृद्धि का अवसर उपलब्ध करवाने के निर्देश कलेक्टर्स को दिए।

किसानों को विधायक सुदेश राय ने किया  अन्नपूर्णा योजना अंतर्गत बीज का वितरण 

sehore news
सीहोर। अन्नपूर्णा योजना अंतर्गत विधायक सुदेश राय के द्वारा अनुसुचित जाति और अनुसुचित जन जाति के किसानों को उन्नत खरीफ मक्का बीज का वितरण किया गया। खरीफ बीज वितरण कार्यक्रम मंडी स्थित किसान कल्याण एवं कृषि विकास विभाग कार्यालय परिसर में आयोजित किया गया।  कार्यक्रम के दौरान विधायक सुदेश राय ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा की अन्नपूर्णा योजना के तहत किसानों को 75 प्रतिशत अनुदान पर खरीफ बीज सरकार के द्वारा उपलब्ध कराया जा रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान किसान हितैशी है। प्रदेश में कृषि खेतीबाड़ी लगातार विकसित की जा रहा है यहीं कारण है की इस वर्ष जिले में रिकार्ड तोड़ गेंहू का उत्पादन किसानों ने किया है।  वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी वीएस खेड़ा ने कहा की किसान कल्याण एवं कृषि विकास विभाग के द्वारा जनपद पंचायत क्षेत्र सीहोर की ग्राम पंचायतों में अबतक 25 क्विंटल मक्का बीज का वितरण किया जा चुका है योजना के क्रियांवयन में विधायक सुदेश राय का महत्वपूर्ण सहयोग मिल रहा है। योजना अंतर्गत अनुसुचित जाति और अनुसुचित जन जाति के प्रति किसान को पांच किलो बीज अनुदान उपरांत मात्र 25 प्रतिशत राशि पर उपलब्ध कराया जा रहा है।  कार्यक्रम के दौरान जनपद पंचायत सीईओ दिलीप जैन,ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी बीएल विश्वकर्मा,सरपंच संघ के जिलाध्यक्ष एलम सिंह दांगी कृषक प्रेमनारायण परमार,डालचंद्र, प्रभूलाल, सुरेश दांगी सहित ग्राम पीपलिया मीरा,बिजलोन, रोला के किसान उपस्थित रहे। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...