झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 04 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 4 अगस्त 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 04 अगस्त

श्रावण माह मे रोज सजा भोले का दरबार किया रामायणजी का मास पारायण

jhabua news
पारा । नगर के बस स्टेण्ड स्थित प्राचीन शंकर मंदिर मे श्रावण माह मे प्रतिदिन भागवान भोलेनाथ कि आकृष्क सज्जा कि गई। वही रामायण का मास पारायण भी प्रति वर्षानुसार इस वर्ष भी किया गया।  नगर के प्राचीन शंकर मंदिर मे इस वर्ष कोरोना वायरस के प्रकोप चलते श्रद्धालुओ कि भीड कम रही । वही मेदिर के पण्डित अक्षय शर्मा व राहुल शर्मा ने मदिर परिसर पर भगवान भोलेनाथ का प्रति दिन आकृष्क श्रृंगार किया। लगातार एक माह तक दोनो शर्मा बंन्धुओ फल फुल व अन्य सामग्री से भोलेनाथ अलग अलग रुप मे प्रति दिन विशेष मनमोहक श्रृंगार किया जिसकी नगर के श्रद्धालुओ ने प्रसंसा कि। वही प्रतिवर्ष अनुसार इस वर्ष भी रामायण मण्डल द्वारा रामचरित मानस का संगीतमयी मास पारायण  किया गया। जिसकी पुर्णाहुति पुर्णिमा के दिन श्रावण मास के आखरी सोमवार को कि गई। मास पारायण के समापन पर पण्डित संजय शर्मा ने मोबाईल के माध्यम से  पुजा व हवन आदी विधि विधान से समपन्न करावई। एक माह तक चले इस कार्यक्रम मे बगेर किसी भीड के सिर्फ चार पांच लोगो ने मिलकर इस कार्यक्रम को सफलता पुर्वक सम्पन्न करवाया जिसकी सर्वत्र प्रसंसा कि जा रही है।

तपस्या एकांत सुख का मार्ग है - प्रवर्तक जिनेन्द्रमुनिजी
  • श्रीमती सपना प्रदीप व्होरा ने मासक्षमण की उग्र तपस्या पूर्ण की
jhabua news
थांदला। जिनेश्वर भगवान ने तपस्या को एकांत सुख का मार्ग बताया है। मोक्ष मार्ग के अनुरागी को तपस्या से उत्पन्न शरीर के कष्ट की अनुभूति भी सुखकारी ही लगती है। उक्त धर्मोपदेश श्रीमती सपना बहन के मासक्षमण तप बहुमान में धर्मदास गण के प्रमुख प्रवर्तक पूज्य श्री जिनेन्द्रमुनिजी म.सा. ने कही। सोशल डिस्टेंश में संघ के प्रमुखजन व व्होरा परिवार सगे सम्बन्धियों के बीच तप बहुमान कार्यक्रम में प्रवर्तक श्री ने कहा की तपस्वी स्व इच्छा से तपस्या कर इन्द्रिय निरोध करता है व अन्नाहार का त्यग करता है जिससे उसे एकांत सुख ही मिलता है। उन्होंने आगम प्रमाण देते हुए कहा कि दशवैकालिक सूत्र में चैथी तप समाधि बताई है। जीव को खाते खाते तो अनन्तकाल बित गए उसे अनाहरक दशा प्राप्त करने उसका अभ्यास करना चाहिए कदाचित वह सूर्यास्त के 20 मिनट पूर्व सर्वाहार त्याग कर सूर्योदय तक रहता भी है। इसी प्रकार तपस्या ही एकांत सुख दिलाने वाली होती है। धर्मसभा को सरल स्वभावी पूज्य श्री गिरीशमुनिजी ने सम्बोधित कर विषम काल में सन्त सुरक्षा की संघ नीति को धन्यवाद देते हुए सकल संघ के त्याग की प्रशंसा करते हुए तप को आत्म सुरक्षा कवच बताते हुए कहा कि इस कवच से ही आत्मा परमात्मा बन जाता है। उन्होंने व साध्वी रत्ना पूज्या श्री निखिलशीलाजी म.सा. आदि सतियों ने तप व तपस्वी अनुमोदना स्तवन के माध्यम से बताई। इस अवसर पर श्रीसंघ अध्यक्ष ने समस्त तपस्वियों का श्रीसंघ की ओर से गुणगान करते हुए संघ पर कृपा दृष्टि बनाये रखने के लिये गुरुभगवन्तों का उपकार माना।

गुरुदेव पधारें आँगनें मासक्षमण री भेंट धरु - सपना व्होरा
तप प्रधान जैन धर्म में हर व्यक्ति का सपना होता है कि वह जीवन में एक बार मासक्षमण की तपस्या कर अपनी आत्मा का कल्याण कर दीर्घ तपस्वी बने। बिरले ही होते है जो इस कठिन लक्ष्य को सहज ही हासिल कर लेते है। जिनशासन गौरव जैनाचार्य पूज्य श्री उमेशमुनिजी म.सा. ष्अणुष् के प्रशिष्य धर्मदास गण गौरव बुद्धपुत्र प्रवर्तक देव पूज्य श्री जिनेन्द्रमुनिजी म.सा. आदि ठाणा - 4 व उन्ही की आज्ञानुवर्ती पूज्या श्री निखिलशीलाजी म.सा. आदि ठाणा - 4  के चातुर्मास की घोषणा के समय ही श्रीमती सपना प्रदीप व्होरा ने मासक्षमण तप का संकल्प कर लिया था जो उन्होंने इस वर्षावास के प्रथम मासक्षमण के रूप में पूर्ण कर लिया। कोरोना समय की आपदा को अवसर बनाते हुए उन्होंने इस कठिन लक्ष्य को हासिल किया है। 

धर्मनिष्ठ परिवार में उनकी तपस्या की निरन्तरता व संघ सेवा
अपने जीवन में दूसरा मासक्षमण पूर्ण करने वाली सपना बहन अपने विवाह पूर्व वर्ष 1992 में एक मासक्षमण लिमडी में कर चुकी है, यही नही वे लगातार 10 वर्षों से निरन्तर एकान्तर (एकासन) की आराधना भी कर रही है। इस दौरान वे दो बार अट्ठई तप व आयम्बिल की 27 लड़ी भी पूर्ण कर चुकी है। सचित जल का आजीवन त्याग के साथ उनका पूरा परिवार आजीवन जमीकंद त्याग कर चुका है वही रात्रि भोजन भी त्याग अनुपम है व उनके परिवार की संघ निष्ठा भी अनुकरणीय है।

थांदला में तपस्या की बहार
उनके उग्र तप में सहयोगी बन अपने जीवन में दुर्लभ तपस्या कर श्रीमती रंजना श्रेणिकजी गादिया व श्रीमती अमिता प्रदीपजी गादिया 13 तेला-तेला तप की आराधना आगे बढ़ा रही है, उन्होंने लगातार सातवा तेला पूर्ण कर आठवें चरण में प्रवेश कर लिया है। श्रीसंघ अध्यक्ष जितेंद्र घोड़ावत की धर्मपत्नी श्रीमती सुनीता घोड़ावत, उनकी बहू श्रद्धा चिरागजी घोड़ावत, पूर्व अध्यक्ष महेश व्होरा की पुत्री कु. प्रिया व्होरा व कु. खुशबू प्रवीणजी पालरेचा, स्वाध्यायी वीरेंद्र मेहता भी धर्मचक्र की तपस्या कर रहे है।

श्रीसंघ व आईजा संगठन सहित अन्य संस्थाओं ने किया बहुमान
श्रीमती सपना बहन व्होरा के 32 उपवास की मासक्षमण तपस्या की अनुमोदना करते हुए श्रीसंघ कि ओर से सर्व प्रथम उनके पुत्र आयुष व्होरा ने 9 उपवास, श्रीमती पुखराज व्होरा, मयंक व्होरा ने 8 उपवास, श्रीमती अलका व्होरा ने आयम्बिल से सिद्धितप, श्रीमती सरोज बहन ने एकासन के मासक्षमण तप व आशीष व्होरा, अनिता लुक्कड़ आदि ने छुट्टी तपस्या की बोली लेकर संघ कि ओर से बहुमान किया वही संघ के पूर्वाध्यक्ष प्रकाशचंद्र घोड़ावत, महेश व्होरा, रमेशचन्द्र चैधरी, भरत भंसाली, नगीनलाल शाहजी, पूनमचंद गादिया, धर्मलता महिला मंडल अध्यक्षा श्रीमती शकुंतला कांकरिया आदि ने शाल, माला व अभिनन्दन पत्र से उनका बहुमान किया। इस तारतम्य में तेरापंथ महासभा से अरविंद रुनवाल, रतनलाल दक, दिनेश मेहता, अभय रुनवाल ने, ऑल इण्डिया जैन जर्नलिस्ट एसोसिएशन (आईजा) के प्रदेशाध्यक्ष पवन नाहर, समकित तलेरा, जितेंद्र सी घोड़ावत ने, नेचरल गोल्ड परिवार से लोकेश गादिया, माणक लोढ़ा ने, घोड़ावत परिवार से श्रीमती सुनीता व श्रद्धा घोड़ावत ने भी दीर्घ तपस्वी का बहुमान किया।

यह भी रहे उपस्थित
संघ द्वारा आयोजित संक्षिप्त बहुमान कार्यक्रम में संघ के वयोवृद्ध श्रावक गेंदालाल शाहजी, संघ कोषाध्यक्ष प्रकाशचंद्र शाहजी, रमेशचन्द्र श्रीमाल, राजेन्द्र व्होरा, कनकमल घोड़ावत, रजनीकांत लोढ़ा, समरथमल पालरेचा, सुरेशचंद्र व्होरा, ललित जैन नवयुवक मंडल अध्यक्ष कपिल पिचा आदि उपस्थित थे धर्म सभा का संचालन संघ के सचिव प्रदीप गादिया ने किया उक्त जानकारी संघ प्रवक्ता पवन नाहर ने दी इस अवसर पर व्होरा परिवार ने संघ को दानराशि भेंट की गई व धर्म प्रभावना का लाभ भी लिया।

भाजपा नेताओ ने रक्षाबंधन पर्व पर सभी को शुभकामनाए प्रेसित की

झाबुआ । भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य पूर्व जिलाध्यक्ष एवं वरिष्ठ नेता दौलत भावसार, आदिवासी युवा नेता एवं सीसीबी बैंक के पूर्व चेयरमेन गौरसिंह वसुनिया, भाजपा के जिलाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक, युवा नेता अंकुर पाठक, पार्षद जुवानसिंह गुडिया, भाजपा महिला नेत्री श्रीमती सुनिता अजनार, श्रीमती सुनिता भुरिया, श्रीमती सुनिता वसावा, श्रीमती मयूरी चोहान, श्रीमती सुनीता पाटीदार, श्रीमती राधा वसुनिया, श्रीमती माया चैहान, आदि ने झाबुआ जिला वासियो को  रक्षाबंधन पर्व के शुभ अवसर पर शुभकामनाए प्रेसित की है वहीं इस अवसर भाजपा प्रदेश कार्यकारणी सदस्य भावसार ने जनता जर्नादन से अपिल की है कि आज 5ं अगस्त को सम्रग हिंदु समाज एवं राम भक्त के लिए गौरव का दिवस है आज देश के प्रधानमंत्री हिदूस्तान की आत्मा के केन्द्र भगवाम श्री राम के मंदिर की आधारशाीला भगवाम राम की जन्मभूमि अयोध्या में रखेगे। अतः इस पर समस्त देश वासियो के साथ प्रदेश वासी, जिला वासी एवं नगर वासी अपने घरो पर प्रकाश व्यवस्था कर दिप जला कर प्रकाश कर दिप उत्सव मनावे। उक्त जानकारी भाजपा मिडिया प्रभारी राजेन्द्र सोनी ने दी।

मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री जैन द्वारा मेघनगर तहसील के दो गावों का जायजा

jhabua news
झाबुआ। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन ने मंगलवार को मेघनगर तहसील के ग्राम पंचायत घोसालिया बड़ा तथा ग्राम पंचायत पिपलिया बड़ा के ग्राम झाड़ की टोड़ी में कोरोना वायरस के संक्रमण के पाजिटिव केस पाए जाने पर कंटेनमेंट एरिया का जायजा लिया। श्री जैन ने कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिये किये गये आवश्यक प्रबंध की समीक्षा की और अधिकारियों  निर्देश दिये हैं कि वे क्षैत्र में कोरोना वायरस का संक्रमण न फैले इसके लिये आवश्यक प्रबंध किये जाए। क्षैत्र में इस बीमारी के फैलने से रोकने एवं बचाव के लिये आम जनता को ओर अधिक जागरूक किया जाए। क्षैत्र में कोरोना वायरस से बचाव के लिये सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने, मास्क लगाने, हाथों को सेनेटाईज करने के संबंध में जागरूक करने के निर्देश दिये। श्री जैन ने कंटेनमेंट क्षैत्र में पेयजल और अन्य आवश्यक व्यवस्थाओं के संबंध में अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये। मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि वे क्षैत्र में कोविड-19 के  बचाव एवं रोकथाम के लिये लागू किये गये नियमों का कड़ाई से पालन कराए और इन नियमों का उल्लघंन करने वालों पर वैधानिक कार्यवाही की जावे। इस अवसर पर अपर कलेक्टर एवं अनुविभागीय अधिकारी राजस्व मेघनगर श्री जे.एस. बघेल, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत श्री वीरेन्द्र सिंह रावत सहित राजस्व विभाग का मैदानी अमला मौजूद था।

जिले के निजी फुटकर उर्वरक विक्रेता के द्वारा अनाधिकृत उर्वरक भण्डारण करने पर एफ.आई.आर.दर्ज 

झाबुआ, 4 अगस्त 2020। जिले मे खरीफ 2020 मे उर्वरकों के सुचारू एवं सुगम वितरण सुनिष्चित करने के लिये गठित दल द्वारा जिले मे उर्वरक विक्रेताओ के प्रतिष्ठानो का सतत् निरीक्षण किया जा रहा है। इसी अनुक्रम मे सोमवार को मेसर्स नाकोडा कृषि सेवा केन्द्र मेघनगर (राजेेष - बाबूलाल भण्डारी) मौके पर उपस्थित श्री कमलेष-बाबूलाल भण्डारी मेघनगर विकासखण्ड मेघनगर का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान उर्वरक विक्रय केन्द्र मे युरिया ईफको ब्राण्ड 60 बेग (45 कि.ग्रा.) का अवैघ भण्डारण पाये जाने पर श्री उदा काग उर्वरक निरिक्षक  एवं वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी कार्यालय अनुविभागीय कृषि अधिकारी थांदला द्वारा पुलीस थाना मेघनगर मे उर्वरक गुण (नियंत्रण) आदेष 1985 की धारा 8 एवं आवष्यक वस्तु अधिनियम 1955 की धारा 7 (3), भारतीय दण्ड संहिता 1860 की धारा 34 के तहत् एफ.आई. आर. दर्ज करवाई गई। उप संचालक कृषि श्री एन.एस. रावत ने जिले के समस्त उर्वरक विक्रेताओं को निर्देश दिए हैं कि वे निर्धारित दर पर हीं उर्वरक कृषकों को विक्र्रय करें, अन्यथा वैधानिक कार्यवाही की जावेगी।

पेटलावद अनुभाग में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के लिये जागरूकता अभियान 17 अगस्त तक चैपालों का आयोजन 

झाबुआ। अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एवं अनुविभागीय दण्डाधिकारी पेटलावद श्री एल.एन.गर्ग ने निर्देश दिये हैं कि अनुभाग क्षैत्र में कोरोना वायरस के संक्रमण के बचाव एवं रोकथाम के लिये चैपाल लगाए जाए। इन चैपालों के माध्यम से कोरोना से बचने एवं रोकथाम के लिये लोगों को ओर अधिक जागरूक किया जाए। श्री गर्ग ने अवगत कराया कि अनुविभाग क्षैत्र में गावों में अलग-अलग दिन जन चैपाल 25 जुलाई से लगाई जा रही है। यह अभियान 17 अगस्त तक सतत जारी रहेगा। चैपाल अभियान को सफल बनाने के लिये 4 से 5 गावों को मिलाकर उसमें एक-एक नोडल अधिकारी नियत दिनांक को एक ही समय पर ग्राम पंचायत और ग्राम चैपाल का आयोजन किया जावेगा। साथ ही इन चैपालों में आशा कार्यकर्ता, एन.एम., आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, हैण्डपम्प मेकेनिक, ग्राम पंचायत सचिव, रोजगार सहायक, ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी आदि सभी को उपस्थित होना अनिवार्य किया गया है। अनुविभागीय अधिकारी श्री गर्ग ने अवगत कराया कि आमजन को कोरोना से बचाव का संदेश देकर जागरूक करना होगा ताकि आम जनता इस बीमारी के खतरे को समझते हुए इससे बचाव के तरीके अपनाए। इन चैपालों में बार-बार हाथ धौनें, दो गज की दूरी बनाए रखने, बिना मास्क बाहर नहीं जाने व सार्वजनिक स्थलों पर नहीं थूकने जैसी बातों को अपनी जीवन शैली का हिस्सा बनाने के लिये प्रेरित किया जाएगा। अनुविभागीय अधिकारी ने क्षैत्र के मैदानी अमले को निर्देश दिये हैं कि वे अपने क्षैत्र में इस बीमारी के बचाव एवं रोकथाम के लिये सतर्कता पूर्वक कार्य करें। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही तथा उदासिनता न बरती जाए।

जिला पंचायत में कन्ट्रोल रूम स्थापित

झाबुआ। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन ने उच्च न्यायालय द्वारा ैव्न् डव्ज्न् डप्त्ज् ॅत्श्रज् च्म्ज्ज्प्ज्प्व्छ ;ब्प्टप्स्द्ध छवजे 6ध्2020 दिनांक 9 जून 2020 के पारित निर्णय के परिपालन में जिले में प्रवासी मजदुरों के संबंध में प्रवासी श्रमिकों के रिकार्ड का ग्राम, ब्लाक व जिले स्तर पर संधारण, काउन्सलिंग सेन्टर्स एवं हेल्पडेस्क की कार्यवाही करने के लिये जिला पंचायत मनरेगा में कन्ट्रोल रूम स्थापित किया गया है। इस कन्ट्रोल रूम का मोबाईल नम्बर 9424602050 है।  जिला आडिटर मनरेगा श्री मुकेश सिंह चैहान को जिला स्तर पर संधारण, काउन्सलिंग सेन्टर्स, एवं हेल्पडेस्क की कार्यवाही सम्पादित करने की जिम्मेदारी दी गई है। वे कार्यालयीन समय में यह कार्य सम्पादित करेंगे। इनका मोबाईल नम्बर 9977878912 है। इनके साथ वरिष्ट डाटा मैनेजर श्री धीरजसिंह ठाकुर आवश्यक सहयोग कर कार्यवाही पूर्ण करेंगे।

जिला विकास समन्वय एवं मूल्यांकन समिति की बैठक 11 अगस्त को आयोजित होगी

झाबुआ। जिला विकास समन्वय एवं मूल्यांकन समिति की बैठक 11 अगस्त को प्रातः 11ः30 बजे कलेक्टेªट सभा कक्ष में आयोजित की गई है। यह बैठक सांसद श्री गुमान सिंह डामोर की अध्यक्षता में होगी। इस बैठक में  प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, कृषि विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग,  ग्रामीण विकास विभाग, सामाजिक न्यायविभाग, खाद्य विभाग, भू-अभिलेख, विद्युत विभाग, दूरसंचार, डिजिटल इंडिया-पब्लिक इंटरनेट एक्सेस प्रोग्राम, रेल्वे, खनिज विभाग, शिक्षा विभाग, स्वास्थ्य विभाग, शहरी विकास विभाग, आदिम जाति एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग, लीड बैंक, लोक निर्माण विभाग, जल संसाधन विभाग, पशु चिकित्सा विभाग, सहित अन्य विभागों की समीक्षा की जावेगी।

कोई टिप्पणी नहीं: