झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 11 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 11 अगस्त 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 11 अगस्त

सांसद श्री डामोर ने जिला विकास समन्वय एवं मूल्यांकन समिति की बैठक ली

jhabua news
झाबुआ। सांसद श्री गुमान सिंह डामोर ने मंगलवार को यहां कलेक्टेªट सभा कक्ष में जिला विकास समन्वय एवं मूल्यांकन समिति (दिशा) की बैठक ली। श्री डामोर ने इस बैठक में ग्रामीण विकास विभाग, वन विभाग, कृषि विभाग, खाद्य एवं आपूर्ति विभाग, स्वास्थ्य विभाग तथा खनिज विभाग की विस्तार से समीक्षा की। कलेक्टर एवं सचिव श्री प्रबल सिपाहा ने बैठक के प्रारम्भ में पिछली बैठक का पालन प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। श्री डामोर ने लेबर बजट के लक्ष्य एवं पूर्ति की समीक्षा की। इस बैठक में गौ शाला योजना की प्रगति की समीक्षा की गई। झाबुआ जनपद पंचायत क्षैत्र की ग्राम पंचायत चारोलीपाड़ा तथा रामा जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत धामनदा में गौ शालाओं को कार्य पूर्ण कर लिया गया है और मेघनगर जनपद पंचायत की गोपालपुरा ग्राम पंचायत में गौ शाला का निमार्ण कार्य प्रगति पर है। श्री डामोर ने प्रधानमंत्री आवास योजना, मध्यान भोजन कार्यक्रम, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना- वाटर शेट विकास कार्यों, श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूरबन मिशन गुवाली, के कार्यों की प्रगति की समीक्षा की। इस बैठक में म. प्र. डे राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत गठित किये गये समूह, ग्राम संगठन एवं संकुल स्तरीय संगठनों के गठन की प्रगति की समीक्षा की और इनकी सूची प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। साथ ही गणवेश बनाने के लिये सेम्पल बुलवाकर समिति के समक्ष  अनुमोदन के लिये रखा जावे ताकि बच्चों को उचित गुणवत्ता की गणवेश प्राप्त हो सकें। श्री डामोर ने राहत कार्यों की समीक्षा की और इनकी जाॅंच के लिये एक समिति बनाई जाने के निर्देश दिये। श्री डामोर ने वन विभाग के कार्यों की समीक्षा की। जिसमें वर्षा ऋतु में किये गये पौध रोपण कार्यों की जानकारी ली और निर्देश दिये हैं कि वे अलिराजपुर जिले में किये गये वृक्षा रोपण की भाॅंति झाबुआ जिले में भी वृक्षा रोपण किया जाए ताकि भविष्य में लाभदायक सिद्ध हो सके। सांसद श्री डामोर ने वन अधिकार अधिनियम के अंर्तगत किये गये कार्यों की प्रगति समीक्षा की और पात्र हितग्राहीयों को इस योजना का लाभ दिलाए जाने के निर्देश दिये। उन्होंने निर्देश दिये है कि वे वन अधिकार अधिनियम के बारे में व्यापक प्रचार-प्रसार करें ताकि इस योजना का पात्र लोग अधिक से अधिक लाभ उठा सकें। उन्होंने कृषि विभाग की समीक्षा की और उप संचालक कृषि को निर्देश दिये हैं कि वे खरीब मौसम अंतर्गत खाद, बीज, के नमूने लिये जाए और नमूने अमानक स्तर के पाए जाने पर नियमानुसार कार्यवाही की जावे। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग, खाद्य विभाग के कार्यों की भी सघन समीक्षा की। श्री डामोर ने खनीज विभाग की समीक्षा करते हुवे रेत के अवैध परिवहन की रोकथाम के लिये विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिये। उन्होंने आबकारी विभाग की भी समीक्षा की और अवैध शराब के परिवहन की रोकथाम के लिये विशेष अभियान चलाने के निर्देश जिला आबकारी अधिकारी को दिये। आवश्यकता पडने पर पुलिस विभाग की मदद भी ली जाए। इस बैठक में समिति के सदस्यों ने आवश्यक सुझाव भी दिये। इस बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमति शंाति राजेश डामोर विधायक सर्वश्री कांतिलाल भूरिया, वीरसिंह भूरिया, वालसिंह मेड़ा, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री लक्षमणसिंह नायक, कलेक्टर एवं सचिव श्री प्रबल सिपाहा, पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष गुप्ता, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, वन मण्डलाधिकारी श्री एम.एल.हरित, सहित विभिन्न विभागों के जिलाधिकारी तथा समिति के सदस्यगण उपस्थित थे।

कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम के लिये दोगुने प्रयास करने की आवश्यकता है - श्री भार्गव

jhabua news
झाबुआ। सचिव मध्य प्रदेश शासन लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के सचिव श्री अशोक भार्गव ने सोमवार को यहां कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में अधिकारियों की बैठक ली। इस बैठक में कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिये जिले में किये गये प्रयासों की सघन समीक्षा की और कोरोना वायरस के संक्रमण के बचाव एवं रोकथाम के लिये की गई व्यवस्थाओं की सराहना की । साथ ही अपेक्षा की है कि  भविष्य में भी जिले में इस बीमारी के बचाव एवं रोकथाम के लिये इसी तरह प्रयास किये जाएगें। श्री भार्गव ने कहा कि जिले में कोरोना वायरस से निपटने के लिये दोगुने प्रयास करने की आवश्यकता है। श्री भार्गव ने चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि वे ग्रामीण एवं शहरी क्षैत्र में समय-समय पर भ्रमण करें और स्वास्थ्य विभाग के मैदानी अमले को और अधिक सक्रिय करें ताकि इस बीमारी से छुटकारा पाया जा सकें। इस कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकना हमारा मुख्य लक्ष्य होना चाहिये। बच्चे व गर्भवती महिलाएं पंजीयन से छुट गए हैं उन्हें शतप्रतिशत पंजीयन कराया जाए। श्री भार्गव ने जिले में कोरोना वायरस से निपटने के लिये बेहतर प्रबंध करने पर कलेक्टर तथा उनकी टीम को बधाई दी है। श्री भार्गव ने कहा कि जिले में विपरीत परिस्थितियों के बावजूद भी कोरोना वायरस की रोकथाम एवं बचाव के लिये कारगर प्रयास किये गये हैं। यह हम सब के लिये खुशी की बात है। श्री भार्गव ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि वे अपने क्षैत्र में कोरोना वायरस पर नियंत्रण पाने के लिये स्वास्थ्य विभाग के (संचनालय) के निर्देशों का प्रभावी क्रियान्वयन करें। श्री भार्गव ने कहा कि कोरोना वायरस की श्रृंखला को तोड़ना हमारा मुख्य ध्येय होना चाहिये। इसी ध्येय से हम काम करेंगे तो इस पर आसानी से विजय पाई जा सकेगी। सचिव स्वास्थ्य ने आगे कहा कि कोरोना वायरस के प्रति आम जनता में जागरूक्ता लाई जाना चाहिये। जिससे इस बीमारी से लोग बच सकें। इस बीमारी से बचने के लिये लोगों को अपने घरों में रहना चाहिये, बहुत आवश्यक होने पर ही घर से बाहर निकलें हाथों को साबुन से बार-बार धोना चाहिये और मुह तथा नाक को ढांककर रखना चाहिये अर्थात मास्क का उपयोग करना चाहिये। कम से कम 2 मीटर की सामाजिक  दूरी बनाए रखना चाहिये। भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर नहीं जाना चाहिये। उन्होंने कहा कि सर्दी, खासी, बुखार व सांस लेने की शिकायत होनें पर अस्पताल में आवश्यक रूप से जांच कराएं । जिससे बीमारी का समय पर उपचार हो सकें। श्री भार्गव ने कहा कि जिले में लगभग चार लाख प्रवासी श्रमिकों के आने पर उनके लिये सभी आवश्यक व्यवस्थाएं जिला प्रशासन द्वारा की गई इसके लिये कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा बधाई के पात्र हैं। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने बैठक के प्रारम्भ में कोरोना वायरस की रोकथाम एवं बचाव के लिये जिले में किये गये प्रबंध की विस्तृत जानकारी प्रस्तुत की। इस बैठक में प्रजेन्टेशन के माध्यम से कोरोना वायरस पर विजय पाने के लिये किये गये प्रबंध की जानकारी दी।  इस बैठक में कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री एम.एल.मालवीय, डिप्टी कलेक्टर सुश्री ज्योति परते, सिविल सर्जन डाॅ. बी.एस.बघेल, सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी, खण्ड चिकित्सा अधिकारी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: