बिहार : लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन में फंसे एमएलसी रीतलाल यादव - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 30 अगस्त 2020

बिहार : लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन में फंसे एमएलसी रीतलाल यादव

राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दानापुर विधानसभा से विधान पार्षद रीतलाल यादव और दीघा विधानसभा से नगर वार्ड पार्षद के वार्ड प्रतिनिधि पप्पू राय सीट फतह करने वाले प्रत्याशी मिल गया है...
mlc-reet-lal-yadav
दानापुर, राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दानापुर विधानसभा से विधान पार्षद रीतलाल यादव और दीघा विधानसभा से नगर वार्ड पार्षद के वार्ड प्रतिनिधि पप्पू राय सीट फतह करने वाले प्रत्याशी मिल गया है.इन दोनों को काफी जन समर्थन मिल रहा है. राजद के नेतृत्वकर्ताओं को दोनों संभावित प्रत्याशियों  मिल पर विश्वास किया जा सकता है. इन दोनों के पास काबिलियत है विपक्षी उठाकर पटक कर शिकस्त हासिल करना.अभी दोनों सीट पर बीजेपी विधायक हैं.दोनों से जनता ऊब गयी है.  बिहार में अपराध की दुनिया में रीतलाल यादव का नाम नया नहीं है.दानापुर में भाजपा नेता सत्यनारायण सिन्हा की हत्या के बाद उनका नाम चर्चा में आया था. कभी राजद के साथ उनके बेहतर संबंध भी रहे थे. लेकिन आजकल वे निर्दलीय एमएलसी हैं.पटना के शेर दानापुर के लाल रीतलाल यादव 10 साल बाद  जेल से रिहा हुए.बिहार के बाहुबली निर्दलीय विधान पार्षद रीतलाल यादव को पटना उच्च न्यायालय से बड़ी राहत मिली थी .बाईट दिन शनिवार को ही एमएलसी रीतलाल यादव बेऊर जेल से शाम छह बजे जमानत पर रिहा हुए थे. पटना हाईकोर्ट ने पिछले दिनों ईडी के चल रहे मनी लॉन्ड्रिंग मामले में तय सजा से अधिक दिनों तक न्यायिक हिरासत के तहत जेल में रहने पर आरोपित रीतलाल यादव को जमानत पर मुक्त करने आदेश जारी किया है. इसी आदेश को लेकर पटना के एमपीएमएलए कोर्ट के विशेष न्यायाधीश सत्येन्द्र पाडेय ने जेल में बंद रीतलाल यादव को जमानत पर छोड़ने का आदेश जारी किया गया.रीतलाल दस साल से लगातार न्यायिक हिरासत में बेऊर जेल के गोदावरी खंड में बंद थे. उनपर कई आपराधिक मामले कोर्ट में लंबित चल रहे हैं और कई आपराधिक मामले में अभियोजन पक्ष उनके आरोप साबित करने में असफल रहा है. 



कोर्ट ने उन्हें अपराध के आरोप से बरी कर दिया है. कोर्ट में लंबित अन्य आपराधिक मामलों में वे जमानत पर हैं.रीतलाल यादव 4 सितंबर 2010 को पुलिस ने गिरफ्तार किया था. उसके बाद रीतलाल यादव लगातार बेऊर जेल में बंद थे. बीच में 15 दिनों के लिए बेटी की शादी में शामिल होने के लिए हाईकोर्ट ने पैरोल पर जाने की अनुमति दी थी. 25 जनवरी 2020 को बेटी की शादी में शामिल होने के लिए जेल मुक्त हुए और फिर 10 फरवरी को कोर्ट में सरेंडर किया था.बाहर निकलने के साथ ही एमएलसी ने इस साल के चुनाव में दानापुर सीट से अपनी उम्मीदवारी ठोक दी.शाम को रीतलाल की रिहाई के वक्त कई गाड़ियों से उनके साथ समर्थक आये थे. अपने समर्थकों के साथ गाड़ी पर सवार होकर रीतलाल सबसे पहले राजवंशी नगर स्थित हनुमान मंदिर पहुंचे, फिर पूजा-अर्चना करने के बाद खगौल के कोथवां स्थित आवास पर पहुंचे और परिवार से मुलाकात किया. इस वक्त एक बड़ी खबर सामने आ रही है. आरजेडी एमएलसी रीतलाल यादव पर पटना में एफआईआर दर्ज किया गया है. राजधानी पटना के दानापुर थाना में एमएलसी और उनके भाई के ऊपर मामला दर्ज कराया गया है. इसके अलावा रीतलाल यादव के समर्थकों के खिलाफ भी शिकायत दर्ज कराई गई है.एमएलसी रीतलाल यादव के भाई पिंकू, गुड्डू, रणजीत और संतोष समेत कुल 12 लोगों के ऊपर नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई गई है. इसके अलावा अज्ञात 150 लोगों पर मामला दर्ज कराया गया है. लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने को लेकर इन सभी लोगों के ऊपर पटना के दानापुर थाना में मामला दर्ज कराया गया है. पुलिस की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक दानापुर थाना इलाके के आशियाना मोड़ पर लोगों की भीड़ एकत्रित हुई थी. सड़क पर काफी ज्यादा भीड़ थी. गाड़ियों का काफिला था. जिसके कारण दानापुर के अंचलाधिकारी ने स्वतः एक्शन लेते हुए एमएलसी और उनके समर्थकों के ऊपर मामला दर्ज कराया.

कोई टिप्पणी नहीं: