विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 25 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 25 अगस्त 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 25 अगस्त

नोडल अधिकारियों के कार्यो का जायजा

vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने मंगलवार को नोडल अधिकारियों के द्वारा सम्पादित होने वाले कार्यो की समीक्षा की। नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में आयोजित की गई उक्त बैठक में कलेक्टर डॉ जैन ने सेम्पलों के लक्ष्यों में वृद्वि करने के निर्देश दिए है। उन्होंने विकासखण्डवार आबादी के अनुपातिक आधार पर लक्ष्य तय करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दिए है। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने कहा कि जिले में कोरोना वायरस कोविड 19 के सेम्पलों के परीक्षण हेतु तीन प्रकार के माध्यम से किया जा रहा है। जिसमें उन्होंने आरटीपीसी के माध्यम से हर रोज फिक्स तीन सौ सेम्पलों का परीक्षण अनिवार्यतः करने के निर्देश दिए है जबकि मेडीकल कॉलेज के द्वारा किए जा रहे सेम्पलों की संख्या में वृद्वि करने तथा ट्रू नॉट से 35 से 40 सेम्पलों का अनिवार्य रूप से परीक्षण किया जाए।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने कोविड केयर सेन्टर विदिशा, बासौदा एवं सिरोंज में भर्ती मरीजो की जानकारियां संबंधित नोडल अधिकारियों से प्राप्त की। उन्होंने कहा कि कोविड केयर सेन्टरों में दी जा रही सुविधाओं का लाभ मरीजो तक पहुंचे और यह संदेश आमजनो तक प्रसारित हो के पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित किए जाए।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने श्रीमंत माधवराव सिंधिया जिला चिकित्सालय के आईसीयू में वेंटिलेटरों के संधारण के संबंध में जानकारी प्राप्त की। इस दौरान कोविड केयर सेन्टरों से आज होने वाले डिस्चार्ज मरीजो के संबंध में भी अवगत कराया गया है। उक्त बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री मयंक अग्रवाल, अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार, मेडीकल कॉलेज के एमडी डॉ प्रशांत बडगवालकर, सिविल सर्जन सह अधीक्षक डॉ संजय खरे, कोविड केयर सेन्टरों के नोडल अधिकारी, कंटेनमेंट जोन के नोडल अधिकारी तथा एमएमयू टीम के नोडल अधिकारी मौजूद थे। 


नीति आयोग के पैरामीटरों की समीक्षा 

कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने आज आकांक्षी जिले के अंतर्गत विदिशा जिले में नीति आयोग के द्वारा निर्धारित मापदण्डो के अनुरूप संबंधित विभागो द्वारा सम्पादित किए जाने वाले कार्यो की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि आयेग द्वारा जारी जून माह की रैकिंग में विदिशा जिले को प्रथम स्थान हासिल हुआ है अतः इस गति को सभी अधिकारी बनाए रखेंगे। ताकि विदिशा जिला आकांक्षी जिलो की सूची से पृथक हो सकें। कलेक्टर डॉ जैन के द्वारा स्वास्थ्य, शिक्षा, ऊर्जा, पेयजल आपूर्ति, कृषि, उद्यानिकी, मत्स्य पालन, पशुपालन के अलावा अन्य कम्पोनेट जो आर्थिक सबलता में वृद्वि करते है के पैरामीटर पर संबंधित विभागों द्वारा अब तक संपादित किए गए कार्यो की बिन्दुवार उनके द्वारा समीक्षा की गई है। कलेक्टर डॉ जैन ने स्वास्थ्य समीक्षा के दौरान कहा कि सुविधाओं में वृद्वि हुई है और यह जानकारी आरसीएच पोर्टल पर अनिवार्यतः दर्ज की जाए और उसकी मानिटरिंग के प्रबंध सुनिश्चित किए जाए। कलेक्टर द्वारा जिले में डिलेवरी पाइंट जो अब तक फंक्शनल नही हुए है उन कारणो का उल्लेख कर जानकारी प्रस्तुत करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दिए है। सबका स्वास्थ्य ठीक रहें इस मूल अवधारणा की पूर्ति हेतु टीकाकरण, डिलेवरी अस्पतालो में हो के लिए किए गए प्रबंधो की समीक्षा उनके द्वारा की गई है। महिला एवं बाल विकास विभाग के कार्यो की समीक्षा करते हुए उन्होंने एनआरसी खाली ना रहें। कुपोषित बच्चो को एनआरसी का लाभ दिलाया जाए। उन्होंने जिले की आंगनबाडी केन्द्रों में पंखे व बिजली की आपूर्ति के प्रबंध सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए है। आंगनबाडी केन्द्रों में विभाग के साथ-साथ जन सहयोग, पंचायतों एवं जनभागीदारी से सामग्री उपलब्ध कराई जाए। स्कूल शिक्षा के कार्यो की समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने ऐसे स्कूल जिनमें पानी व बिजली नही है कि सूची उपलब्ध कराने के निर्देश दिए है। शासकीय स्कूलों में छात्राओं का दाखिला शत प्रतिशत हो, एक भी छात्रा ड्राप आउट ना हो के प्रबंध सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है। कलेक्टर डॉ जैन के द्वारा कृषि, उद्यानिकी मत्स्य तथा पशुपालन कोर डिपार्टमेंट की संयुक्त बैठक में निर्देश दिए कि पात्रताधारियों को शासन की योजनाओं का लाभ दिलाया जाए। समय पर उन्नत किस्म के बीज व उपकरण उपलब्ध कराने से फसलीय पैदावार में वृद्वि होने की संभावना रहती है। किसानो को स्वाइल कार्ड प्रदाय किए जाएं। उद्यानिकी के क्षेत्र में हाईव्लयू की फसलें ली जाएं जिसमें स्थानीय बाजार की आवश्यकता को ध्यानगत रखते हुए फसलों का उत्पादन किया जाए। आईटीसी के द्वारा जिले में एक हजार एकड़ क्षेत्र में तुलसी और अश्वगंधा की फसल हेतु किसानो से अनुबंधित किया गया है। फार्मिंग के उपरांत उपरोक्त उत्पाद को आईटीसी स्वंय क्रय करेंगी। इसी प्रकार कृत्रिम गर्भाधान, उन्नत पशुपालन के संबंध में भी दिशा निर्देश दिए गए है। बैठक में ऊर्जा विभाग के माध्यम से मुहैया कराई जाने वाली सुविधाओं के क्रियान्वयन से लाभांवित होने वालो की जानकारियां प्रस्तुत की गई है। नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई उक्त बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री मयंक अग्रवाल, संबंधित विभागो के जिलाधिकारी मौजूद थे। 

13 उल्लंघनकर्ताओं को संस्थागत कोरोन्टाइन सेन्टर में भर्ती कराया

कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा दिए गए निर्देशो के अनुपालन में कंटेनमेंट जोन की निगरानी की जा रही है और कंटेनमेट जोन के रहवासियों को घरो के अन्दर ही रहने की सूचनाएं विभिन्न माध्यमों से दे कर कंटेनमेंट जोन के नियम उद्वेश्यों का उल्लंघन करने पर होने वाली कार्यवाही से भी अवगत कराया जा रहा है। कंटेनमेंट जोन के नोडल अधिकारी श्री मेहताब सिंह रावत एवं जिला परिवहन अधिकारी श्री गिरजेश वर्मा ने आज मंगलवार 25 अगस्त को विदिशा शहर के अंतर्गत कंटेनमेंट एरिया का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान 13 व्यतियों को उल्लंघन करते पाए जाने पर उनके खिलाफ नियमानुसार कार्यवाही की गई है। श्री रावत ने बताया कि उल्लघंनकर्ताओं को एसएटीआई के हॉस्टल में बनाए गए संस्थागत कोरोन्टाइन में रखने के प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। उनमें कंटेनमेंट जोन क्रमशः तोपपुरा से चार, बरईपुरा से तीन, डंडापुरा से छह  व्यक्तियों को उल्लंघन करते पाए जाने पर उन्हें संस्थागत कोरोन्टाइन सेन्टर में भर्ती कराया गया है और सभी कंटेनमेंट जोनो में इस बात का संदेश प्रसारित किया गया है कि जारी गाइड लाइन का पालन करें। किसी भी प्रकार से कंटेनमेंट जोनो का उल्लंघन ना करें। संस्थागत कोरोन्टाइन में 14 दिनों तक उल्लघंनकर्ताओं को रखा जाएगा।

शस्त्र लायसेंस निलंबित

कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी डॉ पंकज जैन के द्वारा आज एक शस्त्र लायसेंस निलंबित करने का आदेश जारी कर दिया गया है। ज्ञातव्य हो कि कलेक्ट्रेट परिसर में शस्त्र शाखा के समक्ष लगभग 11 वर्षीय बच्चा बंदूक लिए हुए खडा हुआ था। कलेक्टर द्वारा संवाद करने पर बच्चे के बाजू में खडे़ व्यक्ति ने भी बंदूक का लायसेंस दिखाने में असमर्थता व्यक्त की। कलेक्टर डॉ जैन ने प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए शस्त्र शाखा प्रभारी अधिकारी को बंदूक के नम्बर आधार पर शस्त्र लायसेंस किसी जारी किया है का पता कर शस्त्र निलंबन करने के निर्देश दिए। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने बताया कि आज मंगलवार को कलेक्ट्रेट परिसर में जिस बच्चे के हाथ में बंदूक थी का लायसेंस नटेरन तहसील के ग्राम निचरोल निवासी अरविन्द सिंह राजपूत को जारी किया गया था जिसे आज निलंबन की कार्यवाही की गई है।


सफलता की कहानी : लो बोल्टेज से निजात मिली 

vidisha news
टीलाखेडी क्षेत्र के 35 परिवार विगत कई महीनो से लो वोल्टेज की समस्या से जूझ रहे थे। ऊर्जा विभाग के अधिकारियों के द्वारा की गई पहल से लो वोल्टेज की समस्या का निदान हुआ है। मध्यप्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी की इस नवीन पहल से लाभांवित परिवारों के चेहरो की प्रसन्नता देखी जा सकती है। टीलाखेडी क्षेत्र में स्थापित ट्रांसफार्मर से दो लाइन ही कम कर रही थी सामान्यतः वैसे तीन लाइन काम करती है इस कारण से लो वोल्टेज की समस्या हो रही थी। स्थानीय रहवासियों से चर्चा के उपरांत 100 केव्ही की डीपी शिफ्ट की गई है जिसका लाभ स्थानीय रहवासियों को मिल रहा है। ऊर्जा विभाग के इस कार्य की भूरि-भूरि प्रशंसा टीलाखेडी के रहवासियों की वार्तालाप में परलिक्षित हो रही है।

सफलता की कहानी : कोविड केयर सेन्टर की सुविधाओं से लाभांवित व्यक्ति ने सामग्री दान की प्लाज्मा दान करने हेतु तैयार 

vidisha news
विदिशा जिला मुख्यालय के कोविड केयर सेन्टर में कोरोना के संक्रमण के इलाज उपरांत पूर्ण स्वस्थ हो चुके विदिशा गांधीनगर के श्री अमित निगम ने आज कोविड केयर सेन्टर में पहुंचकर नहाने की सौ साबुने एवं  रायल सिटी के प्रखर शर्मा ने कपडे धोने की सौ साबुने प्रदाय की गई है।  कोविड केयर सेन्टर में उपचार के दौरान मिली सुविधाओं को गिनाते हुए श्री निगम ने कहा कि भविष्य में नही सोचा था कि अस्पताल में ऐसी सुविधा मिलेगी। उन्होंने कोविड केयर सेन्टर में स्वस्थ मनोरंजन के संसाधनो का भरपूर दोहन कर स्मृति में सजोए हुए है। ‘ए’ पॉजिटिव रक्त समूह के श्री अमित निगम का कहना है कि यदि किसी व्यक्ति को प्लाज्मा की आवश्यकता पडे़गी तो में दान देने के लिए तैयार हूं। कोरोना वारियर्स की अनुकरणीय पहल की चहुंओर चर्चा हो रही है।

प्रधानमंत्री फसल बीमा की प्रीमियम 31 तक जमा 

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2020-21 के तहत बीमांकन की कार्यवाही 31 मार्च तक प्रचलित है। उक्त तिथि तक खरीफ के तहत ली जाने वाली फसलों का बीमा किसानबंधु नजदीक के कृषि कार्यालय सहकारी समिति बैंक शाखा अधिकृत बीमा कंपनी ओर जनसेवा केन्द्र में पंजीयन करा सकते है।  ऋणी कृषकों से प्रीमियम की राशि संबंधित बैंक के द्वारा ली जा रही है। आगामी समय में कंपनी के निर्धारण उपरांत प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के पोर्टल पर संबंधित कृषक की जानकारी अपलोड की जा सकेगी तथा कृषक अंश का भुगतान चयनित बीमा कंपनी को दिया जा सकेगा।  अऋणी कृषकों की श्रेणी हेतु संबंधित कृषक के द्वारा किसी भी राष्ट्रीय अथवा सहकारी बैंक में जाकर आवश्यक औपचारिकताएं जैसे आधार कार्ड की प्रति, जमीन संबंधी दस्तावेंज, बुआई का प्रमाण पत्र इत्यादि पूर्ण करने के उपरांत प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का निर्धारण प्रीमियम जमा कर योजना का लाभ प्राप्त किया जा सकता है।  उपरोक्त के अतिरिक्त बीमा कंपनी के द्वारा निर्धारित कियोस्क के माध्यम से भी कृषक योजना में पंजीयन करा सकेंगे। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के माध्यम से बीमित रकवे की फसल तथा राजस्व विभाग की गिरदावरी रिपोर्ट में उस क्षेत्र के रकवे की फसल में भिन्नता रहती है। उक्त स्थिति में भारत सरकार की योजना के मार्गदर्शी निर्देशिका के अनुसार उस क्षेत्र के समस्त कृषकों की बीमित राशि पर एसीएफ लागू होने की संभावना रहती है। जिससे कृषकों की दावा राशि प्रभावित होती है अतः यह सुनिश्चित करना आवश्यक है कि राजस्व विभाग के आंकडे तथा फसल बीमा योजना के तहत बीमित क्षेत्र के आंकडो में भिन्नता नही हो।

कोई टिप्पणी नहीं: