पश्चिम चम्पारण की धरती को मैनुफैक्चरिंग हब बनाने की दिशा में हुआ आगाज - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 22 सितंबर 2020

पश्चिम चम्पारण की धरती को मैनुफैक्चरिंग हब बनाने की दिशा में हुआ आगाज

कम्प्यूटर एडेड डिजाइन के माध्यम से एम्ब्राॅडरी का उत्पादन शुरू।इम्पोटेड मशीनें सूरत से बेतिया लाया गया।शीघ्र ही फुटवेयर, सैनेटरी नैपकिन, एम्ब्राॅडरी आदि के क्षेत्र में प्रोडक्शन होगा शुरू.....
betiya-manufecturing-hub
बेतिया,22 सितम्बर। जिला औद्योगिक नवप्रवर्तन योजना के अंतर्गत स्टार्टअप जोन, चनपटिया में सूरत से आये उद्यमियों ने टेक्सटाइल्स एवं एप्रिल उद्यम की शुरूआत की। पश्चिम चम्पारण के जिलाधिकारी ने कहा कि जिले के लिए बेहद ही गौरव एवं सुखद पल, वर्तमान एवं आने वाली पीढ़ियों को मिलेगा बेहतर भविष्य।जिलाधिकारी, श्री कुंदन कुमार ने कहा कि पश्चिम चम्पारण की धरती को मैनुफैक्चरिंग हब बनाने की दिशा में ऐतिहासिक आगाज हो चुका है। सूरत से आये उद्यमियों ने टेक्सटाइल्स एवं एप्रिल उद्यम की शुरूआत कर दी है। इनके पास विभिन्न प्रकार के आधुनिक मशीनें हैं जो कम्प्यूटर एडेड डिजाइन के माध्यम से टेक्सटाइल एवं एप्रिल के क्षेत्र में विभिन्न प्रोडक्ट्स का उत्पादन करेंगे। यह हमारे जिले के लिए अत्यंत ही खुशी और गौरव की बात है कि लाॅकडाउन के दौरान इतने कम समय में हमसभी के समन्वित प्रयास से आज यह सुखद दिन आया है। शीघ्र ही फुटवेयर, सैनेटरी नैपकिन, एम्ब्राॅडरी आदि के क्षेत्र में प्रोडक्शन शुरू होगा। जिलाधिकारी समाहरणालय सभाकक्ष में जिला औद्योगिक नव प्रवर्तन योजना से संबंधित अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे। 



उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन जिला औद्योगिक नवप्रवर्तन योजना द्वारा उद्यमियों को विभिन्न प्रकार के टेक्सटाइल्स, फुटवेयर, सैनेटरी पैड, एम्ब्राॅडरी आदि के प्रोडक्शन की शुरूआत करने के लिए चनपटिया प्रखंड अंतर्गत एक काॅमन वर्किंग प्लेस को स्टार्टअप जोन की तरह उपलब्ध कराया गया है। यह एक बेहतरीन प्लेटफाॅर्म है। काॅमन वर्किंग प्लेस के माध्यम से विभिन्न उद्यमों की शुरूआत कराने में जिला प्रशासन की पूरी टीम द्वारा बेहद सराहनीय कार्य किया गया है। उन्होंने कहा कि सभी पदाधिकारियों के समन्वित प्रयास एवं उद्यमियों के सहयोग के कारण ही आज जिले को मैनुफैक्चरिंग हब बनाने की दिशा में ऐतिहासिक आगाज संभव हो सका है। इससे वर्तमान एवं आने पीढ़ियों को एक बेहतर भविष्य मिलेगा तथा पश्चिम चम्पारण जिला विकास के पथ पर और तेजी से आगे बढ़ सकेगा। जिलाधिकारी ने कहा कि लाॅकडाउन के दौरान अन्य राज्यों में कार्य करने वाले 1लाख से ज्यादा व्यक्ति इस जिले में वापस लौटे है। इनमें कुशल कामगार एवं श्रमिक भी है। जिला प्रशासन द्वारा यह प्रयास किया जा रहा है कि इन सभी को इनके हुनर के अनुसार इसी जिले में रोजगार उपलब्ध करायी जाय जिससे इनका जीविकोपार्जन हो सके। उन्होंने कहा कि जिले के मैनुफैक्चरिंग हब बनने से लाॅकडाउन के दौरान वापस लौटे कुशल कामगारों तथा श्रमिकों को इससे अत्यंत फायदा पहुंचेगा और उन्हें अपने कौशल के अनुरूप यहीं काम प्राप्त हो जाएगा। उन्होंने कहा कि ब्रांड वेस्ट चम्पारण को विकसित करने की दिशा में अधिकारियों की टीम द्वारा लगातार कार्य किया जा रहा है। सभी के समन्वित प्रयास से चम्पारण का प्रोडक्ट राष्ट्रीय एवं अंतराराष्ट्रीय बाजारों में अपना परचम लहरायेगा। इस अवसर पर सहायक समाहर्ता, श्री कुमार अनुराग, उप विकास आयुक्त, श्री रवीन्द्र नाथ प्रसाद सिंह, ओएसडी, श्री बैद्यनाथ प्रसाद सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं: