झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 07 सितम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 8 सितंबर 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 07 सितम्बर

थांदला की नेचुरल गोल्ड में एफसीआई के गेंहू का चल रहा था गोरख धंधा  कर्ताधर्ताओं पर एसडीएम ने दर्ज करवाई एफआईआर 

jhabua news
झाबुआ।। जिले में अब प्रदेश सरकार काले कारोबारियों पर। शिकंजा कसती नजर आ रही है इसी कड़ी में जिले के थांदला में स्थित नेचुरल गोल्ड पल्स एंड फ्लोर मिल में क्या आदिवासी बहुल जिले में एफसीआई का गरीबो के लिए आने वाला गेहूं का गोरखधंधा चल रहा था ? जी हा यहाँ पूरी दाल ही काली नजर आ रही है।  आज इनके प्रबंधकों के खिलाफ आज थांदला पुलिस थाने पर थांदला एसडीएम जुवानसिंह बघेल ने 420 का आरोप लगाते हुए अपराध क्रमांक 371 के तहत धारा 420, 409ध्34 के तहत एफआईआर दर्ज करवाई है। गौरतलब है कि इस फर्म की फर्जीवाड़े की हकीकत तब सामने आई जब की इनके ही द्वारा बताए गए किसानों के नाम की सूची का भौतिक सत्यापन पटवारी ने जांच की जो पूरी तरह फ्रॉड है ।बहरहाल एसडीएम थांदला ने एफआईआर में यह आरोप भी लगाया गया कृषि उपज मंडी थांदला में फर्म नेचुरल गोल्ड प्लस एवं फ्लोर मिल के द्वारा दिनांक 16 मई 2020 से 1 जुलाई 2020 तक मंडी में प्रस्तुत भुगतान पत्रक रिपोर्ट रेंडमली जांच कर 24 किसानों का भौतिक सत्यापन मौकेपर करवाया गया। प्राप्त मौका पंचनामा में ग्राम खवासा, हरिनगर, सुतरेटी, काकनवानी, एवं चैनपुरी के भुगतान पत्रक दर्शाएं गए किसानों का संबंधित ग्रामों के हल्का पटवारियों से भौतिक सत्यापन करवाए जाने पर 24 किसान जिन्हें भुगतान देना बताया गया उनमें से 23 किसानों का उन गांवों का निवासी ही नहीं होना पाया गया और ना ही राजस्व रिकार्ड में इनके नाम कोई भूमि दर्ज होना पाई गई। क्रमांक 22 पर दर्ज किसान जानकी लाल पाटीदार निवासी खवासा द्वारा खवासा आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था में ई-गेहूं उपार्जन केन्द्र पंजीयन करवाकर गेहूं विक्रय किया जाना पाया गया। उपरोक्तानुसार फर्म नेचुरल गोल्ड एवं पल्स एंड फ्लोर मिल के प्रबंधकों द्वारा फर्जी तरीके से विधि विरुद्ध गेहूं एवं चना पाया गया।


 एफआईआर में फर्म के प्रबंधक अली हुसैन बोहरा पिता गुलाम अली बोहरा, लोकेश गादिया पिता कनकमल गादिया, मुनीरा बोहरा अली पति अब्बास बोहरा, मोहम्मद बोहरा पिता अब्बास बोहरा, मुस्तमसीर बोहरा पिता अली हुसैन बोहरा, ओजेफा बोहरा पिता अली हुसैन बोहरा, संजय व्होरा जैन पिता चम्पालाल व्होरा, रजनीकांत लोढ़ा पिता रूपचंद लोढ़ा एवं श्रेणिक कुमार दिया कनकमल गादिया सभी निवासी थांदला नामजद किए गए हैं। एफआईआर के साथ ही नौ में सात प्रबंधकों को पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए जाने की खबर है। इनमें लोकेश गादिया एवं मुनीरा बोहरा की तलाश पुलिस कर रही है। हालांकि पुलिस ने अधिकृत तौर पर गिरफ्तारी की पुष्टि नहीं की है। संजय व्होरा पुलिस गिरफ्त में अली हुसैन थांदला थाने में दर्ज हुई एफआईआर में नेचुरल गोल्ड एवं पल्स मिल के प्रबंधकों पर गंभीर आरोप लगाए गए हैं। एफआई आर करवाते हुए एसडीएम ने लिखा कि उनके नेतृत्व में प्रशासनिक दल ने पांच सिंतबर 2020 को फर्म के भागीदार श्रेणिक गादिया की मौजूदगी में फर्म के सुपरवाइजर मानसिंह चैहान द्वारा खुले स्थान व गोडाउन में रखे गेहूं एवं चने के बोरों की गिनती करवाई। जांच के दौरान गिनती करने पर गेहूं को बोरियों की अनुमानित संख्या 78 हजार 842 पाई गई। स्टाक से रेंडम छह गेहूं की बोरियों का औसत वजन निकाला गया जो 55 किलो निकला। इस लिहाज से कुल गेहूं का वजन 43 हजार 363.31 यानी 43363.31 क्विंटल अनुमानित होना पाया गया। फर्म के भागीदार श्रेणिक गादिया द्वारा बताया गया कि प्रोसेसिंग हेतु मशीन में डाले गए गेहूं की मात्रा अनुमानित 2200 क्विंटल एवं क्लिनिंग सेक्शन तथा खुले स्थान पर लुज रखे गेहूं की अनुमानित मात्रा 1400 क्विंटल जोडने पर कुल गेहूं की मात्रा 46963.31 क्विंटल होना पाया गया। फर्म के स्टाक रजिस्ट्रर में गेहूं का प्रारंभिक स्टाक 47038.70 होना पाया गया। स्टाक रजिस्टर में दर्ज मात्रा एवं भौतिक सत्यापन में पाई गई गेहूं की मात्रा का मिलान करने पर 75.39 क्विंटल का कम होना पाया गया। इसके अलावा गिनती में चने की अनुमानित बोरिया 7965 पाई गई। जिसका औसतन वजन 62 किलो प्रति बोरे के मान से कुल वजन 4938.30 क्विंटल होना पाया गया, फर्म के भागीदार श्रेणिक गादिया द्वारा बताया गया कि प्रोसेसिंग एवं फ्लोर पर 800 क्विंटल चना अनुमानित रखा है। कुल जोडने पर कुल चने का अनुमानित वजन 5738.30 होना पाया गया। स्टॉक रजिस्टर में दर्ज चने की मात्रा 5767.04 एवं भौतिक सत्यापन में पाई गई चने की मात्रा का मिलान करने पर 28.74 क्विंटल चना कम होना पाया गया।पुलिस अगर मामले की जांच-में पूरी तह जो खंगालेगीतो आदिम जाति सहकारी संस्थाओं से जुड़े कई कर्मचारी भी उचित मूल्य की दुकानों के गेंहू की हेराफेरी में आ सकते हैं।

विधायक कांतिलाल भूरिया ने खेतों में जाकर बर्बाद हुई फसलों का औचक निरीक्षण किया!

jhabua news
झाबुआ 7 सितंबर। पूर्व केद्रीय  मंत्री एवं क्षेत्रीय विधायक कांतिलाल भूरिया ने आज कांग्रेस पदाधिकारियों के साथ झाबुआ विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत पिटोल क्षेत्र एवं कल्याणपुरा क्षेत्र के गांवो के खेतों में जाकर बर्बाद हुई  फसलों का औचक निरीक्षण किया -विधायक भूरिया ने पिटोल क्षेत्र के गांव बावड़ी, छोटी पिटोल , गेहलर , मलवान, खेड़ी कल्याणपुरा क्षेत्र के गांव - अन्तरवेलीया, भगोर, नवापाड़ा नवीन, मानपुरा, गोपालपुरा, संदला, बरोड़,  खेरमाल, तलावली, परवट में जाकर किसानो से रूबरू होकर बर्बाद हुई फसलो की जानकारी ली। किसानों ने भूरियाजी को अवगत कराया कि मौसम की  मार अधिक बारिश और कीट प्रकोप से सोयाबीन, मक्का ,उड़द ,मूंग मिर्च ,टमाटर एवं सब्जियां आदि की फसलें बर्बाद हो गई है मौसम  और किट प्रकोप के कारण फसल में  अफलन की स्थिति निर्मित हुई है, सरकार की ओर से कोई भी अधिकारी हमारी फसलों का निरीक्षण करने अभी तक नहीं आया ! हमारा पूरा परिवार खेती पर निर्भर है,  आमदनी ना होने के कारण हमारा घर चलाना भी मुश्किल हो गया है ऐसे में हम मांग करते हैं कि सरकार जल्द ही हमें सर्वे करवाकर हमारी बर्बाद फसलों का मुआवजा देवें ! विधायक भूरिया ने आश्वस्त किया कि मैं और मेरी कांग्रेस पार्टी आप लोगों की लड़ाई लड़ेगी हमने झाबुआ में कलेक्टर महोदय के माध्यम से प्रदेश सरकार को झाबुआ जिले में सर्वे करवाकर बर्बाद हुई फसलों का मुआवजा देने की मांग की है, आप लोगों को बर्बाद हुई फसलों का मुआवजा मिले इसके लिए हमें आंदोलन करना भी पड़े तो हम नहीं हिचकेंगे! इस अवसर पर ब्लाॅक अध्यक्ष काना गुण्डिया, पेमा भाबोर , शंकर सिंह भूरिया  पिटोल से निर्भयसिंह ठाकुर, मनिष सरपंच, सुनिल सरपंच, शंकर हटिला कल्याणपुरा सरपंच,  सुरेंद्र गरवाल, पप्पू गरवाल, उमेश चैहान, रवि ठाकुर आदि उपस्थित थे। उक्ता जानकारी जिला कांग्रेस प्रवक्ता हर्ष भटट् ने दी।

किसानों को  मुआवजा दिलाने के लिए के  फिर से करेंगे जन आंदोलन’

jhabua news
पिटोल । आज पिटोल क्षेत्र में झाबुआ के क्षेत्रीय विधायक कांतिलाल भूरिया द्वारा पिटोल क्षेत्र के किसानों को फसलों का निरीक्षण किया एवं खेत मैं जाकर फसलों को देखा और सरकार को चेतावनी दी कि अभी हमने जन आंदोलन किया था किसानों को मुआवजे के लिए अगर अति शीघ्र प्रशासनिक अमले से सर्वे करा संपूर्ण क्षेत्र में मुआवजा दिया जाए श्री भूरिया ने बताया कि झाबुआ पेटलावद अलीराजपुर रतलाम मध्य प्रदेश के सभी आदिवासी जिलों में जहां अतिवृष्टि से फसलें खराब हुई है वहीं करोना महामारी की मार से भी लोगों का जीवन अस्त-व्यस्त है ऐसे में दोहरी मार झेल रहे किसानों को शीघ्र से शीघ्र मुआवजा दिया जाए श्री भूरिया ने बताया कि प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चैहान किसानों की हित की बात करते हैं केवल आंकड़ों के फेर में उलझा कर किसानों को मूर्ख बना रहे हैं जिसे हम सहन नहीं करेंगे और जन आंदोलन करेंगे श्री भूरिया के साथ पिटोल क्षेत्र के कई कांग्रेसी नेता थे जिनमें पिटोल सरपंच का काना गुडिया  मानागुंडीया  घाटिया का तडवी पानसिंग बिलवाल निर्भय सिंह ठाकुर विनोद मकवाना क्षेत्र के कई किसान उपस्थित थे।

जिला बस आॅनर्स एसोसिएषन ने नवागत कलेक्टर रोहितसिंह का किया स्वागत, जिला परिवहन अधिकारी को पत्र देकर जिले में चल रहे अवैध वाहनों पर प्रतिबंध लगाने की मांग की

झाबुआ। जिला बस आॅनर्स एसोएिषन ने 7 सितंबर, सोमवार शाम 4 बजे कलेक्टोरेट पहुंचकर जिले के नवागत कलेक्टर राोहित सिंह का आत्मीय स्वागत किया। साथ ही जिला परिवहन अधिकारी राजेष्ेा गुप्ता से मुलाकात कर जिले में चल रहे अवैध वाहनों पर प्रतिबंध लगाने हेतुु उन्हें एक पत्र भी पेे्रषित किया। जिला बस आॅनर्स एसोसिएषन के जिलाध्यक्ष दिनेेष मेवाड़ा (पिटोल), संरक्षक निहालचन्द पडियार, जिला सचिव प्रकाष जैन, जिला उपाध्यक्ष शांतिलाल बसेरा एवं श्यामभाई बेहरा, मीडिया प्रभारी मधुसुदन गौतम, जिला कार्यकारिणी सदस्य प्रदीप जैन, राजू राठौड़, फ्र्रासिंस, बसंतसिंह, राजेन्द्रभाई आदि ने सोमवार शाम जिला मुख्यालय पर कलेक्टोरेट में नवागत कलेक्टर श्री सिंह से भेंटकर उनका पुष्प गुच्छ भेंटकर स्वागत किया। इस दौरान श्री सिंह को बस आॅनर्स एसोसिएषन के सभी पदाधिकारी एवं सदस्यों ने अपना परिचय भी दिया।

अवैध चल रहे वाहनों पर कार्रवाई की मांग
एसोसिएषन के पदाधिकारी-सदस्यों ने कलेक्टोरेट के बाहर ही जिला परिवहन अधिकारी श्री गुप्ता से भी मुलाकात कर उन्हें एक पत्र सौंपा। जिसमें उल्लेख किया गया कि आज सभी बस मालिकों की बैठक हुई। जिसमें निर्णय लिया गया जिले में जल्द ही बसों का संचंालन किया जाएगा। कोरोना वायरस (कोविड-19़) केे प्रकोप के कारण पिछले 5 महीने से लगे लाॅकडाउन में जिले के बस स्टेंडों पर अन्य वाहनों का भारी जमावड़ा होने लगा है। यह वाहन बिना फिटनेस, परमिट तथा अन्य नियमों का पालन किए बगैर अवैधध् वाहनों की श्रेणी में आकर चल रहे है। जिससे आगामी दिनों में जिले में बसों का संचालन होनेे पर यह वाहन बस मालिकों के लिए परेषानी का सबब बनेंगे।ं इन पर नियंत्रण अत्यंत जरूरी है, इस हेतु ऐसे वाहनों पर कार्रवाई करते हुए रोक लगाने की मांग की गई।

8 सितंबर स्व. शंकरलाल मालवीय की पुण्यतिथि विषेष, लोक रंगों केे चेतेरे श्री मालवीय आजीवन एक अच्छे चित्रकार एवं कलाकार रहे, कई बड़ेे स्तरों हुए सम्मानित

झाबुआ। 8 सितंबर को झाबुआ जिले की माटी के सपूत रहे स्व. शंकरलाल मालवीय की पुुण्यतिथि है। स्व. मालवीय जिले हीं नहंी अपितु संपूर्ण मप्र मंे एक अच्छे चित्रकार एवं कलाकार के रूप से प्र्िरसद्ध रहे। उन्होंने अपना पूरा जीवन आडंबर रहित बिताते हुए अपनी चित्रकारी के माध्यम से जिले की आदिवासी संस्कृति और सभ्यता तथा विष्व प्रसिद्ध भगौेरिया हाटों को अपनी कला के माध्यम से चित्रांकन किया। इसके लिए कई बडे स्तर पर सम्मानित भी हुए। 8 सितंबर 2020, मंगलवार को उनकी पुण्यतिथि पर संपूर्ण जिला उनको नमन करता है एवं अश्रुपूरित श्रद्धांजलि अर्पित करता है। स्व. एसएस मालवीय स्वभाव से सरल एवं मृवुुभाषी होकर एक अच्छे चित्रकार एवं कलाकार के रूप में उन्होंने अपने जीवनकाल में प्र्िरसद्धी हासिल की। वह जो भी चित्रांकन करते थे, पूरी लगनता औेर अंतरमन की गहराईयों से चित्र उकेरकर उनके हर चित्र को दाद मिलती थी और उनका हर एक चित्र ‘‘छायांकन’’ एक अनूठा संदेष देता था तथा विषेषकर आदिवासी बाहुल जिले की संस्कृति को रूबरू करता होता था। 



पुत्र धर्मेन्द्र मालवीय को विरासत में दी कला
स्व. एसएल मालवीय के दो पुत्र एवं तीन पुत्रियां है। वह अपने स्वर्गावास के बाद अपनी चित्रकारी और कलाकारी का समावेष अपने बड़े पुत्र धर्मेेनर््द्र्र मालवीय को देे गए। जिसके बाद उनकी चित्रकारी एवं कलाकारी को आगे बढ़ाते हुए धर्मेन्द्र मालवीय आज भी कायम रखे हुए है एवं वह भी समय-समय पर जिले की संस्कृति एवं सभ्यताओं को अपने चित्रों के माध्यम से उकरते रहते है।

छायांकनांे को विदेशों तक सराहा गया
स्व. एसएल मालवीय के चित्रांे को ना केवल झाबुआ जिलेे एवं मप्र अपितुु विदेष से झाबुआ शहर में आने वाले मेहमानों ंकी भी उनके समय काफी दाद एवं सराहना मिली। आज भी विदेषी मेहमानों के साथ उनके चित्र उनके पुत्र धर्मेन्द्र मालवीय के पास मौजूद है। स्व. श्री मालवीय ने अपनी कलाकारी के माध्यम से विष्व प्रसिद्ध भगोरिया हाटों को अधिक फोक्स किया। इसके लिए वे कई मंचों एवं बड़े स्तर पर सम्मानितत तथा भी किए गए, लेकिन उन्होंने अपने जीवन में सम्मान को तवज्जों नहीं देते हुए अपने कार्य को अधिक महत्व दिया। 8 सितंबर 2020 को उनकी पुण्यतिथि पर संपूर्ण जिला उनको भावभरे श्रद्धासुमन अर्पित करता है।

अभिनंदन एवं सम्मान समारोह सम्पन्न

jhabua news
झाबुआ ।  आल इंडिया जैन जर्नलिस्ट एसोशिएसन (आईजा) मध्य प्रदेश एवं संस्था अनुगूंज संस्था के संयुक्त तत्वाधान में इंदौर के सुरुचि गार्डन पर आयोजित गरिमामय समारोह में मुंबई से आये सुप्रसिद्ध प्लेबैक सिंगर, म्यूजिक डायरेक्टर, फिल्म अभिनेता रवि जैन  का सम्मान किया गया एवं उनके साथ इंदौर के ही गायक पिंटू सलूजा ने अपनी मधुर आवाज से संगीत का जादू बिखेरा सब ने उनको सुन कर स्वर्गंगा का रसपान किया। कार्यक्रम मे रविजी ने आईजा का टाइटल सांग भी सुनाते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष हार्दिकजी हुंडिया के साथ ही मध्यप्रदेश आईजा की जमकर तारीफ की इस अवसर पर सांसद प्रतिनिधि कपिल जैन व पार्षद जगदीश धनेरिया ने सम्पुर्ण इंदौर शहर कि ओर से बॉलीवुड हस्ती रवि का सम्मान किया। दोनों संस्थाओ के प्रमुख अनिल लालावत तथा प्रदीप जैन ने शाल श्रीफल से स्वागत किया। कार्यक्रम मे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता, अभिवक्ता दिलीप राजपाल, मंसूरी, विधायक प्रतिनिधि जीतू राठौर विशेष रूप से उपस्थित थे। संस्था की और से अतिथियों का स्वागत  संजय कोठारी, विवेक जैन, शैलेन्द्र पोरवाल, महेश पोरवाल, दीपांशु जैन, विजय वर्मा, संजय लड्ढा, अमित खारीवाल, वीरेंद्र जायसवाल, बलराम सोनी,  उमेश कोठारी, निलेश जैन, विजय जैन, राजा जैन, रवि चैहान आदि ने किया। संस्था के वरिष्ठ और सक्रिय सदस्य शैलेन्द्र पोरवाल के लिये रवि जी जैन ने यह कह कर कि पंखों से कुछ नही होता होसलो से उड़ान होती है और भावुक कर देने वाली गीत की पंक्तिया सुनाकर सभी लोगो को भावुक कर सबका दिल जीत लिया। कार्यक्रम का संचालन मनोज दाधिच ने किया और आभार अनगूंज के सचिव एवं आईजा के प्रदेश मंत्री प्रदीप जैन ने माना।

बैंक अधिकारी शासकीय योजनाओं में पूर्ण सहयोग करें -कलेक्टर श्री रोहित सिंह

jhabua news
झाबुआ। जिला स्तरीय सलाहकार समिति की बैठक सोमवार को यहां कलेक्टेªट सभा कक्ष कलेक्टर एवं अध्यक्ष श्री रोहित सिंह की अध्यक्षता में अयोजित हुई। श्री सिंह ने बैंक वार सीडी रेसों की समीक्षा की। जिसमें एक्सिस बैंक सीडी रेसों 36 प्रतिशत, स्टेट बैंक आॅफ इंडिया का 46 प्रतिशत, तथा मध्य प्रदेश ग्रामीण बैंक का सीडी रेसों 59 प्रतिशत पाया गया जो कि बहुत ही कम है। इस पर नाराजगी व्यक्त करते हुए इन बैंकों के प्रबंधकों के विरूद्ध बैंकों के वरिष्ठ अधिकारियों को कार्य में रूचि न लेने की स्थिति से अवगत कराया जाए। श्री सिंह ने बैंक अधिकारियों से कहा की आगामी बैठक में गहन अध्ययन कर पूरी जानकारी के साथ बैठक में भाग ले ताकि विस्तार से समीक्षा की जा सकें। शासकीय योजनाओं में शतप्रतिशत लक्ष्य पूर्ति के लिये पूरा सहयोग करें। जिला प्रशासन उन्हें पूरा सहयोग करेगा। श्री सिंह ने इस बैठक में प्रधानमंत्री रोजगार श्रजन कार्यक्रम की विस्तार से समीक्षा की जिसमें खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड की प्रगति संतोषजनक नहीं पाई जाने पर नाराजगी जाहिर की और खादी ग्रामोद्योग प्रबंधक को निर्देश दिये है कि वे इस योजना के अंतर्गत निर्धारित लक्ष्य के पूर्ति के लिये अभी से प्रयास करें अन्यथा कार्य में सुधार न होने पर उन्हें शौकाज नोटिस जारी किया जावेगा। श्री सिंह ने बैंक अधिकारियों को निर्देश दिये है कि पथकर विक्रेता योजना को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए शहरी एवं ग्रामीण हितग्राहियों को अधिक से अधिक लाभांवित करें। इस योजना के तहत् प्रति हितग्राही 10 हजार रूपये बिना ब्याज के दिये जाने का प्रावधान है। कलेक्टर श्री सिंह ने बैंक अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि ऋण माफी की क्रेडिट इन्ट्री तीन दिवस में कराई जाना सुनिश्चित करें। इस बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमति शांति राजेश डामोर, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, महा प्रबंधक जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र श्री वीरेन्द्र सिंह ईश्क्या, उप संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास, श्री एन.एस. रावत, जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक श्री रामपुरकर, जिला विकास प्रबंधक नाबार्ड श्री नितीन अलोने, समस्त बैंकों के जिला समन्वयक तथा विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित थे।

कलेक्टर श्री सिंह द्वारा राणापुर तहसील के विभिन्न ग्रामों में पहुंचकर खरीफ फसलों की स्थिति का जायजा

jhabua news
झाबुआ,। कलेक्टर श्री रोहित सिंह द्वारा रविवार को झाबुआ जिले की राणापुर तहसील के विभिन्न ग्रामों में पहुंचकर खरीफ फसलों की स्थिति का जायजा लिया गया। श्री सिंह सर्वप्रथम ग्राम पाडलवा के कृषक अमरसिंह किलाण वसुनिया तथा बच्चु कालिया के खेत में बोई गई अंतर्वीय मक्का- सोयाबीन, कपास-मक्का फसल का अवलोकन किया और किसानों से उनकी समस्याएं सुनी। श्री सिंह ने अधिक वर्षा के कारण फसलों में कीटव्याधी से हुई क्षति की स्थिति की जानकारी ली और तहसील में फसलों के सर्वे कार्य की प्रगति की समीक्षा की और प्रगति संतोषजनक नहीं पाई जाने पर नाराजगी जाहिर की। श्री सिंह ने अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को निर्देश दिये हैं कि वे अपने क्षेत्र में राजस्व निरीक्षकों तथा पटवारियों की समीक्षा बैठक लें। इस कार्य में गति लाने के लिये राजस्व निरीक्षकों को निर्देशित करें की अपने क्षेत्र के पटवारियों को फसलों का सर्वे कार्य शीघ्र पूर्ण कराने के निर्देश दें। इस कार्य में यदि कोई पटवारी लापरवाही बरततें हैं तो उन पर निलम्बन की कार्यवाही करें। साथ ही सर्वे कार्य की प्रगति से प्रतिदिन अवगत करावें। कलेक्टर श्री सिंह ने इसके पश्चात राणापुर नगर में कोविड-19 के अंतर्गत विभिन्न स्थानों पर स्थापित कन्टेंमेंट एरिया का सघन अवलोकन किया। जिसमें वार्ड क्रमांक 13 सरदार मार्ग, एम.जी.रोड़ शामिल है। श्री सिंह ने जिन स्थानों पर कन्टेंमेंट एरिया बनाया गया है वह पूरी तरह से बंद नहीं पाए जाने पर नाराजगी जाहिर की और अनुविभागीय अधिकारी तथा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि जिन स्थानों पर कोरोना पाॅजीटिव व्यक्ति पाए गये है। उन स्थानों को पूरी तरह से बंद किया जावे ताकि   कोरोना वायरस न फैल सकें। श्री सिंह ने वार्ड क्रमांक 13 में एक व्यक्ति और कोरोना पाजीटिव पाया गया है वहां पर भी कन्टेंमेंट एरिया बनाने के निर्देश दिये। श्री सिंह ने  निर्देश दिये हैं कि कन्टेंमेंट एरिया में दुकाने बंद कराई जाए। नगर में नालियों की साफ-सफाई करानें और क्षेत्र को सेनेटाईज किया जावे। श्री सिंह ने  नगर वासियों से कहा कि वे कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिये मास्क का उपयोग करें तथा सोशल डिस्टेंसिंग का आवश्यक रूप से पालन करें। श्री सिंह ने नगर वारियों द्वारा स्वैक्षा से रविवार को दुकाने बंद रखने के निर्णय की प्रशंसा भी की। श्री सिंह ने नगर वासियों की समस्याएं सुनी और अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को निर्देश दिये हैं कि वे शांति समिति की बैठक आयोजित करें। इस समिति में मीडिया तथा जनप्रतिनिधि को भी शामिल करें। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि राणापुर तहसील में आधार सिडिंग का कार्य चल रहा है जिसमें पात्रता रखने वाले उपभोक्ताओं का नाम जोडने तथा अपात्र उपभोक्ताओं के नाम हटाने की कार्यवाही में राणापुर जिले में अव्वल रहें ऐसे प्रयास किये जाए। श्री सिंह इसके बाद ग्राम समोई पहुंचे और वहां के किसानों के खेतों में धान की फसल का अवलोकन किया और उनकी समस्याएं सुनी। श्री सिंह ने इस गांव में तालाब के लिये उपयुक्त स्थान पाए जाने पर जिला पंचायत से आरईएस के माध्यम से तालाब निर्माण कराने का प्रस्ताव करनें के निर्देश दिए। तालाब स्वीकृत होने पर यहां के किसानों को इसका फायदा होगा। इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्री एस.पी.एस. चैहान, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री विजय डावर, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री एम.एल.मालवीय, उप संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास श्री एन.एस.रावत, जिला परिवहन अधिकारी श्री गुप्ता, कृषि वैज्ञानिक डाॅ. आई.एस. तोमर, नायब तहसीलदार श्री रविन्द्र चैहान सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

खाद्यान्न पर्ची में आधार सिडिंग का कार्य 3 दिवस में शतप्रतिशत पूर्ण किया जाए - कलेक्टर श्री रोहित सिंह

झाबुआ।  जिले में खाद्यान्न पात्रता पर्ची में पात्र उपभोक्ताओं के नाम जोड़ने और अपात्र उपभोक्ताओं के नाम हटाने के कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जावे। यह कार्य आगामी 3 दिवस में शतप्रतिशत पूर्ण किया जावे। इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही तथा उदासीनता नहीं बरती जावे। यह निर्देश सोमवार को कलेक्टर श्री रोहित सिंह ने यहां कलेक्टेªट सभा कक्ष में समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक में दिये। श्री सिंह ने इस बैठक में बाढ़ एवं आपदा राहत के प्रकरणों की समीक्षा की और लम्बित प्रकरणों का एक सप्ताह में निराकरण करने के निर्देश दिये। इस बैठक में समर्थन मूल्य पर धान खरीदी के लिये स्थापित केन्द्रों की जानकारी ली। श्री सिंह ने जिले में खाद्यान्न पर्ची के कार्य की जनपद पंचायतवार विस्तार से समीक्षा की और जनपद पंचायत क्षेत्रों में संतोषजनक प्रगति नहीं पाए जाने पर नाराजगी जाहिर की। इस कार्य में लापरवाही बरतने पर जिला आपूर्ति अधिकारी को अवेतनिक करने के लिये नोटिस जारी करने तथा कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी मेघनगर का वेतन काटने, कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी पेटलावद का वेतन काटने के निर्देश दिये। इन सभी मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि वे आगामी 3 दिवस में पात्रता पर्ची का कार्य शतप्रतिशत पूर्ण कराए। श्री सिंह ने जिले में मिट्टी के तेल की कालाबाजारी रोकने के लिये की गई कार्यवाही की समीक्षा की और जिला आपूर्ति अधिकारी को निर्देश दिये हैं कि वे जिले में उचित मूल्य दुकानों का आकस्मिक निरीक्षण करें और खाद्यान्न तथा केरोसिन की अनियमितता पाई जाने पर दुकानदारों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जावे। श्री सिंह ने पथ विक्रेता योजना के तहत् बनाए गये प्रकरणों की समीक्षा की। बैठक में अवगत कराया की जिले में शहरी विकास अभिकरण द्वारा इस वित्तीय वर्ष में अब तक 1683 प्रकरण बैंकों को भेजे गए हैं। जिसमें से बैंकों द्वारा 958 प्रकरण स्वीृतक किये गये हैं। श्री सिंह ने जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक को निर्देश दिये हैं कि वे बैंक अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर वितरण के कार्य में सुधार लाए। इस बैठक में किसान क्रेडिट कार्ड पर किसानों को ऋण प्रदाय करनें के कार्य की समीक्षा की और संबंधित अधिकारियों को इस कार्य में प्रगिति लाने के निर्देश दिये। श्री सिंह ने मुख्य नगरपालिका अधिकारी झाबुआ तथा तहसीलदार झाबुआ को निर्देश दिये हैं कि वे शहर में अवैधानिक रूप से बनी दुकानों, नर्सिंग होम का अवलोकन करें और अवलोकन के दौरान संबंधित एजेंसी द्वारा अनापत्ति प्रमाण पत्र नहीं पाए जाने पर नियमानुसार कार्यवाही की जावे। बैठक में जिला प्रबंधक ग्रामीण राष्ट्रीय आजीविका मिशन बिना अनुमति के अनुपस्थित पाए जाने पर वेतन काटने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने इस बैठक में अविवादित नामांतरण तथा बटवारा के प्रकरणों की तहसीलवार समीक्षा की और लम्बित प्रकरणों का 7 दिवस में निराकरण करने के निर्देश दिये। इन प्रकरणों की प्रगति की आगामी समीक्षा बैठक में समीक्षा की जावेगी। कलेक्टर श्री सिंह ने राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि अविवादित नामांतरण तथा बटवारा के प्रकरणों के निराकरण में शतप्रतिशत प्रगति लावे और जिले को अव्वल बनाए। श्री सिंह ने जेईई के छात्र-छात्राओं को परीक्षा केन्द्र तक पहुंचाने और वापस लाने की अच्छी व्यवस्था करने पर जिला शिक्षा अधिकारी तथा जिला परिवहन अधिकारी को बधाई दी है। श्री सिंह ने जिले में कोरोना वायरस की रोकथाम तथा बचाव के लिये किये जा रहे प्रयासों की समीक्षा की और सभी इंसीडेंट कमाण्डरों को निर्देश दिये हैं कि वे सभी  फिवर क्लीनिक को सक्रिय करें। उन्होंने जिले में फसलों के सर्वे कार्य की प्रगति की समीक्षा करते हुए अधिक्षक भू-अभिलेख को निर्देश दिये हैं कि वे सर्वे कार्य शीघ्र पूर्ण कराए और प्रतिदिन के सर्वे कार्य की प्रगति से अवगत कराए। उन्होंने कार्यपालन यंत्री को निर्देश दिये हैं कि कलेक्टर कार्यालय भवन का मरम्मत कार्य करने व रंगाई-पुताई करवाए। साथ ही कलेक्टर कार्यालय में बिजली फिटिंग का कार्य भी संबंधित एजेंसी से करवाए। उन्होंने कहा की कलेक्टर कार्यालय के कमरों में लगे बेनर हटाने और अनुपयोगी सामग्री की निलामी की कार्यवाही की जावे। उन्होंने सभी विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि वे अपने-अपने कार्यालय व परिसर की साफ-सफाई कराए। उन्होंने मुख्य नगरपालिका अधिकारी को निर्देश दिये हैं कि नगर में फुटपाथ को साफ कराए। सड़क के किनारें घास की सफाई कराए। उन्होंने जिला आपूर्ति अधिकारी को निर्देश दिये हैं कि उचित मूल्य दुकानों के निरीक्षण के लिये अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। इन अधिकारियों की अनुभाग स्तर पर सूची तैयार कर प्रस्तुत करें और अधिकारियों के निरीक्षण प्रतिवेदन के आधार पर उचित मूल्य दुकानों में अनियमितता पाई जाने तथा दुकान बंद पाई जाने पर दुकानदार के विरूद्ध कार्यवाही की जावे। इन सभी उचित मूल्य दुकानों की सूची संबंधित अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को भी दी जावे। इस बैठक में कृषि आदान व्यवस्था की भी समीक्षा की गई। साथ ही मुख्यमंत्री हेल्प लाईन पोर्टल पर दर्ज शिकायतों, जनसुनवाई के आवेदन पत्रों, समयावधि पत्रों की विभागवार समीक्षा की और अधिकारियों को इनका शीघ्र निराकरण करने के निर्देश दिये। उन्होंने नगर में सड़कों की मरम्मत कार्य की प्रगति की समीक्षा करते हुए निर्माण एजेंसियों को निर्देश दिये हैं कि वे सड़कों का मरम्मत कार्य गुणवत्तापूर्ण कराना सुनिश्चित करें। इस बैठक में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पेटलावद श्री शिशिर गेमावत, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री एम.एल.मालवीय, डिप्टी कलेक्टर श्री एल.एन.गर्ग, सुश्री ज्योति परते, सुश्री प्रीति संघवी सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी, समस्त तहसीलदार, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, मुख्य नगरपालिका अधिकारी उपस्थित थे। 

कोई टिप्पणी नहीं: