बिहार : हत्या या आत्महत्या इसकी खुलासा क्या कर पाएगी पुलिस प्रशासन? - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 8 सितंबर 2020

बिहार : हत्या या आत्महत्या इसकी खुलासा क्या कर पाएगी पुलिस प्रशासन?

murder-or-sucide
अरुण ( बेगूसराय ) हालात और पारिवारिक कलह से परेशान एक महिला ने अपने ही 03 बच्चों के साथ नदी में कूदकर कर ली आत्महत्या।मामला बाढ़  के भदौरा थाना इलाके की डभामा पंचायत के  घटोरा पर गांव की है।पारिवारिक कलह से परेशान महिला ने अपने ही 03 बच्चों के साथ नदी में कूदकर आत्महत्या कर ली है।मृतका की पहचान 35 वर्षिय विभा देवी, 07 वर्षीय दिलशान,04 वर्षिय गुलशन कुमार और मात्र 01 वर्षायु की अबोध बच्ची अनुष्का कुमारी के रूप में की गई है।



बताया जा रहा है कि महिला सुबह घर से निकली और नहाने के बहाने नदी में छलांग लगा दी।घर से निकले काफी देर होने पर भी जब वो घर लौट कर नहीं आई तो घरवाले उसकी खोजबीन करने लगे,लेकिन उसका कहीं पता नहीं चल पाया।शाम तकरीबन 04 बजे एक ग्रामीण नदी की तरफ गया और पानी में शव देखकर गाँव वालों को सूचना दी।फिर तो उसके बाद वहाँ काफी भीड़ इकट्ठी हो गई।ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को भी दे दी।मौके पर वहाँ पहुँची पुलिस ने चारों के शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।शव भेजने के बाद लोगो से पूछताछ करने पर जो ज्ञात हुआ उसके हिसाब से महिला के परिजनों पर आत्महत्या के लिए मजबूर करने का आरोप लगाते हुए इसे हत्या बताया गया है, लेकिन इस बारे में अभी तक कोई लिखित शिकायत नहीं दी गई है।मृतका  कि बहन ने बताया कि विवाह के बाद पति और उसके ससुर उसकी बहन के साथ मारपीट करते थे इसके चलते हाल के महीने में वह अपने बहन के यहाँ रहने लगी थी।बहुत समझा बुझाकर उसे ससुराल भेजा गया था।वहीं पुलिस आत्महत्या या दुर्घटना के बीच उलझी हुई है।पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने का इंतजार किया जा रहा है।परिजनों के लिखित आवेदन आने के बाद ही मामले का खुलासा हो पाना सम्भव हो सकेगा।

कोई टिप्पणी नहीं: