सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 08 सितम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 8 सितंबर 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 08 सितम्बर

मुख्यमंत्री ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का भ्रमण कर किया राहत शिविरों का अवलोकन

sehore news
प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान मंगलवार को सीहोर जिले के सलकनपुर पहुंचे। ‍इस दौरान उनके साथ क्षेत्रीय सांसद (संसदीय क्षेत्र विदिशा) श्री रमाकांत भार्गव भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान सर्व प्रथम ग्राम पंचायत निनौर पहुंचे जहां उन्होंने बाढ़ पीडितों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि बाढ़ से जितना भी नुकसान हुआ है उसकी भरपाई की जाएगी। जिन लोगों के घर गिर गए हैं उन्हें फिर से घर बनवा कर देंगे। जो सामान भीगने से खराब हुआ है उसका भी पैसा दिया जाएगा। खेतों का भी सर्वे चल रहा है, बीमा एवं राहत राशि सभी प्रभावितों को मिलेगी। श्री चौहान ने कलेक्टर श्री अजय गुप्ता को निर्देशित किया कि बाढ़ एवं अतिवर्षा से जो भी नुकसान हुआ है उसका जल्दी ही सर्वे करवाएं। बाढ़ प्रभावितों को 50-50 किलों गेंहू उपलब्ध कराया जाए एवं जिन लोगों को 1 रुपये किलों गेंहू नहीं मिलता है उनका नाम बीपीएल श्रेणि में जोड़ा जाए। उन्होंने बिजली के अब तक के बिल भी स्थगित कर दिए हैं। इसके पश्चात मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ग्राम जहाजपुरा के राहत शिविर में पहुंचे जहां बाढ़ प्रभावितों को संबोधित करते हुए श्री चौहान ने कहा कि बाढ़ पीड़ित बिल्कुल भी परेशान न हो राहत राशि सभी प्रभावितों को मिलेगी। इस मौके पर संभाग आयुक्त श्री कवीन्द्र कियावत, आईजी, कलेक्टर श्री अजय गुप्ता, पुलिस अधीक्षक श्री शशीन्द्र चौहान, श्री गुरुप्रसाद शर्मा, श्री रवि मालवीय, राजेन्द्र सिंह राजपूत सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी उपस्थित थे।



विधायक सुदेश राय ने मुख्यमंत्री से स्वीकृत कराई दो बड़ी नलजल योजना  
  • नलों के माध्यम से ग्राम खण्डवा और बमुलिया के सैकड़ों ग्रामीण परिवारों को मिलेगा घर बैठे पीने का शुद्ध पानी 
  • दोनों गांवों में 2 करोड़ 72 लाख 10 हजार 912 रूपये से होगा निर्माण कार्य   योजना स्वीकृति पर ग्रामीणों ने व्यक्त किया मुख्यमंत्री व विधायक का आभार
sehore news
सीहोर। विधानसभा क्षेत्र सीहोर के खण्डवा और बमुलिया ग्राम के ग्रामीण परिवारों को शीघ्र हीं घर बैठे पीने का शुद्ध पानी नलों के माध्यम से मिलेगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विधायक सुदेश राय के द्वारा ग्राम खण्डवा और ग्राम बमुलिया में नलजल योजना के लिए भेजे गए प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान की है। दोनों गांवों में 2 करोड़ 72 लाख 10 हजार 912 रूपये से नलजल योजना संबंधित सभी निर्माण कार्य होंगे। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के द्वारा वर्क आर्डर जारी कर दिए गए है।   लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग कार्यपालन यंत्री एम सी अहिरवार के मुताबिक ग्राम खण्डवा में 16122087 की लागत से नलकूप स्त्रोत आधारित नवीन नलजल प्रदाय योजना का क्रियान्वयन  किया जाएगा। नलकूपों पर पावर पम्प नवीन विद्युत संयोजन , 250 कि.ली ,जल संग्रहण क्षमता 15 मीटर स्टेजिंग की आर.सी.सो. उच्च स्तरीय टंकी 38,500 का निर्माण कार्य 40 कि.ली.जल संग्रहण क्षमता के पम्प हाउस का निर्माण , राईजिंग मेन एवं जल वितरण 28 नलिकाओं के बिछाने एवं जोडऩे का कार्य और घरेलू नल कनेक्शन कार्य  किया जाएगा। इसी प्रकार ग्राम बमुलिया में 11088825 की लागत से  नलकूप स्त्रोत आधारित नवीन नलजल प्रदाय योजना के लिए नलकूपों पर पावर पम्प को स्थापना , नवीन विद्युत संयोजन , 175 कि.ली , जल संग्रहण क्षमता 12 मीटर स्टेजिंग की आर.सी.सी. उच्च स्तरीय टंकी का निर्माण कार्य राइजिंग मेन एवं जल वितरण नलिकाओं के बिछाने एवं जोडऩे का कार्य घरेलू जल कनेक्शन का कार्य किया जाएगा। नलजल योजना स्वीकृत किए जाने पर ग्राम खण्डवा की पवित्रा बाई,रामअवतार, उमराव सिंह गुलाब लोधी, कैलाश  जाट, मान सिंह,  लीलाकिशन लखनलाल एवं ग्राम  बमुलिया के सर्जन सिंह,अरविंद सिंह,  मीना, विजय  सिंह, मुकेश  मीणा, राम सिंह जीतमल सिंह, मोहनलाल आदि ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री शिवराज  सिंह चौहान और विधायक  सुदेश  राय   का  आभार व्यक्त किया है।  

पारदी समाजजनों ने की कृषि भूमि के पट्टे देने की मांग कलेक्ट्रेट पहुंचकर दिया  डिप्टी कलेक्टर को  ज्ञापन

sehore news
सीहोर। श्यामपुर तहसील क्षेत्र  के खाईखेड़ा, ग्यारसपुरा, चौकी टप्पर, खेरट बरखेड़ा मेंं  निवासरत  पारदी समाज के नागरिकों  ने कृषि  भूमि  के पट्टे और  कम बारिश  से  खराब हुए सोयाबीन का सर्वे कराकर मुआवजा राशि देने की मांग प्रशासन से   की है। इस संबंध में पारदी समाज  के द्वारा डिप्टी कलेक्टर को ज्ञापन भी दिया गया  है।     पारदी जाति  के कृषकों ने  बताया की वर्ष 1996 से लगातार कृषि कार्य कर अपने परिवार का भरण पोषण कर रहे है। प्रशासन के द्वारा  भूमि का पटटा अधिकार   प्रमाण  पत्र  नहीं दिया  गया  है।  जिस   कारण अनेक कृषक  हितैशी शासकीय  योजनाओं  का लाभ नहीं ले पा  रहे है। इस   संबंध में क्षेत्र के  जनप्रतिनिधियों    और  प्रशासनिक  अधिकारियों   को  कई बार अवगत  करा  चुके है लेकिन  कोई सुनने को तैयार नहीं है। मांग  करने  वालों  में टिकाराम,कन्टेल,अजिश कुमार,खगक्या, शितेन्द्र . हरदीप नन्दन सिह, लक्ष्मीमल,सुलोचना बाई,किरन कुमार,बलतूर सिंह, झीरमीरसा,सन्देश बलतूर सिह, रहीन बाइर्, विवची लाल, कुवर बाई, छीतकुवेर लाल,राजकिरन पीगाराम, विरसेन्द्र, गिदोरीलाल, शिवचरण, अवधनारायण केशमल बाई रंगलाल गाजी अवधनारायण आदि शामिल है।

शमशान भूमि से हटवाया जाए कब्जा सुरक्षा के लिए की जाए तार फेन्सिंग

सीहोर। झरखेडा स्थित शासकीय शमशान भूमि पर अवैधानिक रूप से किए  गए कब्जे को हटवाकर सुरक्षा  के  लिए  सीमांकन  और तारफेसिंग करने की मांग ग्रामीणों के  द्वारा की गई है। कलेक्ट्रेट पहुंचे ग्रामीणों ने बताया की शासकीय रिकार्ड में शमशान की भूमि दर्ज है। जिस पर ग्राम के कुछ दबंग लोगों द्वारा शमशान भूमि पर अवैध कब्जा कर लिया गया  है। जिससे शमशान पहुंचने वाले ग्रामीणों को बहुत परेशानी होती रही है। इस मामले में तहसीलदार दोराहा को भी अवगत कराया गया है लेकिन अतिक्रमणकर्ता पर कोई कार्यवाहीं नहीं कह गई है। अतिक्रमणकर्ताओं  के  द्वारा शमशान अंतेष्टी करने पहुंचने वाले ंग्रामीणों के साथ भी लड़ाई झगडा किया जाकर दहशत का माहौल बनाया जा रहा  है।  ग्राम के हरिश  सगर,  राहुल सगर, लखनलाल सगर  रतनलाल,चंदा सगर,  गंगा   प्रसाद, केनी प्रसाद,  संतोष  पंचम, भगवान सिंह, चंन्नालाल,चंदर आदि ने  शिकायती पत्र डिप्टी कलेक्टर प्रगति  वर्मा को देकर अतिक्रमणकर्ताओं पर कार्रवाहीं की मांग  की है।

इस संकट के साल में गरीबों और किसानों को संकट से  निकालना है - मुख्यमंत्री श्री चौहान

sehore news
प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान मंगलवार को सीहोर जिले के सलकनपुर पहुंचे। ‍इस दौरान उनके साथ क्षेत्रीय सांसद (संसदीय क्षेत्र विदिशा) श्री रमाकांत भार्गव भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ग्राम निन्नौर, जहाजपुरा, जाजना, भड़कुल, चकल्दी, में बाढ़ प्रभावितों को संबोधित किया एवं राहत शिविरों को अवलोकन किया। उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि बाढ़ प्रभावितों को 50-50 किलो अनाज एवं ग्राम जहाजपुर में 50 घरों के लिए लगभग 2 लाख रुपये प्रति मकान की सहायता राशि दी जाएगी। उन्होंने कहा कि यह साल संकट का साल है इस संकट के साल में किसानों व गरीबों को संकट से निकालना है। उन्होंने कहा है कि बाढ़ से प्रभावित किसी भी परिवार को आँखों में आंसू नहीं लाने दूंगा, जिनके घरों को नुकसान हुआ है। आंवलीघाट, बारना, नेहलाई, मट्ठागांव में लगभग 90 घर पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए हैं उन्हें डेढ़-दो लाख की मदद देकर पहले जैसा घर बना सकें और फसलों के नुकसान की भरपाई राहत राशि के अलावा प्रधानमंत्री फसल योजना से की जाएगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कलेक्टर को निर्देशित किया कि कोई भी किसान न छूटे पारदर्शी तरीके से सर्वे किया जाए। इस मौके पर संभाग आयुक्त श्री कवीन्द्र कियावत, आईजी, कलेक्टर श्री अजय गुप्ता, पुलिस अधीक्षक श्री शशीन्द्र चौहान, श्री गुरुप्रसाद शर्मा, श्री रवि मालवीय, राजेन्द्र सिंह राजपूत सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने शोक संतृप्त परिजनों के घर जाकर व्यक्त की संवेदना  

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को ग्राम भड़कुल में  सांसद प्रतिनिधि श्री मेहताब सिंह सोलंकी के निधन हो जाने पर उनके घर पहुंचकर श्रद्धासुमन अर्पित किए तथा परिवार के सदस्यों को सांत्वना दी।     

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी आज को करेंगे स्वनिधि संवाद देश में अव्वल म.प्र. के स्ट्रीट वेंडर्स बताएंगे आत्मनिर्भरता की दास्तां

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी 9 सितम्बर को स्वनिधि संवाद के माध्यम से वर्चुअल कार्यक्रम में स्ट्रीट वेंडर्स के साथ चर्चा करेंगे। मध्यप्रदेश में कोविड-19 की मुश्किल घड़ी में प्रधानमंत्री स्व-निधि योजना में 1.15 लाख छोटे-छोटे व्यवसाइयों को व्यवसाय उन्नयन के लिए ऋण दिया गया। इन्हें कुल 115 करोड़ रूपए की राशि मंजूर की गई। इस योजना में सिर्फ तीन हफ्ते में 8.78 लाख पंजीयन किए गए। मध्यप्रदेश देश में योजना के क्रियान्वयन में अव्वल है। मध्यप्रदेश के पी.एम स्वनिधि योजना के हितग्राही, कोरोना काल में कैसे हताशा से बचकर पुन: सफल व्यवसायी के रूप में घर-गृहस्थी चलाने में सक्षम हुए, इसकी दास्तां प्रधानमंत्री श्री मोदी को सुनाएंगे। प्रधानमंत्री श्री मोदी स्ट्रीट वेंडर्स का कार्य स्थल भी देखेंगे। इस बातचीत का प्रसारण प्रदेश के 378 नगरीय निकायों में सार्वजनिक स्थान पर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ देखा जा सकेगा। बेवकॉस्ट के माध्यम से भी इसका प्रसारण होगा और फेसबुक, ट्विटर जैसे माध्यम से भी इसे दिखाएंगे। प्रधानमंत्री श्री मोदी स्वनिधि योजना पर मध्यप्रदेश की प्रगति पर आधारित लघु फिल्म भी देखेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंत्रालय में प्रधानमंत्री श्री मोदी द्वारा 9 सितम्बर को किए जाने वाले स्वनिधि संवाद वर्चुअल कार्यक्रम की रूपरेखा के बारे में नगरीय प्रशासन विकास विभाग के अधिकारियों से चर्चा की। उल्लेखनीय है कि एक जून से शुरू पीएम स्वनिधि योजना में मध्यप्रदेश में 4 लाख पथ विक्रेताओं को परिचय पत्र और वेंडर प्रमाण पत्र भी जारी किए गए हैं। कुल 2 लाख 40 हजार पात्र हितग्राहियों के आवेदन पोर्टल पर बैंकों के समक्ष प्रस्तुत किए जा चुके हैं। अब तक एक लाख 15 हजार हितग्राहियों को मंजूरी मिल चुकी है।



सहायक उपकरण पाकर दिव्यांजनों की परेशानियां हुई आसान (सफलता की कहानी)

sehore news
सुनने में असमर्थ एवं अस्थि बाधिता से परेशान दिव्यांगजनों को सहायक उपकरण मिलने के बाद उनकी दिनचर्या में जो बदलाव आया वह उन दिव्यांगजनों के चेहरे पर झलक रही थी। जिन्हें जिला विकलांग एवं पुनर्वास केन्द्र सीहोर के द्वारा सहायक उपकरण (श्रवण यंत्र, व्हीलचेयर, ट्रायसायकल) प्रदाय किये गये। जिले के ग्राम धबोटी निवासी दिव्यांगजन गोविन्दी बाई, अंकित सेन, अनार सिहं, बाबुलाल, शेरसिहं वर्मा एवं इछादौर नाका निवासी कल्याण सिंह को जिला दिव्यांग पुनर्वास केन्द्र के विषय विशेषज्ञों द्वारा पूर्व में चिन्हांकन कर ग्राम सचिव/रोजगर सहायक के माध्यम से जिला विकलांग केन्द्र मे कोरोना संक्रमण को ध्यान मे रखते हुये सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए शासन कि गाईड लाइन के अनुसार प्रदाय किये गये । दिव्यांगजनों द्वारा प्रदेश सरकार व सामाजिक न्याय विभाग एवं जिला विकलांग केन्द्र का आभार व्यक्त किया गया।

गौशालाओं को प्रतिदिन प्रति गौ-वंश 20 रूपये की दर से ही मिल रही है राशि आवश्यकता होने पर अतिरिक्त राशि की व्यवस्था की जायेगी, चारा-भूसा के लिये रू. 29 करोड़ 85 लाख जारी

मध्यप्रदेश गौपालन एवं पशुधन संर्वधन बोर्ड द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार प्रदेश में गौशालाओं को प्रतिदिन 20 रूपये प्रति गौ-वंश के मान से ही राशि प्रदाय की जा रही है। मुख्यमंत्री गौसेवा योजना के अन्तर्गत गौशालाओं को दी जाने वाली आर्थिक सहायता का आदेश यथावत है। अप्रैल 2020 में प्रदेश की पंजीकृत गौशालाओं के गौवंश के चारे-भूसे के लिये 29 करोड़ 85 लाख रूपये की राशि जारी की जा चुकी है। इसके अलावा लगभग 28 करोड़ रूपये की राशि और जारी की जा रही है। गौशालाओं के गौवंश के चारा-भूसा अनुदान के लिये सरकार द्वारा किये गये बजट प्रावधान के अतिरिक्त भी यदि राशि की आवश्यकता होती है तो शासन द्वारा व्यवस्था की जाएगी। उपसंचालक राज्य गौपालन एवं पशुधन संर्वधन बोर्ड ने बताया कि मुख्यमंत्री गौसेवा योजना के तहत नवीन 1000 गौशालाओं के लिये 2 माह का चारा-भूसा अनुदान राशि 11 करोड़ 68 लाख रूपये कलेक्टर की अध्यक्षता में गठित जिला समितियों को पहले ही प्रदाय कर दी गई थी ताकि जिला प्रशासन को गौशाला संचालन प्रारंभ करवाने में कठिनाई न हो। उल्लेखनीय है कि राज्य शासन द्वारा मुख्यमंत्री गौसेवा योजना के तहत 1000 गौशालाओं का निर्माण कराया जा रहा है। इनमें से 700 गौशालाओं का निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है। शेष गौशालाएँ आगामी 2 माह में पूर्ण हो जाएंगी। उक्त 700 गौशालाओं में से 260 गौशालाओं का संचालन प्रारंभ हो चुका है, जिनमें लगभग 20 हजार गौवंश का व्यवस्थापन किया गया है। इसके अतिरिक्त 627 गौशालाएँ पहले से ही बोर्ड में पंजीकृत हैं जिनमें एक लाख 66 हजार गौवंश का पालन किया जा रहा है। वर्तमान में कुल 887 गौशालाएँ प्रदेश में संचालित हैं, जिनमें एक लाख 86 हजार गौवंश के लिये प्रतिदिन प्रति-गौवंश 20 रूपये की दर से राशि प्रदाय की जा रही है।

8 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई, वर्तमान में कोरोना एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 269 है

sehore news
मुख्य  चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर  सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि आज 8 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। सीहोर शहरी क्षेत्र के अवधपुरी एवं नरेन्द्र नगर से 3 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। नसरुल्लागंज विकासखंड से 2 व्यक्तियों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है जो बरखेड़ा  खुर्द एवं आम्बा के निवासी हैं। बुदनी अन्तर्गत वार्ड नंबर 8 एवं शाहगंज निवासी 1-1 व्यक्ति की  रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव प्राप्त हुई है। श्यामपुर अन्तर्गत ग्राम भटौनी का 1 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिला है। जिले में कुल एक्टिव/ पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 269 है। आज 9 व्यक्तियों को स्वस्थ होने के उपरांत डिस्चार्ज किया गया है। अब तक कुल रिकवर/डिस्चार्ज किए गए व्यक्तियों की संख्या 541 हो गई है। इछावर निवासी एक 86 वर्षीय वृद्ध की भोपाल हमीदिया में उपचार के दौरान मृत्यु की सूचना आज प्राप्त हुई है। उसे 17 अगसत को उपचार के लिए भोपाल में भर्ती किया गया था। जिले में कोरोना संक्रमण से मृत्यु की संख्या 22 हो गई है। आज 388 यक्तियों के  सैम्पल कोरोना जांच हेतु लिए गए है। जिसमें सीहोर शहरी क्षेत्र से आज  51 सैम्पल जांच हेतु लिए गए है। श्यामपुर के 89, आष्टा से 94, नसरूल्लागंज के 96, बुदनी के 7 इछावर के 49  सैम्पल कोरोना जांच हेतु लिए गए हैं। आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक  कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है । सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम., आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 832 है जिसमें से 22 की मृत्यु हो चुकी है 541 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में 269 पॉजीटिव व्यक्तियों का उपचार चल रहा है।  आज कुल 388 सैंपल जांच हेतु लिए गए। जिले से अब तक कुल 16032 सेम्पल जांच के लिए भेजे गए थे जिनमें से 13416 सेंपलों की रिपोर्ट अब तक निगेटिव प्राप्त हुई है। आज 1093 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है। कुल 1722 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 62 है। जिले में कुल कंटेंमेंट एरिया 262 है जिनमें से 91 एक्टिव एवं 171 इनेक्टिव एरिया हैं। जिले में कुल कंटेंमेंट एरिया 251 है जिनमें से 84 एक्टिव एवं 167 इनेक्टिव एरिया हैं। जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर-7247704181 है कोविड-19 से संबंधित जानकारी इस संपर्क नंबर पर ली व दी जा सकती है। वहीं जिला चिकित्सालय सीहोर में टेलीमेडिसीन के लिए संपर्क नंबर 07562-401259 जारी किया गया है तथा राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104  नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। ई-संजीवनी ओपीडी सेवा हेतु www.esanjeevaniopd.in पंजीयन कराया जा सकता है। कलेक्टेट कार्यालय सीहोर में भी जिला स्तरीय काॅल सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562-226470 है तथा होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। जिस पर संस्थागत क्वारंटाइन अथवा होम क्वारंटाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकोलाजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्ष मानसिक सेवा प्रदाताओं से निःशुल्क प्राप्त कर सकते है।

कोई टिप्पणी नहीं: