विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 21 सितम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 21 सितंबर 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 21 सितम्बर

कृषकों के हित में अधिक से अधिक संख्या में किसान 24 सितम्बर 2020 को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी के रायसेन में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने की अपील -शशांक भार्गव़  

विदिशाः- विदिशा विधायक शशांक भार्गव ने जिले के सभी किसानों से एवं कांग्रेस पार्टी के समस्त पदाधिकारी कार्यकर्ताओं से अपील की है, दिनांक 24.09.2020 दिन गुरूवार को प्रातः 11.30 बजे म.प्र. कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी किसान मजदूर कर्मचारियों के साथ ही सर्वहारा वर्ग के शुभचिंतक के रायसेन नगर आगमन पर विदिशा जिले के किसान एवं कांग्रेस कार्यकर्ता अधिक से अधिक संख्या में रायसेन पहूॅचने की अपील की। उन्हांेने कहा कि जिस प्रकार से म.प्र. शासन ने किसानों को 2019 के खरीफ फसल बीमा की राशि किसानों के खातों में डाली है, इस प्रकार की भेदभावपूर्ण एवं विसंगतिपूर्ण फसल बीमा योजना का हम सबको मिलकर विरोध करना है, साथ ही विदिशा जिले के जो पटवारी हल्के फसल बीमा योजना राशि से वंचित रह गये है, बीमा राशि से वंचित सभी पटवारी हल्कों के कृषकों को बीमा राशि यथाशीघ्र किसानों के खाते में डाले जाने की मांग माननीय कमलनाथ जी के समक्ष रखते हुये उनके माध्यम से भारत सरकार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी एवं म.प्र. के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह जी चैहान तक किसानों के हित में पूरी ताकत से रखे जाने की चर्चा माननीय कमलनाथ जी के माध्यम से की जायेगी। विधायक शशांक भार्गव ने कहा कि पिछले वर्ष प्रदेश में कांग्रेस की सरकार थी उस समय हमारे द्वारा कलेक्टर के माध्यम से अधिसूचना जारी करबाई गई थी, जिसमें सभी पटवारी हल्कों के किसानों को बीमार राशि का लाभ मिलना चाहिए था, लेकिन वर्तमान भाजपा की सरकार के भेदभावपूर्ण एवं दोषपूर्ण रबैये के चलते जिले के लगभग 171 पटवारी हल्कों के किसान बीमा राशि प्राप्त करने से वंचित कैसे रह गये यह वर्तमान सरकार की कार्यप्रणाली पर प्रश्नचिंन्ह अंकित करता है, साथ ही किसान विरोधी कृषि बिल को केन्द्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार द्वारा जबरिया ढंग से पास कराये जाने के संबंध में किसान विरोधी बिल को वापस लिये जाने के बावत कृषकों के हित में माननीय कमलनाथजी के माध्यम से भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी को अवगत कराया जायेगा एवं उन्होंने कहा कि म.प्र. के पटवारियों के ग्रेड पे संबंधी विसंगति पर भी चर्चा माननीय कमलनाथ जी से की जायेगी एवं उपचुनाव के बाद प्रदेश में कांगे्रस की सरकार बनने पर पटवारियों की ग्रेड पे संबंधी समस्या का निराकरण भी शीघ्र अतिशीघ्र किया जायेगा। विधायक शशांक भार्गव ने कहा कि इन सभी बातों केा लेकर हम सब जिले  के किसान एवं कांग्रेस के कार्यकर्ता पदाधिकारी अधिक से अधिक संख्या में 24 सितम्बर 2020 को प्रातः 11.30 बजे रायसेन में आयोजित माननीय कमलनाथ जी के कार्यक्रम में अधिक से अधिक संख्या में पहूॅचकर कार्यक्रम को सफल बनाये। 




मंत्री सुश्री मीना सिंह जी का दौरा कार्यक्रम     

आदिम जाति एवं अनुसूचित जाति कल्याण विभाग की मंत्री सुश्री मीना सिंह जी मंगलवार 22 सितम्बर को विदिशा आएंगी। मंत्री सुश्री मीना जी का प्राप्त दौरा कार्यक्रम अनुसार मंगलवार 22 सितम्बर की प्रातः साढे नौ बजे भोपाल से विदिशा के लिए प्रस्थान कर प्रातः साढे दस बजे विदिशा के सर्किट हाउस में आगमन इसके पश्चात् पूर्वान्ह 11 बजे जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित विदिशा के द्वारा एसएटीआई के कैलाश सत्यार्थी सभागृह में आयोजित फसल ऋण वितरण कार्यक्रम में शामिल होगी। आदिम जाति एवं अनुसूचित जाति कल्याण विभाग की मंत्री सुश्री मीना सिंह दोपहर 12.30 बजे विदिशा से भोपाल के लिए रवाना होगी।

गरीब कल्याण सप्ताह के तहत शासकीय सहायता प्रदाय कार्यक्रम 
  • सबको साख-सबका विकास  फसल ऋण का वितरण आज
  • जिला स्तरीय कार्यक्रम एसएटीआई में    
प्रदेश में गरीब कल्याण सप्ताह का आयोजन जारी है। गरीब कल्याण सप्ताह के तहत हर दिन अलग-अलग विभागो से संबंधित कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे है। आयोजन स्थलों पर मुख्यमंत्री जी के उद्बोधन का लाइव प्रसारण देखने, सुनने के प्रबंध सुनिश्चित किए जा रहे है। आदिम जाति एवं अनुसूचित जाति कल्याण विभाग की मंत्री सुश्री मीना सिंह जी विदिशा जिला मुख्यालय पर मंगलवार 22 सितम्बर को आयोजित कार्यक्रम में शामिल होकर किसानो को फसल ऋण वितरण स्वीकृति के प्रमाण पत्र प्रदाय करेंगी। पीएम किसान सम्माननिधि, पशुपालक एवं मत्स्यपालन हितग्राहियों को केसीसी वितरण एवं कृषकों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण उपलब्ध कराने हेतु सहकारी बैंको, सहकारी समितियों के माध्यम से शासकीय सहायता प्रदाय कार्यक्रम ‘‘सबको साख-सबका विकास’’ का आयोजन किया गया है। कॉ-आपरेटिव बैंक के सीईओ श्री विनय प्रकाश सिंह ने बताया कि जिला स्तरीय कार्यक्रम एसएटीआई के कैलाश सत्यार्थी सभागृह में मंगलवार 22 सितम्बर की पूर्वान्ह 11 बजे से शुरू होगा। जिला स्तरीय कार्यक्रम में जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित विदिशा की सहकारी साख समितियों द्वारा सदस्य कृषकों को फसल ऋण वितरण किया जाएगा। ततसंबंध में कॉ-आपरेटिव बैंक के सीईओ श्री विनय प्रकाश सिंह के द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारी के अनुसार खरीफ 2019 में फसल ऋण राशि 579.55 करोड़ का वितरण खरीफ 2020 (दिनांक 18 सितम्बर 2020) में फसल ऋण राशि 765.58 करोड़ इसके अलावा गत वर्ष से ऋण वितरण में वृद्वि राशि 186.03 करोड़ (खरीफ 2020 का वितरण जारी है) 

लाभांवित नवीन हितग्राही
जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित के सीईओ श्री विनय प्रकाश सिंह ने बताया कि विदिशा जिले में लाभांवित होने वाले नवीन हितग्राहियों में पीएम किसान सम्माननिधि के लाभांवित 7031 कृषको के केसीसी में राशि 63.15 करोड़ की साख सीमा स्वीकृत, उक्त स्वीकृत साख सीमा से 7031 कृषकों को राशि 35.99 करोड़ का फसल ऋण वितरण किया जाएगा।  दुग्ध सहकारी समितियों के अतिरिक्त अन्य पशुपालकों की संख्या 1033 को राशि 185.22 लाख के क्रेडिट कार्ड वितरित किए जाएंगे।  दुग्ध सहकारी समितियों से संबंद्ध 175 पशुपालको को राशि 36.99 लाख के क्रेडिट कार्डो का वितरण इसके अलावा मत्स्य सहकारी समितियों के 16 सदस्यों को मछली पालन हेतु राशि 0.32 लाख के क्रेडिट कार्ड कार्यक्रम में जनप्रतिनिधियों के द्वारा वितरित किए जाएंगे।

कलेक्टर द्वारा लंबित आवेदनों की समीक्षा 
लोकार्पण शिलान्यास कार्यक्रमों की सूचनाएं दो दिवस पूर्व विधायको को अवगत कराएं
vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने आज विभिन्न विभागो में लंबित आवेदनों की समीक्षा की। उन्होंने निर्माण कार्यो को सम्पादित कराने वाले विभागो के अधिकारियों को निर्देश दिए है कि जिन निर्माण कार्यो का शिलान्यास अथवा लोकार्पण हेतु आयोजित होने वाले कार्यक्रमों की सूचनाएं स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ-साथ संबंधित क्षेत्र के विधायकगणों को अनिवार्यतः कम से कम दो दिवस पूर्व उपलब्ध कराई जाए। संबंधित विभाग के अधिकारी विधायकगणो से चर्चा कर इस बात की पुष्टि करें कि कार्यक्रम आयोजन संबंधी जानकारियां प्राप्त हुई है कि नही।  कलेक्टर डॉ जैन ने निर्देश दिए है कि विभागीय कार्यो की समीक्षा एजेण्डा में सबसे ऊपर पूर्व बैठक में लिए गए निर्णयों के क्रियान्वयन संबंधी पालन प्रतिवेदन अनिवार्यतः संलग्न किया जाए।  कलेक्टर डॉ जैन ने इसी प्रकार के निर्देश टीएल बैठक में सम्मिलित आवेदनों के निराकरण के संबंध में दिए है उन्होंने कहा कि उत्तरा पोर्टल पर आवेदन निराकरण के संबंध में की गई कार्यवाही का प्रतिवेदन अनिवार्यतः अंकित किया जाए। कलेक्टर डॉ जैन ने हलाली डेम के पचमढ़ी कुंड पर पर्यटकों की संख्या बढ़ रही है अतः उक्त क्षेत्र में सुरक्षा और साफ सफाई के संबंध में उनके द्वारा विशेष निर्देश दिए गए है साफ सफाई के कार्य हेतु संबंधित पंचायत चाहे तो सफाई टैक्स के रूप में शुल्क निर्धारित कर सकती है।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन को स्वास्थ्य, शिक्षा, राजस्व, ग्रामीण विकास, सामाजिक न्याय, आदिम जाति कल्याण, खाद्य, ऊर्जा, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, जल संसाधन, वेयर हाउस, नगर तथा ग्राम निवेश, पशु चिकित्सा, कृषि, उद्यानिकी, मत्स्य, लीड़ बैंक में लंबित आवेदनों पर अब तक की गई कार्यवाही से अवगत कराया गया है।  नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई उक्त बैठक में विभिन्न विभागो के जिलाधिकारी मौजूद थे। 

नपा की साप्ताहिक बैठक मंगलवार को

कलेक्टर एवं विदिशा नगरपालिका के प्रशासक डॉ पंकज जैन की अध्यक्षता में प्रत्येक मंगलवार को दोपहर 12 बजे से बैठक आयोजित की जाएगी। उक्त बैठक में विदिशा नगरपालिका अंतर्गत सम्पादित होने वाले कार्यो के अलावा योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा की जाएगी। 

जिला बदर का आदेश जारी

कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी डॉ पंकज जैन ने पुलिस अधीक्षक के पालन प्रतिवेदन पर एक प्रकरण में जिला बदर के आदेश जारी कर दिए है।  जारी आदेश में उल्लेख है कि विभिन्न अपराधों में लिप्त अनावेदक रामबाबू मैना पुत्र रामसेवक मैना उम्र 35 वर्ष निवासी ग्राम सेनपा, थाना राहतगढ़ जिला सागर हाल कस्बा बागरोद थाना त्योंदा विदिशा में दर्ज छह आपराधिक प्रकरण व चार प्रतिबंधात्मक कार्यवाही पंजीबद्व होने पर अनावेदक के खिलाफ मध्यप्रदेश राज्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत जिला बदर की कार्यवाही एक वर्ष के लिए की गई है। उक्त अवधि में विदिशा जिला एवं सीमावर्ती जिला रायसेन, भोपाल, गुना, अशोकनगर, सागर, राजगढ़ की राजस्व सीमा से एक वर्ष की कालावधि के लिए उसे निष्कासित किया गया है। 

कोई टिप्पणी नहीं: